*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | January 6th, 2018

भारतेन्दु हरिश्चन्द्र की पावन स्मृति को समर्पित संगोष्ठी

Posted on 06 January 2018 by admin

उत्तर प्रदेष हिन्दी संस्थान, लखनऊ

भारतेन्दु जी ने भारतवासियों को एक सूत्र में बाँधने का कार्य किया - डाॅ0 सदानन्दप्रसाद गुप्त
moj_0041लखनऊ। उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान के तत्वावधान में भारतेन्दु हरिश्चन्द्र की पावन स्मृति के अवसर पर ‘नवजागरण की चेतना और भारतेन्दु हरिश्चन्द्र‘ विषय पर संगोष्ठी का आयोजन शनिवार, 06 जनवरी, 2018 को निराला सभागार, हिन्दी भवन, लखनऊ में किया गया।
डाॅ0 सदानन्दप्रसाद गुप्त, मा0 कार्यकारी अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान की अध्यक्षता में आयोजित संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के रूप में प्रो0 सुरेन्द्र दुबे, कुलपति, बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय, झांसी, प्रो0 सूर्य प्रसाद दीक्षित, पूर्व प्रोफेसर, लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ एवं मुख्य वक्ता के रूप में डाॅ0 हरिशंकर मिश्र, पूर्व आचार्य, लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ आमंत्रित थे।
दीप प्रज्वलन, माँ सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्पार्पण के उपरान्त प्रारम्भ हुए कार्यक्रम में वाणी वन्दना संगीतमयी प्रस्तुति डाॅ0 पूनम श्रीवास्तव द्वारा की गयी। मंचासीन अतिथियों का उत्तरीय द्वारा स्वागत श्री सुनील कुमार सक्सेना, उपनिदेशक, उ0प्र0 हिन्दी संस्थान ने किया।
मुख्य वक्ता के रूप में डाॅ0 हरिशंकर मिश्र ने ‘नवजागरण की चेतना और भारतेन्दु हरिश्चन्द्र‘ विषय पर व्याख्यान देते हुए कहा - भारतेन्दु हरिश्चन्द्र साहित्य जगत के युगप्रवर्तक थे। उन्नसवी शताब्दी में भारतेन्दु हरिश्चन्द्र जी ने भारतवासियों के हृदय में नवजागरण पैदा किया। भारतेन्दु हरिश्चन्द्र जी में राज्यभक्ति और राष्ट्रभक्ति समान रूप से थी। उनमें बालपन से ही समझने की शक्ति थी। उन्होंने अंगे्रजो के अत्याचार को काफी निकट से देखा था। उनके समय में समाज में बड़ी विडम्बना थी। वे अपने मन की बात को बड़ी दृढ़ता से कहते थे। उन्होंने अंगे्रजी भाषा का विरोध किया। हिन्दी भाषा के उन्नयन में भारतेन्दु हरिश्चन्द्र का योगदान अतुलनीय रहा है, उनका रचना संसार व्यक्तित्व और कृतित्व व्यापक था।
dsc_9270
विशिष्ट अतिथि के रूप में पधारे प्रो0 सूर्य प्रसाद दीक्षित ने कहा - उन्नसवीं शताब्दी का जागरण आर्थिक जागरण पर केन्द्रित था। भारतेन्दु हरिश्चन्द्र जी दूरदर्शी व्यक्ति थे। उन्होंने साहित्य की प्रत्येक विधा पर अपनी रचनाएं रची। उनके अन्दर नैसर्गिक लेखन की क्षमता थी। उन्हें यह क्षमतायें विरासत में मिली थी। जगत का उन्हें व्यापक अनुभव था। अंग्रेजो के शोषण के खिलाफ उन्होेंने एक आन्दोलन चलाया था। वे अपनी रचना आम बोल-चाल की भाषा में लिखते थे। जनता द्वारा दी गयी पहली उपाधि ‘भारतेन्दु‘ हरिश्चन्द्र जी को मिली। उन्होंने व्यंग्य के माध्यम से जनजागरण किया। हिन्दी के प्रथम गजलकार भारतेन्दु जी थे।
मुख्य अतिथि के रूप में पधारे प्रो0 सुरेन्द्र दुबे, कुलपति, बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय, झांसी ने अपने सम्बोधन में कहा - भारतेन्दु जी हिन्दी के श्लाका पुरुष थे। नवजागरण पुनर्जागरण ही है। भारतेन्दु जी के समय का जागरण लोक का पुनर्जागरण है। भारतेन्दु जी भारत भक्त विचारक थे। विदेशी वस्तुआंे के प्रबल विरोधी थे। राष्ट्र के निर्माण के मूलतत्वों की खोज भारतेन्दु जी ने की। वे स्त्री-पुरुष की समानता के पक्षधर थे। उनका युग सजीव व चेतना का युग था। उन्होंने अपने नाटकों में समाज का चित्रण किया है। नाटक को ‘पंचमवेद‘ कहा गया है।
अध्यक्षीय सम्बोधन में डाॅ0 सदानन्दप्रसाद गुप्त, मा0 कार्यकारी अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान ने कहा - भारतेन्दु जी ने हमें भारत की स्वतंत्रता का सूत्र दिया। उन्होंने ‘स्वत्व‘ का महत्व हम भारतवासियों का बताया। उनका साहित्य हमारे अन्दर नयी चेतना का संचार करती है। वे आर्थिक सम्पन्नता के पक्षधर थे। उनका स्वच्छता का अभियान था कि उन्नति में आने वाली बुराइयों को कांटों को निकाल कर फेंकने की आवश्यकता है। वे स्वदेशी चेतना के पक्षधर थे। उन्होंने साहित्य को दरबारी परम्परा से हटाकर जनता के बीच का साहित्य बनाया। भारतेन्दु जी ने भारतवासियों को एक सूत्र में बाँधने का कार्य किया।
समारोह का संचालन, अभ्यागतों का स्वागत एवं आभार डाॅ0 अमिता दुबे, सम्पादक, उ0प्र0 हिन्दी संस्थान ने किया।

Comments (0)

राज्यसभा उम्मीदवार हरदीप सिंह पुरी के नामांकन प्रपत्र जांच में वैध

Posted on 06 January 2018 by admin

लखनऊ 06 जनवरी 2018, भारतीय जनता पार्टी के उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सदस्य उम्मीदवार केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी द्वारा प्रत्याशी के रूप में दाखिल चारों सैट जांच में सही पाए गए।
भाजपा प्रत्याशी के रूप में उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सदस्य नामांकन के दौरान केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने चार सैटो में नामांकन दाखिल किया था। नामांकन की अंतिम तिथि तक किसी अन्य प्रत्याशी द्वारा नामांकन नहीं किया है। निर्वाचन आयोग के अधिकारी रमेश चन्द्र राय एवं रत्नेश सिंह की उपस्थिति में श्री हरदीप सिंह के चारों नामांकन सैटो की जांच की गई, जिसमें चारों सैट सही पाए गए। भाजपा प्रत्याशी की ओर से नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना एवं प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर जांच के समय उपस्थित रहे।

Comments (0)

हज समिति कार्यालय की रंगाई-पुताई व अनुरक्षण कार्य में लापरवाही पर ठेकेदार के विरूद्ध कार्यवाही

Posted on 06 January 2018 by admin

लखनऊः 06 जनवरी, 2018
उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति कार्यालय की रंगाई-पुताई व अनुरक्षण के कार्य में ठेकेदार द्वारा लापरवाही बरतने पर राज्य हज समिति के सचिव व कार्यपालक अधिकारी श्री आर0पी0 सिंह ने इसका तत्काल संज्ञान लेकर दिये गये निर्देशों के अनुसार कार्य में सुधार कराने के साथ ही सम्बन्धित ठेकदार के विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं।
श्री सिंह ने बताया कि विधान सभा मार्ग स्थित उ0प्र0 राज्य हज समिति कार्यालय की रंगाई पुताई एवं अनुरक्षण का कार्य हज समिति द्वारा ठेकेदार के माध्यम से पूर्व में दिये गये निर्देशों के अनुसार कराया जा रहा था, जिसमें लापरवाही बरती जा रही थी। इसके बारे में कतिपय समाचार पत्रों में खबरे भी प्रकाशित हुई थीं। इसी परिप्रेक्ष्य में उन्होंने मौके पर जाकर कार्य का निरीक्षण किया और पाया कि जो कलर बाउण्ड्रीवाल का करने के निर्देश दिये गये थे उसमें लापरवाही बरती गयी और निर्देशों के विपरीत कलरिंग को कुछ अधिक गाढ़ा कर दिया गया। उन्होंने इसे तत्काल रोक दिया और निर्देशों के अनुसार ही बाउण्ड्रीवाल की रंगाई-पुताई व अनुरक्षण का कार्य कराने के निर्देश सम्बन्धित को दिये।

Comments (0)

विद्युत विभाग में 06 माह के लिए हड़ताल पर रोक

Posted on 06 January 2018 by admin

लखनऊः 06 जनवरी, 2018
प्रदेश सरकार ने जनहित में 06 माह की अवधि के लिए विद्युत विभाग के अधीन समस्त सेवाओं में हड़ताल करना निषिद्ध कर दिया है। इसके लिए शासन ने अधिसूचना जारी कर दी है।
प्रमुख सचिव, ऊर्जा श्री आलोक कुमार ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सरकार ने अगले 06 महीने के लिए उ0प्र0 पावर कारपोरेशन लि0, उ0प्र0 राज्य विद्युत उत्पादन निगम लि0, उ0प्र0 जल विद्युत निगम लि0, उ0प्र0 पावर ट्रांसमिशन कारपोरेशन लि0, कानपुर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कम्पनी (केस्को) के साथ राज्य के सभी डिस्कामों में, जिसमें मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लि0 लखनऊ, पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लि0 वाराणसी, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लि0 मेरठ व दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम लि0 आगरा के अधीन समस्त सेवाओं में हड़ताल करना निषिद्ध कर दिया है। इन सेवाओं से जुड़े बिजली कर्मचारी अब हड़ताल नहीं कर सकेंगे। हड़ताल पर प्रतिबंध उ0प्र0 अत्यावश्यक सेवाओं का अनुरक्षण अधिनियम 1966 के तहत लगाया गया है।

Comments (0)

उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने राजकीय बालिका इण्टर कालेज (छोटी जुबिली) के नवीन भवन का लोकार्पण किया

Posted on 06 January 2018 by admin

भवन निर्माण पर 4.74 करोड़ रुपये की लागत

राजकीय बालिका इण्टर कालेज में विज्ञान प्रयोगशाला, चहारदीवारी
आदि के लिए 129 लाख रुपये प्रस्तावित

राजकीय जुबिली इण्टर कालेज के जीर्णोद्वार एवं आधुनिकीकरण के
लिए 93.52 लाख रुपये प्रस्तावित

राजकीय जुबिली इण्टर कालेज में बिताये पलों को
याद कर भावुक हुए उप मुख्यमंत्री e0a4b0e0a4bee0a49ce0a495e0a580e0a4af-e0a49ce0a581e0a4ace0a4b2e0a580-e0a487e0a4a3e0a58de0a49fe0a4b0-e0a495e0a4bee0a4b2e0a587e0a49c

टीचर ट्रेनिंग सेन्टर को आधुनिक बनाया जाएगा

उप मुख्यमंत्री ने पूर्व गुरूजनों को शाल भेंट कर सम्मानित किया

लखनऊः 06 जनवरी, 2018
उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री एवं माध्यमिक तथा उच्च शिक्षा मंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने आज यहां छोटी जुबिली में 4.74 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित दो मंजिले राजकीय कन्या इण्टर कालेज के नये भवन का लोकार्पण किया। विद्यालय परिसर का क्षेत्रफल 20,600 वर्गमीटर है। इस विद्यालय में कक्षा 06 से 12 तक की पढ़ाई अगले सत्र से शुरू होगी।
उप मुख्यमंत्री ने बताया कि राजकीय बालिका इण्टर कालेज (छोटी जुबिली) तथा राजकीय जुबिली इण्टर कालेज में विभिन्न निर्माण कार्यों एवं आधुनिकीकरण के लिए 223.51 लाख रुपये प्रस्तावित हैं, जिसमें 129.59 लाख रूपये राजकीय बालिका इण्टर कालेज (छोटी जुबिली) तथा 93.92 लाख रुपये राजकीय जुबिली इण्टर कालेज के लिए शामिल है। उन्होंने बताया कि छोटी जुबिली के चहारदीवारी तथा मुख्य गेट के निर्माण के लिए 82.59 लाख रुपये तथा विज्ञान प्रयोगशाला के लिए 25 लाख रुपये प्रस्तावित किये गये हैं। इसके अलावा बालिका इण्टर कालेज में फर्नीचर, पुस्तकालय, खेल सामग्री तथा जनरेटर एवं पानी आदि की व्यवस्था पर 22 लाख रुपये खर्च किए जायेंगे।
इसी तरह 50.92 लाख रुपये की लागत से राजकीय जुबिली इण्टर कालेज में सी0सी0रोड एवं खेल मैदान के चारों तरफ चारों तरफ रास्ते की मरम्मत तथा छोटी जुबिली के मुख्य गेट से मुख्य भवन तक सी0सी0 रोड एवं फुटपाथ का निर्माण कराया जाएगा। इसके अलावा छात्रावास की मरम्मत, चहारदीवारी का निर्माण एवं बिजली वायरिंग की मरम्मत प्रयोगशाला, कक्षा-कक्षों में शीशे एवं दरवाजों की मरम्मत, मुख्य भवन के बाहरी दीवार की मरम्मत, पुस्तकालय, आर0ओ0 आदि की व्यवस्था पर लगभग 43 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे।
राजकीय बालिका इण्टर कालेज के नवीन भवन के लोकार्पण के उपरान्त उप मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव राजीव कुमार के साथ राजकीय जुबिली इण्टर कालेज में आयोजित अवकाश प्राप्त अध्यापकों/कर्मचारियों की अल्यूमिनाई बैठक में भाग लिए। उल्लेखनीय है कि उप मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव राजकीय जुबिली इण्टर कालेज से ही इण्टर मीडिएट तक की शिक्षा पायी है। उप मुख्यमंत्री ने विद्यालय का भ्रमण करते हुए अपने क्लासरूम में भी गये और अपनी यादों को ताजा किया। अल्यूमिनाई बैठक में उप मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव के साथ कालेज के पूर्व गुरू जन अपनी यादों को साझा करते समय कुछ क्षणों के लिए भावुक भी हुए। अल्यूमिनाई बैठक की अध्यक्षता श्री रूप नारायण खरे ने की।
उप मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर पूर्व गुरूजनों को शाल भेंट कर सम्मानित भी किया। उन्होंने अपने संस्कृत अध्यापक श्री वली उल्लाह खां को विशेष रूप से याद किया एवं शाल भेंटकर सम्मानित किया। उप मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव ने कालेज परिसर में वृक्षारोपण भी किया। उप मुख्यमंत्री ने स्मार्ट क्लासरूम का भी उद्घाटन किया। उप मुख्यमंत्री ने प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय के लगभग 100 विद्यार्थियों को स्वेटर भी वितरित किये।
उप मुख्यमंत्री ने शिक्षकों एवं विद्यार्थियों से भेंट कर उनसे जुबिली इण्टर कालेज की बेहतरी के लिए सुझाव मांगे। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की मंशा केवल राजकीय जुबिली इण्टर कालेज और प्रदेश भर में बनाये जा रहे माॅडल स्कूलों का ही सुधार करना नहीं, बल्कि प्रदेश में स्थित सभी स्कूलों में आवश्यक सुविधाओं का विस्तार कर सुधार करने का प्रयास है।
उप मुख्यमंत्री ने टीचर ट्रेनिंग सेन्टर का भी निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के समय मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार एवं अपर मुख्य सचिव श्री संजय अग्रवाल को निर्देश दिए कि इस सेन्टर का काया कल्प कर इसे आधुनिक प्रशिक्षण केन्द्र के रूप में विकसित किया जाय।
डा0 शर्मा ने बताया कि स्कूलों में पढ़ायी सुचारू रूप से चलायी जा सके, इसके लिए जरूरी है कि शिक्षकों के खाली पद जल्द से जल्द भरे जायें। सरकार इस दिशा में तेजी से काम कर रही है। इसी महीने आयोग का गठन करके शिक्षकों के रिक्त पदों के सापेक्ष विज्ञापन निकाला जायेगा, जिससे पारदर्शी तरीके से शिक्षकों की भर्ती की जा सके। जब तक आयोग से शिक्षक चयनित करके नहीं आ जाते, तब तक रिटायर्ड शिक्षक अंशकालिक शिक्षक के रूप में रखे जायेंगे। द्वितीय एल्युमिनाई बैठक को सम्बोधित करते हुए डा0 शर्मा ने कहा कि सरकार सुखी मन शिक्षक, तनाव मुक्त विद्यार्थी एवं गुणवत्तापरक शिक्षा के सिद्धान्त के साथ आगे बढ़ रही है।
इस अवसर पर जिलाधिकारी लखनऊ श्री कौशल राज शर्मा, निदेशक माध्यमिक शिक्षा श्री अवध नरेश शर्मा, जिला विद्यालय निरीक्षक श्री मुकेश कुमार सिंह के अलावा अन्य वरिष्ठ विभागीय अधिकारी भी

Comments (0)

लखनऊ शहर को स्वच्छता में नम्बर एक स्थान दिलाने के लिए सभी नागरिक ‘‘स्वच्छ सर्वेक्षण 2018’’ में सक्रिय भागीदारी निभाएं

Posted on 06 January 2018 by admin

लखनऊ शहर को साफ-सुथरा रखने हेतु आदतों में बदलाव लायें– सुरेश कुमार खन्ना

लखनऊः 06 जनवरी, 2018
imgउत्तर प्रदेश के संसदीय कार्य एवं नगर विकास मंत्री श्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा है कि ‘‘स्वच्छ सर्वेक्षण 2018’’ अभियान को सफल बनाने के लिए सभी नागरिकों का सहयोग एवं सक्रिय भागीदारी जरूरी है। बिना भागीदारी के शहरों को स्वच्छ रखना सम्भव नहीं है। उन्होंने कहा कि लखनऊ नगर निगम के सभी अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा शहर को स्वच्छ बनाने का गम्भीरता से प्रयास किया जा रहा है। इस हेतु 933 वाहन 28 पी0सी0टी0एस0 का प्रयोग करके लखनऊ शहर को स्वच्छ बनाने एवं स्वच्छता सर्वेक्षण में प्रथम स्थान दिलाने का अथक प्रयास जारी है।
नगर विकास मंत्री आज यहां विधान भवन के कक्ष संख्या-80 में स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के बारे में मीडिया को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश के शहरों में स्वच्छता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से भारत सरकार के आवास व शहरी मामलों के मंत्रालय ने 4041 शहरों को निर्धारित मापदण्डों पर श्रेणीबद्ध करने के लिए 04 जनवरी, 2018 में स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 शुरू किया है। जिसके माध्यम से शहरों को स्वच्छता हेतु प्रोत्साहित करना तथा स्वच्छ भारत मिशन के विभिन्न प्रयासों को पूरी गम्भीरता के साथ अमली जामा पहनाना है।
सर्वेक्षण के उद्देश्य का बड़े पैमाने पर नागरिकों की भागीदारी को प्रोत्साहित करने पर जोर देते हुए श्री खन्ना ने कहा कि शहरों/निकायों को रहने लायक बनाने के लिए एक साथ काम करने की आवश्यकता है, जिसके लिए समाज के सभी वर्गों में जागरूकता पैदा करना है। इसके साथ ही यह सर्वेक्षण बुनियादी सुविधाओं में सुधार के उद्देश्य से निकायों/शहरों के बीच एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की भावना को बढ़ाने का भी प्रयास करता है।
नगर विकास मंत्री ने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के तहत शहरों की रैकिंग की जायेगी और इस प्रक्रिया में कुल 4000 अंक अर्जित करना है, जिसमें सेवा स्तर की प्रगति के लिए 1400 अंक, प्रत्यक्ष पर्यवेक्षण के लिए 1000 अंक तथा नागरिकों से फीडबैक प्राप्त करने के लिए 1600 अंक निर्धारित किये गये हैं। इससे स्पष्ट है कि इस अभियान में नागरिकों की भागीदारी एक महत्वपूर्ण घटक है, जिसे इस सर्वेक्षण में सबसे अधिक महत्व दिया गया है।
सर्वेक्षण के अन्य उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए नगर विकास मंत्री ने कहा कि नागरिकों को शिक्षित किये जाने व सभी नागरिकों से अधिकतम सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए सोशल मीडिया और अन्य पारम्परिक मीडिया का राष्ट्रीय, राज्य व निकाय स्तरों पर रणनीति के मुताबिक इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने सभी नागरिकों से अपील किया कि स्वच्छता ऐप का अधिक से अधिक संख्या में अपने मोबाइल पर डाउनलोड करने का प्रयास करें। इसके साथ ही नागरिकों की प्रतिक्रिया जानने हेतु नागरिकों से प्रश्न पूछें जायेंगे तथा उन प्रश्नों का अपने विवेक से समुचित उत्तर देकर लखनऊ शहर को रैंकिंग में प्रथम स्थान दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। उन्होंने दूसरे लोगों को साफ सफाई के लिए प्रेरित किये जाने का भी आग्रह किया।
संसदीय कार्य मंत्री ने कहा कि 02 अक्टूबर, 2019 तक पूरे देश को खुले में शौचालय मुक्त घोषित किया जाना है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी के कुशल नेतृत्व एवं मार्गदर्शन से उत्तर प्रदेश को 02 अक्टूबर, 2018 तक ओ0डी0एफ0 घोषित करना है। इसमें आमजनता की महत्वपूर्ण भागीदारी होनी चाहिए। उन्होंने लोगों से अपील किया कि खुले में शौच जाने की वर्षों पुरानी सोच में बदलाव लायें और अधिक से अधिक शौचालयों का उपयोग करें।
लखनऊ शहर में बढ़ती जा रही अतिक्रमण की समस्या पर उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति को आम नागरिकों के मौलिक अधिकारों के हनन की अनुमति नहीं दी जायेगी। यदि अतिक्रमण नहीं हटा तो राज्य सरकार के पास बहुत सारे विकल्प खुले हुए हैं। उन्होंने लखनऊ नगर निगम की आय बढ़ाने के लिए नई विज्ञापन पाॅलिसी बनाने की बात कही। इसके साथ ही कर वसूली की प्रक्रिया के बारे में बताया कि इसमें अधिक से अधिक लोगों को कर के दायरे में लाया जायेगा। उन्होंने लखनऊ नगर निगम की आय बढ़ाने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश भी दिये।
इस मौके पर लखनऊ की मेयर श्रीमती संयुक्ता भाटिया, सूडा के निदेशक देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, अतिरिक्त निदेशक स्थानीय निकाय के अलावा अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Comments (0)

प्रदेश के 12 जनपदों में कम्बल वितरण एवं अलाव जलाने हेतु 2 करोड़ 37 लाख 50 हजार रुपये स्वीकृत

Posted on 06 January 2018 by admin

प्रदेश में हो रही अत्यधिक ठण्ड एवं शीतलहर से निराश्रित, असहाय, गरीब एवं कमजोर वर्ग के व्यक्तियों को राहत पहंुचाने के लिए प्रदेश सरकार ने 12 जनपदों में कम्बल वितरण तथा अलाव जलाने हेतु 02 करोड़ 37 लाख 50 हजार रुपये की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की है।
राजस्व विभाग के विशेष सचिव एवं राहत आयुक्त श्री संजय कुमार द्वारा जारी आदेश में बताया गया है कि 12 जनपदों के गृहविहीन/निराश्रित/असहाय एवं कमजोर वर्ग के व्यक्तियों को अत्यधिक ठण्ड एवं शीतलहर से बचाव हेतु जनपद एटा को कम्बल वितरण हेतु 15 लाख रुपये एवं अलाव जलाने हेतु 1.50 लाख रुपये, अम्बेडकर नगर को कम्बल वितरण हेतु 25 लाख रुपये एवं अलाव जलाने हेतु 2.50 लाख रुपये, महोबा को कम्बल वितरण हेतु 15 लाख रुपये, गोण्डा को कम्बल वितरण हेतु 20 लाख रुपये, फिरोजाबाद को कम्बल वितरण हेतु 25 लाख रुपये एवं अलाव जलाने हेतु 2.50 लाख रुपये, शाहजहांपुर को कम्बल वितरण हेतु 25 लाख रुपये, मेरठ को अलाव जलाने हेतु 1.50 लाख रुपये, कानपुर नगर को कम्बल वितरण हेतु 20 लाख रुपये एवं अलाव जलाने हेतु 02 लाख रुपये, सोनभद्र को कम्बल वितरण हेतु 15 लाख रुपये, श्रावस्ती को कम्बल वितरण हेतु 15 लाख रुपये, लखनऊ को कम्बल वितरण हेतु 25 लाख रुपये एवं अलाव जलाने हेतु 2.50 लाख रुपये तथा देवरिया जनपद को कम्बल वितरण हेतु 25 लाख रुपये स्वीकृत किये गये हैं।

Comments (0)

केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री से मिलकर श्रीमती अनुपमा जायसवाल ने प्रदेश में चल रही विभिन्न योजनाओं का केन्द्रांश जारी करने का अनुरोध किया

Posted on 06 January 2018 by admin

प्रदेश में महिला एवं बाल विकास पुष्टाहार कार्यक्रमों को मिलेगी तेजी -श्रीमती अनुपमा जायसवाल
लखनऊः 06 जनवरी, 2018
प्रदेश की बेसिक शिक्षा एवं बाल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती अनुपमा जायसवाल ने 02 जनवरी 2018 को नई दिल्ली में केन्द्रीय मंत्री महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार, श्रीमती मेनका गांधी से मिलकर महिला एवं बाल विकास विभाग में ‘‘सबला योजना’’ सहित प्रदेश में संचालित महत्वपूर्ण एवं अन्य जनोपयोगी कार्यक्रमों से संबंधित लम्बित प्रस्तावों पर वित्तीय स्वीकृति जारी करने का अनुरोध किया।
scan0010उक्त अवसर पर केन्द्रीय मंत्री से मिलकर श्रीमती अनुपमा जायसवाल ने महिला एवं बाल विकास पुष्टाहार विभाग में सामुदायिक सहभागिता सुनिश्चित कराये जाने, आंगनबाड़ी केन्द्रो को सुचारू रूप से संचालन करने एवं मातृ समितियों का गठन कर आंगनबाड़ी केन्द्रों की क्रिया-कलापों का प्रत्येक माह की 10 तारीख को समीक्षा करने के विषय में अवगत कराया। उन्होंने आईसीडीएस कार्यक्रम के अन्तर्गत लाभार्थियों के सर्वे/सत्यापन कराने, बच्चों के अभिभावकों के मोबाइल नम्बर व आधार कार्ड के अंकित कराये जाने की भी जानकारी दी। उन्होंने यह भी बताया कि 20 जनपदों की समस्त आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्मार्ट फोन दिए जाने की कार्यवाही की गई है। भारत सरकार द्वारा उपलब्ध कराये गए साफ्टवेयर पर माॅनीटरिंग करने की कार्यवाही की जा रही है।
श्रीमती जायसवाल ने बताया कि प्रदेश में 24 व 27 अक्टूबर को वजन दिवस आयोजित किया गया। जिसमें कुपोषित एवं अति कुपोषित बच्चों का चिन्हांकन किया गया है। प्रदेश के 39 जनपदों में ‘‘सबरी संकल्प अभियान’’ चलाकर कुपोषित/अतिकुपोषित बच्चों को सामान्य श्रेणी में लाया जा रहा है। महिला एवं बाल विकास कार्यक्रमों के प्रदेश में सफल क्रियान्वयन पर केन्द्रीय मंत्री श्रीमती गांधी ने सराहना की। श्रीमती जायसवाल ने बताया कि भारत सरकार द्वारा प्रदेश के 50 जनपदों में सबला योजना के विस्तार की स्वीकृति केन्द्रीय मंत्री द्वारा दी गई है। प्रदेश में महिला एवं बाल विकास पुष्टाहार कार्यक्रमों में तेजी लाने के लिए उन्होंने केन्द्रीय मंत्री से विभिन्न योजनाओं में लम्बित वित्तीय स्वीकृति को जारी करने का अनुरोध किया।

Comments (0)

विपक्षी दलों की बैठक

Posted on 06 January 2018 by admin

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की पहल पर आज विपक्षी दलों की बैठक जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट, लखनऊ में हुई, जिसमें ईवीएम में गड़बड़ी पर सभी सहमत थे। बैठक में शामिल दल पहले से ही ईवीएम द्वारा चुनाव की निष्पक्षता एवं विश्वसनीयता पर संदेह व्यक्त करते रहे हैं। बैठक में शामिल दलों के प्रतिनिधियों ने श्री अखिलेश यादव को इस सम्बंध में पहल करने के लिए धन्यवाद दिया और तय हुआ कि एक बार फिर इस सम्बंध में बैठक होगी। सभी दल इस बात पर सहमत हुए हैं कि चुनाव ईवीएम के स्थान पर बैलेट पेपर से हों सिवाय कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) के।
dsc_5030 आज की बैठक में समाजवादी पार्टी से श्री अखिलेश यादव, मोहम्मद आजम खां, श्री रामगोविन्द चौधरी, श्री अहमद हसन, श्री नरेश उत्तम पटेल, श्री राजेंद्र चौधरी एवं श्री एसआरएस यादव, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी से श्री राकेश, राष्ट्रीय जनता दल से श्री अशोक कुमार सिंह, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से श्री रमेश दीक्षित, कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) से श्री एसपी कश्यप, आम आदमी पार्टी से श्री गौरव माहेश्वरी, जनवादी पार्टी से डाॅ0 संजय चैहान, आरबीएम (गैर राजनीतिक) से श्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, जनता दल यू (शरद यादव) से श्री सुरेश निरंजन भईया जी, अपना दल से सुश्री पल्लवी पटेल, राष्ट्रीय लोक दल से डाॅ0 मसूद अहमद, शिव करन सिंह, पीस पार्टी से डाॅ0 मोहम्मद अयूब, एवं निषाद पार्टी से डाॅ0 संजय कुमार निषाद आदि शामिल हुए।
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव एवं मुख्य प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि श्री अखिलेश यादव की पहल के पीछे यह मंषा है कि चुनाव की निष्पक्षता, पवित्रता और विश्वसनीयता बनी रहे। जनता के मन में ईवीएम को लेकर जो संदेह हैं उससे लोकतंत्र को खतरा है। चुनाव में धांधली की गुंजायश बढ़ती जा रही है। अगर मतदाता का भरोसा उस पर नहीं रहा तो फिर चुनाव के परिणामों पर भी भरोसा नहीं होगा। वैसे भी मतदाता को ईवीएम मशीन की न आदत है, न अभ्यास है और नहीं यकीन है। लोकतंत्र में राजनीतिक दलों की जिम्मेदारी है कि मतदान में किसी तरह का छल न हो।

Comments (0)

प्रवास कार्यक्रम - प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय

Posted on 06 January 2018 by admin

लखनऊ 06 जनवरी 2018, भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय 7 जनवरी को नई दिल्ली से सुबह 11 बजे अमौसी हवाई अड्डे पहुंचेंगे। भाजपा प्रदेश मुख्यालय से ग्रामर्षि पं0 राम कुमार पाण्डेय ग्रामोदय आश्रम स्नातकोत्तर महाविद्यालय वीरसिंहपुर, सरैया-सया अम्बेडकर नगर में दोपहर 02.30 बजे ग्रामर्षि महोत्सव में उपस्थित होंगे।
डा0 पाण्डेय 08 व 09 जनवरी को भाजपा प्रदेश मुख्यालय में उपस्थित रहकर संगठनात्मक कार्यो में सहभागिता करेंगे तथा कार्यकर्ताओं से भेंट करेंगे।

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

January 2018
M T W T F S S
« Dec    
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
-->









 Type in