*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | UP Elections

चेकिंग में पकड़ी 7 लाख 88 हजार रूपये की नई करन्सी…

Posted on 10 January 2017 by admin

800x535update_jhansi_police_checking_nwabad_holding_more_than_5_million_in_cash_and_two_young_men1झाँसी :- आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद एसएसपी अखिलेश चौरसिया के निर्देशन में जनपद के थानों की पुलिस चेकिंग तेज कर दी है। पुलिस ने चैकिंग के दौरान अलग अलग चार पहिया बहन से 7 लाख 88 हजार रूपये की नई करन्सी बरामद की. पकड़े गये सभी युवकों को थाने लाकर पूछतांछ की जा रही है।

मंगवार को नवाबाद थाना प्रभारी बीएल यादव अपने हमराह के साथ जेल चौराहे पर चेकिंग कर रहे थे। उसी दौरान उन्हें वहां सीएमएस कम्पनी की मार्शल कार नजर आई। जहां रोककर जब उसकी तलाशी ली गई। तो उसमें 5 लाख 38 हजार रुपये की नकदी मिली। शक होने पर पुलिस ने कार और चालक समेत तीन लोगों को थाने ले आई। जहां उनसे पूछतांछ की जा रही है। नवाबाद थाना प्रभारी बीएल यादव के अनुसार पूछताछ में पकड़े युवक ने अपना नाम नीरज और सुमेर कुमार बताया। फिलहाल जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई है।

वही बबीना थाना प्रभारी प्रवीण कुमार अपने हमराह के साथ वाहन टोल बेरियल के नजदीक चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें तीन अलग-अलग कार संदिग्ध नजर आई। जिसे रोककर जब कार की तलाशी ली गई तो पुलिस दंग रह गई।

बबीना थाना प्रभारी के अनुसार कार की तलाशी लेने पर एक कार से 66 हजार रुपये नकद, दूसरी कार से एक लाख रुपये नकद व तीसरी से 1 लाख 10 हजार रुपये नकद मिले। पुलिस ने मौके से 4-5 व्यक्तियों को भी पकड़ लिया और थाने ले आई। जहां उनसे पूछतांछ की गई। पूछतांछ में उन्होंने बताया वह दिल्ली से यह रकम लेकर आये है और महाराष्ट्र में भण्डरा कराने के लिये जा रहे थे। पूछतांछ कर इसके बारे में जिलाधिकारी समेत अन्य उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया है।

Comments (0)

भाजपा उम्मीदवारों के नाम फाइनल के लिए 4 बजे होगा मंथन..

Posted on 10 January 2017 by admin

bjp-candidate-list-for-uttar-pradesh-election-2017

प्रदेश में विधानसभा चुनाव का बिगुल बजते ही सभी राजनीतिक दलों ने अपनी- अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं. विधानसभा चुनावों के लिए भारतीय जनता पार्टी की चुनाव अभियान समिति की बैठक आज शाम 4 बजे प्रदेश कार्यालय में बुलाई गई है. प्रदेश मीडिया प्रभारी हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने बताया कि आगामी विधान सभा चुनाव को देखते हुए यह अहम बैठक प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य की अध्यक्षता में बुलाई गई है. इस बैठक में प्रदेश प्रभारी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सांसद ओम प्रकाश माथुर, राष्ट्रीय सहसंगठन मंत्री शिव प्रकाश, केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल तथा प्रदेश चुनाव समिति के सभी सदस्य हिस्सा लेगें. पार्टी सूत्रों का कहना है यूपी में आज होने वाली प्रदेश स्तर की चुनाव समिति की बैठक के बाद अगर प्रधानमंत्री का ग्रीन सिग्नल मिल गया तो केंद्रीय चुनाव समिति की पहली बैठक बुधवार को ही दिल्ली में बुलाई जा सकती है. जिसमें बीजेपी के उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लग सकती है. पहली लिस्ट में इनके नाम बीजेपी के एक बड़े नेता के मुताबिक पार्टी की कोशिश होगी कि सबसे पहले उन सीटों पर उम्मीदवारों के नाम फाइनल किए जाएं, जहां किसी तरह का विवाद नहीं है. ऐसे उम्मीदवारों में वे नेता शामिल हो सकते हैं, जिन्होंने पिछली बार विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की थी.
वही बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने बताया कि उनकी सारी तैयारी पूरी हो गई हैं. चुनाव अभियान समिति की बैठक में चुनाव के बिंदुओं और उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा होगी. केशव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा का हर कार्यकर्ता मुख्यमंत्री का चेहरा है. उन्होंने सहयोगी दलों से सीटों के तालमेल पर किसी भी तरह के विवाद से इनकार करते हुए कहा कि भाजपा के उम्मीदवारों की सूची अंतिम चरण में है.

Comments (0)

विश्व जल दिवस उत्सव एवं क्रियान्वयन ब्लाक स्तर पर किया जाए

Posted on 21 March 2013 by admin

जिला पेयजल एवं स्वच्छता समिति के माध्यम से इसकी आपूर्ति ग्रामीण क्षेत्रो में सुनिश्चित करवाने के लिए मुख्य विकास अधिकारी वियोधन द्वारा अधिशासी अभियंता जल निगम को निर्देशित किया गया कि भारत सरकार की मंशा के अनुरूप सभी को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाना हैण्डपम्प रिबोरिंग पाइप पेयजल योजना ग्रामों में गर्मी से पहले असेवित बस्तियों समग्र ग्र्रामों में प्राथमिकता पूर्वक करवाए जाएं। बस्तियों में जाकर निर्माणाधीन कार्य स्थलों की जानकारी बीडीओ से कार्यो की पुष्टि भी मांगी जाए। इस अवसर पर डीडीओ द्वारा बताया गया कि मझिगवां, लोन्हारा, मंे जलापूर्ति साधन है परन्तु लोवोल्टेज की समस्या आड़े आती है। गौसगंज, हरपालपुर एवं मझिला में कार्य चल रहा। 1040 असेवित बस्तियों 1426े हैण्डपम्प लगने है। जिसमें 436 निगम द्वारा लगाए जा चुके 810 की रिबोरिंग भी करवाई गई। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रकाश कुमार जिला कृषि अधिकारी अमर ंिसह, जिला विद्यालय निरीक्षक जेपी यादव, समाज कल्याण अधिकारी एसएस श्रीवास्तव मौजूद रहे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

’’माया मनमोहन तो जरूर जायेंगे’’ - नरेन्द्र सिंह राणा

Posted on 06 March 2012 by admin

6 मार्च को उ0प्र0 के चुनावी नतीजे चाहे जैसे आएं मुख्यमंत्री मायावती व देश के प्रधानमंत्री मनमोहन ंिसंह का जाना अवश्यमभावी है। सवाल यह है कि उ0प्र0 चुनाव में भाजपा, माया और मुलायम तो चुनावी दंगल में लड़े हैं परन्तु मनमोहन सिंह को अपना पद किस खता के लिए गवाना पडे़गा यह रोचक एवं रहस्यमयी प्रश्न है।  जगत में नेताओं, अधिकारियों व अति प्रभावशाली धन्ना सेठों की हुकुमत किस पर नहीं चलती यह जानना जरूरी हो गया है जिसके परिणामस्वरूप वो ना चाहते हुए भी विदा होते हैं चाहे यह विदाई पद की हो, प्रतिष्ठा की हो अथवा शरीर शांत होने के रूप में हो। जी हाॅं बीमारी और मौसम पर इनकी हुकुमत नहीं चलती। किसी शायर ने खूब कहा है कि- गनीमत है कि मौसम व बीमारी पर इनकी हुकुमत नहीं चलती वरना यह सारे बादल अपने खेत में ही बरसा लेते। इन चुनावों में मौसम ने भी लगभग खूब साथ दिया और बिमारी से भी सब दूर रहे। उल्लेखनीय है कि पंजाब, उत्तराखंड और गोवा के चुनाव तो तय समय पर हुए परन्तु उ0प्र0 के चुनाव अपै्रल मई की जगह जनवरी, फरवरी में क्यों कराए गए ? कहीं जल्दी चुनाव कराया जाना मनमोहन ंिसह की विदाई का कारण तो नहीं है।  सवाल उठता है कि न तो केन्द्र की कांगे्रस सरकार के पक्ष में लहर थी जिसका लाभ वो उ0प्र0 के चुनाव में लेते और न ही उ0प्र0 में उनको मणी-माणिक्य जैसी कोई बड़ी उपलब्धि भी रही हो ऐसा भी नहीं है, फिर क्या कारण है कि उ0प्र0 का चुनाव निरन्तर हो रही फजीहतों के बीच में ही तय समय से पूर्व कांगे्रस ने कराया। मुख्यमंत्री मायावती ने भी विधानसभा भंग कर चुनाव की सिफारिश नहीं की थी। अन्य दल भी कमोवेश समय से ही चुनाव होगा मानकर चल रहे थे। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार उ0प्र0 का चुनाव तो महज बहाना है। इसकी आड़ में बड़ा गुल कांगे्रस को खिलाना है। राहुल गांधी को चुनाव बाद प्रधानमंत्री बनाना है। यह कांगे्रस के विदेशी व देशी रणनीतिकारों की सोची समझी बाजी है। जिसमें सांप भी मर जाए और लाठी भी न टूटे। बिल्ली के भाग्य से छिंका भी टूट जाए। चुनाव में कुछ अच्छा हुआ तो राहुल गांधी का करिश्मा वरना राहुल की कड़ी मेहनत के बाद भी केन्द्र सरकार के खराब प्रदर्शन के कारण हार का स्वाद चखना पड़ेगा। हार को पचाना कांगे्रस के बूते की बात कभी नहीं रही वो हर हार में दूसरे के सर ठींकरा फोड़ने में माहिर हैं अब रस्म अदायगी के लिए हार व जीत की समीक्षा हेतु कांगे्रस कोर गु्रप की बैठक होगी राहुल के नाम पर खुद प्रधानमंत्री मोहर लगाएंगे, सर्वानुमति बनेगी और राहुल गांधी अपै्रल मई में भारत के प्रधानमंत्री बन जाऐंगे। कांगे्रस नेतृत्व में न्याय की नाममात्र भी भावना नहीं रह गई स्पष्ट है कि वह नैतिकता, मूल्यों और आचार नियमों का बुरी तरह तिरस्कार करती है। सत्ता की दुर्दम्य चाह में कांगे्रस नेतृत्व किसी भी स्तर तक नीचे गिरने और कोई भी साधन अपनाने को तैयार है। यह पार्टी सदा से लोकतंत्र के मुकाबले खानदानी तंत्र को बढ़ावा देती है। वह लोगों की दुर्दशा से मुंह मोड़ने के अलावा कर भी क्या सकती है। जैसा की वह समय-समय पर करती आई है। वैसे भी मनमोहन सिंह जी को हटाने से देश में कोई बड़ी प्रतिक्रिया नहीं होगी क्योंकि उन्होंने कभी भूलकर भी कोई तथाकथित बड़ा काम देश के लिए किया होगा तो उसका भी श्रेय उन्होंने श्रीमती सोनिया गांधी व राहुल गांधी को ही दिया है। यानि देश के लिए कम और खानदान के लिए ज्यादा पद को अब तक संभाला है।
एक बार भारत की आजादी के 10 वर्ष बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री ने एक कार्यरत मजदूर से पूछा कि क्यों काम कर रहे हो किसके लिए काम कर रहे हो तो मजदूर ने उत्तर दिया पेट के लिए साहब। प्रधानमंत्री जी सुनकर हैरान यह आजादी के 10 वर्ष बाद भी कहता है काम पेट के लिए देश के लिए नहीं। आज कुछ ऐसा ही हाल वर्तमान प्रधानमंत्री जी के बारे में भी लोग कहते मिलते हैं कि वे देश के लिए कम और गांधी परिवार के लिए अधिक काम करने वाले हैं।
6 मार्च की मतगणना के बाद जो सियासी सूरज उगेगा उसकी तपन बहुतों को महसूस होगी। उस तपन से मायावती व मनमोहन सिंह का जाना तो तय हो गया है। मायावती जी को तो मतगणना के द्वारा अपना फरमान भेजकर जनता जनार्दन विदा करेगी। परन्तु मनमोहन ंिसंह जी को किसी बीमारी और लाचारी का सामना अपने पद गंवाने की कड़ी में करना ही होगा। वैसे चुनाव से पूर्व कांगे्रस कुछ बेहतर करे इसके लिए उन्होंने आनन-फानन में अजीत सिंह को मंत्री पद देकर रालोद से समझौता किया। पद पैसे के लिए प्रतिष्ठा को पूर्व की भांति तार-तार किया गया। रालोद लोकसभा चुनाव भाजपा से मिलकर लड़ा लेकिन साथ दिया कांगे्रस का। लोकसभा में गठबंधन भाजपा से था, विधानसभा में गठबंधन कांगे्रस से आगे राम जाने क्या हेागा। प्रबल तृष्णाओं (पदेष्णा, पुत्रेष्णा, वित्तेष्णा) का अगर एक उदाहरण दिया जाए तो कांगे्रस-सपा-बसपा और लोकदल है। लोकसभा में मथुरा से बेटे की जीत का छींका भाजपा के भाग्य से टूटा। अब उसको एमएलए का चुनाव लड़वा रहे हैं क्योंकि मुख्यमंत्री का दावा लोकदल से और किसी के खाते में न चला जाए यानि बेटा नेता भी, सांसद भी और विधायक भी। वाह रे तृष्णा, वह भी उस भारतभूमि में जहां बुद्ध, महावीर, राणा प्रताप ने सत्ता को पद, पैसा और प्रतिष्ठा को जो उनको माॅं के गर्भ से ही प्राप्त हो गई थी राष्ट्र अराधना, राष्ट्र पे्रम व मातृभूमि की रक्षा के कारण न केवल ठोकर मार दी बल्कि अपने जीवन के अन्तिम समय तक उसको पास भी नहीं फटकने दिया। उस देश में जहां सभी संतोें ने शरीर को संस्कार कहा है, वेदों ने भोग की भूमि नहीं योग की भूमि बताया है। उस देश में सत्ता के लिए क्या-क्या हो रहा है। राम के इस देश में आज के दौऱ में चाम और लगाम बादाम से मंहगे नहीं है बेशक अब राजा किसी रानी की कोख से पैदा नहीं होता, लोकतंत्र में जनता जनार्दन निर्णय करती है कि उसका नेता कैसा हो। परिवार और पद के अहंकार में अपने को बड़े से बड़ा शूरमा समझने वालों को भी जनता चुरमा बना देती है। भारत ने भ्रष्टाचार के विरूद्ध अंगड़ाई ले ली है उसका उदाहरण बढ़ा हुआ मतदान है, मा0 सर्वाेच्च न्यायालय की भ्रष्टाचारियों को जेल भेजने की कार्यवाही हो जिसमें ए0राजा, कलमाड़ी और अन्य मंत्री, मुख्यमंत्री, 121 कंपनियों के लाइसेन्सों को निरस्त करना आदि जेैसे उल्लेखनीय उदाहरण हैं। शर्म का मर्म जनता तो जानती है लेकिन जनता की सेवा करने वाले अधिकारी व नेताओं ने बेच खाई है और अधिकत्तर लोकतंत्र को लूटतंत्र व लोभतंत्र का नाम देने के गुनाहगार हैं।
राहुल गांधी का मार्च, अपै्रल में प्रधानमंत्री बनना और उसके साल भर बाद प्रियंका गांधी का कांगे्रस की अध्यक्ष बनना लगभग 10 माह पूर्व ही तय हो चुका था जब श्रीमती सोनिया गांधी अपनी बीमारी के इलाज के लिए विदेश गई, उसके बाद भारत लौटी उसी समय अपने बच्चों को प्रमुख पदों पर बैठाने की योजना बन गई। इसी कारण पिछले साल भर से राहुल गांधी उ0प्र0 में अकेले कांगे्रस के लिए प्रचार-प्रसार में जुटे रहे और अन्य नेताओं जैसे स्वयं प्रधानमंत्री कांगे्रस के अति वरिष्ठ नेता प्रणव दा, पी0 चिदम्बरम आदि का चुनाव में आना न के बराबर रहा। चुनाव के बहाने राहुल गांधी को मेहनती, हमदर्द दिखाने की कोशिश अधिक रही। हार जीत का होना आम बात है। जनमत अपना निर्णय देशहित में देता है उसको हम सभी को सर माथे पर रखना चाहिए। इस शेर के साथ इस लेख की बात यही खत्म-
हाले गम सुनाते जाइए-लेकिन इतनी हमारी शर्त है मुस्कुराकर जाइए
जनमत का जो भी निर्णय है, उसको सर झुकाकर जाइए।

लेखक- उ0प्र0 भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी हैं
मो0 9415013300
—————————–
सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

प्रदेश में सात चरणों में शान्तिपूर्ण मतदान का सम्पन्न होना लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत-श्री राज्यपाल

Posted on 05 March 2012 by admin

  • ‘‘मतदाता के संग: चुनाव के रंग’’ थीम पर आधारित प्रदर्शनी के आयोजन का उद्देश्य मीडिया से जुड़ी  प्रतिभाओं को उकेरने का प्रयास-उमेश सिन्हा
  • कल प्रातः 10 बजे से आम जनता के लिए खुली रहेगी प्रदर्शनी
  • समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह कल सायं 04:00 बजे सम्पन्न होगा

उत्तर प्रदेश के महामहिम श्री राज्यपाल श्री बी0एल0 जोशी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश विधान सभा निर्वाचन -2012 मंे मतदान का बढ़ा हुआ प्रतिशत इस बात का साक्षी है कि प्रदेश का मतदाता जागरूक हुआ है। सात चरणों में शान्तिपूर्ण मतदान का सम्पन्न होना लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत है। चुनाव के इस महायज्ञ में हर व्यक्ति ने अपने मत की जो आहूति दी है, उससे लोकतंत्र और अधिक मजबूत होगा।
महामहिम श्री राज्यपाल आज ललित कला अकादमी केसरबाग लखनऊ में मतदाता जागरूकता एवं उत्तर प्रदेश निवार्चन-2012 पर आधारित ‘‘मतदाता के संग: चुनाव के रंग’’ थीम पर आधारित दो दिवसीय फोटो फीचर एवं लघु फिल्म प्रदर्शनी के उद्घाटन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अपने जीवन में मैंने कई चुनाव देखें हैं, पर यह चुनाव कुछ अलग और विशेष था। उन्होंने कहा कि मैंने यह महसूस किया कि प्रदेश के हर नागरिक में एक उमंग थी। प्रदेश के मतदाताओं में इस उमंग को जगाने का जो गुरूतर कार्य भारत निर्वाचन आयोग, प्रदेश के मुख्य निवार्चन अधिकारी ने किया, उसकी जितनी सराहना की जाये वह कम है। इस कार्य में मीडिया ने विलक्षण सहयोग दिया। उन्होंने कहा कि चाहे, प्रिन्ट मीडिया के एडिटर, रिपोटर तथा लेखक रहे हों या इलेक्ट्राॅनिक मीडिया के कर्मी, सभी ने बढ़चढ़ कर अपनी भूमिका निभाई और सभी में मतदान को त्यौहार के रूप में मनाने का जज्बा दिखा।
श्री जोशी ने कहा कि इस चुनाव की सबसे अच्छी बात यह थी कि प्रदेश के प्रत्येक नागरिक ने वोट की ताकत को महसूस किया, यह जागरूकता देश व प्रदेश के लिए महत्वपूर्ण है तथा यह भविष्य लिए शुभ संकेत है। उन्होंने कहा कि अब सभी को 06 मार्च को घोषित होने वाले चुनाव परिणामों की प्रतीक्षा है। उन्होंने कहा कि परिणाम चाहे जो भी आयें, पर जीत तो लोकतंत्र की ही होगी।
महामहिम श्री राज्यपाल ने कहा कि इस चुनाव में नवयुवक, युवाआंे, कालेज के छात्र-छात्राओं तथा महिलाओं का जुड़ना इस बात का प्रमाण है कि लोगों ने अपनी जिम्मेदारी पहचानी है, उन्होंने इस जिम्मेदारी को जगाने में भारत निवार्चन आयोग और प्रदेश मुख्य निवार्चन अधिकारी तथा उनके स्टाफ एवं प्रदेश के जागरूक नागरिकों की भूमिका की सराहना की। उन्होंने कहा कि आज लगायी गयी प्रदर्शनी अपने आप में बेमिसाल इवेन्ट है। यह प्रदर्शनी युवाओं के लिए प्रेरणा का स्रोत बनेगी। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस प्रकार की प्रदर्शनी प्रदेश के बड़े-बड़े शहरों, विश्वविद्यालयों तथा शिक्षण संस्थानों में लगायी जाएगी।
प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री उमेश सिन्हा ने कहा कि हाल ही में सात चरणों में सम्पन्न हुए विधान सभा चुनाव 2012 में पिछले विधान सभा चुनाव के मुकाबले इस बार 30 प्रतिशत अधिक मतदान हुआ। महिलाओं के लिए तो यह चुनाव और भी ऐतिहासिक और उत्साह वर्धक रहा। इस चुनाव में महिलाओं की भागीदारी में 30 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई। वर्ष 2007 के चुनाव में जहां 42 प्रतिशत महिलाओं ने मतदान किया था, वहीं इस बार यह 60 प्रतिशत तक पहुंच गया है। शहरी मतदाताओं ने भी अपनी चुप्पी तोड़ी है, लखनऊ में पिछली बार की अपेक्षा 81 प्रतिशत ज्यादा मतदान हुआ। वर्ष 2007 में जहां 29 प्रतिशत वोट पड़े थे, वहीं इस बार 53 प्रतिशत मतदान हुआ।
श्री सिन्हा ने कहा कि मतदाता जागरूकता के अन्तर्गत श्री राज्यपाल ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस 2011 तथा 2012 दोनों वर्षों में मतदान के संकल्प की शपथ दिलायी थी। इस वर्ष लगभग पांच करोड़ से अधिक लोगों ने मतदाता शपथ ग्रहण की। जागरूकता कार्यक्रमों में मीडिया, शिक्षण संस्थाओं, छात्र-छात्राओं ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। लोक गायिका एवं ब्रान्ड एम्बेसडर, भारत निर्वाचन आयोग सुश्री मालनी अवस्थी ने इस अभियान को धार दी।
श्री सिन्हा ने कहा कि दो दिवसीय फोटो फीचर एवं लघु फिल्म प्रदर्शनी के आयोजन का उद्देश्य इलेक्ट्राॅनिक व प्रिन्ट मीडिया से जुड़े फोटोग्राफ्रर की प्रतिभाओं को उकेरने का एक छोटा सा प्रयास है। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी में लगाया गया एक-एक चित्र रत्न का प्रतीक है, जिसकी माला गूथ कर इस अदभुत प्रदर्शनी का आयोजन सम्भव हो सका है। उन्होंने कहा कि इस प्रदर्शनी में सभी संस्थानों ने बढ़-चढ़ कर भागीदारी की। उन्होंने कहा कि मतदाता जागरूकता अभियान के द्वारा श्री राज्यपाल ने जो प्रदेशवासियों को जो संदेश दिया, उससे लोगों में उत्साह बढा़, जिससे 60 प्रतिशत मतदान सम्भव हो पाया। श्री राज्यपाल स्वंय मतदाता बन कर इस कार्यक्रम से जुड़े तथा प्रथम नागरिक के रूप में सपरिवार मतदान किया।
सचिव सूचना एवं मण्डलायुक्त लखनऊ श्री प्रशान्त त्रिवेदी ने धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में 60 प्रतिशत मतदान का रिकाॅर्ड बनाने में मीडिया की भूमिका अद्वितीय रही है, जिसने चुनाव से जुड़ी पल-पल की खबर देकर लोगों में उत्सुकता बनाये रखी।
इससे पूर्व श्री राज्यपाल ने दीप जलाकर प्रदर्शनी का उद्घाटन किया तथा मीडिया द्वारा लगाई गयी फोटो फीचर एवं लघु फिल्म प्रदर्शनी का अवलोकन किया। यह प्रदर्शनी आम जनता के लिए प्रातः 10 बजे से खुली रहेगी, समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह कल अपरान्ह 04ः00 बजे सम्पन्न होगा।
इस अवसर पर सचिव उच्च शिक्षा श्री अवनीश अवस्थी, संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी, श्रीमती अनीता सी मेश्राम, जिलाधिकारी/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, लखनऊ, निर्वाचन विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियांे के अतिरिक्त एन0एस0एस0 के राज्य कोआॅर्डिनेटर श्री एसबी सिंह, जयनारायण कालेज के एनएसएस के कोआॅर्डिनेटर श्री अंशुमाली शर्मा, मीडिया से जुड़े सम्पादक एवं गणमान्य नागरिक भी मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

आबकारी विभाग ने बरामद की 9286 लीटर अवैध शराब आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के 101 मामलों में 6 एफ0आई0आर0 दर्ज

Posted on 02 March 2012 by admin

  • आज 1154 लाइसेंसी हथियार जमा/निरस्त/निष्प्रभावी
  • सी0आर0पी0सी0 की धारा-107/116 के तहत 2477 व्यक्ति पाबन्द
  • 56 व्यक्तियों के विरूद्ध गैर जमानती वारण्ट जारी
  • प्रदेश में आज अवैध 17 असलहे, 35 कारतूस तथा     50 हथियार बनाने वाले कारखाने सीज

उत्तर प्रदेश विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2012 को शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष ढंग से कराने के उद्देश्य से आबकारी विभाग द्वारा चलाये जा रहे अभियान के तहत आज 9286 लीटर अवैध शराब जब्त की गयी है जिसमें 9188 लीटर देशी एवं 98 लीटर विदेशी शराब शामिल है।
यह जानकारी मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री उमेश सिन्हा ने देते हुए बताया कि आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन में आज वालराइटिंग, बैनर्स, पोस्टर, झण्डे, लाल-नीली बत्ती, लाउडस्पीकर एवं मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकद धनराशि एवं उपहार वितरण आदि के 101 मामलों में 6 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी। इसमें लाल-नीली बत्ती एवं झण्डों के दुरूपयोग के 3 मामलों में कार्यवाई करते हुए 3 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी। इसी तरह बिना अनुमति सभा/भाषण, लाउडस्पीकर का प्रयोग करने तथा मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकदी एवं उपहार वितरण के 24 मामलांे में 4 तथा अन्य के 3 मामलों में 3 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आज 17 अवैध असलहे एवं 35 कारतूस जब्त करते हुये 2477 व्यक्तियों को सी0आर0पी0सी0 की धारा-107/116 के तहत पाबन्द किया गया तथा  अवैध हथियार बनाने वाले 55 कारखानों को सीज किया गया। उन्हांेने बताया कि लाइसेंसी हथियारों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत 1154 लाइसेंसी हथियार जमा/निरस्त/निष्प्रभावी किये गये। आज 56 व्यक्तियों के विरूद्ध गैर जमानती वारण्ट जारी किये गये।
श्री सिन्हा ने बताया कि प्रदेश में लाइसेंसी हथियारों के विरूद्ध चलाये गये अभियान के तहत अब तक लगभग 6.91 लाख लाइसेंसी हथियार जमा/निरस्त/निष्प्रभावी किये गये। उन्होंने बताया कि शांतिपूर्ण चुनाव कराये जाने के मद्देनजर कानून एवं व्यवस्था के तहत प्रदेश में अब तक 5747 अवैध असलहे एवं 8590 कारतूस जब्त किये जा चुके हैं। इसके अतिरिक्त 26183 लोगों के विरूद्ध गैर जमानती वारन्ट तामील कराये गये तथा अवैध हथियार बनाने वाले 12669 कारखानों को सीज किया गया है।
श्री सिन्हा ने बताया कि आचार संहिता के उल्लंघन के तहत प्रदेश में अब तक वालराइटिंग, बैनर्स, पोस्टर, झण्डे, लाल-नीली बत्ती, लाउडस्पीकर के दुरूपयोग एवं मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकद धनराशि एवं उपहार वितरण आदि के लगभग 8.46 लाख मामलों में  कार्यवाई करते हुए 3506 एफ0आई0आर0 दर्ज कराई गयी है जिसमें लाल-नीली बत्ती तथा गाडि़यों पर लगे झण्डों के दुरूपयोग के 8611 मामलों में 2176 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी। इसी तरह बिना अनुमति सभा/भाषण, लाउडस्पीकर का प्रयोग करने तथा मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकदी एवं उपहार के वितरण के 1330 मामलों में 373 तथा अन्य 3377 प्रकरणों में 954 एफ0आई0आर0 दर्ज कराई जा चुकी है।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि अब तक लगभग 17.65 लाख व्यक्तियों को सी0आर0पी0सी0 की धारा-107/116 के तहत पाबन्द किया गया है। उन्होंने बताया कि आबकारी विभाग द्वारा प्रदेश में अब तक लगभग 3.55 लाख लीटर अवैध शराब तथा फ्लाइंग स्क्वायड/निगरानी दल द्वारा लगभग 36.17 करोड़ रूपये जब्त किये जा चुके हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

Congress- UP election

Posted on 02 March 2012 by admin

Congress- RLD election campaign- Concluding day of UP election- Deepender Hooda- Jayant Chaudharydeep-jayant2

dv
BIJNOR(UP):AICC SECRETARY AND SENIOR CONGRESS LEADER DIGVIJAY SINGH WITH MP
AND AICC. SECRETARY DR. ASHOK TANWAR AT AN  ELECTION CAMPAIGNING IN  NAGINA
ON THURSDAY

Comments (0)

विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र-358 रसड़ा के पोलिंग स्टेशन 119, 119 ए एवं निर्वाचन क्षेत्र-57 मोदीनगर के पोलिंग स्टेशन 67 पर पुनर्मतदान 3 मार्च को

Posted on 02 March 2012 by admin

भारत निर्वाचन आयोग ने दूसरे चरण में दिनांक 11 फरवरी, 2012 को हुये मतदान के अंर्तगत 358-रसड़ा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के पोलिंग स्टेशन 119, 119 ए तथा छठवें चरण में दिनांक 28 फरवरी, 2012 को हुए मतदान के अन्तर्गत 57-मोदीनगर विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के पोलिंग स्टेशन 67 पर पुनर्मतदान 3 मार्च को कराये जाने का निर्णय लिया है। इन पोलिंग स्टेशनों पर 3 मार्च को मतदान प्रातः 7.00 बजे से सायं 5.00 बजे तक कराया जायेगा।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

फ्लाइंग स्क्वायड/निगरानी दल द्वारा आज 30 लाख रूपये सीज

Posted on 02 March 2012 by admin

  • आबकारी विभाग ने बरामद की 6647 लीटर अवैध शराब  आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के 342 मामलों  में 15 एफ0आई0आर0 दर्ज
  • आज 1502 लाइसेंसी हथियार जमा/निरस्त/निष्प्रभावी
  • सी0आर0पी0सी0 की धारा-107/116 के तहत 1973 व्यक्ति पाबन्द
  • 53 व्यक्तियों के विरूद्ध गैर जमानती वारण्ट जारी
  • प्रदेश में आज अवैध 31 असलहे, 35 कारतूस तथा     55 हथियार बनाने वाले कारखाने सीज

उत्तर प्रदेश विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2012 को शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष ढंग से कराने के उद्देश्य से आबकारी विभाग द्वारा चलाये जा रहे अभियान के तहत आज 6647 लीटर अवैध शराब जब्त की गयी है जिसमें 6637 लीटर देशी एवं 10 लीटर विदेशी शराब शामिल है। फ्लाइंग स्क्वायड/निगरानी दल द्वारा लगभग 30 लाख रूपये जब्त किये किये गये।
यह जानकारी संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीमती अनीता सी. मेश्राम ने देते हुए बताया कि आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन में आज वालराइटिंग, बैनर्स, पोस्टर, झण्डे, लाल-नीली बत्ती, लाउडस्पीकर एवं मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकद धनराशि एवं उपहार वितरण आदि के 342 मामलों में 15 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी। इसमें लाल-नीली बत्ती एवं झण्डों के दुरूपयोग के 155 मामलों में कार्यवाई करते हुए 4 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी। इसी तरह बिना अनुमति सभा/भाषण, लाउडस्पीकर का प्रयोग करने तथा मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकदी एवं उपहार वितरण के 24 मामलांे में 4 तथा अन्य के 8 मामलों में 8 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी।

संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आज 31 अवैध असलहे एवं 35 कारतूस जब्त करते हुये 1973 व्यक्तियों को सी0आर0पी0सी0 की धारा-107/116 के तहत पाबन्द किया गया तथा  अवैध हथियार बनाने वाले 55 कारखानों को सीज किया गया। उन्हांेने बताया कि लाइसेंसी हथियारों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत 1502 लाइसेंसी हथियार जमा/निरस्त/निष्प्रभावी किये गये। आज 53 व्यक्तियों के विरूद्ध गैर जमानती वारण्ट जारी किये गये।
श्रीमती मेश्राम ने बताया कि प्रदेश में लाइसेंसी हथियारों के विरूद्ध चलाये गये अभियान के तहत अब तक लगभग 6.89 लाख लाइसेंसी हथियार जमा/निरस्त/निष्प्रभावी किये गये। उन्होंने बताया कि शांतिपूर्ण चुनाव कराये जाने के मद्देनजर कानून एवं व्यवस्था के तहत प्रदेश में अब तक 5724 अवैध असलहे एवं 8548 कारतूस जब्त किये जा चुके हैं। इसके अतिरिक्त 26092 लोगों के विरूद्ध गैर जमानती वारन्ट तामील कराये गये तथा अवैध हथियार बनाने वाले 12654 कारखानों को सीज किया गया है।
श्रीमती मेश्राम ने बताया कि आचार संहिता के उल्लंघन के तहत प्रदेश में अब तक वालराइटिंग, बैनर्स, पोस्टर, झण्डे, लाल-नीली बत्ती, लाउडस्पीकर के दुरूपयोग एवं मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकद धनराशि एवं उपहार वितरण आदि के लगभग 8.46 लाख मामलों में  कार्यवाई करते हुए 3500 एफ0आई0आर0 दर्ज कराई गयी है जिसमें लाल-नीली बत्ती तथा गाडि़यों पर लगे झण्डों के दुरूपयोग के 8608 मामलों में 2176 एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी। इसी तरह बिना अनुमति सभा/भाषण, लाउडस्पीकर का प्रयोग करने तथा मतदाताओं को प्रभावित करने हेतु नकदी एवं उपहार के वितरण के 1330 मामलों में 373 तथा अन्य 3374 प्रकरणों में 951 एफ0आई0आर0 दर्ज कराई जा चुकी है।
संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि अब तक लगभग 17.62 लाख व्यक्तियों को सी0आर0पी0सी0 की धारा-107/116 के तहत पाबन्द किया गया है। उन्होंने बताया कि आबकारी विभाग द्वारा प्रदेश में अब तक लगभग 3.46 लाख लीटर अवैध शराब तथा फ्लाइंग स्क्वायड/निगरानी दल द्वारा लगभग 36.17 करोड़ रूपये जब्त किये जा चुके हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

Rahul Gandhi Election Campaign

Posted on 29 February 2012 by admin

photo
rg-kaanthrg-heli1rg-deeps5
View

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

August 2017
M T W T F S S
« Jul    
 123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031  
-->







 Type in