*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | Latest news

समता और न्याय पर आधारित समाज के निर्माण में लगें छात्र- राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

Posted on 15 December 2017 by admin

सुरेन्द्र अग्निहोत्री, लखनऊ, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि युवाओं को नौकरी के बजाय खुद अपने कारोबार पर ज़ोर देना चाहिए। लखनऊ में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर केंद्रीय विश्व विद्यालय के सातवें दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति ने कहा कि नौकरी में सीमा तय कर दी जाती है जबकि निजी कारोबार में व्यक्ति प्रतिभा के अनुरूप कितना भी विकास कर सकता है। वाट्सएप के संस्थापक ब्रायन एक्टन का उदाहरण देते हुए श्री कोविंद ने कहा कि उन्हें जिस फेसबुक ने नौकरी नहीं दी उसी ने ऊंची कीमत पर उनका वाट्सएप खरीदा।1-1
राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर विश्व विद्यालय ने सामाजिक सरोकारों से जुड़े कई कदम उठाए हैं। उन्होने विश्व विद्यालय के पूर्व छात्रों का एक सेल बनाने का भी आग्रह किया, इस सेल के जरिये विश्व विद्यालय के छात्र पूर्व छात्रों का अनुभव साझा कर सकेंगे और उनका समर्थन हासिल कर सकेंगे।राष्ट्रपति ने छात्रों से समता और न्याय पर आधारित समाज के निर्माण में योगदान का आहवाहन किया। उन्होने कहा कि जब देश विकसित होगा, सबका विकास होगा। लखनऊ की तहजीब की प्रशंसा करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि इसमे सभी को आदर देने की भावना निहित है। 23
उन्होने कहा कि लखनऊ से बाबा साहब अंबेडकर का खास रिश्ता रहा है। उन्हें दीक्षा देने वाले भदंत प्रज्ञानन्द जी यहीं के थे। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की कार्यशैली की प्रशंसा करते हुए श्री कोविंद ने कहा कि लखनऊ ने उन्हे अपना प्रतिनिधि चुना। सरदार वल्लभ भाई पटेल का भी आज उनकी पुण्य तिथि पर श्री कोविंद ने स्मरण किया।
श्री कोविंद ने कहा कि इस विश्व विद्यालय के साथ उनका बड़ा पुराना संबंध है। जब वे राज्य सभा के सदस्य थे इस विश्व विद्यालय की प्रबंध समिति में भी सदस्य हुआ करते थे। श्री कोविंद ने कहा कि आज विशाल वृक्ष के रूप में परिणित इस विश्व विद्यालय को देखकर उन्हें अपार हर्ष हो रहा है। उन्होने कहा कि आज बेटियां तरक्की की राह पर आगे हैं। उन्होने कहा की बाबा साहब समानता की बात करते थे लेकिन बेटियां हर क्षेत्र में बढ़चढ़ कर योगदान कर रही हैं। 7
प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि आज के कड़ी स्पर्धा के युग में युवा को मेहनत करने की आवश्यकता है। चरेवेति- चरेवेति का मंत्र देते हुए श्री राम नाईक ने छात्रों से कहा कि वे असफलता पर निराश न हों बल्कि अपना परीक्षण करें और आगे बढ़ें। उन्होने कहा कि किसी भी छात्र के जीवन में दीक्षांत समारोह का विशेष महत्व होता है। यह वह पड़ाव है जहां किताब की पढ़ाई समाप्त हो जाती है और जीवन की लड़ाई शुरू होती है। राज्यपाल ने उल्लेखनीय कामयाबी के लिए छात्राओं का विशेष रूप से अभिनंदन किया।
इससे पूर्व कुलपति प्रोफेसर सोबती ने अतिथियों का स्वागत करते हुए विश्व विद्यालय द्वारा किए गए विशेष कार्यों का ब्योरा दिया। कार्यक्रम में राष्ट्रपति की पत्नी और देश की प्रथम महिला नागरिक श्रीमती सविता कोविंद, प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन, न्यायाधीश प्रमोद कोहली और विश्व विद्यालय अनुदान आयोग के अध्यक्ष डॉ वीएस चौहान खास तौर पर मौजूद रहे।
दीक्षांत समारोह में 566 छात्राओं सहित कुल 1079 विद्यार्थियों को उपाधि दी गई। तथा 122 छात्राओं और 70 छात्रों को पदक दिए गए।

Comments (0)

व्यवस्था के प्रति अनास्था न उत्पन्न होने दें युवा- राजनाथ सिंह

Posted on 09 December 2017 by admin

students-with-medals-and-degrees-with-distinguished-guests-at-convocation-of-lucknow-universitythree-books-were-released-on-60th-convocation-of-lucknow-universityगृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि स्वतंत्रता के बाद राजनीति ने अपने अर्थ और भाव को खोया है॰ लखनऊ विश्वविद्यालय के 60वें दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए गृहमंत्री ने कहा कि युवाओं को खुद को राजनीतिक व्यवस्था से अलग नहीं रखना चाहिए।
उन्होने कहा कि संकल्प के बल पर जीवन में कुछ भी प्राप्त किया जा सकता है। उन्होने युवा शक्ति का आहवाहन किया कि वह व्यवस्था के प्रति अनास्था न उत्पन्न होने दें। व्यवस्था के प्रति अनास्था की समाज को भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है। ms-anjali-singh-conferred-with-gold-medals-during-convocation-of-lucknow-university
श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत के साहित्य और संस्कृति में ज्ञान का भंडार छिपा है। इसका उपयोग वर्तमान संदर्भों में सफलता पूर्वक किया जा सकता है। उन्होने लखनऊ विश्वविद्यालय के विद्वानों से आग्रह किया कि वे भारतीय ज्ञान पर शोध कर उसे दुनिया के समक्ष लाएं।
श्री सिंह ने कहा कि शिक्षा चरित्र का निर्माण करती है। उन्होंने कहा कि राम की तुलना में कहीं अधिक धनवान, बलवान और ज्ञानवान होने के बावजूद रावण का विनाश इसलिए हुआ क्योंकि उसका चारित्रिक पतन हो गया था। union-home-minister-delivering-the-keynote-address-at-lucknow-university-convocation-on-satuday
प्रदेश के राज्यपाल और कुलाधिपति राम नाईक ने कहा कि वैश्विक स्तर पर स्पर्धा बढ़ने के कारण शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने की आवश्यकता है। नई खोजों पर बल देते हुए श्री नाईक ने कहा कि इससे शिक्षा का लाभ समाज को मिलेगा। इससे पहले अतिथियों का स्वागत करते हुए प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने कहा कि आज शिक्षा के व्यवसायीकरण की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि शिक्षा प्राप्त करने के बाद छात्रों को रोजगार मिलना चाहिए। union-home-minister-shri-rajnath-singh-honoured-with-honorary-dsc-degree-at-60th-convocation-of-lucknow-university
दीक्षांत समारोह के मौके पर श्री मेहंदी अग्रवाल और सुश्री अंजली सिंह सहित 192 छात्र छात्राओं को डिग्रियों और पदकों से सम्मानित किया गया। इनमें 32 छात्र और 159 छात्राएं। यानि पदक पाने वाली छात्राओं का प्रतिशत 83 रहा। इस मौके पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह को डी०एस०सी की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया।

Comments (0)

सस्ती और टिकाऊ सड़कों के निर्माण की तकनीक खोजें विशेषज्ञ- नितिन गडकरी

Posted on 08 December 2017 by admin

अगले साल तक पूरी होगी वाराणसी-हल्दिया जलमार्ग परियोजना।

केंद्रीय परिवहन और राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि सड़कों का विकास देश के विकास से जुड़ा है। उन्होने कहा कि सड़कों के विकास से लोगों को रोजगार मिलता है और गरीबी समाप्त होती है।

union-minister-shri-nitin-gadkari-with-up-cm-at-inauguration-of-lucknow-conferenceon-new-technology-for-road-construction-here-on-fridayआज लखनऊ में आयोजित सम्मेलन में आए विशेषज्ञों से आहवाहन करते हुए श्री गडकरी ने कहा कि एक ऐसी नई तकनीक विकसित करना समय की आवश्यकता है जिससे निर्धारित समय में मानक के अनुरूप गुणवत्ता युक्त सड़कें बनाई जाएं। लोक परिवहन पर बल देते हुए उन्होने कहा कि इस दिशा में विशेष रूप से काम करने की आवश्यकता है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सड़क निर्माण में काम आने वाले डामर में आठ प्रतिशत प्लास्टिक डाली जा सकती है। उन्होने कहा कि ऐसी तकनीक पर विचार करना होगा जिसमें कूड़ा कचरे के इस्तेमाल से बेहतर और मजबूत सड़कें बनाई जा सकेंगी। उन्होने वैज्ञानिकों से पूर्व कीमत तकनीक पर भी विचार करने को कहा।union-minister-shri-nitin-gadkari-and-other-emminent-guests-released-a-book-on-this-occassion

सड़कों के निर्माण में नई तकनीक को लेकर आयोजित लखनऊ सम्मेलन में श्री गडकरी ने कहा कि सड़क, पानी, बिजली और संचार से उद्योग धंधों को बढ़ावा मिलता है। उन्होने कहा कि विकास के आधारभूत ढांचे को मजबूत बनाने में संसाधनों की अपेक्षा दृष्टिकोण, कार्य में पारदर्शिता और भ्रष्टाचार मुक्त पद्धति ज्यादा कारगर होती है।

उन्होने कहा कि जब मौजूदा सरकार सत्ता में आई थी तब सड़क निर्माण का काम धीमा था। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में उनका मंत्रालय 5 साल में पच्चीस लाख करोड़ रुपये का काम करेगा।union-minister-shri-nitin-gadkari-felicitating-the-expertat-lucknow-conference-on-new-technology-fort-rioad-construction-here-in-city-on-friday

श्री गडकरी ने कहा कि सस्ती और टिकाऊ सड़कों के निर्माण में भारतीय तकनीकी संस्थान महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। उन्होने उत्तर प्रदेश में सड़क विकास के लिए दो लाख करोड़ रुपये देने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में आयोजित अपने किस्म के इस पहले सम्मेलन में देश विदेश से आए विशेषज्ञों को अपने अनुभव साझा करने में मदद मिलेगी। उन्होने कहा कि उनकी सरकार को एक लाख 21 हजार किलोमीटर लंबी गड्ढायुक्त सड़कें विरासत में मिलीं थीं। उनकी सरकार ने एक सौ दिन में पचासी हजार किलोमीटर सड़कों को गड्ढामुक्त करने में सफलता प्राप्त कर ली है। इससे पहले उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अतिथियों का औपचारिक स्वागत किया और विषय की स्थापना की।

श्री नितिन गडकरी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सम्मेलन में आए विशेषज्ञों का स्वागत किया और एक पुस्तिका का विमोचन किया। इस मौके पर सड़क विकास को लेकर एक प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया।

बाद में पत्रकारों से बातचीत में केंद्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार गंगा को प्रदूषण मुक्त करने की दिशा में भी महत्वपूर्ण कार्य कर रही है। उन्होने कहा कि वाराणसी से हल्दिया तक 1 हजार 680 किलोमीटर लंबे जलमार्ग को विकसित किया जा रहा है।union-minister-shri-nitin-gadkari-with-other-distingushed-guests-inaugurating-the-conference-by-lighting-the-lamp

ढाई सौ करोड़ रुपये की लागत से पटना-हल्दिया के बीच इस काम को पूरा कर लिया गया है। अगले साल के अंत तक वाराणसी तक के काम को पूरा कर लिया जाएगा। श्री गडकरी ने कहा कि गंगा किनारे बसे साढ़े चार हजार गांव को गंगा ग्राम के रूप में विकसित किया जा रहा है।

उन्होने कहा कि गंगा के किनारे दस करोड़ वृक्ष लगाए जाएंगे और मोक्ष धाम तथा धर्मशालाएँ बनाई जाएंगी। उन्होने कहा कि इस काम को जन सहयोग से पूरा किया जाएगा। श्री गडकरी ने कहा कि लखनऊ-कानपुर के बीच एक्सप्रेस वे बनाने का काम भी जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री, लखनऊ , 08.12.2017

Comments (0)

संविधान निर्माण में बाबा साहब के योगदान को भारतवासी युगों-युगों तक स्मरण करेंगे: राज्यपाल

Posted on 06 December 2017 by admin

डाॅ0 आंबेडकर ने सामाजिक बुराइयों का सामना करते हुए उच्च शिक्षा
प्राप्त की और समाज के सामने एक मानक प्रस्तुत किया: मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक जी ने कहा कि डाॅ0 भीमराव आंबेडकर बेहद प्रतिभाशाली एवं अनोखे व्यक्तित्व के धनी थे। उन्होंने बहुत कष्ट उठाकर उच्च शिक्षा प्राप्त की और महान शिक्षाविद्, कानूनवेत्ता और समाज सुधारक बने। वर्तमान समय में उनके संघर्ष को समझ पाना भी कठिन है। बाबा साहब भारतीय संविधान की ड्राफ्टिंग कमेटी के अध्यक्ष थे, जो कि अत्यन्त चुनौतपूर्ण कार्य था। संविधान निर्माण में बाबा साहब के योगदान को भारतवासी युगों-युगों तक स्मरण करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रायः बाबा साहब का नाम भीम राव अम्बेडकर लिखा जाता है, जो कि सही नहीं है। उन्होंने संविधान की हिन्दी मूल प्रति पर बाबा साहब द्वारा किए गए हस्ताक्षर भीमराव रामजी आंबेडकर को सही बताते हुए सभी से इसे ऐसे ही अपनाने का आह्वान किया। press-22
राज्यपाल जी आज यहां बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर महासभा में डाॅ0 आंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने के पश्चात अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने बाबा साहब डाॅ0 भीमराव आंबेडकर को भारतीय संविधान का शिल्पी बताते हुए कहा कि आज पूरा देश भारत माता के इस सपूत को अपनी श्रद्धांजलि दे रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि छोटे से बड़ा होना महानता का लक्षण है। बाबा साहब ने महानता अपने कृतित्व से अर्जित की। मध्यकाल में पैदा हुई छुआ-छूत और अस्पृश्यता की विकृति का शिकार बाबा साहब को भी अपने बचपन में होना पड़ा। किन्तु उन्होंने सामाजिक बुराइयों का सामना करते हुए उच्च शिक्षा प्राप्त की और समाज के सामने एक मानक प्रस्तुत किया। आजादी के संघर्ष सहित भारत के संविधान में उनका अभूतपूर्व योगदान अविस्मरणीय एवं अभिनन्दनीय है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर सरकारी कार्यालय में डाॅ0 भीमराव रामजी आंबेडकर की तस्वीर सम्मानजनक ढंग से स्थापित की जाएगी।4
प्रधानमंत्री जी द्वारा कल 07 दिसम्बर, 2017 को नई दिल्ली में आंबेडकर भवन के उद्घाटन की जानकारी देते हुए योगी जी ने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार डाॅ0 आंबेडकर के दलितों को मुख्य धारा से जोड़ने के सपने को साकार करने के लिए कटिबद्ध है। वर्ष 2014 में आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद डाॅ0 आंबेडकर से जुड़े स्थलों यथा मध्य प्रदेश राज्य में उनकी जन्मभूमि, इंग्लैण्ड में उनका शिक्षा स्थल, दिल्ली में राजकीय भूमि, मुम्बई में चैत्य भूमि आदि को महत्व देकर पंचतीर्थ के रूप में विकसित किया गया है। स्टैण्डअप योजना के तहत प्रत्येक बैंक की ब्रांच को कम से कम एक दलित को उद्यमिता के लिए प्रोत्साहित करने के लिए कहा गया है। इससे हजारों की संख्या में दलित नौजवानों को आगे बढ़ने का मौका मिला है। इस योजना के तहत प्रदेश में प्रत्येक वर्ष 35 हजार उद्यमी लाभान्वित होंगे।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हाथ से मैला उठाने की प्रथा को समाप्त करने के लिए राज्य सरकार प्रत्येक व्यक्ति को शौचालय उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। ग्रामीण इलाकों में 48 लाख शौचालयों का निर्माण कराया गया है। अनुसूचित जाति एवं जनजाति के छात्रों के खाते में छात्रवृत्ति की शत-प्रतिशत धनराशि अंतरित की गई है। राज्य सरकार ने शादी आदि अनुदानों को कार्यक्रम से पहले दिए जाने की व्यवस्था की है।
योगी जी ने कहा कि सामाजिक, आर्थिक विषमता समाज के लिए अभिशाप है। इसलिए हम सभी समतामूलक समाज के निर्माण के लिए प्रयासरत हैं। डाॅ0 आंबेडकर जैसे व्यक्तित्व और कृतित्व के महापुरुष को पाठ्यक्रम में स्थान मिलना चाहिए। महापुरुषों के नाम पर होने वाली छुट्टियों के स्थान पर ऐसे दिवसों पर स्कूलों में सम्बन्धित महापुरुष के बारे में विद्यार्थियों को जानकारी दी जानी चाहिए, जिससे भावी पीढ़ी महापुरुष के व्यक्तित्व एवं कृतित्व के बारे में जानकर उनसे प्रेरणा प्राप्त करे।
कार्यक्रम को श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य तथा बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री लालजी प्रसाद निर्मल ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम के अन्त में उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने अतिथियों के प्रति आभार प्रकट किया।
इससे पूर्व, राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने डाॅ0 अम्बेडकर महासभा परिसर में स्थापित तथागत बुद्ध की प्रतिमा पर माल्यार्पण तथा डाॅ0 आंबेडकर के अस्थिकलश पर पुष्पांजलि भी अर्पित की। इस दौरान राज्यपाल जी और मुख्यमंत्री जी ने भारतरत्न बोधिसत्व बाबासाहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर महासभा परिसर में स्थापित अनुसूचित जाति/जनजाति उत्पीड़न निवारण एवं सशक्तिकरण केन्द्र का उद्घाटन भी किया।
इस अवसर पर राज्य सरकार के मंत्रिगण आशुतोष टण्डन, बृजेश पाठक, दारा सिंह चैहान, धर्मपाल सिंह, गिरीश यादव, सुरेश राणा, श्रीमती स्वाती सिंह सहित जनप्रतिनिधिगण प्रमुख सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी अन्य अधिकारीगण एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री, लखनऊ

Comments (0)

निकाय चुनाव में अभूतपूर्व समर्थन के लिए जनता का आभार

Posted on 01 December 2017 by admin

up-election

लखनऊ 01 दिसम्बर 2017, उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव में मिली भारी जीत के अवसर पर हुए उत्सव में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने निकाय चुनाव में मिली अभूतपूर्व विजय के लिए देश के प्रधानमंत्री मा0 नरेन्द्र मोदी जी की गरीब कल्याण नीति और राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित भाई शाह के कुशल निर्देशन एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा जनकल्याण की दिशा में किये जा रहे कार्यों की जीत है। इस अवसर पर उन्होंने प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल जी एवं समस्त पदाधिकारी, निकाय चुनाव की पूरी टीम सभी प्रभारी एवं देव दुर्लभ कार्यकर्ताओं को हृदय से बधाई एवं शुभकामनाएं दी।
डाॅ0 पाण्डेय ने कहा प्रदेश की जनता ने केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा किये जा रहे विकास कार्यो और एक सुरक्षित समाज व भ्रष्टाचार रहित प्रशासन के प्रति जनता के विश्वास को दर्शाती है। यह जीत हमें जनकल्याण की दिशा में और अधिक मेहनत के लिए प्रेरित करेगी। डाॅ पाण्डेय ने चुनावों में विजयी सभी मेयर, चेयरमैन व पार्षदों कों हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी। 08
इस अवसर पर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने सम्बोधन में कहा कि यह विजय मा0 प्रधानमंत्री आदरणीय नरेन्द्र मोदी जी मंे जनता का अटूट विश्वास और आदरणीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का कुशल नेतृत्व प्रदेश के अध्यक्ष डाॅ महेन्द्र नाथ पाण्डेय, प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बसंल जी के कुशल प्रबन्धन में एवं प्रदेश पदाधिकारी तथा मेरे मत्रिमण्डल के सभी सहयोगी तथा भाजपा के कर्मठ कार्यकर्ताओं के कठोर परिश्रम का परिणाम है। हम विकास के पथ पर अनवरत कार्य करते रहेगे। यह प्रदेश की लोक कल्याण कारी नीतियों और विकासशील शासन में अटूट विश्वास की जीत है। यह जीत भाजपा की विकास एवं सुशासन की प्रति गहरी प्रतिबद्धता की जीत है। 22
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव सबकी आंखों को खोलने वाला है। खासतौर पर वो लोग जो गुजरात के चुनाव के सम्बन्ध में बडी-बडी बातें कर रहे थे उनका नगर निकायों में खाता भी नहीं खुल पाया है और अमेठी में भी उनका सूपडा साफ हो गया है। उत्तर प्रदेश की जनता ने एक बार आदरणीय प्रधानमंत्री जी को फिर से अपना समर्थन दिया है। देश के ढांचागत सुधार और आम जनता तक जनसुविधाओं को पहुॅचाने में किये जा रहे है 3.5 वर्षो के प्रयास पर अपनी मोहर लगाई है। लगभग 125 लोक कल्याणकारी कार्यक्रम चल रहे है यह सामूहिक प्रयास का परिणाम हैं।
मैं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, प्रदेश पदाधिकारी, मंत्रि मण्डल के सभी सहयोगियों को और सभी विजयी श्री प्राप्त किये सभी भाजपा के प्रत्याशियों समेत नगर प्रमुख सभी चेयरमैन और जीते हुए सभी सभासदों को भी मैं हृदय से बधाई देता हॅू। मैं इस अवसर पर प्रदेश के 4.5 करोड़ मतदाताओं का जिन्होने अपनी प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष सहभागिता सुनिश्चित की तथा इस अवसर पर मीडिया का भी आभार व्यक्त करूगां।
शान्ति पूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने के लिए चुनाव आयोग और उसकेे अन्तर्गत आने वाले उनके सहयोगियों को भी बधाई दूंगा जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन व पैरामिल्ट्री फोर्स को भी धन्यवाद। यह जीत सुशासन की जीत है। यह जीत हमें जनकल्याण की दिशा में और अधिक मेहनत के लिए प्रेरित करेगी।
निकाय चुनाव में मिली जीत के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं डाॅ0 दिनेश शर्मा, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना, रीता बहुगुणा जोशी, आशुतोष टण्डन, राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया।
इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर, राकेश त्रिवेदी, बाबूराम निषाद, प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक, प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता, गोबिन्द नारायण शुक्ला, धर्मवीर प्रजापति, प्रदेश आईटी सेल प्रभारी संजय राय, प्रदेश मीडिया प्रभारी हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव, प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन, राकेश त्रिपाठी, प्रदेश सहमीडिया प्रभारी आलोक अवस्थी, प्रदेश सम्पर्क प्रमुख मनीष दीक्षित, सहसम्पर्क प्रमुख नवीन श्रीवास्तव, प्रदेश मुख्यालय प्रभारी भारत दीक्षित, प्रदेश सहमुख्यालय प्रभारी चैधरी लक्ष्मण सिंह, अतुल अवस्थी आदि प्रमुख लोग उपस्थित रहे।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने पोरबन्दर, गुजरात में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जन्म स्थान कीर्ति मन्दिर जाकर महात्मा गांधी एवं कस्तूरबा गांधी जी को श्रद्धासुमन अर्पित किए

Posted on 30 November 2017 by admin

महात्मा गांधी ने देश को गुलामी के चंगुल से छुड़ाने
के साथ ही समाज में व्याप्त बुराईयों को समाप्त
करने के लिए अनन्य योगदान दिया: मुख्यमंत्री

लखनऊ: 30 नवम्बर, 2017

img-20171130-wa0036उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज पोरबन्दर, गुजरात में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जन्म स्थान कीर्ति मन्दिर जाकर महात्मा गांधी एवं कस्तूरबा गांधी जी को श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पर उन्होंने कीर्ति मन्दिर परिसर में विजिटर बुक पर अपने विचार अंकित करते हुए कहा कि महात्मा गांधी ने इस देश को गुलामी के चंगुल से छुड़ाने के साथ ही समाज में व्याप्त बुराईयों को समाप्त करने के लिए अनन्य योगदान दिया है।yogi
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि यह देश सदैव राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के दिखाए रास्ते पर चल कर ही प्रगति कर सकता है। वे हमेशा गांव की आत्म निर्भरता एवं विकास को महत्व देते थे। ज्ञातव्य है राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का जन्म पोरबन्दर में हुआ था। उनकी याद में बनाए गए कीर्ति मन्दिर परिसर में एक गांधीवादी पुस्तकालय एवं प्रार्थना कक्ष होने के साथ ही गांधी जी के बचपन का घर भी स्थित है। कस्तूरबा जी का घर भी परिसर के पीछे ही है। मकान के सभी कक्षों में गांधी जी के विभिन्न समयों की तस्वीरें लगायी गई हैं।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने दमन में उद्योगपतियों एवं निवेशकों को 21 एवं 22 फरवरी, 2018 को लखनऊ में प्रस्तावित उ0प्र0 इन्वेस्टर्स समिट, 2018 के लिए आमंत्रित किया

Posted on 29 November 2017 by admin

निवेशकों की सुविधा के लिए राज्य निवेश प्रोत्साहन बोर्ड का गठन किया गया: मुख्यमंत्री

राज्य में इन्फ्रास्ट्रक्चर, डेयरी, नागरिक उड्डयन, खाद्य प्रसंस्करण, पर्यटन, आई0टी0, लघु एवं मध्यम उद्योग व ऊर्जा क्षेत्र में निवेश की अपार सम्भावनाएं

मुख्यमंत्री ने दमन में उद्योगपतियों एवं निवेशकों से भेंट की

लखनऊ: 29 नवम्बर, 2017

press-1_r2_c1उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने केन्द्र शासित राज्य दमन और दीव के उद्योगपतियों, निवेशकों एवं व्यापारियों को प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित किया है। उन्होंने 21 एवं 22 फरवरी, 2018 को प्रदेश की राजधानी लखनऊ में प्रस्तावित उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट, 2018 में भाग लेने का आमंत्रण देते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकार ने निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। उन्होंने निवेशकों को आश्वस्त किया है कि उन्हें हर सम्भव सहयोग प्रदान किया जाएगा।
यह जानकारी देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री जी ने दमन और दीव की राजधानी दमन में उद्योगपतियों एवं निवेशकों से मुलाकात कर उन्हें उक्त समिट में भाग लेने का आमंत्रण दिया है। उन्होंने कहा कि इस समिट में बड़ी संख्या में देश-विदेश के निवेशक, उद्यमी, बैंकर्स व अन्य प्रतिनिधि भाग लेंगे।
योगी जी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए उत्तर प्रदेश औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति, 2017 को लागू कर इसके माध्यम से निवेशकों को कई प्रकार के प्रोत्साहन दिए जा रहे हैं। उन्होंने उत्तर प्रदेश को देश का सबसे बड़ा बाजार बताते हुए कहा कि निवेशकों की सुविधा के लिए राज्य निवेश प्रोत्साहन बोर्ड का गठन किया गया है, जिसमें कई उद्योगपतियों को भी सम्मिलित किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य की कानून-व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के साथ-साथ तेजी से आधारभूत सुविधाओं का विकास किया जा रहा है। उन्होंने बैठक में बताया कि उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में इन्फ्रास्ट्रक्चर, डेयरी, नागरिक उड्डयन, खाद्य प्रसंस्करण, पर्यटन, आई0टी0, लघु एवं मध्यम उद्योग व ऊर्जा क्षेत्र में निवेश की अपार सम्भावनाएं हैं। उन्होंने निवेशकों को आश्वस्त किया कि प्रदेश के बड़े बाजार व राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे निवेश फ्रेण्डली माहौल के फलस्वरूप राज्य में उनका निवेश लाभकारी सिद्ध होगा।press1
भेंट के दौरान उत्तर प्रदेश डेवलपमेन्ट फोरम के प्रेसीडेन्ट श्री ओ0पी0 तिवारी, महासचिव श्री पंकज जैसवाल, श्री राज नारायण तिवारी (सेवा एवं विनिर्माण उद्योगपति), श्री के0एम0 श्रीवास्तव ( विनिर्माण उद्योगपति), श्री राजेश सिंह ( सेवा एवं विनिर्माण उद्योगपति), श्री मुन्ना तिवारी ( सेवा सेक्टर), श्री राम सिंह (विनिर्माण उद्योगपति), श्री सतीश त्रिपाठी (विनिर्माण उद्योगपति), श्री रविन्द्र सिंह (पर्यटन उद्यमी), सुश्री नीलम तोमर (विनिर्माण उद्यमी), श्री एम0 सिंह (व्यापारी), श्री एफ0एस0 त्रिपाठी (विनिर्माण उद्योगपति), श्री कपिल तिवारी (मीडिया एवं विनिर्माण), श्री अखिलेश सिंह (सेवा एवं विनिर्माण उद्यमी), श्री आदित्य मोहन (फूड चेन), जितेश जैसवाल (विनिर्माण उद्योगपति) तथा श्री शैलेन्द्र सिंह (विनिर्माण उद्योगपति) उपस्थित थे।

Comments (0)

बुन्देलखण्ड में 80 प्रतिशत तक पूर्ण हो चुकी पेयजल परियोजनाओं को अभियान चलाकर आगामी 30 दिसम्बर, 2017 तक निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराना अनिवार्य: मुख्य सचिव

Posted on 29 November 2017 by admin

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत सभी पात्र किसानों को बीमा योजना से लाभान्वित कराने हेतु विशेष अभियान चलाया जाये: राजीव कुमार

सूखा प्रभावित बुंदेलखण्ड, विंध्याचल मण्डल, आगरा मण्डल के कुछ जनपदों एवं इलाहाबाद जनपद के यमुनापार क्षेत्र हेतु 20 प्रतिशत विद्युत विभाग के आवश्यक उपकरण आवश्यकतानुसार उपयोग हेतु आरक्षित रखे जायें: मुख्य सचिव

सम्भावित सूखे से निपटने हेतु विभागवार विस्तृत कार्ययोजना मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आयोजित आगामी बैठक के पूर्व में अवश्य रूप से राहत आयुक्त को उपलब्ध कराना अनिवार्य: राजीव कुमार

बुन्देलखण्ड निधि से 90 करोड़ व त्वरित योजना से 25 करोड़ अर्थात कुल उपलब्ध 115 करोड़ रू0 की धनराशि में से ऊर्जा एवं जल निगम को 40-40 करोड़ रूपये, नलकूप/लिफ्ट सिंचाई को 20 करोड़ एवं लघु सिंचाई को 10 करोड़ रूपये तथा जल संस्थान को 05 करोड़ की धनराशि तत्काल निर्गत कराने के दिये गये निर्देश

लखनऊ: 29 नवम्बर, 2017

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने निर्देश दिये हैं कि बुन्देलखण्ड में 80 प्रतिशत तक पूर्ण हो चुकी पेयजल परियोजनाओं को अभियान चलाकर आगामी 30 दिसम्बर, 2017 तक निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराना सुनिश्चित कराया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि जनपद चित्रकूट में दो पाइप पेयजल परियोजनाओं बरगढ़ एवं मऊ को भी 31 दिसम्बर, 2017 तक पूर्ण कराया जाये। उन्होंने यह भी निर्देशित दिये कि सम्बंधित अधिशाषी अभियंताओं को क्रियाशील योजनायें तथा वर्तमान में कितने गांवों में पेयजल उपलब्ध कराने का अभियंतावार प्रमाण-पत्र अनिवार्य रूप से प्राप्त किया जाये। उन्होंने कहा कि खराब हैण्डपम्पों एवं नलकूपों को तत्काल रिबोर कराने हेतु राज्य वित्त आयोग द्वारा ग्राम पंचायतों को आवंटित धनराशि का सर्वप्रथम उपयोग सुनिश्चित कराया जाये। उन्होंने कहा कि मनरेगा के अंतर्गत अधिक से अधिक रोजगार सृजन करने की कार्यवाही प्राथमिकता से सुनिश्चित कराई जाये। उन्होंने सम्भावित सूखे से निपटने हेतु विभागवार विस्तृत कार्ययोजना मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आयोजित आगामी बैठक के पूर्व में अवश्य रूप से राहत आयुक्त को उपलब्ध कराने के निर्देश दियें। उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत सभी पात्र किसानों को बीमा योजना से लाभान्वित कराने हेतु विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिये।

मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में बुन्देलखण्ड में सम्भावित सूखे की स्थिति तथा सम्बंधित विभागों द्वारा की गई तैयारियों की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड क्षेत्र में सम्भावित सूखे की स्थिति से प्रभावी रूप से निपटने हेतु सम्बंधित विभागों को नामित नोडल अधिकारियों के नाम एवं मो0 नं0 आदि की सूचना आज ही राहत आयुक्त कार्यालय को उपलब्ध कराना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड निधि से 90 करोड़ व त्वरित योजना से 25 करोड़ अर्थात कुल उपलब्ध 115 करोड़ रू0 की धनराशि में से ऊर्जा एवं जल निगम को 40-40 करोड़ रूपया, नलकूप/लिफ्ट सिंचाई को 20 करोड़ एवं लघु सिंचाई को 10 करोड़ रूपयेतथा जल संस्थान को 05 करोड़ की धनराशि तत्काल निर्गत कराने के निर्देश दिये हैं।

श्री राजीव कुमार ने यह भी निर्देश दिये हैं कि बुन्देलखण्ड क्षेत्र के समस्त नलकूपों को 24 घण्टे क्रियाशील रखने हेतु आवश्यकतानुसार कार्ययोजना का क्रियान्वयन समय से सुनिश्चित करा लिया जाये। उन्होंने कहा कि सम्बंधित अधिकारियों को नलकूपों की संख्या के सापेक्ष क्रियाशील नलकूप एवं बंद पड़े नलकूपों की संख्या का विवरण वरिष्ठ अधिकारियों को अवश्य उपलब्ध कराना होगा। उन्होंने कहा कि सम्बंधित अधिकारियों का दायित्व होगा कि वह अपने सम्बंधित अधीनस्थ अधिकारियों से सबसे पुराने नलकूप किस तिथि एवं किन कारणों से बंद होने तथा उसे कब तक क्रियाशील कर दिये जाने का, नलकूपवार एवं जनपदवार विवरण अवश्य प्राप्त कर सक्षम स्तर पर रिव्यू कराया जाये।

मुख्य सचिव ने यह भी निर्देश दिये हैं कि बुन्देलखण्ड में खराब ट्रांस्फार्मरों को 24 घण्टे के अंदर बदलवाने की व्यवस्था सुनिश्चित कराने हेतु निर्बाध विद्युत आपूर्ति हेतु सचल ट्रांस्फार्मर की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि जर्जर तार, विद्युत पोल एवं ट्रांसफार्मर को आवश्यकतानुसार बदले जाने हेतु विस्तृत कार्ययोजना का क्रियान्वयन समय से सुनिश्चित कराया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये हैं कि सूखा प्रभावित बुंदेलखण्ड, विंध्याचल मण्डल, आगरा मण्डल के कुछ जनपदों एवं इलाहाबाद जनपद के यमुनापार क्षेत्र हेतु 20 प्रतिशत विद्युत विभाग के आवश्यक उपकरण आरक्षित कराकर रखवा लिये जाये। उन्होंने निजी नलकूपों को तत्काल विद्युत कनेक्शन नियमानुसार दिये जाने, जनपद चित्रकूट में मऊ एवं बरगढ़ पेयजल परियाजनाओं में बिजली के खम्भे जगाये जाने एवं तार बिछाये जाने हेतु वन विभाग से अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त कर परियोजना संचालित कराने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देश दिये कि खरीफ 2017 में किसानों को हुये नुकसान की साप्ताहिक समीक्षा कर बीमा कम्पनियों से यथाशीघ्र किसानों को भुगतान कराया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि कम पानी में पैदा होने वाली फसलों एवं औद्यानिक फसलों के बीजों की मिनी किट्स की उपलब्धता आवश्यकतानुसार सुनिश्चित कराई जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि बुन्देलखण्ड के जनपदों मेंपशुओं के टीकाकरण तथा उनके लिये चारे एवं पेयजल की व्यवस्था आवश्यकतानुसार प्रत्येक दशा में सुनिश्चित होनी चाहिए।

श्री राजीव कुमार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से निरन्तर खाद्यान्न की आपूर्ति सुनिश्चित कराते हुये निर्देश दिये कि संभावित सूखे की कार्य योजना में अतिरिक्त फूड सप्लीमेन्ट की व्यवस्था समय से अवश्य सुनिश्चित कराई जाये। उन्होंने कहा कि कोई भी बच्चा कुपोषण का शिकार न होने पावे इसके लिये आगामी 06 माह के लिये प्रभावी कार्य योजना के अनुसार आवश्यक व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित करा ली जायें। उन्होंने निर्देश दिये कि अन्त्योदय कार्डधारकों को राशन का नियमित वितरण एवं सत्यापन सुनिश्चित कराया जाये। उन्होंने कहा कि छूटे हुये पात्र लोग विशेषकर निराश्रित एवं बुजुर्ग एवं लोगों को भी मानक के अनुसार खाद्यान्न अवश्य उपलब्ध कराया जाये।

बैठक में अपर मुख्य सचिव, पंचायती राज श्री चंचल कुमार तिवारी, प्रमुख सचिव, राजस्व श्री रजनीश दुबे, प्रमुख सचिव, कृषि श्री अमित मोहन प्रसाद, प्रमुख सचिव, सिंचाई श्री सुरेश चन्द्रा, विशेष सचिव, राजस्व श्री संजय कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Comments (0)

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजनान्तर्गत दो वर्षों के लक्ष्य को एक ही वर्ष में ही पूर्ण कराने हेतु अभियान चलाकर लक्षित 8.85 लाख आवासों का कराया जाये निर्माण: मुख्य सचिव

Posted on 29 November 2017 by admin

लक्षित आवासों में से आगामी वर्ष के फरवरी माह तक 2.90 लाख, मार्च माह तक 8.00 लाख तथा अवशेष आवासों को माह मई तक निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराना अनिवार्य: राजीव कुमार

उत्तर प्रदेश के प्रयासों की सराहना राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित परफाॅर्मेन्स रिव्यू कमेटी द्वाराः प्रमुख सचिव, ग्राम्य विकास, अनुराग श्रीवास्तव

लखनऊ: 29 नवम्बर, 2017

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने निर्देश दिये हैं कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजनान्तर्गत स्वीकृत 8.85 लाख आवासों के निर्माण के लक्ष्य को शत-प्रतिशत निर्धारित अवधि में पूर्ण कराया जाये। उन्होंने कहा कि योजनान्तर्गत वर्ष 2016-17 एवं 2017-18 अर्थात 02 वर्षों के लक्ष्य को 01 ही वर्ष में पूर्ण कराने हेतु विशेष अभियान चलाया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि लक्षित आवासों में से आगामी फरवरी, 2018 तक 2.90 लाख आवास तथा मार्च, 2018 तक 8.00 लाख आवास तथा अवशेष आवासों को मई, 2018 तक निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराना सुनिश्चित किया जाये। उत्तर प्रदेश के इतिहास में कदाचित इतनी अधिक संख्या में आवासों का निर्माण कभी नहीं हुआ है। सामान्यतः एक वित्तीय वर्ष में 03 से 04 लाख आवासों का निर्माण ही कराया जाता रहा है।

मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की समीक्षा कर विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने निर्देश दिये कि निर्माणाधीनसभी आवासों के आवास स्थल की वर्तमान आवासीय स्थिति तथा नवनिर्मित होने वाले आवास की स्थिति की फोटोग्राफीकराते हुये जियो-टैगिंग भी निर्धारित अवधि में ही कराया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने फील्ड एवं राज्य स्तर के सम्बन्धित अधिकारियों एवं कर्मचारियों की प्रशंसा करते हुये कहा कि वर्तमान वित्तीय वर्ष 2017-18 के लक्षित आवासों का ऐतिहासिक निर्माण कार्य भारत सरकार द्वारा आवास के निर्माण हेतु निर्धारित समय सीमा 12 माह के सापेक्ष अधिकांश आवास 08 से 09 माह में ही गुणवत्ता के साथ पूर्ण किये जाने लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

प्रमुख सचिव, आवास श्री अनुराग श्रीवास्तव ने बताया कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजनान्तर्गत 28 नवम्बर तक उपलब्ध 8004.58 करोड़ रूपये की धनराशि में से 7795.75 करोड़ अर्थात् 97 प्रतिशत धनराशि के एफटीओ पेमेन्ट सत्यापित कराये जा चुकेे हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2016-17 के लक्ष्यों के सापेक्ष मात्र 10 हजार आवासों की स्वीकृति विगत वित्तीय वर्ष में मार्च, 2017 तक हो पाने के कारण 10 हजार आवासों को छोड़कर वर्ष 2016-17 के आवासों तथा वर्ष 2017-18 के लक्षित समस्त आवास वर्तमान वित्तीय वर्ष 2017-18 में ही स्वीकृत कराये गये हैं।

श्री अनुराग श्रीवास्तव ने बताया कि उत्तर प्रदेश द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण योजनान्तर्गत किये गये विशेष प्रयासों की सराहना भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित परफाॅर्मेन्स रिव्यू कमेटी (पी.आर.सी) की बैठक में की गयी है।

Comments (0)

स्मार्ट सिटी हेतु प्रदेश कें पूर्व से चयनित 07 शहरों में विकास कार्य यथाशीघ्र प्रारंभ की जाये: मुख्य सचिव

Posted on 27 November 2017 by admin

आगामी 31 मई तक प्रत्येक परियोजनाओं के विभिन्न स्तरों को शीघ्र पूर्ण कराने
हेतु आवश्यक कार्यवाहियां प्राथमिकता से कराई जायेः राजीव कुमार

uttar-pradesh-chief-secretary-rajeev-kumar
लखनऊ: 27 नवम्बर, 2017

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने निर्देश दिये हैं कि वर्तमान में स्मार्ट सिटी हेतु चयनित लखनऊ, आगरा, कानपुर, वाराणसी, झांसी, अलीगढ़ तथा इलाहाबाद शहरों में आवश्यक कार्य कराने हेतु चयनित समस्त स्मार्ट सिटी अपने सभी परियोजना मण्डलायुक्त की अध्यक्षता में बोर्ड बैठक आयोजित कर शीघ्र स्वीकृत कराये तथा समयसीमा निर्धारित कर नियमानुसार पूर्ण करायें। उन्होंने कहा कि परियोजनाओं के विभिन्न स्तरों के कार्य समयसीमा निर्धारित कर प्राथमिकता से कराते हुए 31 मई, 2018 तक पूर्ण करना सुनिश्चित कराई जायें।
मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में स्मार्ट सिटी मिशन की बैठक कर विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। बैठक में स्मार्ट सिटी हेतु चयनित उक्त शहरों के अतिरिक्त अन्य शहर गाजियाबाद, बरेली, रामपुर, मुरादाबाद, सहारनपुर, मेरठ एवं रायबरेली को भी स्मार्ट सिटी चयन के लिये चतुर्थ चरण की प्रतियोगिता हेतु भारत सरकार को संस्तुति भेजने के संबंध में विचार किया गया।
प्रमुख सचिव, नगर विकास श्री मनोज कुमार सिंह ने बताया कि स्मार्ट सिटी की अखिल भारतीय प्रतियोगिता में लखनऊ को फास्ट टैªक राउण्ड में भारत सरकार द्वारा चयन किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि द्वितीय चरण में आगरा, कानपुर, बरेली तथा तीसरे चरण की प्रतियोगिता में झांसी, अलीगढ़ एवं इलाहाबाद शहर चयनित हो चुके हैं।
श्री सिंह ने बताया कि स्मार्ट सिटी योजना का मुख्य उद्देश्य शहरों का आर्थिक विकास कर नागरिक जीवन को बेहतर बनाना है। उन्होंने कहा कि चयनित शहरों में सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग कर ई-गवर्नेन्स एवं सिटीजन सर्विसेज, वेस्ट मैनेजमेन्ट, वाटर मैनेजमेन्ट, एनर्जी मैनेजमेन्ट, अर्बन मोबिलिटी विकसित कराना है। उन्होंने कहा कि चयनित शहरों में विशेष तौर से सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुये नागरिकों को बेहतर जीवन प्रदान करने हेतु पर्याप्त जलापूर्ति, सुनिश्चित विद्युतापूर्ति, ठोस अपशिष्ट प्रबन्धन सहित सफाई, सक्षम शहरी गतिशीलता और सार्वजनिक परिवहन, विशेषतः गरीबों के लिये किफायती आवास, सक्षम आईटी कनैक्टिविटी और डिजिटलाइजेशन, सुशासन, विशेषतः ई-गवर्नेन्स और नागरिक भागीदारी, सुस्थिर पर्यावरण, विशेषतः महिलाओं, बच्चों और वृद्ध नागरिकों की सुरक्षा और स्वास्थ्य और शिक्षा का विस्तार कराना है।

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

December 2017
M T W T F S S
« Nov    
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
-->









 Type in