*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | कुशीनगर

कुशीनगर में गौतम बुद्ध की विराट प्रतिमा तथा स्मारक का शिलान्यास कल

Posted on 13 December 2013 by admin

भगवान बुद्ध की महापरिनिर्वाण स्थली कुशीनगर में भगवान बुद्ध की 200 फुट ऊंची कांस्य प्रतिमा की स्थापना हेतु 268.30 एकड़ क्षेत्र में फैली मैत्रेय परियोजना का शिलान्यास कल मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव करेंगे। कर्इ मायनों में यह अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर एक अभूतपूर्व स्मारक होगा और भविष्य में अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटन का आकर्षण और पूर्वांचल में बड़े पैमाने पर रोजगार के नये अवसरों का स्रोत भी बनेगा।
सर्वोच्च अन्तर्राष्ट्रीय मानकों के आधार पर बनार्इ जाने वाली मैत्रेय परियोजना की स्थापना आगामी 1000 वर्षों तक अक्षुण्ण बनाये रखने के उददेश्य से इस पर 400 करोड़ रूपये का निवेश किया जा रहा है। इस परियोजना की घोषणा अफगानिस्तान में बामियान सिथत भगवान बुद्ध की मूर्ति तोड़े जाने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने की थी। राज्य सरकार एवं मैत्रेय प्रोजेक्ट ट्रस्ट के बीच 09 मर्इ, 2003 को इस परियोजना के लिए एम0ओ0यू0 निष्पादित किया गया था, जिसके अनुसार इस परियोजना का सम्पूर्ण व्यय मैत्रेय परियोजना ट्रस्ट करेगा और परियोजना की भूमि राज्य सरकार नि:शुल्क उपलब्ध करायेगी।
मैत्रेय परियोजना के अन्तर्गत भगवान बुद्ध की महापरिनिर्वाण स्थली में प्रारमिभक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक के लिए एक भव्य अत्याधुनिक शिक्षण संस्थान की स्थापना का भी प्राविधान किया गया है। इसके साथ ही इस क्षेत्र में एक भव्य धर्मार्थ चिकित्सालय की स्थापना भी की जायेगी। परियोजना परिसर में विशाल ध्यान केंद्र (मेडिटेशन पवेलियन), फव्वारों से सुसजिजत एक भव्य आकर्षक एवं विशाल जलाशय, बच्चों के लिए पार्क, बौद्ध विहार एवं अतिथि गृह आदि का निर्माण किया जायेगा।
उल्लेखनीय है कि कुशीनगर में प्रदेश सरकार ने पर्यटन को बढ़ावा देने के उददेश्य से एक अन्तर्राष्ट्रीय हवार्इ अडडे की स्थापना का भी निर्णय लिया है। इसके लिए विगत 8 नवम्बर, 2013 को प्री-नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है। शिलान्यास कार्यक्रम में विश्व विख्यात बौद्ध संत परम पूज्य लामा जोपा रिनपोषे सहित अनेक अन्तर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय तथा प्रदेश स्तर के अतिविशिष्ट व्यकित भाग ले रहे हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

सरकार, स्थानीय प्रशासन तथा चीनी मिल प्रबंध्न की मिली भगत से किसानो के शोषण का आरोप लगाया

Posted on 11 January 2013 by admin

s_p_shahi_deoria_1भारतीय जनता पार्टी के  पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सूर्यप्रताप शाही के नेतृत्व में गन्ना किसानों की एक विशाल रैली आज ढ़ाणा में हुई। किसानों ने सरकार, स्थानीय प्रशासन तथा चीनी मिल प्रबंध्न की मिली भगत से किसानो के शोषण का आरोप लगाया।
भाजपा ने सूर्य प्रताप शाही के नेतृत्व मे चीनी मिलों पर गन्ना किसानों की समस्याओं को लेकर धरने की घोषणा की थी। इसीक्रम में आज 5000 किसानों ने कुशीनगर जनपद की ढ़ाणा चीनी मिल पर अपनी तीन मांगों (1) घटतौली समाप्त किये जाने (2)गन्ना पर्चियों के सुचारू वितरण किए जाने (3)गन्ना कीमत का भुगतान किए जाने की मांग को लेकर धरना दिया।
श्री शाही ने सपा सरकार पर गन्ना किसानों का व्यापक शोषण किए जाने आरोप मढ़ा। उन्होने कहा कि सरकार स्थानीय प्रशासन तथा मिल प्रबंधन तीनों की मिली भगत से 1 ट्राली गन्ने में 7.5 क्विंटल गन्ना कम तौले जाने तथा एक ट्रेलर 2.5 क्विंटल गन्ना कम तौलने, गन्ना किसानों को गन्ने की पर्चिया न देकर बिहार के माफियाओं से 200 से 180 प्रति क्विंटल से नकद भुगतान कर मिल प्रबंधन द्वारा गन्ना खरीदे जाने व गन्ना किसानों का भुगतान न किए जाने का आरोप लगाया है। उन्होनंे कहा कि हालात यह है कि 1000 किसानों ने उन्हें गन्ना खरीद की पर्ची न मिलने की शिकायत पत्र दिया है।
उन्होंने कहा कि सेवरही, देवरिया, रामकोलापंजाब आदि सभी चीनी मिलों ने इसी तरह कि कार्यशैली अपना रखी है जिसके कारण गन्ना किसान अत्यन्त परेशान है। 2 माह से ऊपर चीनी मिल प्रारम्भ हुए हो गया न तो किसानों को गन्ने की पर्ची मिल रही है जिसके कारण किसानों का पेड़ी गन्ना खेतो में खड़ा है परिणाम यह है कि गेहँू न बोया जा सका व जिन किसानों ने अपना गन्ना मिलों पर दिया है वह घटतौली के शिकार हो रहे है व उनके गन्ने का भुगतान नही हो रहा है। श्री शाही के नेतृत्व में किसानों ने जब मिल गेट पर तालाबंदी के लिए आगे बढ़े तो बिना मजिस्ट्रेटी आदेश के उन पर लाठियां बरसाई गई। जिसमें पूर्व जिला संयोजक अजय तिवारी रजनीकांत माणि पवन केडिया, ऐ0के0 बादल आदि अनेक कार्यकर्ताओं को गम्भीर चोटे आई।
श्री शाही के नेतृत्व में किसानों ने ए0डी0एम को घटतौली रोके जाने, गन्ना मूल्य के भुगतान व गन्ने की पर्ची वितरण किये जाने का एक मांग पत्र अपर जिलाधिकारी को दिया। तथा जिला प्रशासन से यह मांग कि यदि 3 दिन के अन्दर किसानों की समस्याए न हल हुई तो 26 जनवरी से घेरा डालो-डेरा डालो अभियान प्रारम्भ करेंगे। किसानों के शोषण के खिलाफ चलाएं जा रहे आन्दोलन का यह दूसरा चरण है पहले चरण में छोटी सभाएं कर किसानों मे जागरूकता दूसरे चरण में आज से प्रारम्भ कर 22 जनवरी तक चीनी मिलों पर धरना तथा यदि प्रशासन किसानो की समस्याएं दूर नही करता तो घेरा डालो- डेरा डालों अभियान 26 जनवरी से प्रारम्भ करेंगे। उन्होंने कहा कि गेहूं खरीद केन्द्रों पर सरकार के जानकारी में भारी धांधली हुई। धान खरीद केन्द्र कागज पर ही खोले गए तथा गन्ना किसानों का बुरी तरह शोषण समाजवादी सरकार का किसान हितैषी कार्यशैली का प्रमाण है। उन्होने कहा किसान परेशान है गरीब आदमियों के लिए पूरे प्रदेश में न तो अलाव की व्यवस्था हुई न कम्बल की जिसके चलते प्रदेश में 200 के करीब लोग पिछले 15 दिन की ठंडक में घरती से चले गए। उन्होने कहा कि केवल भाजपा की सरकार सुशासन दे सकती है व सभी वर्गो के हितों के लिए कार्य करती है। उन्होंने किसानों का आवाहन किया कि 2014 में दिल्ली मे भाजपा सरकार लाकर वर्तमान सरकार के कुशासन का आप कड़ाई से जवाब दे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

माइल स्टोन निर्धारित कर कार्यवाही तत्काल प्रारम्भ करा दी जाय

Posted on 04 December 2012 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री जावेद उस्मानी ने कहा कि मैत्रेय परियोजना, कुशीनगर पर्यटन तथा संस्कृति के विकास व विस्तार के लिए एक अत्यन्त महत्वपूर्ण परियोजना है जिसको पूर्ण करने के लिए माइल स्टोन निर्धारित कर कार्यवाही तत्काल प्रारम्भ करा दी जाय। उन्होंने कहा कि परियोजना के क्रियान्वयन हेतु मैत्रेय प्रोजेक्ट ट्रस्ट द्वारा दी गई सहमति के अनुसार आगामी 15 जनवरी तक आवश्यक़ भूमि अधिग्रहीत कर ली जाय। उन्होंने मैत्रेय प्रोजेक्ट ट्रस्ट के सदस्यों से भी अनुरोध किया कि परियोजना का विस्तृत रूपरेखा बनाकर शीघ्रताशीघ्र प्रस्ताव उपलब्ध करायें। मैत्रेय परियोजना उत्तर प्रदेश में ही लगाने हेतु मैत्रेय प्रोजेक्ट ट्रस्ट द्वारा प्रतिबद्धता व्यक्त की गयी। मास्टर प्लान के अन्तर्गत आवश्यक संशोधन करा लिये जायें।
मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कक्ष के सभागार में मैत्रेय परियोजना, कुशीनगर की राज्य स्तरीय टास्कफोर्स की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसानों की अधिग्रहीत की जाने वाली जमीन का नियमानुसार भुगतान किसानों को तत्काल कराना सुनिश्चित कराया जाय। उन्होंने कहा कि यह परियोजना महत्वपूर्ण प्रकृति की है  और इसका क्रियान्वयन चरणबद्ध तरीके से किया जाना अति आवश्यक है। बैठक में जिलाधिकारी कुशीनगर ने बताया कि आवश्यक जमीन अधिग्रहीत करने हेतु पर्याप्त धनराशि की व्यवस्था है।
बैठक में प्रमुख सचिव संस्कृति, श्री बी0एन0 गर्ग, मण्डलायुक्त गोरखपुर, श्री के0 रवीन्द्र नायक सहित जिलाधिकारी कुशीनगर तथा मैत्रेय प्रोजेक्ट ट्रस्ट के सदस्यगण उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

आकस्मिक निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया

Posted on 01 November 2012 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव आज समाजवादी पार्टी कुशीनगर के जिलाध्यक्ष श्री राम अवध से उनके ग्राम सिसवा मठिया स्थित आवास जाकर मिले। उन्होंने श्री राम अवध और अन्य शोकाकुल परिजनों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हुए उनके पुत्र श्री दीपक कुमार के कुछ दिन पूर्व हुए आकस्मिक निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर उपस्थित पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के विकास के लिए संकल्पित है और उन्हें खाद, बीज तथा पानी की कमी नहीं होने दी जा रही है। उन्होंने कहा कि गन्ना समर्थन मूल्य की घोषणा शीघ्र कर दी जाएगी।
श्री यादव ने कहा कि प्रदेश की विद्युत व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए राज्य सरकार गम्भीरता से प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार जनता से किए गए वायदे एक-एक करके पूरे कर रही है। बेरोजगारी भत्ता और कन्या विद्या धन जैसी महत्वाकांक्षी योजनाएं जमीनी हकीकत पा रहीं हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

बौद्ध परिपथ के अन्तर्गत स्थलों के पर्यटन का विकास किया जाएगा

Posted on 07 September 2012 by admin

कुशीनगर में अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे की स्थापना कर बौद्ध परिपथ के अन्तर्गत स्थलों के पर्यटन का विकास किया जाएगा। उद्यमियों की समस्याओं का त्वरित निराकरण कराने हेतु प्रत्येक माह राज्य स्तर पर मुख्य सचिव, मण्डल स्तर पर मण्डलायुक्त तथा जनपद स्तर पर जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उद्योगबन्धु की बैठक पूर्ण कार्य दिवस आयोजित होगी। समस्त जनपदों में निवेश मित्र को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित कराया जाएगा। उद्योगों में त्वरित विकास हेतु लागू नई औद्योगिक नीति के अन्तर्गत समस्त विभागों के शासनादेश सितम्बर माह में ही निर्गत कर दिए जाए। प्रदेश में पी0पी0पी0 के आधार पर सड़कों के निर्माण एवं अनुरक्षण की नीति बनाते हुए सड़कों के विकास हेतु शीघ्रता शीघ्र बैठक आयोजित की जाए। विकास कार्याें में निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष कार्य न होने पर वरिष्ठ अधिकारियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही होगी।
मुख्य सचिव श्री जावेद उस्मानी आज अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रदेश के विकास हेतु शासन के निर्धारित एजेण्डा-प्प् के अन्तर्गत ऊर्जा, अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत, औद्योगिक विकास, आवास, लोक निर्माण, सूचना प्रौद्योगिकी एवं इलेक्ट्राॅनिक्स, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी तथा पर्यटन विभाग की समीक्षा कर रहे थे। उन्हांेने निर्देश दिए कि आगरा में अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा स्थापित करने की दिशा में प्रभावी कदम उठाए जाए। उन्हांेने आगरा-लखनऊ के मध्य एक्सप्रेस वे का निर्माण तथा गाजियाबाद में नार्दन पेरीफेरल रोड के निर्माण हेतु विभाग द्वारा की गई कार्यवाही की रिपोर्ट 24 घण्टे के अन्दर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। आई0टी0 एवं आई0टी0ई0एस0 उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नई आई0टी0 औद्योगिक विकास नीति एवं समेकित आई0टी0 शिक्षा नीति बनाते हुए उसका प्रभावी क्रियान्वयन कराया जाए।
श्री उस्मानी ने राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण मिशन के लक्ष्य को पूर्ण करने के निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश में विद्युत उपलब्धता में वृद्धि करने हेतु जवाहरपुर, अनपरा-‘डी’, हरदुआगंज विस्तार, पनकी तथा ओबरा-‘सी’ तापीय परियोजनाओं को यथाशीघ्र पूर्ण कराने हेतु कार्याें में तेजी लायी जाए। उन्होंने कहा कि आवश्यकतानुसार भारत सरकार के संबंधित सचिवों से व्यक्तिगत रूप से मिलकर अथवा पत्राचार कर आने वाली समस्याओं का समाधान कराए। उन्हांेने विद्युत कार्याें में विलम्ब होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि पुनर्गठन त्वरित विद्युत विकास और सुधार कार्यक्रमों की समीक्षा सितम्बर माह के अन्त में ही की जाएगी। फीडर सेपरेशन कार्यक्रम के अन्तर्गत कृषि एवं ग्रामीण फीडर अलग करते हुए मीटर लगाकर ग्रामीण क्षेत्रों की विद्युत आपूर्ति में सुधार लाया जाए। उन्हांेने कहा कि प्रदेश समस्त उपभोक्ताओं की मीटरिंग करायी जाए तथा विद्युत पारेषण के क्षेत्र में सब-स्टेशनों तथा लाइनों का निर्माण कर क्षमता में वृद्धि करने हेतु कार्य योजना बनाई जाए।
मुख्य सचिव ने प्रदेश में सौर ऊर्जा आधारित विद्युत उत्पादन की नीति निर्धारण करने एवं प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने हेतु तत्काल एक प्रारूप बनाया जाए। उन्होंने कहा कि विद्युतीकरण हेतु निजी नलकूपों का लक्ष्यानुसार ऊर्जीकरण कराने हेतु कार्यांे में तेजी लायी जाए। उन्हांेने कहा कि उ0प्र0 जैव प्रौद्योगिकी नीति का निर्धारण कर इस क्षेत्र का भी विकास करने हेतु योजना यथाशीघ्र बनाई जाए।
बैठक में प्रमुख सचिव विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी श्री माजिद अली, प्रमुख सचिव आई0टी0 श्री जीवेश नन्दन, विशेष सचिव कार्यक्रम क्रियान्वयन श्री भुवनेश कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

आतंकवादियों के प्रति प्रदेश सरकार का बहुत लचर रवैया है

Posted on 04 March 2012 by admin

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही ने आज कुशीनगर जनपद के अहिरौली गांव का दौरा किया जहां एक मकान में हुए विस्फोट में दो महिलाओं के चिथड़े उड़ गए थे। श्री शाही ने गांव में दौरे के बाद पे्रस से वार्ता करते हुए कहा कि यह विस्फोट इतना भयानक एवं शक्तिशाली था, जिससे आधा दर्जन मकानों की दीवारें क्षतिग्रस्त हो गईं।
श्री शाही ने कहा कि यह विस्फोट बसपा नेता के घर पर हुआ। प्रदेश अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि आतंकवादियों के प्रति प्रदेश सरकार का बहुत लचर रवैया है, जिसके कारण इस तरह की घटनाएं घट रही हैं। उन्होंने इस तरह की घटनाओं की उच्च स्तरीय मांग की है। उन्होंने यह भी कहा कि अभी कुछ ही दिन पहले बस्ती के बसपा नेता के यहां अवैध हथियारों का जखीरा बरामद हुआ था। इसके अलावा अलीगढ़ और कानपुर में भी इसी प्रकार के अवैध हथियार बरामद हुए थे।
श्री शाही ने कहा कि शासन-प्रशासन की चुप्पी और ढिलाई के कारण इस तरह के तत्वों की सक्रियता बढ़ी है जो प्रदेश की अमन-शांति के लिए खतरनाक है। उन्होंने कहा कि एक विशेष समुदाय के लोगों के यहां ही विस्फोटकों का मिलना एक बड़ी गंभीर साजिश प्रतीत होती है। प्रदेश अध्यक्ष ने इस प्रकार की घटनाओं की कड़ी निन्दा करते हुए कहा कि प्रदेश व केन्द्र सरकार की आंखे खुलनी चाहिए और कड़ी जांच कर अपराधियों को जेल भेजा जाना चाहिए।
इस मौके पर श्री शाही के साथ कुशीनगर के जिला महांमत्री हरिशंकर राय, ज्ञानेन्द्र श्रीवास्तव, जिला मंत्री मारकण्डेय शाही, देवरिया जिलाध्यक्ष जयप्रकाश निषाद, पडरौना से भाजपा प्रत्याशी रामधारी गुप्ता, छेदीराम, अमरचंद जायसवाल आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

जनादेश समाजवादी पार्टी के पक्ष में

Posted on 16 November 2011 by admin

031समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव ने आज कहा कि सरकारी खुफिया एजेंसियों ने भी मुख्यमंत्री को बता दिया है कि अगले विधान सभा चुनावों में बसपा की सरकार बननेवाली नहीं है। जनादेश समाजवादी पार्टी के पक्ष में आनेवाला है। इससे घबराई-बौखलाई मुख्यमंत्री ने अपने भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन से जनता का ध्यान बंटाने के लिए प्रदेश को चार खण्डो में विभाजित करने का शिगूफा छेड़ा है। जनता उनको इसके लिए भी सबक सिखाने को तैयार बैठी है।
प्रदेष प्रवक्ता राजेन्द्र चैधरी ने बताया है कि श्री यादव ने समाजवादी क्रान्तिरथ यात्रा के सातवें चरण के पांचवें दिन कुशीनगर से चलकर तरकुलवा (पथरदेवा) रामपुर कारखाना, देवरिया, सोनूघाट (बरहज), सलेमपुर में आयोजित विशाल जनसभाओं को सम्बोधित किया। उनके साथ साॅसद श्री मोहन सिंह, सर्वश्री शाकिर अली, श्रीमती फसीहा मुराद लारी गजाला, रामइकबाल यादव जिलाध्यक्ष, प्रेमप्रकाश सिंह, मनबोध प्रसाद, दीनानाथ कुशवाहा सहित श्री राजीव राय, आनन्द भदौरिया, सुनील यादव, नवेद सिद्दीकी, नफीस अहमद, रामवृक्ष यादव, राम सागर यादव, राम सिंह राणा आदि भी चल रहे हैं।
सभाओं मंें हजारों की उपस्थिति से उत्साहित श्री अखिलेश यादव ने बसपा सरकार पर गरीबी और किसानों की बदहाली करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने अपराधियों को संरक्षण दिया है और लूट तथा भ्रष्टाचार से प्रदेश को तबाह किया है। कोई विभाग नहीं बचा जहां कमीशन और बजट की लूट नहीं हुई हो। ग्रामीण स्वास्थ्य योजना, में खूब लूट हुई और जब पोल खुलने की नौबत आई तो दो सीएमओ और एक डिप्टी सीएमओ की हत्या हो गई। इन घोटालों की जांच होने पर कई मंत्री, अधिकारी जेल जाएगें।
08श्री यादव ने कहा मुख्यमंत्री की विकास विरोधी नीतियों के चलते प्रदेश पिछड़ता गया है। साढ़े चार सालों में न तो बिजलीघर लगे, न चीनी मिलें लगी, नहीं नौजवानों को रोजगार मिला बल्कि 40 हजार करोड़ रूपए से ज्यादा का बजट मूर्तियों, पत्थर के स्मारकों पर खर्च कर दिया गया। यही पैसा अस्पतालों, स्कूलों, पेयजल, उद्योग धंधों को लगाने पर खर्च होता तो जनता का भला होता।
उन्होने जनता से आग्रह किया कि वह विधान सभा के सन् 2012 में होने वाले चुनावों में समाजवादी पार्टी को बहुमत से जिताए ताकि प्रदेश में पुनः विकास की गंगा बहे। किसानों को फसल का लाभप्रद मूल्य मिले ताकि उनके घरों में खुशहाली आए, व्यापार की तरक्की हो, बिजली, पानी की किल्लत दूर हो, अस्पतालों में गरीबों का मुफ्त इलाज हो और किसी कन्या को अर्थाभाव में पढ़ाई बीच में न छोड़नी पड़े। नौजवानों को रोजगार और बेकारी भत्ता मिले। मुस्लिम भाईयों को सच्चर कमेटी के अनुसार आरक्षण मिले।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

पश्चिमी सभ्यता के कारण ही वर्तमान में पर्यावरण तेजी से दूषित हो रहा है

Posted on 04 April 2011 by admin

इसका संरक्षण भारतीय चिन्तन से ही संभव है।

इस आशय के विचार रविवार को स्थानीय श्रीनाथ संस्कृत महाविद्यालय द्वारा महाविद्यालय के सभागार में अगिन्पुराण में विज्ञान तकनीक तथा कालिदास साहित्य में पर्यावरण चेतना विषय विषयक दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी के समापन सत्र को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए क्षेत्रीय विधायक रमापति उर्फ रमाकान्त गोंड ने कही। उन्होंने कहा कि कालिदास साहित्य पर्यावरण चेतना से भरा हुआ है। इसमें प्रकृति को ही विश्व कवि ने मानव जाति के लिए श्रेष्ठ बताया है जो प्रमाणिक भी है। अध्यक्षता कर रहे सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के कुल सचिव प्रो.रजनीश कुमार शुक्ल ने अपने कहा कि कालिदास साहित्य में पर्यावरण चेतना कूट-कूट कर भरी है। कालिदास अपनी रचना अभिज्ञान शाकुन्तलम् की नायिका शकुन्तला के सौन्दर्य का वर्णन करते है तो वह नायिका के सौन्दर्य का वर्णन नहीं,बल्कि प्रकृति की सुन्दरता का वर्णन करते हैं।

बतौर विशिष्ट अतिथि संबोधित करते हुए प्रो. प्रमोद कुमार पाण्डेय ने कहा कि आधुनिकता की दौड़ में जब तक हम दौड़ते रहेगे हमारा पर्यावरण भी उतना दूषित होगा। इसका जीता जागता प्रमाण जापान की तबाही है। इसका कारण प्रकृति के साथ मानव जाति द्वारा किया गया छेड़छाड़ ही है। संगोष्ठी के दूसरे व तीसरे सत्र में प्रतिभाग करते हुए प्रो.राजीव रंजन सिंह ने कहा कि पर्यावरण को हम दूषित होने से तभी बचा पायेंगे जब हम सब एक हो इसके नियंत्रण के लिए कार्य करेगे। प्रो.नागेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि यहां जो पर्यावरण की समस्या है उसके जड़ वास्तव में पश्चिमी देश ही है। ओजोन पर्त में हुए छिद्र को लेकर जो हो हल्ला पश्चिमी देश मचा रहे है वह उनके द्वारा ही उत्पन्न किये गये है न कि भारत के द्वारा। आधुनिक विषयाध्यापक मोहन पाण्डेय ने कहा कि अगिन्पुराण में वर्णित वास्तु शास्त्र,चिकित्सा का आयुर्वेद शास्त्र,नाड़ी विज्ञान आदि सभी विशिष्ट वैज्ञानिक पक्षों का प्रतिपादन करते है। कार्यक्रम की शुरूआत द्वीप प्रज्जावलन व मां सरस्वती के चित्र पर मुख्य अतिथि द्वारा माल्यार्पण महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा सरस्वती वन्दना व स्वागत गीत हुआ। कार्यक्रम का संचालन प्रो.प्रभुनाथ द्विवेदी ने किया। आगन्तुकों का स्वागत महाविद्यालय के मंत्री गंगेश्वर पाण्डेय ने किया जबकि आभार प्रबन्धक अगिन्वेश मणि व प्राचार्य चन्द्रेश्वर पाण्डेय ने संयुक्त रूप से व्यक्त किया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)


Advertise Here

Advertise Here

 

February 2017
M T W T F S S
« Jan    
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728  
-->




 Type in