*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | April, 2017

प्रदेश भाजपा की कार्यसमिति 1 व 2 मई को लखनऊ में

Posted on 30 April 2017 by admin

भारतीय जनता पार्टी की दो दिवसीय प्रदेश प्रदेश कार्यसमिति 1 व 2 मई को साइन्टिफिक कनवेन्शन सेन्टर लखनऊ में आयोजित होगी। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 मनोज मिश्र ने बताया कि प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद यह पहली कार्यसमिति है। कार्य समिति का उद्घाटन प्रदेश के मुख्यमंत्री मा0 योगी आदित्यनाथ जी एवं समापन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अमित भाई शाह जी करेंगें।
डाॅ0 मिश्र ने बताया कि कल 1 मई को 12 बजे प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक होगी तथा शाम 4 बजे कार्यसमिति का उद्घाटन होगा। 2 मई को 2ः30 बजे समापन सत्र को मा0 अमित भाई शाह जी सम्बोधित करेगें।
डाॅ0 मिश्र ने बताया कि इस बैठक में प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी ओम प्रकाश माथुर, राष्ट्रीय सह महामंत्री (संगठन) मंत्री शिव प्रकाश जी, राष्ट्रीय महामंत्री अरूण सिंह, अनिल जैन, केन्द्रीय मार्ग दर्शक मण्डल सदस्य डाॅ0 मुरली मनोहर जोशी, केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, उत्तर प्रदेश के सभी केन्द्रीय मंत्री, केन्द्रीय पदाधिकारीगण, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, प्रदेश पदाधिकारीगण, प्रदेश सरकार के मंत्रीगण,सभी क्षेत्रीय अध्यक्ष तथा क्षेत्रीय संगठन मंत्रीगण, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य, क्षेत्रीय प्रभारी रामेश्वर चैरसिया, रमेश विधूड़ी, सुनील ओझा एवं वीरेन्द्र खटिक आदि अनेक प्रमुख नेतागण उपस्थित रहेगे।

Comments (0)

यू.पी. फूड एवं सिविल सप्लाईज इंस्पेक्टर्स/आफिसर्स एसोसिएशन का चुनाव सम्पन्न

Posted on 30 April 2017 by admin

नव-निर्वाचित पदाधिकारियों का फूलमालाओं से किया गया जोरदार स्वागत
यू.पी. फूड एवं सिविल सप्लाईज इंस्पेक्टर्स/आफिसर्स एसोसिएशन का चुनाव भारी गहमा-गहमी के साथ गोमतीनगर स्थित इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में सम्पन्न हुआ। अजय प्रताप सिंह क्षेत्रीय विपणन अधिकारी को अध्यक्ष एवं कमलेश चन्द्र मौर्य (आपूर्ति) को उपाध्यक्ष निर्वाचित घोषित किया गया। त्रिलोकी नाथ चैरसिया-महामंत्री, दीपक सिंह तोमर-वरिष्ठ उपाध्यक्ष, धनंजय कुमार सिंह-उपाध्यक्ष व चन्द्रकेश यादव-कोषाध्यक्ष चुने गये। यह चुनाव मुख्य चुनाव अधिकारी श्री राम कृष्ण पाण्डेय की देख रेख में सम्पन्न हुआ। अध्यक्ष पद के लिए 3 प्रत्याशियेां में नमिता मिश्रा, रामनरायन मिश्र व अजय प्रताप सिंह ने नामांकन किया था। जिसमें अजय प्रताप सिंह 664 मत पाकर अध्यक्ष निर्वाचित हुए। नमिता मिश्रा को 79 व राम नरायन मिश्र को 182 मत ही प्राप्त हुये।
उपाध्यक्ष (आपूर्ति) पद के 3 प्रत्याशियों में जितेन्द्र पाठक को 85, अर्पिता उपाध्याय को 279 व कमलेश चन्द्र मौर्य को 337 मत प्राप्त हुये। अधिक मत प्राप्त करते हुए कमलेश चन्द्र मौर्य को उपाध्यक्ष (आपूर्ति) निर्वाचित घोषित किया गया। उपाध्यक्ष (विपणन) पद पर 2 प्रत्याशियों में धनंजय कुमार सिंह को 614 मत प्राप्त हुआ, वहीं मुकेश कुमार को मात्र 276 मत ही मिला। महामंत्री पद हेतु त्रिलेकी नाथ चैरसिया एक मात्र अकेले प्रत्याशी थे जिन्हें निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया। चुनाव परिणाम घोषित होते ही उपस्थित आपूर्ति विभाग के जितेन्द्र पाठक, अन्नद प्रकाश, देवेन्द्र प्रकाश सिंह, दीप जैन, दिवाकर शर्मा, शिव कुमार मिश्र, अतुल सिंह, निर्भय सिंह आदि ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को गर्म जोशी के साथ जोरदार स्वागत किया।
अपने सम्बोधन में नवनिर्वाचित अध्यक्ष अजय प्रताप सिंह व उपाध्यक्ष कमलेश चन्द्र मौर्य ने कहा कि संगठन की और से मुझे जो दायित्व मिला है, इसे बखूबी ईमानदारी के साथ निभाया जायेगा। संगठन की बातों को शासन स्तर पर रखने के लिए पूर जोर पैरवी की जायेगी। संगठन के किसी भी साथी की आवाज को शासन स्तर पर उठाने की जब भी जरूरत पड़ेगी, तो हम सदैव उसके साथ रहेंगे।

Comments (0)

भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की तैयारियों की हुई समीक्षा

Posted on 30 April 2017 by admin

भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की तैयारियों की समीक्षा बैठक में प्रत्येक दायित्व का बारीकी से फीडबैक लिया गया। प्रदेश मुख्यालय में हुई बैठक में कार्यसमिति को यादगार बनाने के दिए गए मूलमंत्र।
up-bjp-meetingभाजपा प्रदेश कार्यसमिति 01 व 02 मई को कन्वेन्शन सेंटर लखनऊ में आयोजित होनी है। कार्यसमिति में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी, प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य जी के साथ ही प्रदेश में निवास करने वाले राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेश पदाधिकारी, प्रदेश के स्थाई आमंत्रित सदस्य, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य, प्रदेश मीडिया विभाग, प्रदेश मोर्चा के अध्यक्ष, क्षेत्रीय अध्यक्ष एवं क्षेत्रीय संगठन मंत्रियों सहित लगभग पांच सौ से अधिक लोग सम्मलित होंगे।
प्रदेश कार्यसमिति की तैयारियों को लेकर प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक से आवास, भोजन, स्वच्छता, पेयजल, साज-सज्जा, रजिस्ट्रेशन, मीडिया, पार्किग, मंच, चिकित्सा समेत अतिथियों के आवागमन हेतु रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट सहित सभी व्यवस्थाओं की समीक्षा हुई और तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए जी-जान से जुटने के लिए कहा गया। कार्यसमिति अविस्मरणीय हो इसके लिए सभी ने संकल्प लिया। व्यवस्थाओं का दायित्व लिए लोगों ने अपनी कार्यप्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।
बैठक में प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता, महेश श्रीवास्तव, गोविंद नारायण शुक्ला, महापौर सुरेश अवस्थी, भारत दीक्षित, हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव, शलभ मणि त्रिपाठी, आलोक अवस्थी, मुकेश शर्मा, अतुल अवस्थी, गोविंद पाण्डेय, त्रिलोक अधिकारी, अंजनी श्रीवास्तव, दिनेश तिवारी, रामकृष्ण यादव, घनश्याम अग्रवाल, पुष्कर शुक्ला, मान सिंह, रमेश कपूर बाबा, टिंकू सोनकर, विवेक सिंह तोमर, सुनील यादव, अतुल दीक्षित, राजीव मिश्रा, नीरज सिंह, हरसरनलाल गुप्ता आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षकों को अवैध रूप से संचालित पटाखा फैक्ट्रियों को चिन्हित कर दोषियों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए

Posted on 30 April 2017 by admin

किसी भी स्थिति में आबादी क्षेत्र में न तो पटाखा फैक्ट्रियों का संचालन हो और न ही तैयार पटाखों अथवा पटाखों के निर्माण में इस्तेमाल होने वाली विस्फोटक सामग्री का भण्डारण हो: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने साहिबाबाद की घटना का लिया संज्ञान, हादसे में लोगों की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने साहिबाबाद, गाजियाबाद में एक पटाखा फैक्ट्री में आग लगने की घटना को दुःखद बताते हुए हादसे में लोगों की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया है।
मुख्यमंत्री ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए सभी जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया है कि वे अपने-अपने जनपद में व्यापक पड़ताल कर अवैध रूप से संचालित पटाखा फैक्ट्रियों को चिन्हित करते हुए दोषियों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि बगैर लाइसेंस किसी भी फैक्ट्री का संचालन न हो तथा जिन फैक्ट्रियों को लाइसेंस निर्गत किए गए हैं, उनका संचालन भी निर्धारित मानकों के अनुरूप हो।
श्री योगी ने अधिकारियों को इस बात पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए हैं कि किसी भी स्थिति में आबादी क्षेत्र में न तो पटाखा फैक्ट्रियों का संचालन हो और न ही तैयार पटाखों अथवा पटाखों के निर्माण में इस्तेमाल होने वाली विस्फोटक सामग्री का भण्डारण हो।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय की घटना के सम्बन्ध में मुख्य सचिव तथा पुलिस महानिदेशक से रिपोर्ट तलब की

Posted on 30 April 2017 by admin

विश्वविद्यालय के छात्रों की समस्याओं के समाधान के लिए

कुलपति के साथ समीक्षा करते हुए उनका त्वरित निस्तारण कराया जाए
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय की घटना का संज्ञान लेते हुए मुख्य सचिव तथा पुलिस महानिदेशक से सम्पूर्ण घटनाक्रम की रिपोर्ट तलब की है। उन्होंने यह निर्देश भी दिए हैं कि विश्वविद्यालय के छात्रों की समस्याओं के समाधान के लिए कुलपति के साथ समीक्षा करते हुए उनका त्वरित निस्तारण कराया जाए।

Comments (0)

‘नमामि गंगे परियोजना’ सिर्फ जल संरक्षण का ही नहीं बल्कि मानवता व सृष्टि संरक्षण का अभिनव कार्यक्रम है: मुख्यमंत्री

Posted on 29 April 2017 by admin

  • इस कार्यक्रम से हर उस व्यक्ति को जुड़ना चाहिए जो विश्व मानवता के प्रति थोड़ा भी भाव रखता हो: योगी आदित्यनाथ
  • उ0प्र0 सरकार मध्य प्रदेश द्वारा नर्मदा को निर्मल एवं अविरल बनाये जाने के प्रयासों का अनुसरण ‘नमामि गंगे परियोजना’ को लागू करने में करेगी
  • विश्व की सभी सभ्यताएं नदियों के तटों पर पनपीं: मुख्यमंत्री
  • मानव ने अपने स्वार्थाें के चलते नदियों के किनारे बसी सभ्यताओं को नष्ट करना प्रारम्भ किया
  • मुख्यमंत्री ने मध्य प्रदेश में आयोजित नर्मदा सेवा यात्रा एवं जनसंवाद कार्यक्रम को सम्बोधित किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जल संरक्षण के लिए लागू की गयी ‘नमामि गंगे परियोजना’ की सफलता के लिए उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश आवश्यकता पड़ने पर मिलकर कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि ‘नमामि गंगे परियोजना’ सिर्फ जल संरक्षण का ही नहीं बल्कि मानवता व सृष्टि संरक्षण का अभिनव कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम से हर उस व्यक्ति को जुड़ना चाहिए जो विश्व मानवता के प्रति थोड़ा भी भाव रखता हो। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि उनके नेतृत्व में ‘नमामि देवि नर्मदे’-नर्मदा सेवा यात्रा के तहत नर्मदा की जलधारा को निर्मल और अविरल बनाये जाने की दिशा में उत्कृष्ट कार्य हो रहा है।
मुख्यमंत्री ने यह विचार आज मध्य प्रदेश के जनपद डिण्डौरी में आयोजित नर्मदा सेवा यात्रा एवं जनसंवाद कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। इस अवसर पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान भी उपस्थित थे।
श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ‘नमामि गंगे परियोजना’ गंगा नदी की जलधारा को निर्मल और अविरल बनाये रखने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में चलने वाली केन्द्र सरकार द्वारा लागू की गयी है। इसके लिए 20,000 करोड़ रुपये की एक वृहत परियोजना तैयार की गयी है, ताकि गंगा के साथ-साथ इसकी सहायक नदियों को साफ कर उनकी जलधारा को भी निर्मल और अविरल बनाया जा सके।
yogi-in-mp-narmada
श्री योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की पिछली सरकारों ने गंगा नदी के साथ-साथ अन्य नदियों को स्वच्छ, निर्मल और अविरल बनाने की दिशा में कोई कार्य नहीं किया। वर्तमान प्रदेश सरकार के सामने अब इस परियोजना को मूर्तरूप देने की चुनौती है। उन्होंने कहा कि आज यहां आने का मुख्य लक्ष्य यह देखना है कि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा नर्मदा नदी को निर्मल और अविरल बनाने के कैसे प्रयास किये गये हैं, ताकि हम इनका उपयोग उत्तर प्रदेश में गंगा तथा इसकी सहायक नदियों की बेहतरी के लिए कर सकें और इसी तर्ज पर ‘नमामि गंगे परियोजना’ को आगे बढ़ा सकें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा के प्रति मध्य प्रदेश की जनता के उत्साह को देखकर वे अभिभूत हैं। इससे यह पता लगता है कि यहां के लोग नदियों से कितना प्रेम करते हैं और इनकी स्वच्छता, निर्मलता और अविरलता के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि यह हर्ष का विषय है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री 40 स्थानों पर स्वयं उपस्थित होकर 110 दिन पुरानी इस यात्रा को सफल बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि जल हमारे जीवन का मूल आधार है। जल हमारे जीवन के लिए कितना महत्वपूर्ण है यह पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के इस कथन कि ‘‘अगला विश्वयुद्ध जल को लेकर होगा’’ से स्पष्ट होता है।
श्री योगी ने कहा कि विश्व की सभी सभ्यताएं नदियों के तट पर पनपीं। हजारों वर्ष पुरानी हड़प्पा, मोहनजोदड़ो और मध्य प्रदेश की महिष्मती सभ्यताएं नदियों के तट पर पनपीं। सिन्धु नदी के तट पर सिन्धु घाटी की सभ्यता पनपी। उन्होंने कहा कि मानव ने अपने स्वार्थाें के चलते नदियों के किनारे बसी सभ्यताओं को नष्ट करना प्रारम्भ किया। इसके चलते हमारी 7 प्रमुख नदियों गंगा, यमुना, सरस्वती, गोमती, सरयू इत्यादि में से सरस्वती नदी विलुप्त हो गयी। आज भारत के पुरातत्व विशेषज्ञ सैटेलाइट के माध्यम से इसके उद्गम और अन्त स्थल का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो दूरदर्शी होते हैं, वे आने वाली पीढ़ियों की चिन्ता करते हुए ‘नमामि गंगे’ जैसी परियोजना लागू करते हैं। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा भी नमामि देवि नर्मदे योजना के तहत नर्मदा सेवा यात्रा अभियान का प्रारम्भ इसी उद्देश्य से किया गया है। भारत विविधताओं से भरा हुआ देश है, परन्तु हमारी आस्था हमें जोड़े रखती है। इनमें नदियों का बहुत बड़ा योगदान है। नर्मदा नदी मध्य प्रदेश की जीवन रेखा है और इसके संरक्षण के लिए यहां की सरकार द्वारा उत्कृष्ट कार्य किया जा रहा है। यह जल संरक्षण की एक वृहत योजना है।
श्री योगी ने प्रसन्नता व्यक्त की कि आज नर्मदा की धारा निर्मल व अविरल है। इसके दोनों तटों पर वाटिकाएं स्थापित की जा रही हैं। साथ ही, फूड प्रोसेसिंग यूनिट्स की स्थापना की जा रही है, ताकि कृषि आधारित गतिविधियों को बढ़ावा मिले। उन्होंने कहा कि ‘नमामि देवि नर्मदे’ की तर्ज पर ही उत्तर प्रदेश में ‘नमामि गंगे परियोजना’ चलायी जाएगी और गंगा की सहायक नदियों यमुना, गोमती, सरयू, राप्ती, गण्डक इत्यादि को भी निर्मल व स्वच्छ बनाया जाएगा।
मध्य प्रदेश के विकास पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 वर्ष पूर्व मध्य प्रदेश एक बीमारू और गरीब राज्य था, परन्तु आज यह नयी बुलन्दियों को छू रहा है। यह राज्य गेहूं उत्पादन में अग्रणी है। कृषि उत्पादन तथा प्रति व्यक्ति आय के क्षेत्र में भी यह अग्रणी राज्यों में से एक है। इस प्रदेश में आज नये-नये कृषि प्रयोग हो रहे हैं। आज यहां सिंचाई के नये साधन मौजूद हैं। सड़कों के मामले में मध्य प्रदेश बहुत आगे है। पिछले वर्ष उज्जैन में कुम्भ का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया, जिससे सभी श्रद्धालु बहुत प्रसन्न थे। कुम्भ के दौरान क्षिप्रा नदी में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुद्ध जल की आपूर्ति सुनिश्चित की गयी, जो प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मध्य प्रदेश में लागू कल्याणकारी योजनाओं तथा विद्युत से सम्बन्धित परियोजनाओं का अध्ययन करने के लिए टीमें भेजी गयी हैं।

Comments (0)

परिवारीजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की

Posted on 29 April 2017 by admin

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज कानपुर में जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकी हमले में शहीद कैप्टन श्री आयुष यादव के घर जाकर उनके परिवारीजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की और दुःख की इस घड़ी में उनके साथ होने का भरोसा दिलाया।

abhilesh-yadav-in-kanpur-caption-ayush-yadav-house श्री अखिलेश यादव ने शहीद कैप्टन श्री आयुष यादव के घर पर कहा कि जिस परिवार का इकलौता बेटा शहीद हो गया हो उसको मैं सांत्वना कैसे दूं। मैं तो यहां उनका दुःख बांटने आया हॅू। उन्होंने कहा कि शहीद के परिवार को मदद के लिए समाजवादी सरकार ने जो नीतियां बनाई थी उन्हें वर्तमान सरकार को भी पालन करना चाहिए।

कैप्टन श्री आयुष यादव की शहादत की याद करते हुए श्री अखिलेश यादव ने कहा कि उन जैसे जांबाजों की कुर्बानी से ही देश की सीमाएं सुरक्षित हैं लेकिन अब वक्त आ गया है जब आतंकी घटनाओं पर नियंत्रण के लिए कठोर फैसले केंद्र सरकार को लेने होंगे।

Comments (0)

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण, क्षेत्रीय कार्यालयलखनऊ ने‘जीरो करप्शन टालरेंस’ की नीति को जारी रखते हुए अवैध वसूली करने वाले 215आपरेटरों को ब्लैकलिस्ट किया

Posted on 28 April 2017 by admin

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण, क्षेत्रीय कार्यालय, लखनऊ स्थाई आधार केंद्र संचालकों या आधार आपरेटरों द्वारा बरती जा रही किसी भी अनियमितताओं के प्रति गंभीर है| इन अनियमितताओं में आधार के नाम पर निवासियों से अवैध रूप से राशि वसूलना और केंद्र का संचालन प्राधिकरण द्वारा निर्धारित मानक के अनुरूप नहीं करना शामिल है| क्षेत्रीय कार्यालय, लखनऊ द्वारा पिछले महीने में 215 आधार पंजीकरण आपेरटर एवं सुपरवाइजरों को ब्लैकलिस्ट किया गया साथ ही संबधित 61 एनरोलमेंट एजेंसीज पर कुल रु. 21,50,000/- की पेनाल्टी लगाई गई है|

untitled-2_r2_c2ऐसे सभी मामलें, जिनमें आपरेटरों द्वारा अवैध वसूली या निवासियों को परेशान करने की शिकायतेंप्राप्त होंगी, ऐसी सभी शिकायतों पर क्षेत्रीय कार्यालय, लखनऊ सख्त कार्रवाई करेगा| सभी आपरेटरों को इस बाबत सख्त चेतावनी जारी की जा चुकी है|

इसके साथ हीअमेठी जिला प्रशासन के सहयोग से कलेक्टरेट सभागार में आपरेटरों के साथ मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमे अधिकारियों ने सभी आधार आपरेटरों को चेतावनी दी एवं उन्हें अवगत कराया गया कि अगर निवासियों से पैसा लेने की बात सही पाई जाती है तो उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी, साथ ही आपरेटरों को निवासियों से पैसा ना लिए जाने हेतु संकल्प भी दिलाया गया|

प्राधिकरण ने निवासियों से अनुरोध किया है कि वे नया आधार बनाने के लिए कोई पैसा न दे क्योंकि आधार नामांकन प्रक्रिया पूर्णत: निःशुल्क है और संशोधन कराने के लिए केवल निर्धारित शुल्क ही देय है,  किसी अन्य प्रकार के संशोधन के लिए अधिकतम शुल्क 25 रुपये ही निर्धारित है| प्राधिकरण के दिशानिर्देश के अनुसार पहली बार 5 वर्ष और दूसरी बार जब बच्चे 15 वर्ष के हो जाते हैं तो उन्हें बायोमेट्रिक अपडेट करने की आवश्यकता होती है, इसे अनिवार्य बायोमेट्रिक अपडेट कहा जाता है; अनिवार्य बायोमेट्रिक अपडेट पूरी तरह से निःशुल्क है|

यदि कोई भी आपरेटर उपरोक्त का उल्लंघन करता है तोनिवासी उस ऑपरेटर व केंद्र के पूर्ण विवरण के साथ क्षेत्रीय कार्यालय की दूरभाष संख्या 0522-2304978/2304979 एवं ई-मेल - uidai.lucknow@uidai.net.inपर इसकी सूचना दे सकता है, क्षेत्रीय कार्यालय, लखनऊ की और से इसकी तत्काल जांच करके उचित कारवाई की जाएगी |

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को अपने-अपने विभाग का श्वेतपत्र जारी करने के निर्देश दिए

Posted on 28 April 2017 by admin

सभी मंत्री अपने तथा प्रभार वाले जनपदों का भ्रमण कर
केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं की समीक्षा करें: मुख्यमंत्री

मंत्रियों को जिला अस्पतालों, सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वाथ्य केन्द्रों का भ्रमण कर चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ
की उपस्थिति सुनिश्चित कराने के निर्देश

भ्रष्टाचार के विरुद्ध जीरो टाॅलरेंस की नीति अपनायी जाए

भ्रष्टाचार के लिए जिम्मेदार कार्मिकों को चेतावनी देकर छोड़ने के बजाय उनके विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कठोर कार्रवाई की जाए

सभी नगरीय निकाय बरसात से
पूर्व नालों की सफाई सुनिश्चित कराएं

जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को प्रातः
09ः00 से 11ः00 बजे तक जनता के लिए उपलब्ध रहने के निर्देश

मुख्यमंत्री स्वयं अधिकारियों से लैण्ड लाइन
फोन द्वारा वस्तुस्थिति की जानकारी प्राप्त करेंगे

मंत्री स्वयं तहसील दिवस में उपस्थित होकर
जनता की समस्याओं का समाधान कराएं

मुख्यमंत्री आवास पर जन-सुनवाई के लिए जिन जनपदों से अधिक आवेदन प्राप्त होंगे, वहां के अधिकारियों से पूछताछ की जाएगी

ऊर्जा मंत्री ने मुख्यमंत्री के निर्देशों की जानकारी मीडिया को दी
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मंत्रिमण्डलीय सहयोगियों को अपने-अपने विभागों की स्थिति की विस्तृत जानकारी देते हुए श्वेतपत्र जारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने विभागों द्वारा किए गए प्रस्तुतिकरण के दौरान दिए गए निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराने का आग्रह करते हुए कहा है कि इस सम्बन्ध में पुनः 100 दिनों के बाद अद्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त की जाएगी तथा जनता के लिए रिपोट कार्ड भी जारी किया जाएगा। उन्होंने सभी विभागों से निर्धारित एजेंडा पर गम्भीरता से काम करने का निर्देश देते हुए कहा है कि इस कार्य में किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
मुख्यमंत्री के इन निर्देशों की जानकारी देते हुए प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं ऊर्जा मंत्री श्री श्रीकांत शर्मा ने आज यहां शास्त्री भवन में मीडिया को बताया कि दिनांक 27 अप्रैल, 2017 को सभी विभागों का प्रस्तुतिकरण सम्पन्न हो गया। प्रस्तुतिकरण के माध्यम से विभागों की कार्य प्रणाली, संचालित परियोजनाओं की अद्य्तन स्थिति एवं 100 दिनांें में विभाग द्वारा किए जाने वाले कार्यों के सम्बन्ध में विभागीय कार्योजना की जानकारी प्राप्त हुई। इससे राज्य सरकार को यह भी जानकारी मिली कि किस विभाग में क्या सुधार अपेक्षित है।
मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों को निर्देशित किया है कि वे अपने तथा प्रभार वाले जनपदों का भ्रमण कर केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं की समीक्षा करें। साथ ही, जनपदों में संचालित विकास एवं कल्याणकारी कार्यों का आकस्मिक निरीक्षण कर लाभार्थियों से सीधे फीडबैक भी प्राप्त करें, ताकि योजनाओं के सम्बन्ध में तथ्यात्मक जानकारी मिल सके। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की कई योजनाओं की चर्चा राजधानी में तो है परन्तु दूर-दराज के क्षेत्रों में उन पर कोई कार्य नहीं हो रहा है। मण्डल एवं जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि अब इन योजनाओं में किसी भी प्रकार की शिथिलता सहन नहीं की जाएगी।
श्री योगी ने मंत्रियों से यह भी अपेक्षा की है कि वे अपने जिले के साथ-साथ जिन जनपदों के प्रभारी मंत्री बनाये गये हैं, वहां जनहित से जुड़े कार्यों का स्थलीय आकस्मिक निरीक्षण भी करें। विद्युत, सड़क, सिंचाई, पेयजल व्यवस्था के निरीक्षण के साथ-साथ किसानों से सम्बन्धित कार्यों जैसे गेहूं एवं आलू क्रय केन्द्रों पर पहुंचकर यह देखा जाए कि राज्य सरकार के आदेशों का अनुपालन किया जा रहा है या नहीं। इसके साथ ही, कानून-व्यवस्था की अद्यतन स्थिति की भी समीक्षा की जाए। मुख्यमंत्री ने बेसिक शिक्षा विभाग की कार्य प्रणाली में भारी सुधार को रेखांकित करते हुए कहा है कि शिक्षकों की उपस्थिति, छात्रों को मिलने वाली सुविधाओं एवं शिक्षा की गुणवत्ता पर भी ध्यान दिया जाए। उन्होंने प्रभारी मंत्रियों से जिला अस्पतालों, सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वाथ्य केन्द्रों का भ्रमण कर मरीजों से बातचीत करने तथा चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ की उपस्थिति सुनिश्चित कराने के लिए कहा है।
सरकार के प्रवक्ता एवं ऊर्जा मंत्री श्री शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों से स्पष्ट तौर पर कहा है कि भ्रष्टाचार के विरुद्ध जीरो टाॅलरेंस की नीति अपनायी जाए। भ्रष्टाचार के लिए जिम्मेदार कार्मिकों को केवल चेतावनी देकर कतई न छोड़ा जाए, बल्कि उनके विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराकर कठोर कार्रवाई सुनिश्चित करायी जाए। मंत्रीगण यह भी सुनिश्चित करें कि विद्युत उपभोक्ताओं की समस्याओं को विद्युत विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा गम्भीरता से लेते हुए उन पर तत्काल कार्रवाई की जाए। सभी गांवों में रोस्टर के अनुसार विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। आंधी एवं तूफान के कारण यदि कहीं विद्युत तार टूटने या खम्बा गिरने के कारण विद्युत आपूर्ति बाधित हुई है तो उसे युद्ध स्तर पर रीस्टोर किया जाए।
श्री योगी ने प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों को स्वच्छता एवं जलापूर्ति पर विशेष ध्यान देने की अपेक्षा की है। उन्होंने सभी नगर आयुक्तों से स्वच्छता पर विशेष अभियान चलाने तथा पाॅलिथीन एवं प्लास्टिक के कप-प्लेट आदि के वैकल्पिक उपयोग पर लोगों का सहयोग प्राप्त करने के लिए कहा है, जिससे नालियों को चोक होने से बचाया जा सके। साथ ही, सभी नगरीय निकायों से यह सुनिश्चित कराने के लिए भी कहा गया है कि बरसात से पूर्व सभी नालों की सफाई प्रत्येक दशा में कर ली जाए, जिससे नगरों की जल निकासी व्यवस्था ठीक हो सके। इसी प्रकार जिलाधिकारियों के माध्यम से गांवों की स्वच्छता पर भी काम करने के लिए कहा गया है। इस मामले में जिलाधिकारी ग्राम प्रधान का सहयोग प्राप्त कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें।
जनता की समस्याओं के समधान के लिए जन-सुनवायी पर विशेष ध्यान देने का निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि मंत्रियों द्वारा जनपद भ्रमण के दौरान यह भी फीडबैक प्राप्त किया जाए कि जन-सुनवायी के लिए की गई व्यवस्था का जिला प्रशासन द्वारा कड़ायी से अनुपालन सुनिश्चित किया जा रहा है या नहीं। सभी जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों से अपने कार्यालय में प्रातः 09ः00 से 11ः00 बजे तक जनता के लिए उपलब्ध रहने का निर्देश देते हुए कहा गया है कि मुख्यमंत्री स्वयं इन अधिकारियों को लैण्ड लाइन पर फोन कर वस्तुस्थिति की जानकारी प्राप्त करेंगे। अधिकारियों से यह भी अपेक्षा की गई है कि वे कैम्प कार्यालय की व्यवस्था तत्काल समाप्त कर अपने कार्यालय में उपस्थित रहें, जिससे जनता को उनसे मिलने में सहूलियत हो। थाना दिवस पर थाना प्रभारी एवं तहसील दिवस पर तहसील प्रभारी द्वारा जनता की समस्याओं को सुनकर तत्परता से उनका समाधान सुनिश्चित कराया जाए। आवश्यकतानुसार मंत्री स्वयं तहसील दिवस में उपस्थित होकर जनता से सीधा संवाद कर उनकी समस्या का समाधान करें।

प्रवक्ता द्वारा बताया गया कि मुख्यमंत्री आवास पर जन-सुनवाई के लिए जिन जनपदों से अधिक आवेदन प्राप्त होंगे, वहां के जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से इसके सम्बन्ध में सीधी पूछताछ की जाएगी और यह भी माना जाएगा कि उक्त जनपद में जन-सुनवाई एवं समस्याओं के समाधान की व्यवस्था ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी घटना पर वरिष्ठ अधिकारियों से मौके पर तत्काल पहुंचकर जरूरी कदम उठाने एवं मुख्यमंत्री कार्यालय को भी अवगत कराने की अपेक्षा की गई है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों से अपेक्षा है कि वे जनता की समस्याओं का तत्परता से समाधान कराएं। उन्होंने जिलाधिकारियों को तहसीलों एवं पुलिस अधीक्षकों को थानों का आकस्मिक निरीक्षण करने के भी निर्देश दिए हैं।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने जनता की समस्याओं को सुना

Posted on 28 April 2017 by admin

समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया
मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतिदिन की भांति आज भी अपने सरकारी आवास पर जनता की समस्याओं को सुना। प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्रों से आए लोगों ने अपनी विभिन्न समस्याओं से सम्बन्धित आवेदन पत्र मुख्यमंत्री को स्वयं दिए। मुख्यमंत्री ने जनता को उनकी शिकायतों पर शीघ्र कार्यवाही का आश्वासन दिया तथा अधिकारियों को जनसमस्याओं के त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए।
uttar-pradesh-yogi-cm1जनपद उन्नाव से आये श्री रविन्दर आजाद ने मुख्यमंत्री से अपने गांव के तालाब की सफाई और सौन्दर्यीकरण का अनुरोध किया। फतेहपुर निवासी श्री कन्धई गिरि ने स्वयं द्वारा बनवाए गये मन्दिर में पेयजल की व्यवस्था का अनुरोध श्री योगी से किया। जनपद जौनपुर के श्री कैलाश नाथ ने जमीनी विवाद का निस्तारण कराने तथा जौनपुर के ही सीजनल अमीन श्री जसवन्त कुमार श्रीवास्तव ने नौकरी में स्थायीकरण का अनुरोध मुख्यमंत्री से किया।
इनके अलावा भी काफी बड़ी संख्या में लोगों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अपनी-अपनी समस्याओं से अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने सभी मामलों में प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए। अधिकांश प्रार्थना पत्र आर्थिक सहायता, कृषि पट्टे, विद्युत आपूर्ति, आवास आवंटन, पेयजल, अवैध कब्जे, पेंशन, राजस्व, भू-अभिलेखों में अनियमितता, शादी अनुदान, नौकरी तथा निजी इलाज आदि से सम्बन्धित थे।

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

April 2017
M T W T F S S
« Mar   May »
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
-->







 Type in