*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | फैजाबाद

मातृ-पितृ भक्ति का दिव्य संदेश है कृति पारस-बेला

Posted on 25 November 2017 by admin

फैजाबाद में किया राज्यपाल ने लोकार्पण
img-20171125-wa0006 सुरेन्द्र अग्निहोत्री, लखनऊ । कविताओं के माध्यम से माता पिता की ममता, प्रेम, वात्सल्य का वर्णन करने वाली कृति पारस-बेला अनूठी है। आज के समय में ऐसी कृतियों का सृजन कम हो रहा है। जननी और जन्मभूमि की वन्दना कविताओं के द्वारा किया जाना सराहनीय है। ’जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी’ का भाव मन में धारण करके कवि डाॅ0 अनिल कुमार पाठक ने इस कृति से समाज को अच्छा संदेश दिया है।
यह उद्गार प्रदेश के राज्यपाल श्री रामनाईक ने फैजाबाद में डाॅ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के विवेकानन्द सभागार में व्यक्त किए। उन्होने माता पर लिखी गयी मराठी कवि की कविता का वाचन करते हुए उसका हिन्दी अनुवाद भी बताया। वह मुख्य अतिथि के रूप में अपना वक्तव्य दे रहे थे। उन्होने कहा ऐसी कृतियों की विशेष आवश्यकता है अच्छी पुस्तकें पाठकों को खरीद कर पढ़नी चाहिए। यह वक्तव्य उन्होने कवि एवं जिलाधिकारी फैजाबाद डाॅ0 अनिल कुमार पाठक की पुस्तक पारस-बेला के लोकार्पण के अवसर पर दिया। यह आयोजन प्रभात प्रकाशन द्वारा किया गया। लखनऊ से पधारे हिन्दी के लब्ध प्रतिष्ठ विद्वान प्रोफे0 सूर्य प्रसाद दीक्षित ने कहा कि यह काव्यकृति पुण्यश्लोक स्व0 पारसनाथ पाठक प्रसून (पिता श्री) और पूज्यचरण बेला देवी (माता) के प्रति डाॅ0 अनिल कुमार पाठक का भक्ति भाव है। उन्होने कहा कि भौतिक दिनचर्या में हम अपने मूल से कटते जा रहे हैं जिसमें समूची ग्रामीण व्यवस्था और परिवार संस्कृति की उपेक्षा हो रही है। यही इन कविताओं का मुख्य संदेश है। मातृ पितृ भक्त के साथ-साथ कवि ने इसमें आंचलिक संस्कृति को बड़ी सफलता के साथ चित्रित किया है। उन्होंने कहा कि पारस बेला कृत को 5 खण्डों में विभक्त किया गया है। प्रत्येक खण्ड की रचनाएं सोद्येश्य लिखी गयी है। श्रवणाख्यान पुराख्यानों से लेकर लोकनाट्यों एवं गाथाओं में विस्तार पूर्वक प्रस्तुत किया गया है। भक्त श्रवण की कथा का सार संक्षेप भी कविताओं के माध्यम से कवि ने किया है।
अपनी रचना धर्मिता के विषय में बताते हुए डा0 अनिल कुमार पाठक भावुक हो गये। माता-पिता की स्मृति के इन क्षणों में उन्होंने एक लम्बी कविता संकलन से पढ़ी। उन्होंने कहा कि हमारी परम्परा मातृ देवो भव, पितृ देवो भव की रही है। पूर्वजों का स्मरण करना हमारा दायित्व है।
इस अवसर पर मण्डलायुक्त मनोज मिश्र, आई0जी0श्री विजय प्रकाश, कुलपति द्वय मनोज दीक्षित एवं अख्तर हसीब सहित तमाम अधिकारी एवं गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। कार्यक्रम का सफल संचालन वरिष्ठ लेखक, यतीन्द्र मोहन मिश्र ने किया।
आभार ज्ञापन पारस-बेला न्यास के अध्यक्ष शिक्षा विद् एल0पी0पाण्डेय ने किया।

Comments (0)

अयोध्या विश्व के मानचित्र पर पयर्टन केन्द्र के रूप में विकसित हो- सुनील बंसल

Posted on 12 November 2017 by admin

-अयोध्या सरकार की प्राथमिकता में हैं।
21लखनऊ/फैजाबाद 12 नवम्बर 2017, गुरुकुल महाविद्यालय में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान भाजपा के प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने अयोध्या को लेकर केन्द्र व प्रदेश सरकार की प्राथमिकताओं का बखान किया। श्री बंसल ने कहा कि सरकार की मंशा है कि अयोध्या विश्व के मानचित्र पर पयर्टन के रुप में विकसित हो। अयोध्या के हर चैराहे पर रामायण के चरित्रों का वर्णन हो। अयोध्या का ऐसा सांस्कृतिक विकास होना चाहिए कि यहां आकर लोगो को भारतीय संस्कृति का दर्शन हो। प्रदेश सरकार ने अयोध्या में दीपावली पर भव्य आयोजन किया। अयोध्या सरकार की प्राथमिकताओं में है। हम निकाय चुनाव अभियान का श्रीगणेश अयोध्या से करने जा रहे है। 14 को यहां मुख्यमंत्री की सभा होगी। आने वाले समय में अयोध्या के बदलते स्वरुप को यहां की जनता देखने वाली है।
श्री बंसल ने कहा कि केन्द्र सरकार ने अयोध्या के विकास के लिए कई योजनाएं दी। एयरपोर्ट, रेलवे लाईन का दोहरीकरण, सड़को का जाल इसमें शामिल है। 106 जनकल्याण योजनाएं मोदी सरकार ने लागू की है। 3 करोड़ लोगो को निःशुल्क गैस कनेक्शन दिया जा चुका है। हम गर्व से कह सकते है कि दुनिया के सभी देश भारत से दोस्ती करना चाह रहे है। झाड़ू लेकर गलियों को साफ करने वाले, गंगा की सफाई के लिए खुद फावड़ा उठाने वाले मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री है। जिन्होने अमेरिका में गर्व के साथ भारत माता का जयघोष किया। पूरी दुनिया को लग रहा है भारत विकसित होने जा रहा है। भारत बदल रहा है। उसी प्रकार उत्तर प्रदेश में सरकार बनने के बाद किसानो का ऋण माफ किया गया। गन्ना किसानो के बकाया का भुगतान किया गया। गांवो तक बिजली पहुंचायी गयी। करीब दस लाख लोगो को निःशुल्क बिजली का कनेक्शन दिया गया। भाजपा विधानसभा चुनाव की तरह से निकाय चुनावों में फिर से इतिहास बनाने जा रही है।
सांसद लल्लू सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार ने अयोध्या से निकलने वाली सड़को को फोर लेन बनाने, सरयू नदी का पानी तट तक पहुचे इसके लिए वैराज बनाने व चैरासी कोसी परिक्रमा मार्ग को विकासित करने की योजनाएं दी है। जिस प्रकार केन्द्र सरकार की योजनाओं के अमलीकरण के लिए प्रदेश मंे सरकार होना जरुरी है। उसी प्रकार निकायों में विकास के लिए यहां मेयर व नगरपालिका पर कब्जा होना जरुरी है। नगर निगम, प्रदेश सरकार व केन्द्र सरकार जब मिलकर योजनाबद्ध तरीके से विकास करेेगे तो यहां पयर्टन बढ़ेगा। विधायक वेद गुप्ता ने कहा कि अयोध्या के विकास के लिए इसे नगर निगम बनाने की आवश्यकता थी। जिसे प्रदेश सरकार ने बनाया। अब पूरे देश की निगाह अयोध्या नगर निगम के चुनाव पर है। भाजपा मेयर प्रत्याशी ऋषिकेश उपाध्याय ने कहा कि जिस प्रकार नेतृत्व ने भरोसा दिखाया उसी प्रकार चुनाव जीतने पर अयोध्या को योजनबद्ध तरीके से विकसित किया जायेगा।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने जनपद फैजाबाद की 03 तहसीलों में बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित की

Posted on 25 August 2017 by admin

बाढ़ राहत सामग्री वितरण में किसी प्रकार
की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी: मुख्यमंत्री

बाढ़ पीड़ितो का दुःख दर्द जानने व राहत सामग्री वितरण में कोई कमी
न रहे, इसलिए मुख्यमंत्री स्वयं बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण कर रहे हैं

संक्रामक रोगांे से बचाव हेतु सभी आवश्यक प्रबन्ध किये जाएंpress-51

पशुओं के लिए पर्याप्त चारे की व्यवस्था के निर्देश

बाढ़ से पीड़ित परिवारों की सहायता हेतु पर्याप्त धनराशि उपलब्ध करायी गयी है

बाढ़ की समस्या के स्थाई समाधान के लिए कार्य योजना तैयार की जा रही

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद फैजाबाद की 03 तहसीलों में बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित की। उन्होंने तहसील रुदौली के पस्ता, तहसील सोहावल के मांझा कला व तहसील फैजाबाद सदर के पूराबाजार पहुंचकर बाढ़ प्रभावित व्यक्तियों को राहत सामग्री का वितरण किया। रूदौली में 616, सोहावल में 123 तथा पूराबाजार में 216 बाढ़ पीड़ितो को राहत सामग्री वितरित की गयी।
इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री जी ने अधिकारियों से कहा कि वे बाढ़ पीड़ितो के दुःख दर्द का निदान करें। इस बात का पूरा ध्यान रखें कि राहत सामग्री वितरण में कोई कमी न रहने पाये। बाढ़ राहत सामग्री वितरण में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।press-33
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बाढ़ पीड़ितो का दुःख दर्द जानने व राहत सामग्री वितरण में कोई कमी न रहे इसलिए वे स्वयं बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण करने प्रत्येक बाढ़ प्रभावित जिले में जा रहे हैं। देवरिया, सिद्धार्थनगर, गोरखपुर में अभी भी काफी क्षेत्र बाढ़ प्रभावित है। बाराबंकी, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, बलरामपुर आदि जनपदों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रांे के भ्रमण के पश्चात् वे फैजाबाद जनपद में आए हैं। उन्होंने बाढ़ पीड़ितों को पर्याप्त मात्रा में राहत सामग्री वितरण के साथ पशुओं के लिए भी चारे की पर्याप्त व्यवस्था किए जाने के निर्देश जिला प्रशासन को दिये।
योगी जी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि बाढ़ पीड़ितों को हर सम्भव राहत एवं सहायता पहुंचायी जाए। उन्होंने कहा कि बाढ़ के बाद संक्रामक रोगों की आशंका रहती है। ऐसे रोगों के बचाव हेतु प्रभावित इलाकों में डाॅक्टरांे की टीम तैनात की जाए। उन्होंने अधिकारियों को यह निर्देश भी दिए कि बाढ़ से जिन व्यक्तियों को घर व फसल आदि का नुकसान हुआ है उन्हें त्वरित राहत पहुंचाने हेतु आकलन रिर्पोट यथाशीघ्र शासन को उपलब्ध करायी जाए, ताकि जल्द से जल्द बाढ़ पीड़ितांे को राहत धनराशि वितरित की जा सके। उन्होंने कहा कि जिन लोगांे ने बाढ़ में अपने मकान खोये हैं उन्हें आने वाले समय में पात्रता के आधार पर आवास उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बाढ़ की समस्या के स्थाई समाधान के लिए कार्य योजना तैयार की जा रही है। बाढ़ पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि आपदा के इस घड़ी में प्रदेश व केन्द्र सरकार गरीब, किसान, मजदूर तथा बाढ़ पीड़ितों के साथ खड़ी है। उन्होंने बताया कि बाढ़ प्रभावित परिवारांे की सहायता के लिये पर्याप्त धनराशि उपलब्ध करायी गई है।
इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

Comments (0)

हार्दिक बधाई देते हुए उनके सुख, समृद्धि व उन्नति की कामना की

Posted on 25 January 2013 by admin

ईद-मिलादुन्नवी के पावन अवसर पर उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री, सांसद ने प्रदेशवासियों विशेषकर मुस्लिम समुदाय के लोगों को हार्दिक बधाई देते हुए उनके सुख, समृद्धि व उन्नति की कामना की है।
प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष डाॅ0 खत्री ने शुभकामना संदेश में कहा है कि मोहम्मद साहब ने समूचे विश्व में अमन, चैन और भाईचारे का पैगाम पूरी दुनिया को दिया था। उन्होने कहा कि मोहम्मद साहब के जन्मदिन के मौके हम सभी को उनके द्वारा दिये गये पैगाम को अमल में लाने की आवश्यकता है तथा हम सभी को आज के दिन समाज में एकता, अमन-चैन एवं भाईचारा बनाये रखने का संकल्प लेकर समाज में साम्प्रदायिक, जातिवादी एवं फिरकापरस्ती ताकतों के विरूद्ध एकजुट होने की जरूरत है।
—————-
उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री, सांसद कल दिनांक 25जनवरी को ईद-मिलादुन्नवी  के मौके पर फैजाबाद में शहर के जुलूस में शामिल होंगे।
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता मारूफ खान ने बताया कि डाॅ0 खत्री दिनांक 26जनवरी को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रातः 9.30बजे ध्वजारोहण करेंगे, तदुपरान्त डा0 खत्री अपरान्ह कानपुर महानगर कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित (नानाराव पार्क)-गणतंत्र दिवस समारोह में भाग लेंगे।
प्रवक्ता ने बताया कि इसी प्रकार डाॅ0 खत्री दिनांक 27जनवरी को अपरान्ह प्रदेश कंाग्रेस मुख्यालय में विगत विधानसभा चुनाव 2012 के प्रत्याशियों की बैठक में भाग लेंगे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

60 साल बाद आजादी झूठी साबित हो गई है

Posted on 20 December 2012 by admin

आज देश के सामने अपनी सम्प्रभुता बचाने की चुनौती है। सरकारों ने अमरीका के सामने अपनी नीतियां गिरवी रख दी हैं, इस अमरीकी नीति के तहत ही एक तरफ एफडीआई के रुप में वालमार्ट जैसी कंपनियां आ रही हैं तो वहीं मुस्लिम युवकों को आतंकवाद के नाम पर जेलों में सड़ाया जा रहा है, इस चुनौती से पूरी जनता को मिलकर लड़ना होगा। यही अशफाक उल्ला खंा समेत सभी शहीदों को सच्ची श्रंद्धाजलि होगी। यह बातें पूर्व सांसद और माकपा नेता सुभाषिनी अली ने ‘साझी विरासत की चुनौतियां’ सम्मेलन में कहीं।
dsc04336फार्बिस इंटर कालेज में आयोजित इस सम्मेलन में वरिष्ठ मानवाधिकार नेता गौतम नवलखा ने कहा कि 60 साल बाद आजादी झूठी साबित हो गई है। भारतीय सेना अपने ही देश वासियों को कश्मीर से लेकर पूर्वोत्तर तक गोलियों से छलनी कर रही है। मुसलमानों और आदिवासियों को आंतरिक शत्रु के बतौर खड़ा कर देश को कथित लोकतंत्र द्वारा चुनी गई सरकारें ही बांटने पर तुली हैं, जिसका मुकाबला जनता को करना होगा।
पूर्व पुलिस महानिरिक्षक एसआर दारापुरी ने पिछले दिनो संसद में आतंकवाद को रोकने के नाम पर काले कानूनों को पास करने का सवाल उठाते हुए कहा कि उनका मकसद पुलिस को वो सारी शक्तियां दे देना है जिससे मुस्लिमों, आदिवासियों, दलितों का दमन करना है।
वेलफेयर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कासिम रसूल इलियास ने कहा कि साझी विरासत को बचाने के लिए जरुरी है कि सभी आतंकी घटनाओं की जांच कराई जाय क्योंकि इन घटनाओं में अक्सर मुस्लिमों को फसाया जाता है जो 15-15 साल बाद बेदाग छूटते हैं। जिससे उस आदमी की जिन्दगी तबाह हो जाती है और इसका फायदा सांप्रदायिक शक्तियां मुसलमानों को बदनाम कर उठाती हैं।
आॅॅल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के नेता और इलाहाबाद विवि के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष लाल बहादुर सिंह ने कहा कि बाबरी विध्वंस के बाद फैजाबाद में दंगा नहीं हुआ लेकिन मुसलमानों की हमदर्द बनने वाली सपा सरकार के शासन में दंगा हो गया जो सपा के सांप्रदायिक मंसूबे को दिखाता है जो भाजपा की मिलीभगत के साथ यूपी को गुजरात बनाने पर तुले हैं।
वरिष्ठ भाकपा माले नेता मुहम्मद सलीम ने कहा कि भारत की धर्मनिरपेक्षता की रक्षा सपा या कांग्रेस नहीं कर सकती इसे इस देश की जनता अपनी साझी विरासत के मूल्यों से फासीवादी सरकारों के खिलाफ लड़कर करेगी। अशफाक और राम प्रसाद बिस्मिल की साझी शहादतों का दौर अभी जारी है,, क्योंकि राज्य का दमन बदस्तूर जारी है, ऐसे में यह लड़ाई नए भारत का निर्माण करेगी।
रिहाई मंच के संयोजक मुहम्मद शुऐब ने कहा कि आईबी देश को आतंकवाद के नाम पर बांटने की कोशिश में लगी हैं। उन्होंने कहा कि आरडी निमेश जांच आयोग की रिपोर्ट बताती है कि कचहरी विस्फोट में पकड़े गए तारिक और खालिद निर्दोष हैं और उन्हें एटीएस और खुफिया एजेंसियों ने फंसाया है, लेकिन सपा सरकार इस रिपोर्ट को जारी न कर दोषी अधिकारियों को बचाने में लगी है।
पीयूसीएल नेता महताब आलम ने कहा कि आपरेशन ग्रीन हंट और आतंकवाद के नाम पर आदिवासियों-मुसलमानों का दंमन कर सरकारें साम्राज्य विरोधी आंदोलन को कमजोर कर रही है।
अध्यक्षता कामरेड सीताराम वर्मा और संचालन अनिल सिंह ने किया। डीवाईएफआई द्वारा आयोजित इस सम्मेलन में सत्भान सिंह जनवादी, गुफरान, हाफिज अब्दुल हफीज, सैयद निजाम अशरफ, जलाल सिद्किी, तारिक सईद सुधीर सिंह, केपीसिंह, दिनेश सिंह, कमलेश यादव, आरडी आनंद, स्वप्निल श्रीवास्तव, मंजर मेहदी, रघुवंश मणि, जीतेेन्द्र राव, आरजे यादवख् जमुना सिंह, आफाक, शाहआलम, राजीव यादव इत्यादि लोग उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

फैजाबाद में हिंसा से प्रभावित लागों के नुकसान की भरपाई सरकार करेगी

Posted on 21 November 2012 by admin

प्रशासन व पुलिस के दोषी पाये गये अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी -मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने विगत दिनों फैजाबाद जिलें में हिंसक घटनाओं में प्रभावित हुये लोगों को आश्वासन दिया है कि उनकी सम्पत्ति को जो नुकसान हुआ है, सरकार उसकी पूरी-पूरी भरपाई करेगी। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन व पुलिस के उन अधिकारियों के खिलाफ कठारे कार्रवाई की जायेगी, जिन्होंने हिंसक घटनाओं पर काबू पाने में लापरवाही की है। उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि जिन बेकसूर लोगों को इन घटनाओं के दौरान गिरफ्तार किया गया है उन्हें भी जल्दी ही रिहा किया जायेगा।
मुख्यमंत्री ने यह आश्वासन आज अपने सरकारी आवास पर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण एवं नगर विकास मंत्री मो0 आजम खां की रहनुमाई में अपनी व्यथा सुनाने आये फैजाबाद जिले के दंगा पीडि़तों के एक शिष्टमण्डल को दिया। श्री यादव ने कहा कि जबसे प्रदेश की वर्तमान सरकार सत्ता में आयी है तभी से कुछ लोग अपने निहित स्वार्थाें के चलते प्रदेश में कायम अमन व चैन के माहौल को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि प्रदेश सरकार की छवि खराब हो। उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि इन शरारती तत्वों की नापाक कोशिशों को किसी भी सूरत में कामयाब नहीं होने दिया जायेगा। उन्हांेने कहा कि जिला प्रशासन व पुलिस को कड़े निर्देश दिये गये हैं कि इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो और कानून व्यवस्था को पूरी कड़ाई से बनाये रखा जाये। उन्होंने कहा कि इन निर्देशों का पालन न करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने शिष्ट मण्डल से अपेक्षा की कि जिन लोगों ने दंगे में अपनी सम्पत्ति को हुये नुकसान के सुबूत व अन्य जरूरी कागजात अभी तक उपलब्ध नहीं कराये हैं वे इन्हें जल्द ही उपलब्ध करा दें, ताकि उनके नुकसान की भरपाई के लिए कार्रवाई शुरू की जा सके।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के प्रति अपना आभार व्यक्त करते हुए प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण एवं नगर विकास मंत्री मो0 आजम खां ने कहा कि शरारती तत्वों द्वारा की जा रही फसाद व हिंसक व हिंसा की घटनाओं के पीछे प्रदेश सरकार की छवि को खराब करने की एक सुनियोजित साजिश रची जा रही है, लेकिन प्रदेश सरकार इस साजिश को किसी भी दशा में कामयाब नहीं होने देगी और इन्हें रचने वालों के विरुद्ध सख़्त से सख़्त कार्रवाई करेगी, चाहे वे कितने ही प्रभावशाली क्यों न हों। उन्हांेने कहा कि इन घटनाओं के लेकर सरकार का रवैया बहुत सख़्त है और इसी रवैये के अनुरूप जिला प्रशासन व पुलिस अधिकारियांे को कार्य करने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने जोर देकर कहा कि इन घटनाओं के लिए दोषी पाये गये अधिकारियों व कर्मचारियों को कतई बख्शा नहीं जायेगा और वे दण्ड के भागीदार होंगे।
इस अवसर पर स्थानीय विधायक के अलावा प्रदेश के मुख्य सचिव श्री जावेद उस्मानी, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री राकेश गर्ग, प्रमुख सचिव गृह श्री आर0एम0 श्रीवास्तव, पुलिस महानिदेशक श्री ए0सी0 शर्मा, अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) श्री अरुण कुमार व अन्य उच्च अधिकारी माजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

साम्प्रदायिक सौहार्द को बनाये रखने की अपील

Posted on 04 November 2012 by admin

rihai-manch-1दषहरा के दौरान फैजाबाद में हई मुस्लिम विरोधी हिंसा के षिकार लोगों से मिलने गये जांच दल ने इस घटना को प्रशासननिक लापरवाही, सत्ताधारी पाटी और साम्प्रदायिक तत्वों की मिलीभगत का परिणाम बताया। जांच दल ने दोनों ही समुदायों के लागों से मुलाकात कर साम्प्रदायिक सौहार्द को बनाये रखने की अपील करते हुये अफवाहों से सचेत रहने की बात कही।
जांच दल ने पाया कि पूरी घटना में दुर्गा पूजा समिति की भूमिका संदिग्ध रही है, जिसकी गतिविधियों की जांच होनी चाहिये। इसके अलावा जांच दल ने पीडि़त परिवारों के आर्थिक नुकसान का जायजा लेने के लिये एक विषेश कमेटी बनाने की मांग की जिसमें सामाजिक कार्यकर्ताओं को भी षामिल किया जाए। जांच दल में मैगसेसे पुरस्कार से सम्मानित संदीप पांडे, एडवोकेट मोहम्मद षुऐब, एसएम नसीम, इंडियन नेषनल लीग के राश्टीय अध्यक्ष मोहम्मद सुलेमान, सोषलिस्ट पार्टी के राश्टीय सचिव ओंकार सिंह, मुस्लिम मजलिस के जैद फारूकी, एसआईओ के आफताब आलम, युगल किषोर षरण षास्त्री, मो0 खालिक, षाह आलम, हाजी आफाक, मोहम्मद अनीस, अतहर षम्सी, बिसमिल्ला, दिनेष श्रीवास्तव, मंजर मेंहदी, गुफरान सिद्ीकी, आफाक, राजीव यादव इत्यादि षामिल थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

आजम खाँ ने फैजाबाद में हुये दंगे-फसाद की कड़े शब्दों में निन्दा की

Posted on 02 November 2012 by admin

उत्तर प्रदेश के नगर विकास व अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहम्मद आज़म खाँ ने सऊदी अरब से भेजे गये एक बयान में विगत दिनों फैजाबाद में हुये दंगे-फसाद की कड़े शब्दों में निन्दा की है। उन्होंने कहा कि इन घटनाओं के पीछे साम्प्रदायिक तत्वोें की घिनौनी साजि़श थी। प्रदेश की वर्तमान सरकार द्वारा अमन चैन व विकास का वातावरण बनाये रखने के जो सार्थक प्रयास किये जा रहे ये शरारती तत्व उन्हें नाकाम करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उनके इन कुत्सित प्रयासों को शासन व प्रशासन द्वारा किसी भी दशा में कामयाब नहीं होने दिया जायेगा। उन्होंने साम्प्रदायिकता भड़कने वाले लोगों को आगाह किया है कि वे अपने नापाक इरादों से बाज़ आयें अन्यथा उनके खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जायेगी।
श्री आज़म खाँ ने प्रदेश के लोगों से अपील की है कि वे इन शरारती तत्वों के बहकावे में न आयें और धैर्य से काम लेते हुये प्रदेश में अमन व चैन का माहौल बनाये रखें।
ज्ञातत्व है कि श्री आज़म खाँ इन दिनों हज के सिलसिले में सऊदी अरब गये हुये हैं और अभी भी वहीं है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

दोषी लोगों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करे एवं समाचारपत्र को समुचित क्षतिपूर्ति प्रदान करे

Posted on 01 November 2012 by admin

दशहरा पर्व के दिन मूर्ति विसर्जन जुलूस के दौरान फैजाबाद शहर में उपद्रवी  तत्वों द्वारा की गयी आगजनी से चैक स्थित मस्जिद में ही स्थापित ‘‘आप की ताकत’’ समाचारपत्र के दफ्तर को क्षतिग्रस्त कर उसका सामान लूट लिये जाने की घटना की जितनी निन्दा की जाय, वह कम है।
उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं फैजाबाद से सांसद डाॅ0 निर्मल खत्री ने आज यहां जारी बयान में कहा कि ‘‘आपकी ताकत’’ नामक समाचारपत्र के सम्पादक श्री मंजर मेंहदी हैं जो कि जनपद में धर्मनिरपेक्ष छवि के सम्मानित व्यक्ति हैं। समय-समय पर जनपद में श्री मेंहदी राष्ट्रीय पर्वों पर कौमी एकता से सम्बन्धित कार्यक्रम आयोजित कर फैजाबाद की गंगा-जमनी तहजीब की विरासत को आगे बढ़ाते रहे हैं। यह समाचारपत्र द्विभाषीय है और हिन्दी व उर्दू भाषा में एक साथ प्रकाशित होता है।
डाॅ0 खत्री ने कहा कि किसी समाचारपत्र अथवा मीडिया पर हमला मूलरूप में लोकतंत्र पर हमला है, जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। उन्होने मांग की है कि राज्य सरकार इस प्रकरण को गंभीरता से लेकर अविलम्ब दोषी लोगों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करे एवं समाचारपत्र को समुचित क्षतिपूर्ति प्रदान करे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

फैजाबाद दंगा पूर्वनियोजित था- रिहाई मंच

Posted on 30 October 2012 by admin

सपा सरकार दंगाइयों की सरकार- रिहाई मंच
फैजाबाद दंगे की जांच के लिए जांच दल पहुंचा फैजाबाद

rihai-manchफैजाबाद में हुए दंगों की जांच के लिए रिहाई मंच के एक जांच दल ने 28 अक्टूबर को फैजाबाद के कफर््यू ग्रस्त इलाकों का दौरा किया। जांच दल ने पाया कि दंगा पूर्वनियोजित था, जिसकी तस्दीक यह बात करती है कि बहुत कम समय में फैजाबाद के कई स्थानों पर टकराव, व तनाव का होना है। 21-22 सितंबर की रात देवकाली मंदिर की मूर्ती के चोरी होने और 23 अक्टूबर को उसके मिलने का प्रकरण और उस पर हुई सांप्रदयिक राजनीति इस दंगे की प्रमुख वजहों में से एक थी। हिन्दुत्वादी समूहों के अफवाह तंत्र ने आमजनमानस के भीतर इस बात को भड़काया कि देवकाली की प्रतिमा को मुसलमानों ने चोरी किया। केंद्रिय दुर्गा पूजा समिति फैजाबाद ने भी कहा था कि वो पूजा पांडालों पर विरोध स्वरुप पांडालों को कुछ घंटों तक दर्शन के लिए बंद रखा जाएगा। यहां गौरतलब है कि केंद्रिय दुर्गा पूजा समिति फैजाबाद के अध्यक्ष मनोज जायसवाल समाजवादी पार्टी के भी नेता हैं। पर ऐन वक्त 23 अक्टूबर को मूर्तियों के बरामद होने के बाद हिन्दुत्वादी शक्तियों के मंसूबे पस्त हुए। क्योंकि मूर्ति की चोरी में पकड़े गए लोग हिंदू निकले ऐसे में ऐन वक्त में पहले से प्रायोजित दंगों के लिए अफवाहों का बाजार गर्म करके जगह-जगह पथराव करके दंगे की शुरुआत की गई। पहले से तैयार भीड़ ने प्रायोजित तरीके से सैकड़ो साल पुरानी मस्जिद हसन रजा खां पर हमला बोला ओर उसके आस-पास की तकरीबन तीन दर्जन से ज्यादा दुकानों में लूटपाट व आगजनी की और पूरे फैजाबाद को दंगे की आग में झोक दिया।
पुलिस की निस्क्रियता का यह आलम रहा कि चैक इलाके की साकेत स्टेशनरी मार्ट को दंगे के दूसरे दिन 25 अक्टूबर को पुलिस की मौजूदगी में फूंका गया। बाद में जब दुकान के मालिक खलीक खां ने प्रशासन से एफआईआर दर्ज करने की मांग की तो यह कहकर पुलिस ने हिला हवाली की कि बिजली की शार्ट शर्किट की वजह से आग लगी।
जांच दल के आलोक अग्निहोत्री, राजीव यादव और सुब्रत गुप्ता ने कहा कि प्रथम दृष्ट्या प्रयोजित दंगों में अफवाह तंत्र के सक्रिय होने और फैजाबाद प्रशासन की निष्क्रियता के चलते दंगाइयों का मनोबल बढ़ा और कुछ घंटों में उन्होंने प्रायोजित तरीके से आगजनी और लूट-पाट की। जांच दल के सामने यह तथ्य आये, कि दंगे को दशहरा-ईद-दीपावली के ऐन वक्त कराने के पीछे दंगाइयों की यह मानसिकता भी सामने आई की ज्यादा से ज्यादा लूट और आगजनी करके मुस्लिम समुदाय को नुकसान पहुंचाना।
रिहाई मंच द्वारा फैजाबाद दंगों के तथ्य संकलन का काम जारी है। मंच ने प्रथम दृष्ट्या तथ्यों के आधार पर यह वक्तव्य जारी करते हुए देश के विभिन्न मानवाधिकार सामाजिक व राजनीतिक संगठनों से अपील की है कि वो फैजाबाद के उक्त घटनाक्रम का संज्ञान लेते हुए अपनी जनपक्षीय प्रतिबद्धताओं व सरोकारों के साथ साम्प्रदायिक ताकतों का प्रतिरोध करें।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

December 2017
M T W T F S S
« Nov    
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
-->









 Type in