*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | January 18th, 2018

लखनऊ की घटना में घायल छात्र ऋत्विक

Posted on 18 January 2018 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी 18 जनवरी, 2018 को के0जी0एम0यू0, लखनऊ के ट्राॅमा सेण्टर में, ब्राइटलैण्ड स्कूल, लखनऊ की घटना में घायल छात्र ऋत्विक के स्वास्थ्य लाभ की जानकारी प्राप्त करते हुए।4

Comments (0)

पूर्वांचल एवं बुन्देलखण्ड के लिये नवीन परियोजनाएं बनाई जायें: मुख्य सचिव

Posted on 18 January 2018 by admin

नवीन परियोजना में कृषि क्षेत्र के लिए ढाँचागत सुविधाओं, कान्टैªक्ट फार्मिंग, कृषि उपज के विपणन एवं पशुपालन के विकास को सम्मिलित किया जाये: राजीव कुमार

परियोजना के अन्तर्गत निर्माणाधीन 103 सोडिक हाट के सापेक्ष 66 सोडिक हाट पूर्ण हो जाने के फलस्वरूप अवशेष 37 निर्माणाधीन सोडिक हाटों को मार्च, 2018 तक निर्धारित
मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराने के मुख्य सचिव ने दिये निर्देश

लखनऊ: 18 जनवरी, 2018 dsc_8837_r2_c1

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने निर्देश दिये हैं कि पूर्वांचल एवं बुन्देलखण्ड के लिये नवीन परियोजनाएं बनाई जायें। उन्होंने निर्देश दिये कि उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम और डास्प मिलकर कृषि क्षेत्र के विशेषज्ञों को सम्मिलित करते हुए इस हेतु अवधारणा प्रपत्र तैयार करेंगे। नवीन परियोजना में कृषि क्षेत्र के लिए ढाँचागत सुविधाओं, कान्टैªक्ट फार्मिंग, कृषि उपज के विपणन एवं पशुपालन के विकास को सम्मिलित किया जाये।
मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम द्वारा विश्व बैंक के वित्त पोषण से संचालित उ0प्र0 सोडिक लैण्ड रिक्लेमेशन तृतीय परियोजना के अनुश्रवण एवं समन्वय हेतु स्टेट स्टीयरिंग कमेटी की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने निजी क्षेत्र के साथ मिलकर उच्च गुणवत्ता स्थापित करते हुए कार्य किए जाने पर बल देते हुये निर्देश दिये गये कि उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम द्वारा ऊसर भूमि सुधार की तकनीकी में अर्जित की गयी विशेषज्ञता का उपयोग प्रदेश के विकासपरक् योजनाओं में किया जाना चाहिए ताकि जनोपयोगी योजनाएं और अधिक आम किसानों के लिये उपयोगी हो सके। उन्होंने निर्देश दिये कि परियोजना के अन्तर्गत निर्माणाधीन 103 सोडिक हाट के सापेक्ष 66 सोडिक हाट पूर्ण हो जाने के फलस्वरूप अवशेष 37 निर्माणाधीन सोडिक हाटों को मार्च, 2018 तक निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराया जाये।
बैठक में प्रबन्ध निदेशक उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम श्री अजय यादव द्वारा परियोजना के अन्तर्गत सम्पादित कराये जा रहे कार्यों की प्रगति प्रस्तुत की गयी। मुख्य सचिव द्वारा निर्माणाधीन सोडिक हाटों को मार्च तक पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। सिंचाई विभाग द्वारा परियोजना के अन्तर्गत किए जा रहे कार्यो की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए प्रमुख सचिव सिंचाई से कमाण्ड एरिया के साथ समन्वय स्थापित कर विश्व बैंक के सहयोग से संचालित योजना में कार्य कराये जाने के निर्देश दिये गये ताकि कृषकों को सिंचाई विभाग की योजना का पूर्ण लाभ मिल सके। प्रबन्ध निदेशक, उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम द्वारा सोडिक तृतीय परियोजना में अधिकारियों की कमी से अवगत कराते हुए बताया कि विगत बैठक में लिए गये निर्णय के अनुसार अभी तक कृषि विभाग से प्रतिनियुक्ति पर अधिकारी नहीं मिले हैं। मुख्य सचिव द्वारा एक सप्ताह के अन्दर कृषि विभाग से अधिकारी भेजने हेतु निर्देशित किया गया।
उ0प्र0 सोडिक लैण्ड रिक्लेमेशन तृतीय परियोजना के अन्तर्गत पशुपालन विभाग द्वारा किये जा रहे पशु कैम्प एवं मिनरल मिक्स्चर प्रदर्शन आयोजित किये जाने पर प्रमुख सचिव पशुपालन ने अवगत कराया कि दवायें और मिनरल मिक्स्चर खरीदने के टेंडर पूर्ण कर लिए गये हैं व शीघ्र ही ये कैम्प शुरू हो जायेंगे।
उ0प्र0 सोडिक लैण्ड रिक्लेमेशन तृतीय परियोजना के अन्तर्गत निर्धारित समस्त प्रोजेक्ट डेवलपमेंट आब्जेक्टिव्स के लक्ष्य से अधिक पूर्ति पर मुख्य सचिव द्वारा उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम की सराहना की गयी।
बैठक में प्रमुख सचिव, परती एवं सिंचाई श्री टी0वेंकटेश, प्रमुख सचिव, पशुपालन श्री सुधीर बोबड़े, प्रमुख सचिव, वाह्य सहायतित परियोजना विभाग सुश्री डिम्पल वर्मा, प्रबन्ध निदेशक, उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम श्री अजय यादव, विशेष सचिव, उद्यान श्री आर0पी0 सिंह, विशेष सचिव, कृषि श्री जी0पी0 तिवारी, विशेष सचिव, लघु ंिसचाई एवं भूगर्भ जल श्री शरद कुमार तथा उत्तर प्रदेश भूमि सुधार निगम के अधिकारियों ने प्रतिभाग किया।

Comments (0)

केन्द्र व राज्य सरकार समाज के सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखकर योजनाएं संचालित कर रही हैं: मुख्यमंत्री

Posted on 18 January 2018 by admin

समाज के प्रत्येक व्यक्ति को सम्मान के
साथ सशक्त बनाना हमारी प्राथमिकताओं में शामिलpress-611

प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में देश को नई दिशा व ऊर्जा मिली

समाज को सशक्त बनाकर ही एक भारत व
श्रेष्ठ भारत की संकल्पना को साकार किया जा सकता है

संवाद के माध्यम से समाज की
समस्याओं का समाधान सम्भव है

मदरसों का आधुनिकीकरण आज की आवश्यकता

प्रत्येक व्यक्ति को स्वावलम्बी बनाना राज्य सरकार का लक्ष्य

समाज की उन्नति के लिए अल्पसंख्यकों का
समावेशी विकास आवश्यक: केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री

मुख्यमंत्री ने 09 राज्यों के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रियों
की विकास समन्वय बैठक का उद्घाटन किया

सुरेन्द्रअग्निहोत्री, लखनऊ : 18 जनवरी, 2018
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि देश के वास्तविक विकास के लिए आवश्यक है कि समाज के सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखते हुए योजनाएं बनायी जाएं। इसके दृष्टिगत केन्द्र व राज्य सरकार विभिन्न योजनाएं संचालित कर रही हैं। उन्होंने कहा कि समाज के प्रत्येक व्यक्ति को सम्मान के साथ सशक्त बनाना हमारी प्राथमिकताओं में शामिल है।
मुख्यमंत्री जी ने यह विचार आज यहां तिलक हाॅल में आयोजित 09 राज्यों के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रियों की विकास समन्वय बैठक के उद्घाटन अवसर पर व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और यहां विविधताओं में भी एकता का दर्शन होता है। प्रत्येक नागरिक के हित को ध्यान में रखकर ही विकास किया जा सकता है। इसलिए हमें यह तय करना होगा कि समाज का कोई भी वर्ग उपेक्षित न रह जाए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश को एक नई दिशा व ऊर्जा मिली है। वर्तमान सरकार पारदर्शिता व बिना भेदभाव के साथ कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध है। समाज को सशक्त बनाकर ही हम एक भारत व श्रेष्ठ भारत की संकल्पना को साकार कर सकते हैं। press-22
योगी जी ने कहा कि केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी जी की तत्परता से अल्पसंख्यक कल्याण सम्बन्धी कार्यों में तेजी आयी है। उन्होंने कहा कि संवाद के माध्यम से ही समाज की समस्याओं का समाधान सम्भव है। समाज का प्रत्येक तबका खुशहाल हो, इसके लिए उन्हें जागरूक करना आवश्यक है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से हम समाज के जरूरतमंद लोगों को हुनर के माध्यम से जोड़कर रोजगार उपलब्ध करा सकते हैं। उन्होंने कहा कि मदरसों का आधुनिकीकरण आज की आवश्यकता है। हमारा लक्ष्य है कि प्रत्येक व्यक्ति स्वावलम्बी बने, जिससे विकास के लक्ष्यों को प्राप्त किया जा सके।
इस अवसर पर केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि समाज की उन्नति के लिए अल्पसंख्यकों का समावेशी विकास आवश्यक है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार अल्पसंख्यकों का सशक्तिकरण बिना तुष्टिकरण के कर रही है। बालिकाओं को शिक्षित करके ही हम देश की प्रगति की बात सोच सकते हैं। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पिछले 09 माह में अल्पसंख्यकों के हितों के दृष्टिगत किए गए कार्यों की सराहना की।
इस अवसर पर केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री श्री वीरेन्द्र कुमार, प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण चैधरी, समाज कल्याण मंत्री श्री रमापति शास्त्री, मुस्लिम वक्फ राज्य मंत्री श्री मोहसिन रजा, अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री श्री बलदेव ओलख, बिहार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री श्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद, दिल्ली के समाज कल्याण मंत्री श्री राजेन्द्र पाल गौतम, जम्मू और कश्मीर के समाज कल्याण मंत्री श्री सज्जाद गनी लोन, हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री श्री कृष्ण कुमार बेदी, केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण सचिव श्री अमेजिंग लुईखम सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Comments (0)

जनता शिकायत निवारण में यूपी का तीसरे पायदान पर आना स्वागतयोग्य - डा0 चन्द्रमोहन

Posted on 18 January 2018 by admin

लखनऊ 18 जनवरी 2018, भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में चल रही भाजपा सरकार के पहले दस महीनों में बेहतर नतीजे आने शुरू हो गए हैं। जनता की शिकायतें और समस्याओं का निपटारा करने में यूपी को देश के पहले तीन राज्यों में शामिल होना स्वागतयोग्य है।
प्रदेश पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रवक्ता डा0 चन्द्रमोहन ने कहा कि प्रदेश में पिछले वर्ष लोगों ने कुल 2.46 लाख शिकायतें दर्ज कराई थी जिनमें 69 फीसदी 1.69 लाख शिकायतें निस्तारित की गईं। ये आंकड़े जाहिर करते हैं कि भाजपा सरकार किस तरह से जनता की उम्मीदों पर उतरने का प्रयत्न कर रही हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सत्ता संभालते ही सभी अधिकारियों को जनता की समस्याओं का त्वरित समाधान करने के आदेश दिये थे।
प्रदेश प्रवक्ता डा0 चन्द्रमोहन ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं इसकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं और जनता की समस्याएं निस्तारित करने में लापरवाह साबित हुए अधिकारियों पर कार्रवाई भी की जा रही है। मुख्यमंत्री कार्यालय के जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत निस्तारण की गति और तेज करने के लिए अधिकारियों की एक टीम भी बनाई गई है। इसके अलावा प्रदेश सरकार जल्द ही ‘मुख्यमंत्री आपके द्वार योजना’ के तहत एक टोल फ्री नंबर भी शुरू करने जा रही है जिसमें लोग घर बैठे अपनी शिकायतों का निस्तारण कर सकेंगे।
प्रदेश प्रवक्ता डा0 चन्द्रमोहन ने कहा कि इन शिकायतों पर की गई कार्रवाई पर सरकार शिकायतकर्ता से फोन पर फीडबैक लेगी और सही कार्रवाई न होने पर संबंधित अधिकारी पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। सरकार के इन जन हितैषी रवैये से जिस तरह यूपी ने जनता की शिकायत निस्तारण में तेजी से कार्रवाई करते हुए तीसरे पायदान पर जगह बनाई है उससे जल्द ही यूपी को देश का अग्रणी प्रदेश बनने में कोई ताकत नहीं रोक सकती है।

Comments (0)

इन्डोनेशिया में अंतरराष्ट्रीय हिन्दी उत्सव सम्पन्न, सम्मानित हुईं लखनऊ की दस विभूतियाँ

Posted on 18 January 2018 by admin

विगत विश्व हिन्दी दिवस यानी 10 जनवरी 2018 को इंडोनेशिया की सांस्कृतिक राजधानी बाली में अंतरराष्ट्रीय हिन्दी उत्सव का आगाज हुआ, जिसका समापन समारोह 14 जनवरी 2018 को इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में सम्पन्न हुआ।
इस अवसर पर पचास साहित्यकारों, पत्रकारों, टेक्नोक्रेटो, संस्कृतिकर्मियों के हुये सरस्वत सम्मान के क्रम में लखनऊ की दस विभूतियों का सम्मान किया गया, जिसमें हिन्दी के प्रमुख ब्लॉगर एवं वरिष्ठ साहित्यकार रवीन्द्र प्रभात, अवधी लोकगायिका कुसुम वर्मा, वरिष्ठ साहित्यकार डॉ॰ मिथिलेश दीक्षित, सत्या सिंह हुमैन, समाज सेविका कनक लता गुप्ता, योग विशेषज्ञ डॉ॰ उदय प्रताप सिंह, शिक्षाविद कैलाश चन्द्र जोशी, रेवान्त पत्रिका की संपादक लखनऊ निवासी डॉ॰ अनीता श्रीवास्तव तथा हिन्दी विकिपीडिया की प्रबन्धक माला चैबे प्रमुख रहे। img-20180117-wa0302
बहुत सारे कार्यक्रमों का साक्षी बना यह उत्सव। इस अवसर पर लोकार्पित हुयी 18 हिन्दी पुस्तकों में से लखनऊ की डॉ॰ मिथिलेश दीक्षित की छः पुस्तकें तथा रवीन्द्र प्रभात के व्यक्तित्व और कृतित्व पर आधारित डॉ॰ सियाराम की शोध पुस्तक ‘‘रवीन्द्र प्रभात की परिकल्पना और ब्लॉग आलोचना कर्म‘‘ प्रमुख रही।
डॉ॰ राम बहादुर मिश्र के संचालन में इलाहाबाद की रंगकर्मी डॉ॰ प्रतिमा वर्मा द्वारा अभिनीत नाटक ‘‘एकाकीपन‘‘ की भावपूर्ण प्रस्तुति श्रोताओं का मन मोहने में सफल रही। इन्डोनेशिया के कलाकारों तथा इण्डोनेशियाई बच्चों की सांस्कृतिक प्रस्तुति तथा जकार्ता स्थित जवाहरलाल नेहरू भारतीय सांस्कृतिक परिषद के कलाकारों की हारमोनियम और तबले की युगलबंदी श्रेष्ठ प्रस्तुतियों में से एक रही। जकार्ता के श्री केतन गुरु जी, लखनऊ की कुसुम वर्मा और गोंडा के शिव पूजन शुक्ल के द्वारा प्रस्तुत भजन और लोकगीत दुर्लभ प्रस्तुतियों में से एक रही।
हिन्दी उत्सव के दौरान परिकल्पना द्वारा छः भारतीय प्रतिभागियों को विशेष नगद पुरस्कार प्रदान किए गए, जिसके अंतर्गत सर्वश्रेष्ठ आवाज के लिए अहमदाबाद की सुश्री अंकिता सिंह को डेढ़ लाख रुपये तथा सर्वश्रेष्ठ कविता के लिए आगरा की डॉ॰ सुषमा सिंह, सर्वश्रेष्ठ प्रणय गीत के लिए राय बरेली की डॉ॰ चम्पा श्रीवास्तव, सर्वश्रेष्ठ हास्य कविता के लिए कानपुर के डॉ॰ ओम प्रकाश शुक्ल ‘‘अमिय‘‘, सर्वश्रेष्ठ गजल के लिए बहराइच के डॉ॰ अशोक गुलशन और सर्वश्रेष्ठ लोकगीत के लिए गोंडा के डॉ॰ शिव पूजन शुक्ल को क्रमशः एक-एक लाख रुपये के नगद पुरस्कार प्रदान किए गए।
कवि सम्मेलन के दौरान रवीन्द्र प्रभात, ओम प्रकाश शुक्ल ‘‘अमिय‘‘, सत्या सिंह हुमैन, डॉ॰ अशोक गुलशन, डॉ॰ राम बहादुर मिश्र, डॉ॰ मिथिलेश दीक्षित, डॉ॰ सुषमा सिंह, डॉ॰ पूर्णिमा उपाध्याय, डॉ॰ माला गुप्ता, डॉ॰ पूनम तिवारी, डॉ॰ चम्पा श्रीवास्तव, डॉ॰ रमाकांत कुशवाहा कुशाग्र, डॉ॰ उमेश पटेल श्रीश, शिव पूजन शुक्ल, कुसुम वर्मा, राम किशोर मेहता, कैलाश चन्द्र जोशी आदि की कवितायें खूब सराही गयी।
समारोह की मुख्य अतिथि रहीं 2015 की मिस इन्डोनेशिया-इंडिया सुश्री ग्रेस वालिया तथा विशिष्ट अतिथि इंडो-इंडियन फ्रेंडशिप एसोशिएशन की अध्यक्ष सुश्री पूनम सागर, सामाजिक कार्यकर्ता सुश्री लवलीन वालिया और जकार्ता स्थित साधु वासवानी सेंटर के प्रतिनिधि श्री केतन गुरु जी, जकार्ता स्थित आत्मा सेल्फ एक्स्प्रेशन की अध्यक्षा सुश्री शिल्पी धीरज शर्मा, इंडोनेशियन-इंडियन फ्रेंडशिप एसोसिएशन की अध्यक्षा सुश्री ऐश्वर्या सिन्हा और समस्त प्रस्तुतियों की संगीत निर्देशक जकार्ता निवासी सुश्री अर्चिता रॉय की प्रस्तुति उल्लेखनीय रही। विविधताओं से भरा यह सम्मेलन जीवन के अपने अलग-अलग रंगों में धड़कता दिखाई दिया दर्शकों को, अपने आप में अद्वितीय और अनुपम रहा यह उत्सव।

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

January 2018
M T W T F S S
« Dec   Feb »
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
-->









 Type in