*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | June, 2017

हक मांगो अभियान

Posted on 30 June 2017 by admin

उत्तर प्रदेश में किसानों एवं नौजवानों की समस्याओं से जमीनी स्तर पर रूबरू होने और उनके समाधान के लिए उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री राज बब्बर- सांसद ने आज ‘हक मांगो अभियान’ के अन्तर्गत ‘न कर्ज माफी-न रोजगार का मौका-प्रचण्ड बहुमत-फिर भी प्रचण्ड धोखा, के नारे के साथ जनपद लहरपुर सीतापुर में किसान चौपाल/पंचायत में भाग लिया।
कार्यक्रम में प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष श्री राजबब्बर सांसद, पूर्व मंत्री डॉ0 अम्मार रिजवी, प्रदेश कंाग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक श्री भगवती प्रसाद चौधरी, पं0 रामगोपाल मिश्रा पूर्व एमएलसी, पूर्व एमएलसी श्री हरीश बाजपेयी, प्रदेश कांग्रेस की उपाध्यक्ष सुश्री अनुसुइया शर्मा, जिलाध्यक्ष श्री विनीत दीक्षित, श्रीमती शमीना शफीक, श्री आशीष गुप्ता सदस्य जिला परिषद आदि मौजूद रहे।
किसान पंचायत/चौपाल में एकत्रित किसानेां, मजदूरों एवं नौजवानों द्वारा गेहूं, धान, गन्ना आदि फसलों का उचित मूल्य न मिलने, गन्ने का बकाया भुगतान न होने, समय से बिजली न मिलने, कर्जा माफ न होने, बच्चों के भविष्य से जुड़ी प्राइमरी और जूनियर स्कूलों की बिल्डिंग और पढ़ाई न होने, ध्वस्त कानून व्यवस्था एवं बढ़ती बेरोजगारी आदि की समस्या के मुद्दों को श्री राजबब्बर जी के समक्ष रखा।
प्रदेश कंाग्रेस के प्रवक्ता अमरनाथ अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री राज बब्बर ने चौपाल/पंचायत में उठाये गये सवालों का जवाब देते हुए कहा कि किसान मुसलमान या ब्राहमण नहीं हेाता है वह किसान होता है। लेकिन चुनाव के समय किसानों को भी हिन्दू-मुसलमान में बांट दिया जाता है। उन्होने कहा कि क्या किसी को नौकरी मिली? क्या किसान का ऋण माफ हुआ? क्या चीजेां के दाम कम हुए? जहां तक बेरेाजगारी की बात है तो 80 प्रतिशत युवा बेरोजगार है, वह भी किसानों के बेटे-बेटियां हैं। किसान उनको पढ़ाने के लिए अपनी जमीन बेंचता है लेकिन जब वह शिक्षा ग्रहण कर बाहर निकलते हैं तो उन्हें नौकरी नहीं मिलती, उनकी इस मजबूरी का राजनीतिक दल लाभ उठाते हैं जैसे 2014 में दो करोड़ युवाओं को प्रतिवर्ष नौकरी देने का वादा किया गया था लेकिन किसी को भी नौकरी नहीं मिली। उन्होने कहा कि मैं इस समय वोट मांगने नहीं आया हूं क्योंकि इस समय कोई चुनाव नहीं चल रहे है। हम एक मुट्ठी की तरह हैं और हमें एक रहने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि किसानों का मुख्य उत्पादन गन्ना, चावल एवं गेहूं है। आज इन फसलों का समुचित मूल्य नहीं मिल रहा है। कमलापुर की शुगर मिल बंद पड़ी है और किसानों को उनके गन्ने का बकाया अभी तक नहीं मिला है।
प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि छुट्टा जानवर फसलों को नष्ट कर रहे हैं। गाय के नाम पर वोट मांगने वालों ने सत्ता में आने के बाद गाय के लिए कुछ नहीं किया, न उनके लिए कोई आश्रय बनाया और न ही कोई खाने की व्यवस्था की। जिससे आज गाय सड़कों पर भूखी घूम रही हैं। कौन बेटा अपनी मां को सड़क पर छुट्टा छोड़ देता है। उन्होने कहा कि बहनों, बेटियों की शादियां नोटबन्दी की वजह से नहीं हो पायीं। मां मुसीबत में है और बेटे आत्महत्या कर रहे हैं क्योंकि वह बेरोजगार है। जो लेाग इन्हें सत्ता में लाये थे आज यह सरकार उन्हीं को मार रही है। किसान जब अपना अधिकार मांगते हैं तो उन्हें गोली मारी जा रही है किसानों के प्रभावित होने से सभी वर्ग परेशान हैं।
इसके पूर्व विगत दिनों श्री अजय कुमार नामक नौजवान के गायब होने के कारण शेखापुर में चलाये जा रहे अनिश्चितकालीन धरने को भी प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष श्री राजबब्बर ने सम्बोधित किया।
श्री राजबब्बर ने इसके उपरान्त स्व0 सुनील जायसवाल के परिवार के तीन लोगों की हुई दर्दनाक हत्या पर शोकाकुल परिवार केा सांत्वना देने के लिए उनके घर सिविल लाइन्स पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की एवं उनके परिवार में दोनों बेटियों को ढांढस बंधाया कि दुःख की इस घड़ी में पूरा कांग्रेस परिवार उनके साथ खड़ा है।
श्री अग्रवाल ने बताया कि  चौपाल/पंचायत में क्षेत्रीय नेताओं के अलावा श्री रमेन्द्र जनवार, श्री श्रोत गुप्ता, संतोष भार्गव, श्री करूणेश राठौर, श्रीमती सरलेस रावत, श्री बनवारी कनौजिया, श्रीमती सिद्धिश्री आदि कंाग्रेसजन भी शामिल रहे।

Comments (0)

1981 बैच के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी श्री राजीव कुमार उत्तर प्रदेश के बने मुख्य सचिव

Posted on 30 June 2017 by admin

श्री राजीव कुमार ने संभाला प्रदेश के मुख्य सचिव पद का कार्यभार

dsc_3795उत्तर प्रदेश के नवनियुक्त मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने प्रदेश के 51वें मुख्य सचिव पद का कार्यभार ग्रहण करने के उपरान्त कहा कि प्रदेश सरकार के जनकल्याणकारी एवं विकास योजनाओं में और अधिक गति लाकर आम जनता को अधिकाधिक लाभान्वित कराने के सार्थक प्रयास सुनिश्चित कराये जायेंगे। उन्होंने कहा कि शासन की नीतियों एवं विकास परक योजना को जनसामान्य तक पहुंचाने एवं नागरिकों की समस्याओं का प्राथमिकता पर निस्तारण करना शासन की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अमन-चैन एवं खुशहाली का और अधिक बेहतर वातावरण बनाने हेतु सतत् प्रयास किया जायेगा।
श्री कुमार 1981 बैच के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी हैं। वे भारत सरकार के कैबिनेट  मंत्रालय में संयुक्त सचिव, अपर सचिव, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस विभाग तथा जहाजरानी  मंत्रालय में सचिव पद के पद पर महत्वपूर्ण दायित्वों का कुशलतापूर्वक निर्वहन करने के साथ ही सहारनपुर एवं मेरठ मण्डल के मण्डलायुक्त पद को सुशोभित किया है।
श्री राजीव कुमार उत्तर प्रदेश में सचिव औद्योगिक विकास एवं प्रबन्ध निदेशक, उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम, कानपुर एवं निदेशक सूडा के अतिरिक्त जनपद मथुरा एवं फिरोजाबाद के जिलाधिकारी पद को सुशोभित करने के साथ-साथ ही अन्य महत्वपूर्ण पदों पर भी तैनात रहें हैं।

श्री कुमार ने जुबिली इण्टर काॅलेज, लखनऊ से शिक्षा ग्रहण करने के उपरान्त लखनऊ विश्वविद्यालय से भौतिक विज्ञान में परास्नातक शिक्षा ग्रहण की है। इन्होंने हाॅवर्ड यूनिवर्सिटी से मास्टर डिग्री इन पब्लिक एडमिनिस्टेªेशन (एम0पी0ए0) की शिक्षा भी ग्रहण की है।

Comments (0)

गीता परिवार बच्चों को अच्छे संस्कार दे रहा है- सुधीर एस. हलवासिया

Posted on 30 June 2017 by admin

गीता परिवार उ.प्र. के तत्वावधान में बुधवार को संस्कार तरंग 2017 कार्यशाला शिविर आयोजन स्कार्पियो क्लब वाटर पार्क, कुर्सी रोड, लखनऊ में किया गया। समारोह पर मुख्य अतिथि भाजपा के वरिष्ठ नेता एंव समाजसेवी सुधीर शंकर हलवासिया, गीता परिवार के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ आशु गोयल तथा राजेंद्र गोयल ने दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

समारोह के मुख्य अतिथि सुधीर शंकर हलवासिया ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि आज परिवार, समाज और सम्पूर्ण विश्व में सर्वत्र संस्कारो के ह्रास का अनुभव कर रहा है। कड़े सरकारी कानून भी समाज को पतन से नहीं बचा पा रहे है। इसके लिए बाल्यावस्था से ही ऐसा कुछ किया जाना चाहिए कि समाज संस्कारित हो सके। इस दिशा में परम पूज्य स्वामी गोविन्ददेव गिरी जी द्वारा स्थापित गीता परिवार अनेक वर्षो से निरन्तर बच्चों में संस्कारो का बीजोरोपण का कार्य कर रहा है। ग्रीष्मकालीन अवकाश के चलते राजधानी के जगहों-जगहों पर संस्कार पथ शिविरों का आयोजन किया गया जिसमंे बच्चों को अपनी भारतीय संस्कारो से अवगत कराया जैसे- माता-पिता को प्रणाम करना, और बच्चों को श्रीमद्भगवतगीता का पाठ, स्त्रोत, ध्यान, योगासन, खेल, प्रतियोगिताएं, रचनात्मक कार्यशाला, आत्मरक्षा के गुर भी सिखाये गये। इस शिविंर का मुख्य उद्देश्य किशोरावस्था में बच्चों को आने वाली समस्याएं एवं उपाय बताना था। उनके लिए क्या सही है और क्या गलत यह सब गीता परिवार के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ आशु गोयल तथा राजेंद्र गोयल ने एक जबरदस्त टाॅकशो में स्लाइड शो के जरिये बताया जायेगा। जो किशोवस्था के लिए महत्वपूर्ण होगे। जैसे- मित्रों का चुनाव, हमारे आदर्श, हमारा भोजन, हम कैसी पुस्तकें पढ़ें, मोबाइल व इन्टरनेट का उपयोग, मेरी आदर्श दिनचर्या, मेरा पहनावा व फैशन, मेरा मनोरंजन चयन, मेरी वास्तविक रूचियाँ, भाई-बहनों से मेरा सम्बन्ध मेरी ताकत या समस्या, मित्रों और परिवार में सन्तुलन, मेरी सुरक्षा, यौन शोषण व अन्य बातें इत्यादि। इस पूरे सत्र में सभी बालक-बालिकाएं अपने प्रश्न भी पूछेंगे व समाधान प्राप्त करंेगे। प्रातः सत्र में बच्चों को ध्यान करना एवं आइए जाने भारतमाता को अपने देश के प्राचीन वैभव व विज्ञानं को प्रामाणिक साक्ष्यों के साथ स्लाइड शो के माध्यम से समझाया गया। दिन में बच्चे ने वाटर पार्क के खेलो एवं स्लाइडरों का आनंद लिया। भोजन के पश्चात अनेक सत्रों में बाल संस्कार ग्रहण करने के लिए अनेक सत्रों में भाग ले रहे थे। शिविर का समापन समारोह पर गिरिजाशंकर अग्रवाल, अनुपम मित्तल, गीता परिवार के मुख्य कार्यकर्ताओं में लखनऊ संपर्क प्रमुख अनुराग पाण्डेय, सचिव रणविजय सिंह, नेहा जयसवाल, अवधेश गुप्ता ‘छोटू’, एवं शिवेंद्र मिश्र भी उपस्थित थे। पीयूष जायसवाल ने बताया कि ग्रीष्मकालीन छुट्टियों में राजधानी के अनेक स्थानों पर 100 संस्कार पथ, बाल एवं व्यक्तित्व विकास शिविरों का आयोजन गीता परिवार, उप्र किया और इन सभी शिविरों में से अपनी प्रतिभा के बल पर कुछ उत्कृष्ट बच्चों को एक विशेष शिविर के लिए चुना गया। इस शिविर का नाम संस्कार तरंग रखा गया। चुने हुए लगभग 400 शिविरार्थी बालक-बलिकाओं, दो महीने से संस्कार पथ शिविर में अथक परिश्रम कर रहे एसपीटी, स्वयंसेवक एवं कार्यकर्ताओं के साथ के भाग लेगे।

Comments (0)

गायत्री को बचाने के बजाय गायत्री मंत्र का पाठ करें मुलायम - राकेश त्रिपाठी

Posted on 29 June 2017 by admin

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने मुलायम सिंह के गायत्री प्रजापति का बचाव किए जाने पर तंज कसते हुए कहा कि मुलायम सिंह यादव जी को उम्र के इस पड़ाव पर गायत्री मंत्र का जाप करना चाहिए। मुलायम सिंह यादव का जेल जाकर दुष्कर्म व भ्रष्टाचार के आरोपी गायत्री प्रजापति को निर्दोष होने का प्रमाण पत्र देना निन्दनीय है।

021श्री त्रिपाठी ने कहा कि मुलायम सिंह यादव वरिष्ठ व परिपक्व राजनीतिज्ञ है लेकिन उनका महिला विरोधी चेहरा पहले भी जनता ने देखा है जब उन्होंने विवादित बयान देकर बलात्कार के आरोपियों का बचाव किया था। जेल में मुलाकात कर गायत्री को क्लीन चिट देना मुलायम सिंह यादव की इसी महिला विरोधी व अपराध संरक्षण की मानसिकता को दर्शाता है।
प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि गायत्री प्रजापति विचाराधीन कैदी है और उनके भ्रष्टाचार की इमारत को योगी सरकार ने ढहाना शुरू किया है जिसको पूर्ववर्ती अखिलेश सरकार का पूरा समर्थन व संरक्षण था। अखिलेश सरकार के रहते पुलिस दबाव व प्रभाव में काम कर रही थी, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मुकदमा दर्ज हो पाया था। अब उ0प्र0 में योगी राज में शत प्रतिशत एफआईआर दर्ज की जा रही है और पुलिस बिना दबाव-प्रभाव के तत्काल कार्यवाही कर रही है।
श्री त्रिपाठी ने कहा कि योगी सरकार संवेदनशील सरकार है। एण्टी रोमियों स्वायड का गठन और कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के लिए मुखबिर योजना, महिलाओं के प्रति संवेदनशीलता को दिखाता है। योगी सरकार में महिलाओं के विरूद्ध अपराध पर प्राथमिकता से कठोर कार्यवाही लिए जाने के निर्देश दिए है। सरकार की इस संकल्प शक्ति से नारी शक्ति स्वयं को सुरक्षित और शक्तिशाली महसूस कर रही है।

Comments (0)

राज्यपाल ने ऐशबाग ईदगाह, टीले वाली मस्जिद व इमामबाड़ा जाकर ईद की बधाई दी

Posted on 28 June 2017 by admin

aks_2288उत्तर प्रदेश के राज्यपाल, श्री राम नाईक ने ईद-उल-फितर के पावन अवसर पर ऐशबाग स्थित ईदगाह, टीले वाली मस्जिद तथा आसिफी इमामबाड़ा जाकर मुस्लिम परिवारों को ईद की दिली मुबारकबाद दी और सभी के सुखमय जीवन की कामना की। इस अवसर पर राज्यपाल के साथ प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री दिनेश शर्मा सहित अन्य विशिष्टजन भी उपस्थित थे। राज्यपाल ने ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली, टीले वाली मस्जिद के इमाम मौलाना फ़जले मन्नान तथा आसिफी इमामबाड़ा के इमाम मौलाना कल्बे जव्वाद और मौलाना कल्बे सादिक से विशेष रूप से मिलकर बधाई दी तथा सिंवइयों का स्वाद भी लिया।
राज्यपाल ने ईदगाह में अपने सम्बोधन में कहा कि ईद का दिन साम्प्रदायिक सौहार्द, भाईचारा और आपसी मेलजोल को मजबूत करने का दिन है। मोहम्मद साहब ने इंसानियत का पैगाम देते हुए यह सीख दी थी कि अच्छा इन्सान वही है जो पड़ोसी का भी ध्यान रखे। यह देखने की जिम्मेदारी पड़ोसी की है कि उसका पड़ोसी भी भूखा पेट न रहे। मोहम्मद साहब द्वारा दिये गये इंसानियत का पैगाम सभी धर्म एवं समुदाय के लिये आज भी प्रासंगिक है। उन्होंने कहा कि ईद के दिन यह संकल्प लें कि हम पड़ोसियों, समाज, प्रदेश, देश एवं पूरे विश्व के साथ आपसी प्यार-मोहब्बत के दिन के रूप में मनायंेंगे। उन्होंने कहा कि आज यहां से ऐसा सन्देश लेकर हम घर जाये जिससे प्रदेश की शान के साथ-साथ विश्व में हमारे देश की शान बढ़े।
प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री दिनेश शर्मा ने सभी को बधाई देते हुए कहा कि लखनऊ पूरे विश्व में अमन-चैन के रूप में जाना जाता है। 22 करोड़ की जनसंख्या वाला हमारा उत्तर प्रदेश एक मिनी भारत है। देश और प्रदेश की तरक्की इस मुल्क में रहने वाले लोगों के मेल-मिलाप और आपसी भाईचारे से ही सम्भव है।
इसके बाद राज्यपाल राजभवन के अधिकारियों एवं कर्मचारियों से भी मिलें और ईद की बधाई दी।
श्री नाईक ने प्रदेश सरकार के मुस्लिम वक्फ तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री श्री मोहसिन रजा तथा कांग्रेस के वरिष्ठ सदस्य एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री डा0 अम्मार रिजवी के आवास जाकर ईद की बधाई दी।

Comments (0)

लोक कल्याण के प्रति समर्पित होकर राज्य सरकार बगैर किसी भेदभाव के समाज के सभी वर्गों के लिए कार्य कर रही है: मुख्यमंत्री

Posted on 28 June 2017 by admin

प्रधानमंत्री के ‘सबका साथ, सबका विकास’ करने के संकल्प का
अनुसरण करते हुए प्रदेश सरकार जनता की सेवा कर रही है

मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की 100 दिनांे की उपलब्धियों पर संतोष व्यक्त किया

वर्तमान सरकार ने परिवर्तन और प्रगति के संकल्प के साथ 19 मार्च को शपथ ग्रहण की

राज्य सरकार ने प्रदेश को विकास और खुशहाली के रास्ते पर
तेजी से आगे ले जाने के लिए प्रभावी प्रयास प्रारम्भ किए

‘अन्त्योदय’ के स्वप्न को साकार करना हमारा लक्ष्य भी है और संकल्प भी

लोक कल्याण संकल्प पत्र के वादों को पूरा करने की दिशा में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए

उ0प्र0 सरकार के 100 दिन पूरे होने के अवसर पर आयोजित प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री का सम्बोधन

मुख्यमंत्री ने सूचना विभाग द्वारा प्रकाशित पुस्तिका ‘100 दिन विश्वास के’ तथा लघु फिल्म
‘कर्ज माफी से होगा किसान खुशहाल’ का विमोचन किया
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि राज्य सरकार लोक कल्याण के प्रति समर्पित होकर बगैर किसी भेदभाव के समाज के सभी वर्गों के लिए कार्य कर रही है। इसके लिए शासन-प्रशासन को संवेदनशील और जवाबदेह बनाया गया है। वर्तमान सरकार प्रदेश को विकसित एवं समृद्ध बनाने के लिए विकास योजनाओं का लाभ समाज के अन्तिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए कृतसंकल्पित है।
प्रदेश सरकार के 100 दिन पूरे होने के अवसर पर मुख्यमंत्री जी आज यहां लोक भवन में आयोजित प्रेस वार्ता में मीडिया प्रतिनिधियों को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित पुस्तिका ‘100 दिन विश्वास के’ तथा एक लघु फिल्म ‘कर्ज माफी से होगा किसान खुशहाल’ का भी विमोचन किया।
राज्य सरकार की 100 दिनों की उपलब्धियों पर संतोष व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि किसी भी राज्य में परिवर्तन, विकास और प्रगति के लिए 100 दिन की अवधि एक छोटा कार्यकाल है। सीमित संसाधनों के बीच उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य के लिए यह एक चुनौती भी है, जिसे प्रदेश सरकार ने स्वीकार किया है।
विधान सभा चुनाव में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार की उपलब्धियों तथा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह की नीतियों पर भरोसा करते हुए भारतीय जनता पार्टी को ऐतिहासिक बहुमत प्रदान करने के लिए राज्य की जनता को बधाई देते हुए योगी जी ने कहा कि वर्तमान सरकार ने परिवर्तन और प्रगति के संकल्प के साथ 19 मार्च, 2017 को शपथ ग्रहण की।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश को एकात्म मानववाद के प्रणेता पं0 दीन दयाल उपाध्याय जी की जन्मभूमि के साथ-साथ कर्मभूमि होने का गौरव प्राप्त है। उनके जन्म-शती वर्ष में वर्तमान सरकार ने कार्यभार ग्रहण किया है। उपाध्याय जी के अन्त्योदय के स्वप्न को साकार करने की दिशा में 100 दिनों का कार्यकाल एक प्रभावी पहल है। उन्होंने कहा कि ‘अन्त्योदय’ के स्वप्न को साकार करना हमारा लक्ष्य भी है और संकल्प भी।
मुख्यमंत्री जी ने मीडिया के माध्यम से प्रदेशवासियों को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार प्रदेश को विकास और खुशहाली के रास्ते पर तेजी से आगे ले जाने के लिए प्रभावी प्रयास प्रारम्भ कर चुकी है। अपने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए राज्य सरकार ने लोक कल्याण संकल्प पत्र में किए गए वादों को पूरा करने की दिशा में महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि यह सरकार हर वर्ग, हर तबके के कल्याण के लिए कृतसंकल्पित है। उन्होंने मीडिया से इस कार्य मंे सकारात्मक सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया।
योगी जी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के कुशल नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने सुशासन के माध्यम से ‘सबका साथ, सबका विकास’ करने का जो संकल्प लिया है, उसका पूरी तरह अनुसरण करते हुए प्रदेश सरकार भी राज्य की जनता की सेवा कर रही है। उन्होंने कहा कि पिछले 14-15 वर्ष के दौरान प्रदेश प्रगति के पथ पर काफी पिछड़ गया था। इस अवधि में यहां सत्ता पर काबिज रही अन्य दलों की सरकारों के कार्यकाल में भ्रष्टाचार और परिवारवाद के साथ-साथ बदहाल कानून-व्यवस्था ने राज्य तथा यहां की जनता का भारी नुकसान किया। इसलिए राज्य सरकार ने जनता के कल्याण और उत्थान के लिए अविलम्ब प्रभावी कार्यवाही शुरू की। प्रदेश सरकार सुशासन के माध्यम से राज्य को विकास पथ पर आगे बढ़ाने का गम्भीरता से कार्य कर रही है।
योगी जी ने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों की भोजन, आवास, सड़क, पेयजल और शौचालय जैसी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति के साथ-साथ कानून-व्यवस्था को चाक-चैबन्द रखने के लिए निरन्तर सजग है। प्रदेश में शिक्षा का उन्नयन हो, युवाओं के लिए रोजगार के अवसरों में वृद्धि हो, आम जनता को स्वास्थ्य और परिवहन की अच्छी सुविधा मिले राज्य सरकार ने इस दिशा में भी ठोस प्रयास किए हैं। प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2017 को ‘गरीब कल्याण वर्ष’ के रूप में मनाने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा, हर साल 24 जनवरी को ‘उत्तर प्रदेश दिवस’ के रूप में मनाने का निर्णय भी लिया गया है। समाज के निर्माण में सभी क्षेत्रों एवं वर्गाें के महत्वपूर्ण योगदान का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भी केन्द्र सरकार की भांति, ‘सबका साथ-सबका विकास’ की अवधारणा के अनुरूप जनता की सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था मूलतः कृषि पर आधारित है। इसलिए जब तक गांव एवं किसान की वर्तमान स्थिति में सुधार नहीं आएगा, तब-तक राज्य तेजी से प्रगति के पथ पर आगे नहीं बढ़ेगा। इसको दृष्टिगत रखते हुए राज्य सरकार किसानों के हितों को प्राथमिकता दे रही है। किसानों को खाद, बीज के साथ-साथ अन्य कृषि निवेशों की उपलब्धता सुनिश्चित करायी जा रही है।
किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य दिलाने के लिए 05 हजार से अधिक गेहूं क्रय केन्द्रों की स्थापना करते हुए, गत वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष साढ़े चार गुना अधिक गेहूं की खरीद हुई। इसी प्रकार कई पेराई सत्रों का लम्बित भुगतान गन्ना किसानों को कराया जा रहा है। अब तक गन्ना किसानों को 22 हजार 517 करोड़ रुपए से अधिक के बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान हो चुका है। प्रदेश में पहली बार आलू उत्पादक किसानों के आलू को खरीदकर उन्हें राहत पहुंचाने का कार्य किया गया है। इसके अलावा, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इस वर्ष 9 लाख 70 हजार से अधिक आवासहीन परिवारों को ग्रामीण क्षेत्र में लाभान्वित किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अपनी पहली कैबिनेट बैठक में राज्य सरकार ने 31 मार्च, 2016 तक के, लघु एवं सीमांत किसानों के 01 लाख रुपए सीमा तक के फसली ऋण को माफ करने का निर्णय लिया। इस निर्णय से 86 लाख किसान लाभान्वित हुए हैं। इसी के साथ राज्य सरकार ने यह भी स्पष्ट कर दिया था कि फैसले का प्रभाव आम जनता एवं विकास कार्यों पर कतई पड़ने नहीं दिया जाएगा। प्रदेश सरकार 36 हजार करोड़ रुपए के अतिरिक्त बोझ को अनावश्यक खर्चों को कम करके पूरा करेगी।
योगी जी ने कहा कि विगत कई वर्षों से राज्य की खनन प्रक्रिया काफी विवादास्पद एवं पक्षपात पूर्ण रही है। राज्य सरकार द्वारा तकनीक आधारित एवं पूरी तरह से पारदर्शी नयी खनन नीति लागू की गई है। भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग का ई-वेब पोर्टल लाँच किया गया है, जिससे अब खनिजों के परिवहन के लिए ई-ट्रांज़िट पास की व्यवस्था उपलब्ध हो गई है। सरकारी ठेकों में भ्रष्टाचार समाप्त करने और पारदर्शिता लाने के उद्देश्य से ई-टेण्डरिंग व्यवस्था को सभी विभागों में लागू कर दिया गया है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य सरकार ने विरासत में मिली 01 लाख 21 हजार किलोमीटर से अधिक गड्ढायुक्त सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त करने, तथा प्रदेश के सभी जनपदों को समान रूप से बिजली आपूर्ति करने जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए प्रभावी कार्यवाही की है। जिला मुख्यालयों को 24 घण्टे, तहसील मुख्यालयों तथा बुन्देलखण्ड क्षेत्र को 20 घण्टे और ग्रामीण क्षेत्रों को 18 घण्टे बिजली दी जा रही है। इसके अलावा, 24 घण्टे बिजली उपलब्ध कराने के उद्देश्य से केन्द्र सरकार से 24ग7 ‘पावर फाॅर आॅल’ अनुबन्ध हस्ताक्षरित किया गया है। अयोध्या, देवीपाटन, चित्रकूट, शाकुंभरी देवी, विन्ध्याचल, नैमिषारण्य जैसे धार्मिक स्थलों पर अनवरत बिजली आपूर्ति का निर्णय लिया गया है। बी0पी0एल0 परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिए जाने का निर्णय लिया गया है। शहरी क्षेत्रों में खराब ट्रांसफार्मर को 24 घण्टे व ग्रामीण क्षेत्रों में 48 घण्टे में बदलने की व्यवस्था लागू है।
उत्तर प्रदेश एवं राजस्थान के बीच हस्ताक्षरित अन्तर्राज्यीय परिवहन समझौते का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इससे दोनों राज्यों के मध्य सड़क परिवहन सुगम हो जाएगा और जनता को बेहतर बस सेवाएं उपलब्ध हांेगी। पर्यटन विभाग के वन स्टाॅप टूरिज्म साॅल्यूशन पोर्टल का शुभारम्भ किया गया है। कैलाश मानसरोवर यात्रियों की अनुदान राशि को 50 हजार रुपए से बढ़ाकर 01 लाख रुपए प्रति यात्री कर दिया गया है।  राज्य सरकार ने गाजियाबाद में कैलाश मानसरोवर भवन के निर्माण का फैसला लिया है। प्रयाग अर्द्धकुम्भ, 2019 के आयोजन से पूर्व गंगा जी को स्वच्छ बनाने का काम युद्धस्तर पर जारी है। नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत झूंसी, नैनी, फाफामऊ और वृन्दावन की कुल 600 करोड़ रुपए की योजनाएं केन्द्र सरकार से स्वीकृत कराई गई हैं।
राज्य सरकार प्रदेश को माफियामुक्त, गुण्डामुक्त तथा भ्रष्टाचारमुक्त कराने के लिए कृत संकल्प है। इसके तहत भू-माफियाओं के विरुद्ध कार्रवाई के लिए एण्टी भू-माफिया टास्क फोर्स का गठन किया गया है। एण्टी भू-माफिया पोर्टल को लाँच किया गया है। भू-माफियाओं से अब तक करीब 5,895 हेक्टेयर अतिक्रमित भूमि अवमुक्त कराई गई है। वी0आई0पी0 कल्चर को समाप्त करने के लिए आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर राज्य में लाल व नीली बत्ती के प्रयोग को पूरी तरह समाप्त किया गया है।
प्रदेश सरकार महिलाओं एवं बालिकाओं को पूरी सुरक्षा देने के साथ-साथ उनके सामाजिक एवं आर्थिक सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है। इसके दृष्टिगत सत्ता में आते ही प्रदेश सरकार द्वारा ‘एण्टी रोमियो स्क्वाॅयड’ के गठन जैसे कई प्रभावी कदम उठाए गए हैं, जिनका असर पूरे प्रदेश में हुआ है। अब महिलाएं तथा बच्चियां पहले से अधिक सुरक्षित महसूस कर रही हैं।
महिलाओं एवं बालिकाओं में सुरक्षा की भावना और सुदृढ़ करने तथा उनके सामाजिक, आर्थिक सशक्तिकरण के दृष्टिगत, कन्या भ्रूण हत्या के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करने के लिए ‘मुखबिर योजना‘ की शुरुआत की गई है। राज्य सरकार द्वारा महिला हेल्पलाइन ‘181’ का संचालन किया जा रहा है। ‘181’ एक टोल-फ्री नम्बर है, जिस पर 24 घण्टे में किसी भी समय काॅल करके,कोई भी पीड़ित महिला अथवा बालिका सहायता प्राप्त कर सकती है। ‘181’ हेल्पलाइन के तहत ‘64 रेस्क्यू वाहन को लाँच किया गया है। इस प्रकार, प्रदेश के समस्त 75 जिलों में अब यह वाहन महिलाओं की सहायता के लिए उपलब्ध हो गए हैं।
तृतीय अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय स्तर का मुख्य कार्यक्रम लखनऊ के रमाबाई अम्बेडकर मैदान में सफलतापूर्वक आयोजित किया गया। इस आयोजन में प्रधानमंत्री जी के साथ 51 हजार से अधिक साधकों ने उत्साह और उमंग के साथ योगाभ्यास किया। प्रधानमंत्री जी द्वारा शुरू किये गये स्वच्छ भारत अभियान में लोगों की सहभागिता सुनिश्चित करायी जा रही है। दिसम्बर, 2017 तक प्रदेश के 30 जिलों को ओ0डी0एफ0 अर्थात् खुले में शौच मुक्त घोषित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी प्रकार पूरे प्रदेश को अक्टूबर, 2018 तक ओ0डी0एफ0 घोषित करने का लक्ष्य है।
जेवर में अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाए जाने की सैद्धान्तिक सहमति केन्द्र सरकार द्वारा प्रदान की गई। वर्षों से लम्बित यह प्रकरण राज्य सरकार की प्रभावी पैरवी से केन्द्र का अनुमोदन पाने में सफल रहा। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत प्रदेश की राजधानी लखनऊ के साथ-साथ वाराणसी, कानपुर व आगरा को पहले ही चयनित किया जा चुका है। वर्तमान सरकार के प्रयास से झांसी, अलीगढ़ एवं इलाहाबाद को स्मार्ट सिटी मिशन के तहत शामिल किया गया है। मेरठ, सहारनपुर, रामपुर, गाजियाबाद और रायबरेली को भी इस मिशन में सम्मिलित कराने के लिए गम्भीरता से प्रयास किये जा रहे हैं।
शिक्षा व्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन करने की दिशा में कार्य शुरू कर दिया गया है। स्कूली बच्चों को यूनीफार्म, पुस्तकें, जूता, मोजा तथा थैला उपलब्ध कराया जाएगा। उच्च शिक्षा में एक समान पाठ्यक्रम की दिशा में कार्रवाई की जा रही है। प्रदेश में 166 पं० दीन दयाल उपाध्याय माॅडर्न स्कूल खोले जाएंगे। राज्य सरकार गुणवत्तापरक शिक्षा सुलभ कराने तथा कौशल विकास के माध्यम से युवाओं को रोजगार के सुगम अवसर उपलब्ध कराने का भी कार्य करेगी।
इंसेफेलाइटिस रोग से प्रदेश के सर्वाधिक संवेदनशील 38 जनपदों के 01 से 15 वर्ष तक के वंचित बच्चों के लिए टीकाकरण का अभियान चलाया गया है। जनता को आपातकालीन चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए ‘एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस सेवा’ के तहत 150 एम्बुलेंस संचालित की जा रही हैं।
वर्तमान सरकार प्रदेश के सभी क्षेत्रों के विकास के लिए काम कर रही है। बुन्देलखण्ड और पूर्वांचल में आधारभूत ढांचे के विकास के लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे बनाने की योजना के साथ-साथ पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण भी किया जाएगा। लखनऊ मेट्रो रेल का संचालन शीघ्र प्रारम्भ हो जाएगा। इलाहाबाद, मेरठ, आगरा, गोरखपुर तथा झांसी में मेट्रो रेल परियोजना की संस्तुति की गई है। अयोध्या तथा मथुरा एवं वृन्दावन को नगर निगम का दर्जा दिया गया है।
प्रदेश की नई औद्योगिक नीति तैयार की जा रही है। इसके माध्यम से निवेश को बढ़ावा देते हुए राज्य का संतुलित औद्योगिक विकास किया जाएगा। इसके माध्यम से जहां एक ओर प्रदेश का आर्थिक विकास होगा, वहीं दूसरी ओर हमारे नौजवानों को राज्य में ही रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। पूर्ववर्ती सरकारों के 15 वर्ष के बदहाल शासन का खामियाजा प्रदेश की युवा पीढ़ी को भुगतना पड़ा है। पूर्ववर्ती सरकारों के कार्यकाल में भर्तियों में भ्रष्टाचार का बोलबाला था। इसे समाप्त करते हुए पारदर्शी तरीके से चयन किए जाने का निर्णय लिया गया है।

Comments (0)

राज्यपाल ने छत्रपति शाहूजी महाराज को श्रद्धांजलि अर्पित की

Posted on 28 June 2017 by admin

dsc_6245उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के ब्राउन हाल में छत्रपति शाहूजी महाराज स्मृति मंच द्वारा आयोजित छत्रपति शाहूजी महाराज जयंती के अवसर पर उनकी प्रतिमा एवं चित्र पर पुष्प अर्पित करके अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। राज्यपाल ने इस अवसर पर पौधा भी रोपित किया। समारोह में प्रदेश सरकार के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्य, किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 एम0बी0 भट्ट, पद्मश्री प्रो0 एस0एन0 कुरील तथा छत्रपति शाहूजी महाराज स्मृति मंच के अध्यक्ष श्री रामचन्द्र पटेल सहित बड़ी संख्या में विश्वविद्यालय के प्रोफेसर, चिकित्सक तथा अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

राज्यपाल ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि समाज में बराबरी और समता लाने की भूमिका में कई महानुभावों ने काम किया है। ऐसे महानुभावों में जिन्होंने समता की नींव डाली, उनमें छत्रपति शाहूजी महाराज का एक बड़ा नाम है। राज्यपाल ने शाहूजी महाराज को अपनी आदराजंलि देते हुए अपने बारे में बताया कि जिस रियासत के छत्रपति शाहूजी राजा थे उसी रियासत के वे रहने वाले हैं। शाहूजी महाराज का सरकार चलाने वाला जो तंत्र था वह सीधा छत्रपति शिवाजी महाराज से जुड़ा हुआ था। उन्होंने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज से लेकर छत्रपति शाहूजी महाराज तक ने जिस तरह से शासन चलाने का कार्य किया वह सराहनीय है।
श्री नाईक ने कहा कि शाहूजी महाराज ने अपने राज्य में कमजोर और वंचितों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिये 50 प्रतिशत का आरक्षण लागू किया था।  उन्होंने शोषित समाज के लिए शिक्षा की व्यवस्था के साथ-साथ लड़कियों के लिए निःशुल्क शिक्षा की भी व्यवस्था की। शाहूजी ने पुणे की तरह कोल्हापुर को शिक्षा नगरी के तौर पर विकसित किया। राज्यपाल ने कहा कि छत्रपति शाहूजी महाराज के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि यही होगी कि शिक्षा का ज्यादा से ज्यादा प्रसार हो।
राज्यपाल ने कहा कि कोल्हापुर का विशेष स्थान है। छत्रपति शाहूजी महाराज ने 28 वर्ष की आयु में आरक्षण का निर्णय लिया तथा कोल्हापुर में महिला शिक्षा के लिए विशेष प्रावधान किये। दूरदर्शी होने के कारण छत्रपति शाहूजी ने शिक्षा, महिला उत्थान तथा शिक्षा के प्रकाश को घर-घर पहुँचाने के लिए अद्भुत कार्य किया। शिक्षा के कारण ही कोल्हापुर कृषि के क्षेत्र में भी आगे है। गन्ने के लिये कोल्हापुर विख्यात है। शाहूजी महाराज भविष्यदृष्टा थे और सबको साथ लेकर काम करना उनकी विशेषता थी। उन्होंने कहा कि देश को आगे ले जाने के लिये हमें जाति, धर्म और समुदाय से ऊपर उठकर सोचना होगा।
शाहूजी महाराज की जयन्ती को लेकर भ्रम की स्थिति को स्पष्ट करते हुए राज्यपाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में छत्रपति शाहूजी महाराज का जन्म दिवस 26 जुलाई को मनाया जाता था जबकि महाराष्ट्र में 26 जून को मनाया जाता है। इस संबंध में महाराष्ट्र सरकार को उन्होंने एक पत्र भेजकर प्रमाणिक तिथि बताने का अनुरोध किया था। जिस पर महाराष्ट्र सरकार ने ऐतिहासिक रूप से प्रमाणिक तिथि 26 जून को ही छत्रपति शाहूजी महाराज का जन्म दिवस होने की पुष्टि की। उन्होंने इस बात पर संतोष व्यक्त किया कि अब जयन्ती समारोह सही तिथि पर आयोजित किया जा रहा है।
प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि शाहूजी महाराज ने समतामूलक समाज का जो सपना संजोया था, हम सब मिलकर उनके इस चिन्तन को आगे बढ़ाये यहीं उनके प्रति सबसे बड़ा सम्मान है। महाराष्ट्र और गुजरात संतों की भूमि हैं। डा0 अम्बेडकर शाहूजी की ही देन हैं, जिन्होंने शक्तिशाली और लोकतंत्र के लिये मजबूत संविधान की रचना की। उन्होंने कहा कि छत्रपति शाहूजी महाराज दूरदर्शी व्यक्ति थे और आरक्षण के जनक थे। वे चाहते थे कि गरीबों का विकास में हिस्सा हो और राज्य की गति में उनका भी योगदान हो।
राज्यपाल ने इस अवसर पर अपने-अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए अनेक लोगों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया।

Comments (0)

राज्यपाल से मुख्यमंत्री मिले

Posted on 28 June 2017 by admin

‘100 दिन विश्वास के’ पुस्तिका की पहली प्रति भेंट की

aks_2720उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक से आज राजभवन में प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने मुलाकात की और ‘100 दिन विश्वास के’ पुस्तिका की पहली प्रति उन्हें भेंट की। राज्यपाल ने मुख्यमंत्री को सरकार के सौ दिन पूरे हानेे पर बधाई दी तथा पुस्तिका की सराहना की। राज्यपाल को पुस्तिका भेंट करने के बाद मुख्यमंत्री ने औपचारिक रूप से लोकभवन में पुस्तिका का लोकार्पण किया तथा प्रेस वार्ता को भी सम्बोधित किया।
राज्यपाल ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा स्वयं की जिम्मेदारी महसूस करते हुए जवाबदेही के रूप में सरकार के सौ दिन के कार्यवृत्त के प्रकाशन की नई परम्परा स्वागत योग्य एवं अभिनन्दनीय है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सरकार के सौ दिन का कार्यवृत्त ‘सबका साथ सबका विकास’ ध्येय की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण कदम है।
श्री नाईक ने भेंट के दौरान मुख्यमंत्री से कहा कि जनता के प्रति जवाबदेही की दृष्टि से कार्यवृत्त का जारी होना सराहनीय है। प्रदेश सरकार द्वारा जनहित में लिये गये निर्णय जनता तक पहुंचने चाहिये। लोकतंत्र में आम जनता का हित सर्वोपरि होता है। सरकार का प्रयास होना चाहिए कि अन्तिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को भी सरकारी योजनाओं का लाभ मिले, जिससे प्रदेश का विकास सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि जनता को सरकारी योजनाओं का व्यवहारिक रूप से लाभ मिले यह सुनिश्चित करना सरकारी मशीनरी का दायित्व है।

Comments (0)

अन्त्योदय को साकार करने के लिए जनकल्याण सम्मेलन - विजय बहादुर पाठक

Posted on 28 June 2017 by admin

पं0 दीन दयाल उपाध्याय जन्मशती वर्ष के अन्तर्गत भारतीय जनता पार्टी द्वारा आयोजित किये जा रहे जन कल्याण सम्मेलनों में आज भी बड़ी संख्या में केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित व्यक्तियों एवं परिवारों नें बडी संख्या में संमलित होकर योगी सरकार की जनहितकारी योजनाओं को सराहा, वहीं प्रदेश की योगी सरकार के 100 दिन अल्पकार्यकाल में आमजन के हितों के लिए कार्यो की भी प्रशंसा की प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने बताया कि मंण्डल स्तर पर हो रहे जनकल्याण सम्मेलनों में सरकार की योजनाओं से लाभान्वित लोग सम्मिलित हो ही रहे हैं साथ ही समाज के विभिन्न वर्ग और तबके में इन योजनाओं के प्रति जागरूकता भी आ रही है।
श्री पाठक ने कहा कि सम्मेलनों के माध्यम से समाज के वंचित, उपेक्षित व गरीब वर्ग के लोगों के बीच केन्द्र की मोदी सरकार व प्रदेश की योगी सरकार जनकल्याण के लिए चलाई जा रही योजनाओं को लेकर जागरूकता बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। ताकि समाज के सभी वर्गो को इन योजनाओं का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा पंडित दीनदयाल उपाध्याय के विचारों के अनुरूप केन्द्र व राज्य की सरकार जो भी जनकल्याणकारी योजनाएं बना रही है उनका लक्ष्य अन्त्योदय है।
पार्टी कल 28 जून को प्रदेश के विभिन्न संगठनात्मक जिलों के 274 मण्डलों में  जनकल्याण सम्मेलनों का आयोजन करेगी। इनमें मुख्य रूप से वक्ताओं के रूप में प्रदेश सरकार के नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना -शाहजहांपुर, केन्द्र सरकार में मंत्री संतोष गंगवार-बरेली, प्रदेश उपाध्यक्ष शिव प्रताप शुक्ला-सिद्धार्थनगर, प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक-जालौन, प्रदेश महामंत्री सलिल विश्नोई-झांसी, प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर-सुलतानपुर, प्रदेश महामंत्री अशोक कटारिया-रामपुर, सांसद कमलेश पासवान-देवरिया, प्रदेश मंत्री गोबिन्द नारायण शुक्ल-अमेठी, प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन-अमरोहा, सांसद राजेश पाण्डेय-कुशीनगर, सांसद रविन्द्र कुशवाहा-देवरिया व क्षेत्रीय संगठन मंत्री शिव कुमार पाठक-गोरखपुर सहित कई अन्य प्रमुख पार्टी पदाधिकारी, सांसद/विधायक सम्मिलित होगें।

Comments (0)

मुख्यमंत्री के निर्देश पर क्षत्रिग्रस्त ट्रान्सफार्मर बदलने का आज से प्रारम्भ हुआ है महा अभियान

Posted on 27 June 2017 by admin

48 घण्टे के अन्दर पूरे प्रदेश में बदले जायेंगे क्षतिग्रस्त ट्रान्सफार्मर
ऊर्जा मंत्री स्वयं लखनऊ से कर रहे हैं अभियान की मानिटरिंग
प्रबन्ध निदेशक एवं निदेशक डिस्काम विभिन्न जनपदों में अभियान की मानिटरिंग के लिए भेजे गये।

मा0 मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर आज से पूरे प्रदेश में खराब ट्रान्सफार्मर बदलने का महा अभियान शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री ने 48 घण्टे के भीतर यू0पी0 के ग्रामीण इलाके के समस्त खराब ट्रान्सफार्मर बदलने के दिये थे निर्देश।  26 एवं 27 जून तक चलने वाले इस दो दिवसीय अभियान में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री श्रीकान्त शर्मा ने स्वयं कमान संभाल रखी  है। ऊर्जा मंत्री एवं प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री आलोक कुमार लखनऊ से इस अभियान की कर रहे हैं मानिटरिंग।
यह जानकारी देते  हुये पावर कारपोरेशन के प्रबन्ध निदेशक श्री विशाल चैहान ने बताया है कि अभियान की गहन मानीटरिंग हेतु सभी डिस्काम के प्रबन्ध निदेशकों एवं निदेशकों को जिम्मेदारी सौंपी गयी है। ये अधिकारी जिलों में कैम्प कर कर रहे हैं मानीटरिंग।
श्री विशाल चैहान स्वयं गोरखपुर एवं बस्ती की मानीटरिंग कर रहे हैं। इसी तरह निदेशक (वितरण) के0एम0 मित्तल इलाहाबाद में कैम्प कर रहे हैं। प्रबन्ध निदेशक, पूर्वाचंल श्री अतुल निगम बनारस, निदेशक (तकनीकी) एस0सी0 भारती मिर्जापुर, निदेशक अनिल कोहली आजमगढ़ तथा पूर्वांचल के निदेशक कार्मिक मोहित शर्मा चन्दौली में कैम्प कर रहे हैं।
इसी तरह आगरा डिस्काम के प्रबन्ध निदेशक एस0के0 वर्मा अगरा में स्वयं कमान संभाले हुये हैं। कानपुर में निदेशक तकनीकी डी0के0 सिंह मानीटरिंग कर रहे हैं। मध्यांचल के प्रबन्ध निदेशक अरविन्द राजवेदी लखनऊ में अभियान की कर रहे हैं मानीटरिंग। मध्यांचल के निदेशक, तकनीकी अजीत सिंह, फैजाबाद, गोण्डा में मुख्य अभियन्ता सन्दीप सिंह तथा बरेली में मुख्य अभियन्ता राजकुमार अग्रवाल अभियान की कर रहे हैं मानिटरिंग।
इसी प्रकार प्रदेश भर के सभी मण्डल मुख्यालयों पर प्रबन्ध निदेशकों एवं निदेशकों की ड्यूटी लगायी गयी है।

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

June 2017
M T W T F S S
« May   Jul »
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
2627282930  
-->







 Type in