*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | Latest news

नेता जी ने अपनी पोती से कहा - जिद्दी है तुम्हारा बाप, बेटी ने कहा अखिलेश यादव से , जानिए अखिलेश ने क्या कहा

Posted on 10 January 2017 by admin

images

प्रदेश में इन दिनों समाजवादी पार्टी की पारिवारिक लड़ाई चरम पर है ये जगजाहिर है । इस बीच अगल बगल में जुड़े घर में रह रहे इस परिवार में ऐसा लग रहा है मानो खेमेबंदी हो गई हो। लेकिन इस परिवार की दो बच्चियां इस सियासी जंग से बेपरवाह होकर दोनों खेमों में रौनक लाती रहती हैं और शांति और सुलह बहाली की उम्मीदें जगाती रहती हैं। सियासी संवादों से हटकर पारिवार के बीच ऐसे संवाद का बीड़ा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी 15 वर्षीय अदिति और 10 वर्षीय टीना ने उठाया है।

एक टीवी चैनल की खबर के मुताबिक सियासी खींचतान के बीच कुछ दिनों पहले सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने अपनी 10 वर्षीय पोती टीना को चिढ़ाते हुए कहा कि तुम्हारा बाप बहुत जिद्दी है। यह सुनते ही थोड़ी ही देर में टीना ने जाकर अपने पिता मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को हु-ब-हू संवाद सुना दिया। इसके जवाब में अखिलेश यादव ने मुस्कुराते हुए कहा, हां, वो तो है। अखिलेश और डिंपल यादव की बेटियां सियासी खींचतान की परवाह किए बिना अक्सर अपने दादा मुलायम सिंह से मिलने पहुंच जाती है।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने लखनऊ मेट्रो रेल के ट्रायल रन का शुभारम्भ किया

Posted on 29 December 2016 by admin

press-1

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज यहां लखनऊ मेट्रो रेल के ट्रायल रन का शुभारम्भ किया। परियोजना के फेज़-1 ‘ए’ (नाॅर्थ-साउथ काॅरिडोर) के अंतर्गत ट्रांसपोर्ट नगर स्थित मेट्रो ट्रेन डिपो का लोकार्पण भी उन्होंने किया। ट्रांसपोर्टनगर से चारबाग तक निर्मित प्राथमिक सेक्शन में मेट्रो टेªन का ट्रायल रन होगा। मुख्यमंत्री ने मेट्रो टेªन का अनावरण किया एवं सांसद श्रीमती डिम्पल यादव ने मेट्रो आॅपरेटर्स को चाभी सौंपी। बाद में अवध हाॅस्पिटल चैराहा, सिंगार नगर मेट्रो स्टेशन के पास आयोजित कार्यक्रम में 12 विभूतियों को यश भारती सम्मान से सम्मानित भी किया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना देश की सबसे कम समय में पूरी होने वाली मेट्रो परियोजना है। इसके लिए उन्होंने मुख्य सलाहकार डाॅ0 ई0 श्रीधरन तथा प्रबन्ध निदेशक श्री कुमार केशव सहित इस कार्य में लगे सभी कार्मिकों की सराहना करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है, जिसके गाजियाबाद, नोएडा सहित कई बड़े नगरों में मेट्रो रेल परियोजना पर काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि कानपुर मेट्रो रेल परियोजना का कार्य शुरू होने जा रहा है। दोबारा सरकार बनने पर वाराणसी मेट्रो रेल परियोजना का भी काम शुरू होगा।
श्री यादव ने कहा कि नगरों और मुख्य रूप से लखनऊ की आबादी तेजी से बढ़ रही है, जिससे आए दिन टैªफिक जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है। यहां तक कि कई बार गम्भीर रोगियों से युक्त एम्बुलेंस भी फंस जाती हैं। इसको ध्यान में रखते हुए लखनऊ जैसे बड़े नगर में विश्वसनीय सार्वजनिक यातायात व्यवस्था का होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि जब यह परियोजना पूरी हो जाएगी तो लखनऊ वासियों को काफी राहत मिलेगी।
राज्य सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने जनता से किए गए सभी वायदों को पूरा किया है। जहां तक लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना की बात है, इसके लिए पहले से वायदा नहीं किया गया था। लेकिन वक्त की जरूरत को देखते हुए समाजवादी सरकार ने इस परियोजना को भी समय से पूरा करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार प्रदेश में आधारभूत सुविधाओं के विकास, बिजली व्यवस्था को दुरुस्त करने तथा स्वास्थ्य की सर्वसुलभ एवं बेहतरीन सुविधा उपलब्ध कराने जैसे कई महत्वपूर्ण काम किए हैं, जिससे प्रदेशवासियों के जीवन में खुशहाली आयी है और उनका जीवन स्तर ऊंचा उठा है।
श्री यादव ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार विकास के मामले में राजनीति नहीं करती है। इसीलिए वर्षों से लम्बित जनपद रायबरेली के प्रस्तावित एम्स के लिए उनकी सरकार ने भूमि उपलब्ध कराने का काम किया। इसी प्रकार जनपद गोरखपुर में भी एम्स की स्थापना के लिए राज्य सरकार ने हर सम्भव मदद दी है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि देश के सबसे लम्बे एक्सप्रेस-वे को वर्तमान राज्य सरकार ने मात्र 22 माह में पूरा कराकर प्रदेश की राजधानी लखनऊ को देश की राजधानी दिल्ली से जोड़ने का काम किया है। प्रदेश का कोई ऐसा जनपद नहीं है, जहां समाजवादी सरकार द्वारा किसी बड़ी परियोजना को अंजाम तक न पहुंचाया गया हो।
मुख्यमंत्री ने जनपद सोनभद्र से वाराणसी तथा भदोही से मिर्जापुर आदि नगरों को एक-दूसरे से जोड़ने से सम्बन्धित विभिन्न परियोजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने जिला मुख्यालयों को 04 लेन की सड़कों से जोड़ने का काम पूरी गम्भीरता से चलाया है, जिसका लाभ प्रदेश के किसानों, नौजवानों, मजदूरों सहित समाज के सभी वर्गों को मिलेगा। प्रदेश सरकार ने संतुलन बनाकर प्रदेश के सभी क्षेत्रों एवं वर्गों के विकास के लिए काम किया है। जहां देश की सबसे लम्बी एक्सप्रेस-वे परियोजना बनायी गयी, वहीं आगरा से इटावा लायन सफारी तक साइकिल हाईवे में बनाया गया। अगर राज्य सरकार ने 55 लाख गरीब परिवारों को समाजवादी पेंशन देने का काम किया है तो 18 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं को निःशुल्क लैपटाॅप वितरित कर उन्हें तकनीक से जोड़ने का काम किया।
इसी प्रकार ग्रामीण इलाकांें में आवासहीनों के लिए लोहिया आवास योजना तथा गांवों में सी0सी0 रोड के निर्माण के लिए जनेश्वर मिश्र ग्राम योजना सहित कई परियोजनाओं को युद्ध स्तर पर चलाया गया। इस प्रकार पिछले साढ़े चार साल में समाजवादी सरकार ने जिस पैमाने पर काम किया, इतने बड़े पैमाने पर किसी अन्य राज्य सरकार द्वारा नहीं किया गया। जनपद रामपुर की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इस जनपद में बड़े पैमाने पर काम कराया गया। अगली बार सत्ता में आने के बाद रामपुर में भी मेट्रो रेल परियोजना संचालित करने पर विचार किया जाएगा।
इस मौके पर सांसद एवं पूर्व रक्षा मंत्री श्री मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री एवं राज्य सरकार द्वारा कराए गए विकास कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश जैसा विकास कार्य देश में कहीं और नहीं कराया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे आदि महत्वपूर्ण परियोजनाओं को कम से कम
समय में बनाकर अन्य सरकारों के लिए एक उदाहरण प्रस्तुत किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा शिक्षा, इलाज एवं सिंचाई की मुफ्त व्यवस्था करके समाज के सभी वर्गों को राहत देने का काम किया।
श्री मुलायम सिंह ने कहा कि किसानों को सुविधा दिए बिना देश की तरक्की सम्भव नहीं है। उन्होंने आगाह किया कि कम कृषि उत्पादन का खमियाज़ा पूरे देश को भुगतना होगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी विचारक डाॅ0 राम मनोहर लोहिया हमेशा कहा करते थे कि वादाखिलाफी करना भी भ्रष्टाचार है। उन्होंने इस बात पर खुशी जतायी कि प्रदेश की वर्तमान राज्य सरकार ने जनता से किए सभी वायदों को पूरा करने का काम किया है। नौजवानों को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने का आग्रह करते हुए कहा कि गरीबी को मिटाने के लिए हर हाथ को काम देना जरूरी है।
इस मौके पर नगर विकास मंत्री श्री मोहम्मद आजम खां ने मेट्रो रेल परियोजना को निर्धारित समय में पूरा होने को प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के व्यक्तिगत प्रयासों से यह परियोजना समय से पूरी हो रही है।
कार्यक्रम को समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री शिवपाल सिंह यादव, भाषा संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष एवं प्रख्यात कवि श्री गोपाल दास ‘नीरज’, श्री मधुकर जेटली एवं लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना के प्रबन्ध निदेशक श्री कुमार केशव आदि ने भी सम्बोधित किया।
इस अवसर पर जिन लोगों को यश भारती सम्मान से सम्मानित किया गया, उनमें जनपद आजमगढ़ के जिलाधिकारी श्री सुहास एल0वाई0, लेफ्टिनेण्ट जनरल श्री ए0के0 सिंह, लखनऊ विश्वविद्यालय के उर्दू विभाग के अध्यक्ष श्री अब्बास रज़ा नय्यर, समाज सेवी श्री रामेश्वर नाथ मिश्र एवं श्री प्रमोद कुमार सिंह चैधरी, साहित्यकार श्री दीन मोहम्मद दीन, मशहूर चिकित्सक डाॅ0 मंसूर हसन के अलावा श्री अतुल तिवारी, सुश्री रचना गोविल, श्री मुराद खान, श्रीमती शिखा द्विवेदी एवं श्रीमती अर्चना सतीश शामिल हैं।
इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष श्री माता प्रसाद पाण्डेय, मंत्रिमण्डल के सदस्यगण, सांसद श्रीमती डिम्पल यादव, हिन्दी संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष श्री उदय प्रताप सिंह, अन्य जनप्रतिनिधि, मुख्य सचिव श्री राहुल भटनागर, राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष श्री नवीन चन्द्र वाजपेयी, मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार श्री आलोक रंजन एवं बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक आदि उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

सड़कों से विकास को गति मिलती है और यह प्रक्रिया सड़कों के निर्माण के साथ ही शुरू हो जाती है: मुख्यमंत्री

Posted on 23 November 2016 by admin

press-2

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा कि सड़कों से विकास को गति मिलती है और यह प्रक्रिया सड़कों के निर्माण के साथ ही शुरू हो जाती है। उन्होंने भरोसा जताया कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से पूरे प्रदेश को लाभ होगा। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे के माध्यम से प्रदेश की राजधानी लखनऊ, देश की राजधानी दिल्ली से सीधे जुड़ गई है, इससे यात्रा के समय में काफी बचत होगी। एक्सप्रेस-वे को 23 माह के रिकाॅर्ड समय में तैयार करने पर उन्होंने अधिकारियों एवं निर्माण कार्य में लगी कम्पनियों के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि कम समय में निर्माण के साथ-साथ इसकी गुणवत्ता भी उच्च कोटि की है। उन्होंने एक्सप्रेस-वे पर बनाई गई हवाई पट्टी का उल्लेख करते हुए कहा कि यह जगह देश के इतिहास में हमेशा चिन्ह्ति रहेगी। इसीलिए भारतीय वायु सेना ने इसे वैकल्पिक हवाई पट्टी के रूप में भी चुना है, जिससे आपात परिस्थितियों में भारतीय वायु सेना को अपने फाइटर प्लेन उड़ाने में मदद मिलेगी।
मुख्यमंत्री आज उन्नाव जनपद के खम्बौली (बांगरमऊ) में देश के सबसे लम्बे 06 लेन आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के लोकार्पण अवसर पर बोल रहे थे। पूर्व रक्षा मंत्री एवं सांसद श्री मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को जनता को समर्पित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस परियोजना का उल्लेख घोषणा पत्र में भी था। एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव और सांसद व पूर्व रक्षा मंत्री श्री मुलायम सिंह यादव द्वारा किया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शिलान्यास के समय नेताजी ने एक्सप्रेस-वे को 22 माह में बनाने की बात कही थी, जिसे प्रदेश सरकार ने पूरा कर दिखाया। समाजवादी सरकार द्वारा कम से कम समय में देश के सबसे लम्बे एक्सप्रेस-वे को बनाकर उन लोगों को करारा जवाब दिया गया है, जो परियोजनाओं को निर्धारित समय में पूरा कराने में प्रदेश की कार्य क्षमता पर प्रश्न चिन्ह लगाते थे।
श्री यादव ने कहा कि यह एक्सप्रेस-वे देश के लिए एक उदाहरण है। यह इस बात का भी जवाब है कि उत्तर प्रदेश एक पिछड़ा प्रदेश है। यह विकास में मदद करेेगा और लोगों को सुविधा मिलेगी। सड़कें विकास का आधार हैं। इस एक्सप्रेस-वे से विकास की रफ्तार बढ़ेगी। एक्सप्रेस-वे से जुड़े शहरों और गांवों की दूरियां भी कम होंगी। उन्होंने आम जनता के लिए एक्सप्रेस-वे के खुलने पर लोगों से अपने वाहनों की रफ्तार कम रखने की अपील करते हुए कहा कि अच्छी सड़क पर दुर्घटना की सम्भावना भी बढ़ जाती है, क्योंकि वाहन चालक गाड़ी की रफ्तार पर नियंत्रण नहीं रख पाते।
वर्तमान राज्य सरकार द्वारा किए गए तमाम विकास कार्यों का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार द्वारा जिस पैमाने पर कार्य किए गए हैं, यह अन्य राज्य सरकारों के लिए एक उदाहरण है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से यातायात तो सुगम होगा ही, इसके साथ विकसित हो रही मण्डियों से सीधे किसानों को लाभ भी होगा। जी0टी0 रोड का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि जिस प्रकार इस सड़क के साथ-साथ उद्योग धंधों का विकास हुआ था, उसी तरह से आने वाले समय में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे प्रदेश का विकास इंजन बनेगा। इसके साथ तमाम उद्योग धंधे स्थापित होंगे, जिससे प्रदेश की अर्थव्यवस्था में सुधार के साथ-साथ रोजगार के अवसर पैदा होंगे।
श्री यादव ने कहा कि एक्सप्रेस-वे बनाने का कार्य यहीं समाप्त नहीं होने जा रहा है, बल्कि दोबारा सत्ता में आने के बाद लखनऊ से बलिया तक बनने वाले समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को भी रिकाॅर्ड समय में बनाकर राज्य के पूर्वांचल क्षेत्र को तरक्की का अवसर प्रदान किया जाएगा। इसके लिए 40 प्रतिशत जमीन अधिग्रहीत की जा चुकी है। समाजवादी सरकार ने केवल आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को ही रिकाॅर्ड समय में बनाने का काम नहीं किया है, बल्कि लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना के पहले चरण का काम भी बहुत कम समय में पूरा कर लिया गया है। आगामी 01 दिसम्बर को लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना का भी लोकार्पण किया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा संचालित अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि करीब 18 लाख छात्र-छात्राओं को निःशुल्क लैपटाॅप वितरित किए गए। देश की सबसे बड़ी ‘समाजवादी पेंशन योजना’ के माध्यम से 55 लाख गरीब परिवारों को आर्थिक मदद देने का काम किया गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार संतुलन बनाकर काम कर रही है। गांव और शहर दोनों का विकास हुआ है। सड़क, बिजली, पानी आदि मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध कराने के लिए किए गए प्रयासों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि जनता द्वारा अवसर प्रदान करने पर भविष्य में भी इसी तरह कार्य करते हुए नया रिकाॅर्ड बनाया जाएगा। विकास के मामले में समाजवादियों का कोई मुकाबला नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे का निर्माण उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज़ इण्डिस्ट्रियल डेवलपमेण्ट अथाॅरिटी (यूपीडा) द्वारा कराया गया है। उन्होंने इस परियोजना को तेजी से पूरा कराने के लिए यूपीडा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रमुख सचिव श्री नवनीत सहगल की सराहना करते हुए इस बात पर अफसोस जताया किया कि एक सड़क दुर्घटना में घायल होने की वजह से वे परियोजना के लोकार्पण के अवसर पर उपस्थित नहीं हैं। मुख्यमंत्री ने श्री सहगल के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।
श्री यादव ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को भारतीय वायु सेना द्वारा वैकल्पिक हवाई पट्टी के रूप में चयनित करने के लिए वायु सेना के अधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि राज्य सरकार हर सम्भव सहयोग प्रदान करेगी। ज्ञातव्य है कि इस हवाई पट्टी पर भारतीय वायु सना के लड़ाकू विमानों को उतारने के लिए 3.3 कि0मी0 लम्बी हवाई पट्टी भी बनायी गयी है। उन्होंने 20 नवम्बर को कानपुर के पास हुए रेल हादसे के फलस्वरूप बड़ी संख्या में हताहत यात्रियों पर दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार घायलों के इलाज के लिए पूरा सहयोग प्रदान कर रही है।
इस मौके पर सांसद एवं पूर्व रक्षा मंत्री श्री मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री एवं राज्य सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि शुरुआत में इस परियोजना का कार्य 04 वर्ष में पूरा किया जाना था, लेकिन उनके कहने पर राज्य सरकार ने इस परियोजना को 02 साल से भी कम समय में बनाकर प्रशंसनीय कार्य किया है। उन्होंने प्रदेश के अधिकारियों की कार्य क्षमता की सराहना करते हुए कहा कि आजादी के बाद प्रदेश में सर्वाधिक सड़कों एवं पुलों का निर्माण समाजवादी सरकार के कार्यकाल में ही हुआ है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को देश की सबसे बेहतरीन सड़क बताते हुए उन्होंने कहा कि इस प्रकार का एक्सप्रेस-वे देश में और कहीं नहीं है।
पूर्व रक्षा मंत्री ने कहा कि जो लोग उत्तर प्रदेश को पिछड़ा राज्य बताते हैं, उन्हें यहां आकर राज्य सरकार द्वारा कराए गए कार्यों को देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश कई मामले में देश में सबसे आगे है। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, बिजली, पानी और रोजगार को समाजवादी सरकार की प्राथमिकता बताते हुए कहा कि इन क्षेत्रों में प्रदेश में जितना काम किया है, इतना और कहीं नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों पर फोकस करने से ही प्रदेश व देश की तरक्की सम्भव है। पढ़ाई और दवाई मुफ्त है। हृदय और कैंसर जैसी बीमारियों के भी इलाज की व्यवस्था मुफ्त है।
श्री मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, सैफई (इटावा) में उपलब्ध कराई जा रही उपचार सुविधाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि यहां आने वाले सभी मरीजों को उच्च गुणवत्ता के इलाज की सुविधा मिलती है। बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार उपलब्ध कराए गए। पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर भर्तियां हुईं। उन्होंने संसदीय कार्य मंत्री श्री मोहम्मद आजम खां द्वारा रामपुर में स्थापित किए गए मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय की सराहना करते हुए कहा कि यहां की गुणवत्ता अलीगढ़ विश्वविद्यालय से भी बेहतर है।
इस अवसर पर विचार व्यक्त करने वालों में संसदीय कार्य मंत्री श्री मोहम्मद आजम खां, सांसद श्री राम गोपाल यादव, श्री किरणमय नन्दा, समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री शिवपाल सिंह यादव, वरिष्ठ पत्रकार श्री वेद प्रताप वैदिक, मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार श्री आलोक रंजन तथा प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास श्री रमा रमण भी थे।
बाद में भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों द्वारा बेहतरीन हवाई करतब दिखाते हुए एक्सप्रेस-वे पर निर्मित एयर स्ट्रिप पर लड़ाकू विमान को उतारने एवं टेक आॅफ का कुशल एवं शानदार प्रदर्शन किया गया, जिसमें मेराज-2000 एवं सुखोई-30 विमान शामिल थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने ‘मेकिंग आॅफ आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे’ काॅफी टेबल बुक का विमोचन किया। यूपीडा के अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए। भारतीय वायु सेना के अधिकारियों ने एयर स्ट्रिप के निर्माण के लिए प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त करते हुए बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस हवाई पट्टी के निर्माण से जहां देश की सुरक्षा को महत्वपूर्ण योगदान मिलेगा, वहीं आपदा के समय राहत सामग्री पहुंचाने में भी मदद मिलेगी।
गौरतलब है कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास 23 नवम्बर, 2014 को किया गया था। देश के सबसे लम्बे 06 लेन आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को 23 माह में बनाकर तैयार कर दिया गया। इसमें 20,000 मजदूरों, 1500 कुशल मजदूरों, 1,000 इंजीनियरों ने 3,000 मशीनों के सहयोग से इस एक्सप्रेस-वे को इतने कम समय में तैयार किया। एडवांस टैªफिक मैनेजमेंट से लैस इस एक्सप्रेस-वे पर धुंध एवं कोहरे में टैªफिक संचालन में सहूलियत मिलेगी। परियोजना को पूरा करने के लिए 30,000 किसानों से समझौता करके 3500 हेक्टेयर भूमि मात्र 06 माह में प्राप्त की गई। 08 लेन तक बढ़ाए जाने की क्षमता वाले इस एक्सप्रेस-वे के पुल-पुलिया, अण्डरपास एवं अन्य स्ट्रक्चर 08 लेन को ध्यान में रखकर बनाए गए हैं। परियोजना को पूरा करने के लिए गंगा व यमुना नदी पर 08 लेन पुल के अलावा 04 रेलवे ओवर ब्रिज भी बनाए गए हैं। एक्सप्रेस-वे को दिल्ली-आगरा यमुना एक्सप्रेस-वे से लिंक किया गया है।
इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष श्री माता प्रसाद पाण्डेय, बेसिक शिक्षा मंत्री श्री अहमद हसन, राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चैधरी, सांसद श्रीमती डिम्पल यादव, श्रीमती जया बच्चन, श्री धर्मेन्द्र यादव, अन्य जनप्रतिनिधिगण, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्रीमती अनीता सिंह, सचिव मुख्यमंत्री श्री पार्थ सारथी सेन शर्मा सहित अन्य अधिकारीगण, भारतीय वायु सेना के वरिष्ठ अधिकारी आदि उपस्थित थे।

press-3

press-4

untitled-12

press-6

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मुख्यमंत्री की उपस्थिति मंे गैलेक्सी वेन्चर्स तथा दक्षिण कोरिया के एम0पी0के0 ग्रुप के बीच एम0ओ0यू0 हस्ताक्षरित

Posted on 15 November 2016 by admin

untitled-11

एक संयुक्त उपक्रम के माध्यम से पिज्जा चेन ‘मिस्टर पिज्जा‘ ब्राण्ड के उत्पादों के लिए नोएडा में कारखाना स्थापित किया जाएगा

संयुक्त उपक्रम की स्थापना हो जाने पर राज्य के नौजवानों को रोजगार के नये अवसर मिलेंगे: मुख्यमंत्री

प्रदेश सरकार इस संयुक्त उपक्रम को हर सम्भव मदद देगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की उपस्थिति मंे आज उनके सरकारी आवास पर गैलेक्सी वेन्चर्स तथा दक्षिण कोरिया के एम0पी0के0 ग्रुप के बीच एक एम0ओ0यू0 हस्ताक्षरित किया गया। इसके तहत एक संयुक्त उपक्रम के माध्यम से एम0पी0के0 ग्रुप द्वारा संचालित पिज्जा चेन ‘मिस्टर पिज्जा‘ ब्राण्ड के उत्पादों के लिए नोएडा में कारखाना स्थापित किया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने इस प्रयास के लिए बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश की समाजवादी सरकार राज्य में उद्यमों की स्थापना के लिए कटिबद्ध है। राज्य सरकार द्वारा निवेशोन्मुखी नीतियां लागू की गईं, जिनके चलते उद्यमी यहां बड़े पैमाने पर निवेश कर रहे हैं। इससे प्रदेश के नौजवानों को रोजगार के बेहतर अवसर भी मिल रहे हैं। उत्तर प्रदेश में देश की आबादी का एक बहुत बड़ा हिस्सा रहता है, इस कारण यहां बहुत बड़ा बाजार भी उपलब्ध है। तेजी से बढ़ते मध्यम वर्ग के कारण यहां उपभोक्ता वस्तुओं की मांग में लगातार वृद्धि हो रही है।
श्री यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश कृषि प्रधान अर्थव्यवस्था वाला राज्य है। समाजवादी सरकार ने ‘मुख्यमंत्री खाद्य प्रसंस्करण मिशन योजना‘ को लागू करने का फैसला लिया ताकि यहां फूड प्रोसेसिंग सेक्टर का विकास हो तथा पूंजी निवेश को भी बढ़ावा मिले। उन्होंने भरोसा जताया कि इस ज्वाइन्ट वेन्चर की स्थापना हो जाने पर राज्य के नौजवानों को रोजगार के नये अवसर मिलेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार इस संयुक्त उपक्रम को हर सम्भव मदद देगी।
एम0ओ0यू0 पर एम0पी0के0 ग्रुप के चेयरमैन श्री जुंग वू ह्यून तथा गैलेक्सी वेन्चर्स के अध्यक्ष श्री पी0के0 गुप्ता द्वारा हस्ताक्षर किए गए। कम्पनी भारत में 100 आउटलेट्स स्थापित करेगी, जिनमें 03 हजार लोगों को रोजगार मिल सकेगा।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार श्री आलोक रंजन, प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास श्री रमा रमण, प्रमुख सचिव उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण श्री महेश कुमार गुप्ता, विशेष सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास श्री अनिल कुमार पाठक मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

समाजवादी सरकार तकनीक के साथ चलने वाली सरकार : मुख्यमंत्री

Posted on 03 November 2016 by admin

untitled-21

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा  है कि उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार तकनीक के साथ चलने वाली सरकार है। प्रदेश सरकार का हमेशा यह प्रयास रहा है कि तकनीक का ज्यादा से ज्यादा उपयोग कर जनता को बेहतर सुविधाएं और सेवाएं दी जाएं। इस दिशा में राज्य सरकार के प्रयासों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि ‘108‘ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा तथा ‘102‘ नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस का भरपूर लाभ जनता को मिल रहा है। मेगा कॉल सेन्टर संचालित हो गया है, शीघ्र ही डायल ‘100‘ परियोजना भी शुरू हो जाएगी। इसके अलावा अन्य विभागों में भी तकनीक आधारित विभिन्न योजनाएं व कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर ‘108‘ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा का मोबाइल एप लॉन्च करने के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इससे पूर्व, उन्होंने ‘108‘ तथा ‘102‘ एम्बुलेन्स सेवाओं के कॉल सेन्टर के कर्मियों से बातचीत कर इन सेवाओं के सम्बन्ध में उनसे फीड बैक भी प्राप्त किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मोबाइल एप के लॉन्च हो जाने से प्रदेशवासियों को इसका सीधा लाभ मिलेगा तथा एम्बुलेन्स सेवा के प्रति लोगों के विश्वास में और बढ़ोत्तरी होगी। मोबाइल एप के माध्यम से कॉलर अब एम्बुलेन्स सेवा पर ऑनलाइन नज़र रख सकेंगे। कॉलर को एक क्लिक में जी0पी0एस0 के जरिए न सिर्फ एम्बुलेन्स की लोकेशन मिलेगी बल्कि वे अपने स्मार्टफोन से यह भी देख सकेंगे कि एम्बुलेन्स किस रास्ते से आ रही है। इसके लिए प्रदेश सरकार ने एक एम्बुलेन्स ट्रैकर सिस्टम व वेब पोर्टल तैयार किया है।
प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री अरुण कुमार सिन्हा ने इस मौके पर बताया कि ‘108‘ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा के जरिए अब तक 69 लाख से अधिक लोगों को मदद पहुंचाई गई है। इसी प्रकार ‘102‘ नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस का निःशुल्क लाभ 1.5 करोड़ से अधिक गर्भवती महिलाओं और 1 साल तक के बीमार बच्चों को उपलब्ध कराया गया जो एक रिकॉर्ड है। वर्तमान में ‘108‘ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा के तहत 1,488 तथा ‘102‘ नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस के अन्तर्गत 2,270 वाहन संचालित किए जा रहे हैं।
ज्ञातव्य है कि ‘108‘ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा को और अधिक सुविधाजनक तथा पारदर्शी बनाने के लिए राज्य सरकार ने ऑनलाइन निगरानी के लिए एक वेब पोर्टल बनाया है। इसके जरिए यह देखा जा सकेगा कि उस समय कितनी एम्बुलेन्स तैयार खड़ी हैं, और कितनी एम्बुलेन्स मरीजों की सेवा में लगी हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को वेबसाइट पर कॉलर तथा एम्बुलेन्स के ड्राइवर के फोन नम्बर दिखाई देंगे, जिसके माध्यम से वे कभी एम्बुलेन्स सेवा की हकीकत परख सकेंगे।
अभी तक कॉलर को यह पता नहीं चल पाता है कि उसने जो एम्बुलेन्स बुलाई है उसकी लोकेशन क्या है। कई बार कॉल सेन्टर से जो लोकेशन बताई जाती है, उससे कॉलर संतुष्ट नहीं हो पाते हैं। अब एम्बुलेन्स ट्रैकर के जरिए इस समस्या का भी समाधान हो जाएगा। कॉलर ने जिस मोबाइल नम्बर से एम्बुलेन्स बुक कराई है उस नम्बर को वेबपोर्टल के एम्बुलेन्स ट्रैकर सिस्टम में डालने पर कॉलर को जो एम्बुलेन्स आवंटित की गई उसकी लोकेशन मिल जाएगी।
मोबाइल एप में गूगल मैप भी डाला जा रहा है। स्मार्टफोन में इंस्टॉल करने पर इस एप के जरिए बगैर कॉल किए हुए भी एम्बुलेन्स बुलाई जा सकेगी। साथ ही एम्बुलेन्स किस-किस रास्ते से होकर कॉलर के पास आ रही है स्मार्टफोन पर इसका भी पता चल जाएगा। इसके लिए स्मार्टफोन में जी0पी0एस0 व लोकेशन ऑन रखनी होगी।
वेबपोर्टल का डैशबोर्ड इस तरह से डिजाइन किया हुआ है कि इसमें एम्बुलेन्स सेवा से जुड़ी प्रत्येक जानकारी तुरन्त मिल जाएगी। इसमें आज कितने लोगों ने कॉल सेन्टर पर कॉल की उसकी जानकारी के साथ ही कितनी इमरजेन्सी कॉल आई, इसका डाटा सामने ही दिख जाएगा। पूरे महीने में एम्बुलेन्स सेवा ने कितने मरीजों को अस्पताल पहुंचाया, उसमें किस-किस श्रेणी के कितने मरीज थे, इसकी जानकारी भी दी जाएगी।
राज्य सरकार ने वेबपोर्टल पर एक फीडबैक का भी ऑप्शन तैयार करवाया है। इसमें लोग एम्बुलेन्स से जुड़ी शिकायत व सुझाव दे सकेंगे। जैसे ही कोई व्यक्ति इसमें कोई शिकायत दर्ज कराएगा उसे एक टिकट नम्बर मिल जाएगा। जब तक वह शिकायत दूर नहीं होगी उस शिकायत को बन्द नहीं किया जाएगा। एम्बुलेन्स सेवा के सर्वश्रेष्ठ केस भी इसमें तस्वीरों के साथ साझा किए जाएंगे।
मोबाइल एप लॉन्चिग के अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चौधरी, प्रमुख सचिव चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्री अरुण कुमार सिन्हा, प्रमुख सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल, नेशनल हेल्थ मिशन के मिशन निदेशक श्री आलोक कुमार सहित अन्य अधिकारीगण तथा सेवा प्रदाता संस्था के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

untitled-3

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री ने लखनऊ हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री का स्वागत किया

Posted on 14 October 2016 by admin

dsc_4672-photo-1

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक एवं मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज यहां चैधरी चरण सिंह हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत किया।
इस मौके पर केन्द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह, जन्तु उद्यान राज्यमंत्री श्री शिव प्रताप यादव, मुख्य सचिव श्री राहुल भटनागर, पुलिस महानिदेशक श्री जावीद अहमद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

dsc_4673-photo-2

dsc_4675-photo-3

dsc_4676-photo-4

सुरेन्द्र अग्निहोत्री

agnihotri1966@gmail.com

sa@upnewslive.com

Comments (0)

अन्तर्राष्ट्रीय आॅल वेदर तरणताल सभी सुविधाओं से युक्त दूसरा तरणताल लखनऊ में बनाया जाएगा: मुख्यमंत्री

Posted on 10 October 2016 by admin

press-1-photo-1

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज जनपद इटावा में डियर सफारी पार्क का उद्घाटन किया। इसके साथ ही, उन्होंने सैफई में 207 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से तैयार हुए अन्तर्राष्ट्रीय आॅल वेदर तरणताल सहित 719.36 करोड़ रुपए की लागत के विकास कार्यों का लोकार्पण भी किया।
इन लोकार्पित परियोजनाओं में 40.64 करोड़ रुपए की लागत का विशिष्ट क्रीडा स्थल संकुल के अन्तर्गत इण्डोर स्टेडियम, 21.01 करोड़ रुपए का स्पोट्र्स काॅलेज का प्रशासनिक भवन व हाॅस्टल, 2.92 करोड़ रुपए की लागत का बहुउद्देशीय हाॅल (इटावा क्लब), 20.41 करोड़ रुपए की लागत का बैडमिन्टन हाॅल का जीर्णोद्धार, जिम्नेजियम तथा एस्ट्रोटर्फ हाॅकी मैदान, 224.06 करोड़ रुपए की लागत से 29 कि0मी0 लम्बाई का इटावा-मैनपुरी 4-लेन, 66.29 करोड़ रुपए की लागत से 60 कि0मी0 लम्बाई का बेवर-इटावा मार्ग, 110.09 करोड़ रुपए का इटावा-ग्वालियर मार्ग 4-लेन, 7.21 करोड़ रुपए की लागत से 8.05 कि0मी0 लम्बाई का इटावा-ग्वालियर मार्ग चम्बल बाॅर्डर तक, 8.30 करोड़ रुपए की लागत से 1.417 कि0मी0 लम्बाई का आगरा की ओर से लायन सफारी जाने हेतु डी0एम0 चैराहे से इंजीनियरिंग काॅलेज तक सी0सी0 मार्ग का निर्माण एवं इण्टर लाॅकिंग, 6 करोड़ रुपए की लागत से इटावा प्रदर्शनी के पण्डाल का विस्तारीकरण तथा 4.48 करोड़ रुपए की लागत का अग्निशमन केन्द्र शामिल है।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय आॅल वेदर तरणताल सभी सुविधाओं से युक्त है। इस तरणताल की खासियत है कि सर्दी, गर्मी, बरसात या किसी भी मौसम का असर इस पर नहीं पड़ेगा और तैराक अच्छी तरह से अपना अभ्यास जारी रख सकेंगे। उन्होंने कहा कि दूसरा तरणताल लखनऊ में बनाया जाएगा।
श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने लगातार विकास कार्यों को अंजाम दिया है। राज्य सरकार प्रदेश को खुशहाली व तरक्की के रास्ते पर ले जा रही है। उन्होंने कहा कि विकास का सीधा सम्बन्ध रोजगार से है, जब विकास होगा तो रोजगार भी मिलेगा। आने वाले समय में विकास कार्यों को जारी रखा जाएगा और इससे भी ज्यादा विकास कार्य दिखाई देंगे। ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा एवं ‘102’ नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस की उपलब्धता और कार्य प्रणाली से लोगों का भरोसा इनके प्रति बढ़ा है। उन्होेंने कहा कि पुलिस की आपातकालीन सेवा ‘यूपी-100’ के तहत पुलिस घटना स्थल पर 10 से 15 मिनट में पहुंचेगी।
मुख्यमंत्री ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे की चर्चा करते हुए कहा कि इसके माध्यम से तेज यातायात सम्भव हो सकेगा। एक्सप्रेस-वे के निर्माण से प्रदेश के विकास की रफ्तार बढ़ेगी और गांव आपस में जुड़ेंगे। यह एक्सप्रेस-वे न केवल प्रदेश बल्कि, देश की अर्थव्यवस्था को बदलेगा। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे के दोनों तरफ मण्डियों की स्थापना से बड़ी संख्या में किसान लाभान्वित होंगे और वे शीघ्रता से अपनी फसलों को मण्डी तक पहुंचा सकेंगे। इस प्रकार उन्हें अपनी उपज का उचित मूल्य मिलना सम्भव हो सकेगा। एक्सप्रेस-वे से पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। इसके साथ ही, मेट्रो रेल परियोजना कई जनपदों में लागू होगी। लखनऊ मेट्रो रेल शीघ्र ही चालू हो जाएगी।
श्री यादव ने सैफई में सात जनपदों की ई-रिक्शा योजना का शुभारम्भ किया। उन्होंने योजना के तहत 07 जनपदों के एक-एक लाभार्थी को ई-रिक्शा प्रदान किया। डूडा द्वारा विभिन्न 07 जनपदों के 533 ई-रिक्शा लाभार्थियों में जनपद इटावा के 75, कानपुर नगर के 239, कानपुर देहात के 49, मैनुपरी के 68, औरैया के 23, फतेहपुर के 62 तथा उन्नाव के 17 पात्र लाभार्थी चयनित हंै।
अन्तर्राष्ट्रीय आॅल वेदर तरणताल के उद्घाटन से पहले, मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के दिवंगत जवान श्री स्वदेश कुमार की पत्नी श्रीमती रानी देवी, निवासी ग्राम नवलपुरा, मौजा ललखौर, तहसील जसवन्तनगर को 20 लाख रुपए की आर्थिक सहायता का चेक प्रदान किया। उन्होंने श्री स्वदेश कुमार की बीमारी से हुई मृत्यु पर दुःख प्रकट करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना एवं सहानुभूति व्यक्त की।
इस अवसर पर राज्य सरकार के मंत्री रामकरन आर्य, दुर्गा प्रसाद यादव, तेज नारायण पाण्डेय, एस0पी0 यादव, सांसद प्रो0 रामगोपाल यादव, धर्मेन्द्र यादव, श्री तेज प्रताप यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

press-5x12-photo-2

press-2-photo-3

img-20161006-wa0001-photo-4

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की

Posted on 03 October 2016 by admin

press-4-1

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक और मुख्यमंत्री
श्री अखिलेश यादव ने आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर विधान भवन के तिलक हाॅल में आयोजित एक कार्यक्रम में उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।
इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का शुभारम्भ राष्ट्रगीत ‘वन्दे मातरम’ के गायन से हुआ। इसके पश्चात् महात्मा गांधी के प्रिय भजन ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए, जो पीर पराई जाने रे’ एवं राम धुन ‘रघुपति राघव राजा राम’ प्रस्तुत की गयी। इस दौरान महात्मा गांधी के जीवन आदर्शों व शिक्षाओं को भी याद किया गया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से हुआ।
इस अवसर पर बेसिक शिक्षा मंत्री श्री अहमद हसन, परिवार कल्याण मंत्री श्री रविदास मेहरोत्रा, अन्य जनप्रतिनिधिगण, राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष श्री नवीन चन्द्र बाजपेयी, मुख्य सचिव श्री राहुल भटनागर, प्रमुख सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव गृह श्री देवाशीष पण्डा, सचिव मुख्यमंत्री श्री पार्थ सारथी सेन शर्मा सहित शासन-प्रशासन के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

press-5-2

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मुख्यमंत्री के इस फैसले से लगभग 1,54,000 आंगनबाड़ी कार्यकत्र्री, 20,000 मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्र्री और 1,54,000 आंगनबाड़ी सहायिकायें लाभान्वित हांगी

Posted on 29 September 2016 by admin

untitled-22

मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों के मानदेय में 800रु0,
मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों के मानदेय में 750रु0
और आंगनबाड़ी सहायिकाओं के मानदेय में 400रु0
प्रतिमाह की वृद्धि करने का निर्णय लिया

इस वृद्धि के फलस्वरूप आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों का मानदेय रु0 3200 से बढ़कर रु0 4000 मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों का मानदेय
रु0 2250 से बढ़कर रु0 3000 और आंगनबाड़ी सहायिकाओं
का मानदेय रु0 1600 से बढ़कर रु0 2000 प्रतिमाह हो जाएगा

मुख्यमंत्री के इस फैसले से लगभग 1,54,000 आंगनबाड़ी कार्यकत्र्री, 20,000 मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्र्री और 1,54,000 आंगनबाड़ी सहायिकायें लाभान्वित हांगी

मानदेय में यह बढ़ोत्तरी राज्य सरकार द्वारा
वहन की जायेगीऔर 01 अक्टूबर, 2016 से प्रभावी होगी

मुख्यमंत्री के निर्णय पर आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों ने आभार व्यक्त किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों के मानदेय में 800/- रुपये प्रतिमाह, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों के मानदेय में 750/- रुपये प्रतिमाह और आंगनबाड़ी सहायिकाओं के मानदेय में 400/- रुपये प्रतिमाह की वृद्धि करने का निर्णय लिया है। मानदेय में उपरोक्त बढ़ोत्तरी राज्य सरकार द्वारा वहन की जायेगी। यह बढ़ोत्तरी 01 अक्टूबर, 2016 से प्रभावी होगी।
यह जानकारी आज यहां देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि इस वृद्धि के फलस्वरूप आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों का मानदेय
रु0 3200/- से बढ़कर रु0 4000/- प्रतिमाह, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों का मानदेय रु0 2250/- से बढ़कर रु0 3000/- प्रतिमाह और आंगनबाड़ी सहायिकाओं का मानदेय रु0 1600/- से बढ़कर रु0 2000/- प्रतिमाह हो जाएगा। उपरोक्त वृद्धि से लगभग 1,54,000 आंगनबाड़ी कार्यकत्र्री, 20,000 मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्र्री और 1,54,000 आंगनबाड़ी सहायिकायें लाभान्वित हांेगी।
उल्लेखनीय है कि आज मुख्यमंत्री से आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों के विभिन्न संघों के प्रतिनिधिमण्डल ने उनके सरकारी आवास पर मुलाकात कर अपनी समस्याओं से उन्हें अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने उनकी मानदेय में वृद्धि सहित अन्य समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुना और सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए उनके मानदेय में वृद्धि करने का निर्णय लिया। मुख्यमंत्री के इस निर्णय पर आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों ने आभार व्यक्त किया है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

राज्य सरकार समाजवादी पूर्वांचल एक्सपे्रस-वे के निर्माण पर गम्भीरता से काम कर रही है: मुख्यमंत्री

Posted on 28 September 2016 by admin

untitled-12

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज जनपद गाजीपुर के मेघबरन सिंह हाॅकी स्टेडियम में लगाये गये एस्ट्रोटर्फ का उद्घाटन किया। सैदपुर तहसील स्थित करमपुर में इस स्टेडियम का निर्माण 6.21 करोड़ रुपए की लागत से 2 साल की अवधि में कराया गया है। उन्होंने गाजीपुर शहर में 26 करोड़ रुपए लागत वाली भूमिगत विद्युत केबिल परियोजना का शिलान्यास भी किया। उन्होंने 105 करोड़ 82 लाख रुपए की लागत की नयी परियोजनाओं का शिलान्यास एवं 24 करोड़ 19 लाख रुपए के कार्यों का लोकार्पण भी किया।
मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान 100 लाभार्थियों को समाजवादी पेंशन योजना, 50 लाभार्थियों को लोहिया आवास, 100 छात्राओं को कन्या विद्याधन से लाभान्वित करने के साथ-साथ, 200 मेधावी छात्र-छात्राओं को लैपटाॅप, 69 लाभार्थियों को ई-रिक्शा तथा 500 कामगारों को साइकिल का वितरण भी किया। उन्होंने कश्मीर में पूर्वांचल के शहीद सैनिकों के परिजनों को 20-20 लाख रुपए की आर्थिक सहायता के चेक भी प्रदान किए।
इस अवसर पर आयोजित एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार समाजवादी पूर्वांचल एक्सपे्रस-वे के निर्माण पर गम्भीरता से काम कर रही है। इसके लिए आवश्यक भूमि का अधिग्रहण किसानों की सहमति से तेजी से किया जा रहा है। पहले इसका निर्माण लखनऊ से गाजीपुर तक किया जाएगा, फिर इसका विस्तार बलिया तक किया जायेगा। उन्होंने कहा कि गाजीपुर जिले से इस एक्सप्रेस-वे का 57 किलोमीटर लम्बा हिस्सा गुजरेगा। पूरा पूर्वांचल क्षेत्र समाजवादी एक्सप्रेस-वे तथा आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के माध्यम से दिल्ली से जुड़ जाएगा और बलिया से दिल्ली तक तेज यातायात सम्भव हो सकेगा। दोनों एक्सप्रेस-वे के निर्माण से प्रदेश के विकास की रफ्तार बढ़ेगी। ये एक्सप्रेस-वेज़ न केवल प्रदेश बल्कि देश की अर्थव्यवस्था को बदल देंगे।
श्री यादव ने कहा कि इन एक्सप्रेस-वेज़ के दोनों तरफ मण्डियों की स्थापना से बड़ी संख्या में किसान लाभान्वित होंगे और वे शीघ्रता से अपनी फसलों को मण्डी तक पहुंचा सकेंगे। इस प्रकार उन्हें अपनी उपज का उचित मूल्य मिलना सम्भव हो सकेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के हित में कई फैसले लिए और उन्हें लागू किया जिसका लाभ किसानों को मिल रहा है। दैवी आपदा से किसानों को होने वाले नुकसान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इससे किसानों को राहत देने के लिए कई योजनायें लागू कीं, जिससे किसानों के नुकसान की भरपाई हो रही है।
जनता को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि रोगियों को निःशुल्क इलाज उपलब्ध कराया जा रहा है। सरकारी अस्पतालों में सभी प्रकार की पैथोलाॅजिकल जांचें निःशुल्क की जा रही हैं। इलाज के लिए लोगों की भाग-दौड़ कम करने की दृष्टि से प्रदेश के विभिन्न जिलों में नए राजकीय मेडिकल काॅलेजों की स्थापना की गई, जिसका लाभ लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के रूप में मिल रहा है। अब उन्हें इलाज के लिए इधर-उधर जाने की आवश्यकता नहीं पड़ रही है। राज्य सरकार द्वारा संचालित ‘108‘ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा तथा ‘102‘ नेशनल एम्बुलेंस सर्विस का भरपूर लाभ गरीबों को मिल रहा है। जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि अगर इसी तरह आप का सहयोग मिला तो जनपद गाजीपुर में भी मेडिकल काॅलेज की स्थापना की जायेगी।
श्री यादव ने कहा कि गांवों में किसानों को 18 घण्टे बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए जगह-जगह पावर हाउस का निर्माण कराया जा रहा है, जिससे उन्हें निर्बाध रूप से बिजली मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा शिक्षामित्रों का समायोजन कराया जा चुका है। इसके अलावा, ग्राम रोजगार सेवकों को 3,630 रुपए से बढ़ाकर 6,000 रुपए प्रतिमाह का मानदेय देने का फैसला लिया गया है। उन्होंने ग्राम रोजगार सेवकों की अन्य मांगों पर भी सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। उन्होंने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों, सहायिकाओं, आशा बहुओं की विभिन्न मांगों पर भी विचार करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा प्रदेश सरकार द्वारा पुलिस भर्ती में लिखित परीक्षा को समाप्त कर बेरोजगारों को रोजगार देने का कार्य किया गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश की कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त बनाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। ‘108‘ एवं ‘102‘ एम्बुलेन्स सेवा की तर्ज पर प्रदेश सरकार ने डायल ‘100‘ सेवा शुरू करने का निर्णय लिया था। यह सेवा अक्टूबर माह से प्रभावी हो जाएगी। किसी भी घटना के घटित होने पर इस नम्बर पर काॅल करने पर पुलिस 15 मिनट के अन्दर घटना स्थल पर पहुंच जाएगी।
इस अवसर पर प्रदेश सरकार के कई मंत्री, क्षेत्रीय विधायक, जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी आदि भी मौजूद थे।

suchna-gzp-6

suchna-gzp-7

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)


Advertise Here

Advertise Here

 

February 2017
M T W T F S S
« Jan    
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728  
-->




 Type in