*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | आगरा

50 प्रतिशत गीले गेहूं पर नहीं होगी कटौती-आरएफसी

Posted on 24 April 2015 by admin

संभागीय खाद्य नियन्त्रक आगरा, सी.पी.सिंह ने अवगत कराया है कि प्रदेश सरकार किसानों के साथ है और किसानों का शोषण किसी प्रकार से बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने बताया कि गेहूं की खराब किस्म पर अब कटौती नहीं की जायेगी, लेकिन मानकों का पालन कराना होगा। उन्होंने बताया पहले 10 प्रतिशत नमी वाला गेंहू लिया जा रहा था, जो कि अब 50 प्रतिशत नमी तक वैध माना जायेगा। आरएफसी ने बताया कि छनाई, उपराई के नाम पर किसानों से किसी प्रकार की धनराशि/कटौती नही की जायेगी यदि किसी गेंहू क्रय क्रेन्द पीसीएफ या अन्य एजेन्सी के विरूद्व शिकायत प्राप्त होती है तो सम्बन्धित गेंहू क्रय केन्द्र प्रभारी के विरूद्व कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने किसान भाइयों से अनुरोध किया है यदि किसी प्रकार की समस्या आ रही है तो उनके मोबाइल नम्बर-9412274899 पर शिकायत दर्ज करा सकते है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

सरकारी अधिकारी/कर्मचारी भी आधार नम्बर को वोटर कार्ड से लिंक करायें

Posted on 31 March 2015 by admin

उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व राजकुमार ने अवगत कराया है कि निर्वाचक नामावलियों को शत प्रतिशत सुधार के संबंध में राष्ट्रीय निर्वाचक नामावलियों के शुद्धीकरण एवं सत्यापन संबंधी कार्यक्रम  छम्त्च्।च् दिनांक 03 मार्च से 15 अगस्त तक लान्च किया गया है। आयेाग के निर्देशानुसार शासकीय एवं अर्द्ध शासकीय कार्यालयों के अधिकारी/कर्मचारी अपने कार्यालय के कम्प्यूटर का प्रयोग कर अपने समस्त स्टाफ एवं अपने परिवार के अन्य सदस्यों के भी निर्वाचक नामाबली के डाटा बेस से आधार नम्बर के लिंकिंग करने के लिए मतदाताओं के आधार नम्बर की फीडिंग कर फोटो पहचान पत्र से लिकिंगिंग करने का कार्य प्राथमिकता के आधार पर किया जाना है। उन्होंने बताया कि आयोग ने मतदाताओं द्वारा फोटो पहचान पत्र के डाटा से अधार नम्बर की लिकिंग करने के लिए आॅन लाइन प्रक्रिया के अंतर्गत सर्वप्रथम ीजजचरूध्ध्ूूूण्दअेचण्पदध् के माध्यम से छंजपवदंस टवजमते ैमतअपबम च्वतजंस ;छटैच्द्ध पर जायें तत्पश्चात उपलब्ध टैब्स में से  थ्ममक ल्वनत ।कींत छनउइमत पर क्लिक करें। क्लिक करने के पश्चात एक फार्म ओपन होगा जिस पर आधार में नाम, मतदाता पहचान पत्र क्रमांक, आधार नम्बर, मोबाइल नम्बर या ई-मेल आई डी सूचनाओं को भरने के बाद उसे ेनइउपज करने पर आपका आधार निर्वाचक नामाबली के डाटाबेस से लिंक हो जायेगा यदि आपने मोबाइल संख्या या ईमेल आई डी से संबंधित सूचना भरी है तो आधार लिकिंग के बारे में  ंबादवूसमकहमउमदज  आ जायेगा।
उन्होंने जनपद में स्थित सरकारी/अर्द्ध सरकारी विभागों के कार्यालयाध्यक्षों से इस राष्ट्रीय कार्य में अपना सहयोग प्रदान करके अपने अधीनस्थ अधिकारी/कर्मचारियों के द्वारा नेट या मैसेज के माध्यम से अपने मचपब को आधार से लिंक कराने का अनुरोध किया है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

नगर निगम सीमा में केवल सीएनजी वाहन ही वैध होंगे

Posted on 31 March 2015 by admin

ओम प्रकाश सिंह, सम्भागीय परिवहन अधिकारी ने सूचित किया है कि यह तथ्य संज्ञान में आया है कि जनपद में अधिकांश डीजल टैक्सी/प्राइवेट वाहन आगरा के लोकल दर्शनीय स्थलों में सवारियों के ढोने का कार्य करते है। इस सम्बंध में आगरा शहर की नगर निगम सीमा के अंतर्गत केवल सीएनजी टैक्सी से सवारियां ढोने के संचालन की अनुमति है। अतः वाहन स्वामी किसी भी असुविधा से बचने के लिए केवल सीएनजी टैक्सी परमिट वाहनों का ही प्रयोग करें।
उन्होंने स्कूली बच्चों के अभिभावकों से भी अनुरोध  किया है कि वे नये शैक्षणिक सत्र में अपने बच्चों को स्कूल आने-जाने के लिए असुरक्षित अनधिकृत आटो रिक्सा एवं बिना परमिट की स्कूल वाहनों में न भेजें। केवल अधिकृत स्कूल वाहनों से ही बच्चों को स्कूल भेजें। अनधिकृत वाहनों के विरूद्ध अभियान चलाया जायेगा जिन्हें चलने से बन्द किया जायेगा।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण फिल्म समारोह जेपी सभागार कैम्पस, डॉ बी आर अम्बेडकर विश्वविद्यालय में उद्घाटन समारोह के साथ शुरू हुआ।

Posted on 27 March 2015 by admin

अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण फिल्म समारोह जेपी सभागार कैम्पस, डॉ बी आर अम्बेडकर विश्वविद्यालय में उद्घाटन समारोह के साथ शुरू हुआ। मुख्य अतिथि प्रोफेसर मोहम्मद थे जेपी सभागार में छात्रों और विभिन्न स्कूलों, कॉलेजों और संस्थानों के शिक्षकों ने भाग लिथा। वर्तमान पर्यावरण कार्यकर्ताओं और मीडिया पेशेवरों की एक बड़ी संख्या में थे। इस अवसर पर, ष्प्राचीन जलष्, नियती सेंगर और अमरेश कुमार सिंह द्वारा अंग्रेजी में एक सोलह मिनट फिल्म महोत्सव का उद्घाटन फिल्म के रूप में प्रदर्शित किया गया। फिल्म, ष्प्राचीन जलष्, जिनके जीवन में यह आसपास का आयोजन कर रहे लोगों के माध्यम से यमुना की कहानी सुनाते हैं।

उद्घाटन समारोह का मुख्य आकर्षण आगरा से ग्रीन राजदूत के रूप में श्री अंबर विशाल का सम्मान भी शामिल है। उन्होंने कहा कि बच्चों और महिलाओं को सुरक्षित, स्वच्छता प्रथाओं और उत्तर प्रदेश में कचरे को फिर से उपयोग के बीच समुदाय पर्यटन, पर्यावरण के अनुकूल दृष्टिकोण और प्रथाओं को बढ़ावा देने के लिए अपने प्रयासों के लिए सम्मानित किया गया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

जल संरक्षण संगोष्ठी का आयोजन ;अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी ने यमुना मुक्तीकरण अभियान के आंदोलन का समर्थन कियाद्ध

Posted on 23 March 2015 by admin

मार्च विश्व जल दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी के तत्वाधान मैं पश्चिमपुरी में जल संरक्षण संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमे समाज के जल प्रेमियों ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी ने यमुना मुक्तीकरण अभियान के तहत यमुना नदी की सफाई व इसमें अविरल जल प्रवाह की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन का समर्थन किया। और केन्द्र सरकार से हथिनीकुंड बैराज से यमुना जल की एक अविरल धारा छोड़ने की मांग की।
जल संरक्षण संगोष्ठी मैं अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी के सम्पादक मानसिंह राजपूत विचार व्यक्त करते हुये कहा कि सृष्टि की रचना के साथ ही प्रकृति ने हमें निर्बाध रूप से हवा, पानी व प्रकाश प्रचुरता में उपलब्ध कराया है। प्राणी मात्र के लिए प्रकृति प्रदत्त पंचतत्व अमूल्य हैं। सृष्टि रचना में इनका महत्वपूर्ण योगदान है। अतः प्रकृति के नियमों के तहत ही हमें इनका उपयोग करना होगा। उन्होंने कहा की देश में पानी की कमी नही है, बल्कि इसके संरक्षण एवं रखरखाव के लिये पारम्परिक तरीके जैसे तालाब, बावडिया आदि को पुनर्जीवित कर तथा शहरों के अन्धाधुन्द विकास पर नियन्त्रण करते हुये ग्रामीण विकास की नीति को अपनाते हुए इसके संरक्षण सम्वर्धन की नीति समग्र बनायी जाए।
अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी के उपसम्पादक ब्रहमानंद राजपूत ने कहा की विश्व जल दिवस दिन है पानी बचाने के संकल्प का दिन। पानी के महत्व को जानने का दिन और पानी के संरक्षण के विषय में समय रहते सचेत होने का दिन। आँकड़े बताते हैं कि विश्व के 1.5 अरब लोगों को पीने का शुद्ध पानी नही मिल रहा है। प्रकृति जीवनदायी संपदा जल हमें एक चक्र के रूप में प्रदान करती है, हम भी इस चक्र का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। चक्र को गतिमान रखना हमारी जिम्मेदारी है, चक्र के थमने का अर्थ है, हमारे जीवन का थम जाना। प्रकृति के खजाने से हम जितना पानी लेते हैं, उसे वापस भी हमें ही लौटाना है। हम स्वयं पानी का निर्माण नहीं कर सकते अतः प्राकृतिक संसाधनों जैसे हमारी प्रमुख नदिया गंगा, यमुना को दूषित न होने दें और पानी को व्यर्थ न गँवाएँ यह प्रण लेना आज के दिन बहुत आवश्यक है। इसके साथ ही उन्होंने भूमिगत जल स्तर की निरन्तर कमी पर भी चिंता व्यक्त की।
ब्रहमानंद राजपूत ने कहा कि आगरा में यमुना को स्वच्छ बनाए रखने और उसके संरक्षण के लिए जरूरत है एक दृढ संकल्प की। यमुना का आधार धार्मिक, आर्थिक और सांस्कृतिक है। इस नदी का गौरवशाली इतिहास रहा है, इसलिए यमुना को प्रदूषण मुक्त कर उसकी गरिमा लौटने की मुहिम यमुना किनारे बसे हुये लोगों को चलानी चाहिये जिससे की देश की अंधी सरकारों का इस ओर ध्यान आकर्षित हो सके। उन्होंने देशभर के सभी बुध्दजीवियों से कहा है कि वे यमुनातट पर बसे लोगों को यमुना की दुर्दशा के बारे में बताएं और उन्हें जागरूक करें। बडे उद्योगों और शहरों की गंदगी और प्रवाह पथ में गतिरोध यमुना प्रदूषण का बडा कारण है। यमुना की धारा को अविरल, निर्मल तथा आचमन लायक बनाने का जिन संतों ने बीडा उठाया है उनका सभी ब्रजवासियो को तन मन धन से समर्थन करना चाहिए। यमुना करोडों लोगों की प्यास बुझाती है और लाखों लोगो को रोजगार देती है आज जल दिवस के दिन सभी लोगों को जल संरक्षण के साथ-साथ यमुना संरक्षण का संकल्प लेना चाहिये।
पवन राजपूत ने जोर देते हुए कहा की समय आ गया है जब हम वर्षा का पानी अधिक से अधिक बचाने की कोशिश करें। बारिश की एक-एक बूँद कीमती है। इन्हें सहेजना बहुत ही आवश्यक है। यदि अभी पानी नहीं सहेजा गया, तो संभव है पानी केवल हमारी आँखों में ही बच पाएगा। पहले कहा गया था कि हमारा देश वह देश है जिसकी गोदी में हजारों नदियाँ खेलती थी, आज वे नदियाँ हजारों में से केवल सैकडों में ही बची हैं। कहाँ गई वे नदियाँ, कोई नहीं बता सकता। नदियों की बात छोड दो, हमारे गाँव-मोहल्लों से तालाब आज गायब हो गए हैं, इनके रख-रखाव और संरक्षण के विषय में बहुत कम कार्य किया गया है।
समाज सेवी बाबा दौलत राम ने कहा की पानी का महत्व भारत के लिए कितना है यह हम इसी बात से जान सकते हैं कि हमारी भाषा में पानी के कितने अधिक मुहावरे हैं। आज पानी की स्थिति देखकर हमारे चेहरों का पानी तो उतर ही गया है, मरने के लिए भी अब चुल्लू भर पानी भी नहीं बचा, अब तो शर्म से चेहरा भी पानी-पानी नहीं होता, हमने बहुतों को पानी पिलाया, पर अब पानी हमें रुलाएगा, यह तय है। सोचो तो वह रोना कैसा होगा, जब हमारी आँखों में ही पानी नहीं रहेगा? वह दिन दूर नहीं, जब सारा पानी हमारी आँखों के सामने से बह जाएगा और हम कुछ नहीं कर पाएँगे।
इसके साथ ही सभा मैं उपस्थित सभी लोगों से जल संरक्षण के लिए शपथ दिलाई गयी। संगोष्ठी मैं समाज के प्रमुख गण्मान्य व्यक्तियों सहित महिलाओं, बच्चों ने बडी तादाद मैं हिस्सा लिया। संगोष्ठी मैं अरबसिंह राजपूत, प्रभावसिंह, लवली लोधी, दुष्यंत राजपूत, मोरध्वज, लोकेश राजपूत, विष्णु लोधी, नीतेश लोधी, जीतेन्द्र, दीपक, राजवीर आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

जल संरक्षण संगोष्ठी का आयोजन ;अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी ने यमुना मुक्तीकरण अभियान के आंदोलन का समर्थन कियाद्ध
आगरा। 22 मार्च विश्व जल दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी के तत्वाधान मैं पश्चिमपुरी में जल संरक्षण संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमे समाज के जल प्रेमियों ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी ने यमुना मुक्तीकरण अभियान के तहत यमुना नदी की सफाई व इसमें अविरल जल प्रवाह की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन का समर्थन किया। और केन्द्र सरकार से हथिनीकुंड बैराज से यमुना जल की एक अविरल धारा छोड़ने की मांग की।
जल संरक्षण संगोष्ठी मैं अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी के सम्पादक मानसिंह राजपूत विचार व्यक्त करते हुये कहा कि सृष्टि की रचना के साथ ही प्रकृति ने हमें निर्बाध रूप से हवाए पानी व प्रकाश प्रचुरता में उपलब्ध कराया है। प्राणी मात्र के लिए प्रकृति प्रदत्त पंचतत्व अमूल्य हैं। सृष्टि रचना में इनका महत्वपूर्ण योगदान है। अतः प्रकृति के नियमों के तहत ही हमें इनका उपयोग करना होगा। उन्होंने कहा की देश में पानी की कमी नही हैए बल्कि इसके संरक्षण एवं रखरखाव के लिये पारम्परिक तरीके जैसे तालाबए बावडिया आदि को पुनर्जीवित कर तथा शहरों के अन्धाधुन्द विकास पर नियन्त्रण करते हुये ग्रामीण विकास की नीति को अपनाते हुए इसके संरक्षण सम्वर्धन की नीति समग्र बनायी जाए।
अखिल भारतीय लोधी राजपूत टेलीफोन डायरेक्टरी के उपसम्पादक ब्रहमानंद राजपूत ने कहा की विश्व जल दिवस दिन है पानी बचाने के संकल्प का दिन। पानी के महत्व को जानने का दिन और पानी के संरक्षण के विषय में समय रहते सचेत होने का दिन। आँकड़े बताते हैं कि विश्व के 1ण्5 अरब लोगों को पीने का शुद्ध पानी नही मिल रहा है। प्रकृति जीवनदायी संपदा जल हमें एक चक्र के रूप में प्रदान करती हैए हम भी इस चक्र का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। चक्र को गतिमान रखना हमारी जिम्मेदारी हैए चक्र के थमने का अर्थ हैए हमारे जीवन का थम जाना। प्रकृति के खजाने से हम जितना पानी लेते हैंए उसे वापस भी हमें ही लौटाना है। हम स्वयं पानी का निर्माण नहीं कर सकते अतः प्राकृतिक संसाधनों जैसे हमारी प्रमुख नदिया गंगाए यमुना को दूषित न होने दें और पानी को व्यर्थ न गँवाएँ यह प्रण लेना आज के दिन बहुत आवश्यक है। इसके साथ ही उन्होंने भूमिगत जल स्तर की निरन्तर कमी पर भी चिंता व्यक्त की।
ब्रहमानंद राजपूत ने कहा कि आगरा में यमुना को स्वच्छ बनाए रखने और उसके संरक्षण के लिए जरूरत है एक दृढ संकल्प की। यमुना का आधार धार्मिकए आर्थिक और सांस्कृतिक है। इस नदी का गौरवशाली इतिहास रहा हैए इसलिए यमुना को प्रदूषण मुक्त कर उसकी गरिमा लौटने की मुहिम यमुना किनारे बसे हुये लोगों को चलानी चाहिये जिससे की देश की अंधी सरकारों का इस ओर ध्यान आकर्षित हो सके। उन्होंने देशभर के सभी बुध्दजीवियों से कहा है कि वे यमुनातट पर बसे लोगों को यमुना की दुर्दशा के बारे में बताएं और उन्हें जागरूक करें। बडे उद्योगों और शहरों की गंदगी और प्रवाह पथ में गतिरोध यमुना प्रदूषण का बडा कारण है। यमुना की धारा को अविरलए निर्मल तथा आचमन लायक बनाने का जिन संतों ने बीडा उठाया है उनका सभी ब्रजवासियो को तन मन धन से समर्थन करना चाहिए। यमुना करोडों लोगों की प्यास बुझाती है और लाखों लोगो को रोजगार देती है आज जल दिवस के दिन सभी लोगों को जल संरक्षण के साथ.साथ यमुना संरक्षण का संकल्प लेना चाहिये।
पवन राजपूत ने जोर देते हुए कहा की समय आ गया है जब हम वर्षा का पानी अधिक से अधिक बचाने की कोशिश करें। बारिश की एक.एक बूँद कीमती है। इन्हें सहेजना बहुत ही आवश्यक है। यदि अभी पानी नहीं सहेजा गयाए तो संभव है पानी केवल हमारी आँखों में ही बच पाएगा। पहले कहा गया था कि हमारा देश वह देश है जिसकी गोदी में हजारों नदियाँ खेलती थीए आज वे नदियाँ हजारों में से केवल सैकडों में ही बची हैं। कहाँ गई वे नदियाँए कोई नहीं बता सकता। नदियों की बात छोड दोए हमारे गाँव.मोहल्लों से तालाब आज गायब हो गए हैंए इनके रख.रखाव और संरक्षण के विषय में बहुत कम कार्य किया गया है।
समाज सेवी बाबा दौलत राम ने कहा की पानी का महत्व भारत के लिए कितना है यह हम इसी बात से जान सकते हैं कि हमारी भाषा में पानी के कितने अधिक मुहावरे हैं। आज पानी की स्थिति देखकर हमारे चेहरों का पानी तो उतर ही गया हैए मरने के लिए भी अब चुल्लू भर पानी भी नहीं बचाए अब तो शर्म से चेहरा भी पानी.पानी नहीं होताए हमने बहुतों को पानी पिलायाए पर अब पानी हमें रुलाएगाए यह तय है। सोचो तो वह रोना कैसा होगाए जब हमारी आँखों में ही पानी नहीं रहेगाघ् वह दिन दूर नहींए जब सारा पानी हमारी आँखों के सामने से बह जाएगा और हम कुछ नहीं कर पाएँगे।
इसके साथ ही सभा मैं उपस्थित सभी लोगों से जल संरक्षण के लिए शपथ दिलाई गयी। संगोष्ठी मैं समाज के प्रमुख गण्मान्य व्यक्तियों सहित महिलाओंए बच्चों ने बडी तादाद मैं हिस्सा लिया। संगोष्ठी मैं अरबसिंह राजपूतए प्रभावसिंहए लवली लोधीए दुष्यंत राजपूतए मोरध्वजए लोकेश राजपूतए विष्णु लोधीए नीतेश लोधीए जीतेन्द्रए दीपकए राजवीर आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

वकीलों की हड़ताल स्थगित न्यायिक क्षेत्र वापस करने हेतु जनपद न्यायधीश ने की संस्तुति

Posted on 28 February 2015 by admin

03 माह से अधिवक्ताओं की चल रही हड़ताल आज स्थगित कर दी गई। विभिन्न अधिवक्ता संघों द्वारा हड़ताल स्थगित करने की सूचना जनपद न्यायधीश को देते हुए पुनः कार्य करने का आश्वासन दिया ।
जनपद न्यायाधीश विजय प्रताप सिंह द्वारा अधिवक्ताओं की हड़ताल समाप्त होने की सूचना प्राप्त होते ही उच्च न्यायालय को जनपद आगरा के न्यायिक क्षेत्राधिकार को पुनः वापस करने की संस्तुति की।
श्री सिंह द्वारा बताया गया कि गत 03 माह से चल रही अधिवक्ताओं की हड़ताल के कारण वादकारियों को अत्यधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। जहां एक ओर न्यायिक क्षेत्र इटावा जाने के कारण वादकारी को इटावा जाने-आने के लिए अधिक समय लगता था दूसरी ओर उसे अधिक व्यय भी करना पड़ता था।
जनपद न्यायाधीश ने बताया कि हड़ताल समाप्ति की सूचना आगरा बार एसोसिएशन के अध्यक्ष एवं सचिव, ग्रेटर बार एसोशिएसन के अध्यक्ष व सचिव, कलेक्ट्रेट वार एसोशियेसन के सचिव, कमिश्नरी कोर्ट के वकीलों द्वारा लिखित रूप में जनपद न्यायाधीश को दिया गया है। उन्होंने बताया कि अनेकों सघं एवं अधिवक्ताओं द्वारा उन्हें मौखिक रूप से भी कार्य करने का आश्वासन दिया है।
जनपद न्यायाधीश द्वारा वादकारियों के हित में कार्य करते हुए तुरन्त अपना संस्तुति पत्र उच्च न्यायालय भेज दिया साथ ही दूरभाष से भी यथा शीघ्र न्यायिक क्षेत्र वापस करने का अनुरोध किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय लोक अदालत के नोडल अधिकारी एवं अपर जिला जज जितेन्द्र कुमार सिंह, विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव मुमताज अली भी उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

आलू, गेहूॅं व राई की फसलों को रोगों से बचाने के उपचार

Posted on 10 February 2015 by admin

मुख्य विकास अधिकारी एन0के0 पालीवाल ने जनपद के कृषक भाइयों को सूचित किया है कि मौसम के उतार चढ़ाव के कारण आलू की फसल में कही-कहीं झूलसा रोग के लक्षण दिखाई पड़ रहे हैं इसमें आलू की पत्तियांॅ झूलसकर काली पड़ जाती हैं। इस रोग के नियंत्रण हेतु मैंकोजेब 02 किग्रा अथवा मैटालौक्सिल 1.00 किग्रा दवा को 700 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें। राई की फसल में माॅहू कीट की रोकथाम हेतु डायमिथोएट 30: म्ब् की एक लीटर मात्रा 700 लटर पानी में घोलकर छिड़काव करें तथा गेहूॅं की फसल में करनाल वण्ट नामक रोग के प्रभावी नियंत्रण हेतु प्रोपीकोनाजोल 25ःम्ब् 500 मिली मात्रा को 700 लीटर पानी में घोल बनाकर फसल पर छिड़काव करें।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

पेंशनर आयकर में छूट हेतु अपनी आय व बचत विवरण कोषागार में 20 फरवरी तक प्रस्तुत करें।

Posted on 10 February 2015 by admin

मुख्य कोषाधिकारी डा0 अमर सिंह ने सूचित किया है कि कोषागार से पेंशन प्राप्त कर रहे समस्त पेंशनर जो आयकर की परिधि में आते है वे वर्ष 2014-15 में प्राप्त की गयी पेंशन/आय से आयकर की कटौती में छूट प्राप्त करने हेतु अपनी बचतों व आय का विवरण, पेन कार्ड की छाया प्रति सहित 20 फरवरी तक कोषागार में अवश्य प्रस्तुत कर दें अन्यथा की स्थिति में किसी भी प्रकार के विलम्ब आदि के लिए वे स्वयं जिम्मेदार होंगे। आयकर विवरण तथा पेन कार्ड की छाया प्रति प्राप्त न होने पर आयकर अधिनियम 80 सी, 80 सीसीसी, 80 सीसीडी आदि मेे दी गई छूट को शून्य मानते हुए नियमानुसार आयकर की गणना कर पेंशन से निर्धारित आयकर की कटौती कर ली जायेगी।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

7.35 करोड से होगा नुनिहाई औद्योगिक आस्थान का विकास

Posted on 06 February 2015 by admin

मण्डलायुक्त प्रदीप भटनागर ने कमिश्नरी लघु सभागार में आज मण्डलीय उद्योग बन्धु बैठक की अध्यक्षता करते हुये बताया कि नुनिहाई क्षेत्र, औद्योगिक आस्थान में सड़क, नाली, पुलिया, रोड, साइड ग्रीनरी तथा एडी ब्लाक के विकास हेतु भारत सरकार की क्लस्टर विकास योजना के अन्तर्गत 7 करोड़ 35 लाख की धनराशि उपलब्ध करायी है जिससे क्षेत्र का अच्छा विकास होगा। इस कार्य को राजकीय निर्माण निगम द्वारा एक वर्ष में पूर्ण कराया जायेगा। इसी योजना के अन्तर्गत शिकोहाबाद औद्योगिक क्षेत्र के विकास के लिए 4 करोड़ 85 लाख की धनराशि मिली है। इसके अतिरिक्त फाउण्ड्रीनगर क्षेत्र के विकास हेतु 03 करोड़ रूपये का प्रस्ताव औद्योगिक विकास कोष उ0प्र0 शासन को प्रेषित किया जा चुका है, जिसके निकट भविष्य में ही मिलने की सम्भावना है।
मण्डलायुक्त ने उ0प्र0 प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी से कहा कि जब फिरोजाबाद में चूड़ी पकाई की 111 भट्टिया बंद कराई जा चुकी  है तो यहां पर भी शेष कोयला संचालित पेठा भट्टियों को भी शत-प्रतिशत बन्द कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने यमुना में बढ़ रहे प्रदूषण की रोकथाम के लिए सक्रियता के साथ कार्य करने के सख्त निर्देश दिये। प्रधानमंत्री ग्राम्य स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों को ऋण उपलब्ध कराने सम्बन्धित आवेदन पत्रों का निस्तारण आगरा, मथुरा तथा मैनपुरी जनपदों में मानक के अनुरूप न होने पर संयुक्त निदेशक उद्योग को निर्देश दिये कि  वह इस सम्बन्ध में जिलाधिकारियों को पत्र भिजवायें जिससे कि बैकर्स की बैठक बुलाकर आवेदन पत्रों का निस्तारण सुनिश्चित कराया जा सकें।
उद्यमी बी0एस0 गोयल तथा विष्णु भगवान अग्रवाल ने बोदला औद्योगिक फीडर से हो रही विद्युती कटौती न कराने की मांग की, जिस पर मण्डलायुक्त ने विद्युत विभाग को निर्देश दिये कि आवश्यकतानुसार ट्रांसफार्मर का लोड बढायें, जिससे विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके।
बैठक में नगर आयुक्त इन्द्र विक्रम सिंह, संयुक्त निदेशक उद्योग विनय कुमार, उपायुक्त उद्योग आगरा वीरेन्द्र कुमार, मथुरा, फिरोजाबाद तथा मैनपुरी के उपायुक्त उद्योग,  आवास विकास परिषद, उ0प्र0 प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकाकारी ए0के0 आनन्द , टोरन्ट सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

स्वयंसेवी संस्थाएं प्रशिक्षण प्रदान करने हेतु 30 सितंबर तक प्रत्यावेदन प्रस्तुत करें

Posted on 27 September 2014 by admin

उपायुक्त, जिला उद्योग केन्द्र ने राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग द्वारा अनुमोदित समस्त स्वयं सेवी संस्थाओं को प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजनान्तर्गत वर्ष 2014-15 हेतु बैंकों से ऋण स्वीकृति प्राप्त लाभार्थियों के उद्यमिता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम हेतु सूचित किया है कि यदि वह जनपद आगरा मंे निर्धारित गाइडलाइन्स के अनुसार प्रशिक्षण प्रदान करने हेतु इच्छुक हों तो वह 30 सितम्बर तक किसी भी कार्यदिवस में अपना प्रत्यावेदन उनके कार्यालय में प्रस्तुत कर सकते हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

May 2017
M T W T F S S
« Apr    
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
-->






 Type in