*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | January, 2016

निजी पौधशाला स्वामियों को भी प्रदर्शनी में स्टाल लगाने तथा शोभागार पौधों की बिक्री हेतु आमंत्रित किया जाये: मुख्य सचिव

Posted on 28 January 2016 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री आलोक रंजन ने निर्देश दिये हैं कि आगामी 27 एवं 28 फरवरी को आयोजित होने वाले प्रादेशिक फल-शाकभाजी एवं पुष्प प्रदर्शनी में अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित कराने हेतु प्रदेश के लगभग 40 लाख से अधिक किसानों को एस0एम0एस0 के माध्यम से प्रदर्शनी के आयोजन की जानकारी दी जाये। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी में कृषि तकनीकी एवं नये प्रयोगों की जानकारी से सम्बन्धित स्टाल भी लगाये जायें। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी में विक्रय होने वाले बीज, पौधे के विक्रय मूल्य में प्रदर्शनी प्रवेश शुल्क 05 रुपये की छूट खरीदने वाले को अवश्य उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने कहा कि विगत वर्षों की भांति स्कूली छात्रों एवं बच्चों को प्रदर्शनी में निःशुल्क प्रवेश दिया जायेगा।
मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रादेशिक फल, शाकभाजी एवं पुष्प प्रदर्शनी 2016 के आयोजन हेतु तैयारी बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनी में विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले लगभग 1875 अवार्ड भी दिये जायेंगे, जिनमें से कुछ अवार्ड मा0 राज्यपाल, मुख्य सचिव, कृषि उत्पादन आयुक्त एवं प्रमुख सचिव उद्यान के कर-कमलों द्वारा प्रदान किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी स्थल पर इन्फार्मेशन ब्यूरो स्थापित कराकर निःशुल्क जनोपयोगी साहित्य का वितरण सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि निजी पौधशाला स्वामियों को भी प्रदर्शनी में स्टाल लगाने तथा शोभागार पौधों की बिक्री हेतु आमंत्रित किया जाये।
श्री रंजन ने यह भी निर्देश दिये कि छात्रों/बच्चों को प्रदर्शनी के प्रति आकर्षित करने के लिये विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को सूचित कर आमंत्रित भी किया जाये। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी स्थल पर स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था जल संस्थान तथा नगर निगम द्वारा अवश्य सुनिश्चित करायी जाये। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी स्थल की स्वच्छता के लिये कूड़ादान एवं पर्याप्त संख्या में अच्छी क्वालिटी के अस्थायी हाईजैनिक प्रसाधन (महिला एवं पुरुष) आदि की व्यवस्था भी नगर निगम लखनऊ तथा लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा सुनिश्चित करायी जाये।
बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त श्री प्रवीर कुमार, प्रमुख सचिव उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण श्रीमती निवेदिता शुक्ला वर्मा सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

प्रदेश में कानून व्यवस्था को और बेहतर बनाने हेतु जेलों में बंद कैदियों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखते हुये कैदियों की संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त कर्मियों एवं अधिकारियों को चिन्हित कर दण्डित किया जाये: मुख्य सचिव

Posted on 28 January 2016 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री आलोक रंजन ने कड़े निर्देश दिये हैं कि प्रदेश में कानून व्यवस्था को और बेहतर बनाने हेतु जेलों में बंद कैदियों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जाये। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जनपद के जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षकों को संयुक्त रूप से अभियान चलाकर उनके द्वारा प्रत्येक माह में कम से कम एक बार जेल का संयुक्त रूप से औचक निरीक्षण अवश्य किया जाये। उन्होंने कहा कि जेलों में बंद कैदियों द्वारा मोबाइल प्रयोग किये जाने की प्राप्त शिकायतों पर अंकुश लगाने हेतु प्रदेश के 10 संवेदनशील कारागारों - केन्द्रीय कारागार नैनी, जिला कारागार लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, मिर्जापुर, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, बरेली, सुल्तानपुर में जैमर आगामी एक माह के अन्दर अवश्य लगवा दिये जायें। उन्होंने कहा कि कारागारों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने हेतु प्रदेश के 23 कारागारों में सी0सी0टी0वी0 सर्विलांस इकाइयों की स्थापना का कार्य प्राथमिकता से सुनिश्चित कराया जाये। उन्होंने कहा कि जेल मैनुअल में दी गयी व्यवस्था के अनुसार दिये गये निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु कड़े कदम उठाये जायें। उन्होंने कहा कि जेल में बंद कैदियों को अपने परिवार से अथवा अपने अधिवक्ता से बात करने हेतु पी0सी0ओ0 लगवाये जाने की कार्यवाही प्राथमिकता से सुनिश्चित करायी जाये। उन्होंने कड़े निर्देश दिये कि जेल में बंद कैदियों के अवांछनीय कार्यों में मदद करने वाले कारागार कर्मियों एवं अधिकारियों को चिन्हित कर दण्डित किया जाये।
मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रमुख सचिव गृह श्री देवाशीष पण्डा, प्रमुख सचिव कारागार श्री आर0के0तिवारी, पुलिस महानिदेशक श्री जावीद अहमद, अपर पुलिस महानिदेशक कारागार श्री डी0एस0चैहान एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न जनपदों के कारागारों में बंद खूँखार अपराधियों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जाये। उन्होंने कहा कि कैदियों से मिलने वाले मुलाकातियों की विस्तृत जानकारी रखने हेतु डिजिटल पास की व्यवस्था कारागारों में सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि कारागारों में सिविल पुलिस के अतिरिक्त पी0ए0सी0 के जवान तैनात किये जायें, ताकि कैदियों को किसी भी प्रकार अवांछनीय सुविधा कतई बाहर से कारागारों में न जाने पाये।
श्री रंजन ने कहा कि बन्दियों के रिमाण्ड की कार्यवाही वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से कराने हेतु प्रदेश के 14 न्यायालयों एवं कारागारों-लखनऊ, वाराणसी, इलाहाबाद, मिर्जापुर, मेरठ, गाजियाबाद, कानपुर, बरेली, मुजफ्फरनगर, रामपुर, आगरा, फैजाबाद, सहारनपुर तथा प्रतापगढ़ में वीडियो कान्फ्रेन्सिंग सुविधा क्रियाशील हो जाने के उपरान्त अवशेष 06 जनपद न्यायालयों -अमेठी, अमरोहा, हापुड़, संभल, शामली, चन्दौली तथा 08 कारागारों-आदर्श कारागार लखनऊ, नारी बन्दी निकेतन लखनऊ, केन्दीय कारागार बरेली, वाराणसी, फतेहगढ़, आगरा, सोनभद्र, किशोर सदन बरेली में उपकरणों की स्थापना यथाशीघ्र कराया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि प्रदेश के 55 न्यायालयों एवं 46 कारागारों में वीडियो कान्फ्रेन्सिंग हेतु उपकरणों की आपूर्ति हो जाने के फलस्वरूप वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से रिमाण्ड की कार्यवाही का कार्य यथाशीघ्र प्रारम्भ कराया जाये। उन्होंने कहा कि जिन 08 न्यायालयों में कासगंज, बलिया, चन्दौली, अमेठी, हाथरस, संभल, शामली, रामपुर में भूमि उपलब्ध अभी तक नहीं हुई है, वहां यथाशीघ्र आवश्यक भूमि अथवा स्थान उपलब्ध कराकर वीडियो कान्फ्रेन्सिंग कक्ष का निर्माण कराया जाना प्राथमिकता से सुनिश्चित किया जाये।
मुख्य सचिव ने कहा कि जेल में बंद कैदियों के परिवार जनों को मिलने की सुगम व्यवस्था व्यवस्था सुनिश्चित कराने हेतु आॅनलाइन अनुरोध करने की व्यवस्था उपलब्ध करायी जाये, ताकि कैदियों के पारिवारिक सदस्य निर्धारित तिथि एवं समय पर जेल में जाकर कैदियों से सुगमता से भेंट कर सकें।
प्रमुख सचिव कारागार श्री आर0के0तिवारी ने बताया कि वीडियो कान्फ्रेन्सिंग कक्ष का निर्माण 31 जनवरी तक 07 न्यायालयों में, 29 फरवरी तक 10 जनपद न्यायालयांे में एवं 30 अप्रैल तक 14 जनपद न्यायालयों में कराये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय कारागार नैनी, जिला कारागार मिर्जापुर, वाराणसी, लखनऊ, कानपुर, मेरठ गाजि़याबाद, मुजफ्फरनगर, सुल्तानपुर में निर्मित वीडियो कान्फ्रेन्सिंग कक्ष क्रियाशील हो जाने के फलस्वरूप 05 कारागारों-रामपुर, आगरा, फैजाबाद, सहारनपुर, प्रतापगढ़ के वैकल्पिक कक्षों में वीडियो कान्फ्रेन्सिंग का कार्य प्रारम्भ करा दिया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 02 कारागारों में 31 जनवरी तक तथा 10 कारागारों में 29 फरवरी तक तथा 04 कारागारों में 29 अप्रैल तक वीडियो कान्फ्रेन्सिंग कक्ष का निर्माण कराये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

विश्व में अब तक 109 ए0आर0सी0डी0एम0 प्रोजेक्ट वैलिडेट हुये, जिनमें से 27 भारत के हैं तथा इनमें से 10 परियोजनाएं उत्तर प्रदेश की: आलोक रंजन

Posted on 28 January 2016 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री आलोक रंजन ने कहा है कि ग्रामवासियों को वनों के प्रबंधन में सहभागिता सुनिश्चित कराते हुये वनों पर आश्रित परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराने हेतु प्रदेश के 14 जनपदों-झांसी, ललितपुर, हमीरपुर, महोबा, चित्रकूट, इलाहाबाद, मिर्जापुर, सोनभद्र, लखीमपुर खीरी, बहराइच, बलरामपुर, श्रावस्ती, चन्दौली, पीलीभीत के 20 वन प्रभागों में घोषित 800 ग्राम वन गांवों में परियेाजना का क्रियान्वयन में और अधिक तेजी लायी जाये। उन्होंने कहा कि घोषित वन ग्रामों के 01 लाख 474 हेक्टेयर क्षेत्रफल में लक्षित 60 हजार 300 हेक्टेयर भूमि पर वृक्षारोपण के सापेक्ष 60 हजार 497 हेक्टयर भूमि पर वृक्षारोपण कराया जाना परियोजना की बेहतर उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि गठित ग्राम वन समिति अपने ग्राम के विकास हेतु माइक्रो-प्लान बनाकर उसका क्रियान्वयन प्राथमिकता से सुनिश्चित करने में विभाग को और अधिक सहयोग करने की आवश्यकता है।
मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में उत्तर प्रदेश सहभागी वन प्रबन्ध एवं निर्धनता उन्मूलन परियोजना की प्राधिकृत समिति की 13वीं बैठक कर विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। परियेाजना द्वारा विन्ध्य एवं बुन्देलखण्ड क्षेत्र के 110 वन ग्रामों में ए0आर0सी0डी0एम0 (।ििवतमेजंजपवद त्मवितमेजंजपवद ब्समंद क्मअमसवचउमदज डमबींदपेउ) परियोजना लागू की गई है, जिसके अन्तर्गत वृक्षारोपण के माध्यम से कार्बन क्रेडिट अर्जित किये जा सकते हैं तथा पूरे विश्व में विकसित देशों में प्रदूषण फैलाने वाले उद्योग इन ग्रामों में संरक्षित वृक्षारोपण से अर्जित कार्बन क्रेडिट क्रय कर सकते हंै। विश्व में अब तक 109 ए0आर0सी0डी0एम0 प्रोजेक्ट वैलिडेट हुये हैं जिनमें से 27 भारत के हैं तथा इनमें से 10 परियोजनाएं उत्तर प्रदेश की हैं।  इन 109 परियेाजनाओं में से 58 परियेाजनाएं न्छथ्ब्ब्ब् की वेबसाइट पर पंजीकृत हो चुके हैं जिनमें से 11 भारत के हैं तथा उत्तर प्रदेश की 02 परियेाजनाएं हैं। शेष 08 परियेाजनाएं आगामी माह तक पंजीकृत हो जायेंगी तथा नियमित अनुश्रवण के उपरान्त इन वन ग्रामों द्वारा अर्जित कार्बन क्रेडिट के माध्यम से संयुक्त वन प्रबन्ध समिति को अतिरिक्त आर्थिक लाभ प्राप्त होने की सम्भावना है। इस प्रकार ए0आर0सी0डी0एम0 परियोजना से अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर उत्तर प्रदेश को अलग पहचान मिली हैै।
श्री रंजन ने बताया कि जापान इन्टरनेशनल को-आपरेशन एजेन्सी (जायका) द्वारा वित्त पोषित दस वर्षीय यह परियोजना प्रदेश में वर्ष 2008 में प्रारम्भ करायी गयी थी, जिसमें जायका द्वारा ऋण के माध्यम से 468.00 करोड़ रूपये की धनराशि न्यूनतम ब्याज 0.55 प्रतिशत की दर पर उपलब्ध करायी गयी थी। उन्होंने बताया कि ग्राम स्तर पर संयुक्त वन प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष ग्रामवासियों द्वारा चुने प्रतिनिधि के अलावा 08 अन्य पदाधिकारी, सदस्य सचिव के अलावा सभी उस गांव के निवासी होते हैं। ग्राम प्रधान इस समिति का संरक्षक होता है।
बैठक में बताया गया कि परियेाजना में 2680 स्वयं सहायता समूह बने हैं जिन्हें आजीविका हेतु ऋण उपलब्ध कराया गया है। यह समूह उन्नत, कृषि, मुर्गी पालन, बकरी पालन, सब्जी उत्पादन, पडि़या पालन, वर्मी कम्पोस्ट आदि कार्य कर रहे हैं तथा अपने पैरों पर खड़े होने लगे हैं।
मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश ने परियोजना की प्रगति पर सन्तोष व्यक्त करते हुए प्रदेश में क्लाइमेट चेंज सैल बनाने हेतु निर्देशित किया तथा राज्य की क्लाइमेट चेंज कार्ययेाजना बनाने का सुझाव दिया, जिसमें कृषि, पंचायती राज, वन एवं अन्य विभागों को सम्मिलित करने पर बल दिया। प्राधिकृत समिति ने परियोजना हेतु वित्तीय वर्ष 2016-17 हेतु 35.27 करोड़ रुपये बजट पारित किया।
बैठक में प्रमुख सचिव वन एवं पर्यावरण श्री संजीव शरण, प्रमुख सचिव राजस्व श्री सुरेश चन्द्रा, प्रमुख वन संरक्षक श्री उमेन्द्र, प्रमुख वन संरक्षक एवं मुख्य परियेाजना निदेशक श्री श्रीकान्त उपाध्याय, पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, भारत सरकार के प्रतिनिधि श्री डी0पी0 सिन्हा एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

आकांक्षा समिति द्वारा गरीब बच्चों की शिक्षा हेतु संचालित बाल विद्या मन्दिर को लखनऊ शहर का सर्वश्रेष्ठ विद्यालय बनाया जायेगा: श्रीमती सुरभि रंजन

Posted on 28 January 2016 by admin

आकांक्षा समिति की प्रदेश अध्यक्षा एवं समाज सेविका श्रीमती सुरभि रंजन ने आकांक्षा समिति द्वारा गरीब बच्चों के लिये निःशुल्क शिक्षा दिलाने हेतु संचालित बाल विद्या मन्दिर में गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण करते हुये कहा कि आकांक्षा समिति गरीब बच्चों के कल्याण के लिये अनेक कल्याणकारी कार्यक्रमों का संचालन कर उन्हें प्रोत्साहित करने का कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि आकांक्षा समिति का प्रयास है कि गरीब बच्चों की शिक्षा हेतु संचालित बाल विद्या मन्दिर को लखनऊ शहर का सर्वश्रेष्ठ विद्यालय बनाया जाये। उन्होंने कहा कि संचालित विद्यालय में पढ़ने वाले छात्र गरीब परिवार के अवश्य हैं, परन्तु उनमें प्रतिभा की कोई कमी नहीं है।
श्रीमती सुरभि रंजन द्वारा बटलर पैलेस काॅलोनी में आकांक्षा समिति द्वारा संचालित बाल विद्या मन्दिर में 67वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वजारोहण किया गया। उन्होंने कहा कि विद्यालय में अध्ययनरत गरीब बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलाने हेतु हर संभव प्रयास कर पुस्तकें, लेखन सामग्री एवं बैठने हेतु उत्तम कोटि के फर्नीचर आदि की सुविधा भी उपलब्ध करायी गयी है।
श्रीमती सुरभि रंजन ने विद्यालय में अध्ययनरत छात्रों द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में श्रेष्ठता क्रम में स्थान प्राप्त करने वाले 15 छात्रों को सम्मानित कर उपहार भी भेंट किये। उन्होंने कहा कि अध्ययनरत छोटे बच्चांे के मनोरंजन के लिये यथाशीघ्र मैजिक शो, कठपुतली आदि के कार्यक्रम भी आयोजित कराये जायें। उल्लेखनीय है कि आकांक्षा समिति द्वारा संचालित बाल विद्या मन्दिर में अतिनिर्धन परिवार के बच्चे ही अध्ययन कर रहे हैं।
कार्यक्रम में श्रीमती प्रीति शेखर सहित अन्य संभ्रांत महिलाओं ने भी भाग लिया तथा गणतन्त्र दिवस के महत्व के विषय में विद्यार्थियों को जानकारी दी गई एवं उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

लखीमपुर खीरी के थारू जनजाति के बालक एवं बालिकाओं के द्वारा निर्मित उत्पादों की बिक्री महोत्सव में कराकर होने वाली आय को थारू जनजाति के कल्याण हेतु उपयोग किया जाये: श्रीमती सुरभि रंजन

Posted on 28 January 2016 by admin

आकांक्षा समिति की प्रदेश अध्यक्षा एवं समाज सेविका श्रीमती सुरभि रंजन ने कहा कि लखीमपुर खीरी के थारू जनजाति के बालक एवं बालिकाओं के द्वारा निर्मित उत्पादकों की बिक्री महोत्सव में कराकर होने वाली आय को थारू जनजाति के कल्याण हेतु उपयोग किया जाये। उन्होंने कहा कि थारू जनजाति के बच्चों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, आवश्यकता उन्हें बेहतर मार्गदर्शन की है। उन्होंने कहा कि थारू जनजाति के बच्चे विभिन्न उत्पादकों का निर्माण ही नहीं करते बल्कि संगीत में भी बढ़चढ़कर हिस्सा लेते हैं।
श्रीमती सुरभि रंजन आज मुख्य सचिव आवास में थारू जनजाति के उत्थान हेतु निर्मित वेबसाइट का शुभारम्भ करने के उपरान्त अपने विचार व्यक्त कर रहीं थीं। उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री की ओर से थारू जनजाति के बच्चों को गणतंत्र की झांकी में भाग लेने हेतु उन्हें धनराशि देकर भी सम्मानित किया।
इस अवसर पर थारू जनजाति के बच्चों ने संगीत एवं नृत्य प्रस्तुत कर अपनी बेहतर प्रतिभा का प्रदर्शन भी किया।
कार्यक्रम में मण्डलायुक्त, लखनऊ मण्डल की पत्नी श्रीमती संगीता गुप्ता, जिलाधिकारी लखीमपुर खीरी श्रीमती किंजल सिंह सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

पूरे उत्साह एवं गरिमा के साथ मनाया गया गणतंत्र दिवस आकर्षक परेड, सांस्कृतिक कार्यक्रमों तथा झांकियों का प्रस्तुतिकरण

Posted on 28 January 2016 by admin

press-1

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मंगलवार को 67वां गणतंत्र दिवस पूरे उत्साह एवं गरिमा के साथ मनाया गया। मुख्य कार्यक्रम विधान भवन के सामने आयोजित हुआ, जहां राज्यपाल श्री राम नाईक ने परेड की सलामी ली। इसके पहले मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने राज्यपाल का स्वागत किया और उन्हें गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी।
गणतंत्र दिवस समारोह में आकर्षक परेड, रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों तथा विभिन्न संस्थाओं द्वारा प्रस्तुत विकास कार्यों की आकर्षक झांकियों ने दर्शकों का मन मोह लिया। परेड का नेतृत्व कर्नल गगन आनन्द ने किया। परेड के मौके पर टी 72 एम.आई. टैंक-‘अजय’, टी 72 टैंक, पानी में तैरने वाला बी.एम.पी. युद्ध वाहन, ए.टी.जी.एम. मिसाइल, 7.62 एम.एम. मीडियम मशीन गन, माइन प्रोटैक्टिव व्हीकल तथा इलेक्ट्राॅनिक काउण्टर मेजर जामर भी प्रदर्शित किए गए।
परेड में 76 अमर्ड रेजीमेण्ट, 13 मेकेनाइज्ड इन्फैण्ट्री (18 राजपूत), 13 ग्रेनेडियर रेजीमेंट, 261 काउण्टर एक्सप्लोसिव डिवाइस यूनिट, 08 कुमाऊ रेजीमेंट, 16 आसाम रेजीमेंट, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (पुरुष टुकड़ी), भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल (पुरुष टुकड़ी), सशस्त्र सीमा बल महिला टुकड़ी, उ0प्र0 पुलिस, पी.ए.सी. 32 बटालियन (पुरुष टुकड़ी), होमगार्ड पुरुष टुकड़ी द्वारा आकर्षक मार्च पास्ट प्रस्तुत किया गया। गणतंत्र दिवस की परेड में ए.एम.सी. सेण्टर एवं 39 जी.टी.सी., वाराणसी, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल, सशस्त्र सीमा बल, पी.ए.सी. 35 बटालियन, होमगाड्र्स, बंगाल इंजीनियरिंग गुु्रप, डोगरा रेजीमेंट तथा सैनिक स्कूल के बैण्ड भी शामिल हुए।
मार्च पास्ट में एन.सी.सी. के बालक एवं बालिकाएं, उ0प्र0 सैनिक स्कूल तथा ब्वायज ऐंग्लो बंगाली इण्टर काॅलेज के बालक, सेन्ट जोजफ इण्टर काॅलेज, सिटी माॅन्टेसरी स्कूल एवं लखनऊ पब्लिक स्कूल की बालिका टीमें भी शामिल हुईं। परेड में सैनिक स्कूल, सिटी माॅन्टेसरी स्कूल, गोमतीनगर प्रथम तथा कानपुर रोड के बैण्ड भी शामिल हुए। इसके अलावा उ0प्र0 पुलिस के घुड़सवार दल, श्वान दल, फायर सर्विस, मेरी वेदर लंदन तथा मोटर फायर इंजन एवं हाइड्रोलिक प्लेटफाॅर्म ने भी परेड में हिस्सा लिया।
इस अवसर पर विभिन्न विद्यालयों के बच्चों द्वारा देशभक्ति, राष्ट्रीय एकता, कानून व्यवस्था तथा पर्यावरण पर आधारित आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए। ब्वायज ऐंग्लो बंगाली इन्टर काॅलेज के बच्चों द्वारा मां तुझे सलाम नृत्य तथा लखनऊ पब्लिक काॅलेज, सहारा स्टेट के छात्रों द्वारा हरियाणवी नृत्य प्रस्तुत किया गया। सिटी माॅन्टेसरी स्कूल, राजेन्द्र नगर प्रथम कैम्पस के बच्चों द्वारा तिरंगे की शान तथा लखनऊ पब्लिक स्कूल, गोमतीनगर के बच्चों द्वारा वन्दे मात्रम ड्रिल प्रस्तुत की गयी।
रामेश्वरम इन्टरनेशनल एकेडमी, सीतापुर रोड के छात्र-छात्राओं द्वारा कुमांऊनी पहाड़ी नृत्य एवं इरम इण्टर काॅलेज, इन्दिरानगर के छात्र-छात्राओं के शान्ति का प्रतीक भारत नृत्य ने दर्शकों का मन मोह लिया। सिटी माॅन्टेसरी स्कूल, महानगर तृतीय कैम्पस के बच्चों द्वारा पाॅलीथिन हटाओ-पर्यावरण बचाओ ड्रिल एवं बाल विद्या मंदिर सीनियर सेकेण्ड्री स्कूल, चारबाग की छात्र-छात्राओं द्वारा बृज की होली प्रस्तुत की गई। जबकि सिटी माॅन्टेसरी स्कूल, गोमतीनगर द्वितीय कैम्पस के बच्चों ने डायल नं0-100 की उपयोगिता और इसके लाभ के सम्बन्ध में आकर्षक नृत्य प्रस्तुत किया।
गणतंत्र दिवस की परेड में विभिन्न विभागों, संस्थाओं एवं विद्यालयों के साथ ही, थारू जनजाति के कल्याण पर आधारित ‘थारू-द राइजि़ंग’ विषयक आकर्षक एवं जानकारीपरक झांकियां प्रस्तुत की गईं। प्रदेश के सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा ‘पूरे हुए वादे-अब हैं नये इरादे’ झांकी में मेट्रो रेल, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, ‘1090’ विमेन पावर लाइन एवं जनेश्वर मिश्र पार्क आदि महत्वपूर्ण बुनियादी परियोजनाओं एवं कार्यक्रमों को आकर्षक ढंग से दर्शाया गया। इसी प्रकार वन विभाग की झांकी ‘वृक्ष का निवेदन’, उ0प्र0 राजकीय निर्माण निगम की झांकी ‘हमारा संकल्प गुणवत्ता, मितव्ययिता एवं समयबद्धता, देश के निर्माण एवं प्रगति के लिए निरन्तर अग्रसर’, हिन्दुस्तान एरोनाॅटिक्स लिमिटेड की झांकी ‘राष्ट्र की हवाई रक्षा में सदैव तत्पर, एच.ए.एल. है सबसे बेहतरीन-सबसे बढ़कर’, अमीनाबाद इन्टर काॅलेज की झांकी ‘लखनऊ कल, आज और कल’, पर्यटन विभाग की झांकी ‘पर्यटन के बढ़ते कदम’, लखनऊ विकास प्राधिकरण की झांकी ‘लखनऊ शहर के सर्वांगीण विकास हेतु कटिबद्ध’ ने उपस्थित लोगों का मन मोह लिया।
कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग द्वारा प्रस्तुत ‘नई दिशाएं-सफल प्रयास सफर बदलाव का’, उत्तर प्रदेश सिंधी अकादमी द्वारा ‘सिंधु घाटी की सभ्यता, संस्कृति एवं विकास’ मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा ‘सम्पूर्ण और गुणवत्तापरक सहभागिता’, इरम एजुकेशनल सोसाइटी द्वारा ‘लखनऊ का तमसिली मुशायरा की झांकी’, सिटी माॅन्टेसरी स्कूल द्वारा ‘परमपिता के पुत्र सभी हैं आपस में सब भाई, घुलमिल जाओ प्रेम से प्यारे, एक कुटुम्ब की नांई’, लखनऊ मेट्रो द्वारा ‘एक सपना जो साकार हो रहा है’, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा ‘विकास के बढ़ते चरण’, समाज कल्याण विभाग द्वारा ‘समाजवादी पेंशन योजना लायी सरकार, अब सबको मिला सहायता का अधिकार’ विषयक झांकियां प्रस्तुत की गईं।
उत्तर प्रदेश सहकारी चीनी मिल संघ द्वारा ‘प्रगति के नये आयाम’, उत्तर प्रदेश पावर काॅर्पोरेशन द्वारा ‘तमसो मा ज्योतिर्गमय’, यूपीनेडा द्वारा ‘अक्षय ऊर्जा से प्रदेश विकास गांव-गांव बिजली घर-घर प्रकाश’ तथा लखनऊ पब्लिक स्कूल एण्ड काॅलेजेज़ द्वारा ‘अ ट्रिब्यूट टू द मिसाइल मैन डाॅ0 कलाम’ झांकी को भी लोगों ने सराहा।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ पत्रकार एवं साहित्यकार श्री आबिद सुहेल के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया

Posted on 28 January 2016 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने वरिष्ठ पत्रकार एवं साहित्यकार श्री आबिद सुहेल के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है।
मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त की है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने आई0पी0एस0 अधिकारी सुश्री अपर्णा कुमार द्वारा अण्टार्कटिका महाद्वीप की सबसे ऊँची पर्वत चोटी माउण्ट विन्सेन्ट मैसिफ का सफलतापूर्वक पर्वतारोहण किए जाने पर उन्हें बधाई दी

Posted on 28 January 2016 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आई0पी0एस0 अधिकारी सुश्री अपर्णा कुमार द्वारा अण्टार्कटिका महाद्वीप की सबसे ऊँची पर्वत चोटी माउण्ट विन्सेन्ट मैसिफ का सफलतापूर्वक पर्वतारोहण किए जाने पर उन्हें बधाई दी है। उन्होंने कहा है कि इस उपलब्धि से सुश्री अपर्णा कुमार ने देश और प्रदेश का गौरव बढ़ाया है।
ज्ञातव्य है कि उत्तर प्रदेश कैडर की वर्ष 2002 बैच की भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी सुश्री अपर्णा कुमार ने 17,000 फीट ऊँची माउण्ट विन्सेन्ट मैसिफ पर्वत चोटी पर विगत 17 जनवरी को भारतीय समय के अनुसार अपराह्न 02 बजे फतह हासिल की। उन्होंने पर्वत शिखर पर भारतीय तिरंगे के साथ-साथ उत्तर प्रदेश पुलिस के ध्वज को भी फहराया। यह उपलब्धि हासिल करने वाली वे किसी भी अखिल भारतीय सेवा की पहली अधिकारी हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

राज्य सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है: मुख्यमंत्री

Posted on 28 January 2016 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कहा है कि राज्य सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। इसी का नतीजा है कि यहां के खिलाड़ी देश व विदेश में राज्य का नाम रौशन कर रहे हैं। राज्य सरकार खिलाडि़यों को प्रोत्साहित करने के लिए, उन्हें सम्मानित करने के साथ-साथ पेंशन व नौकरियों में अधिक मौके उपलब्ध करा रही है।
मुख्यमंत्री मंगलवार को के0डी0 सिंह बाबू स्टेडियम पर सुपर स्पोट्र्स सोसाइटी द्वारा आयोजित सुपर स्पोट्र्स कप-2016 अखिल भारतीय फुटबाॅल टूर्नामेन्ट के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने सनराइज फुटबाॅल क्लब बनाम एअर इण्डिया फुटबाॅल क्लब के बीच हुए सेमी फाइनल मैच के खिलाडि़यों से परिचय प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि फुटबाॅल खेलने के लिए बेहतरीन क्षमता, दक्षता, ताकत, गति, दमखम एवं फिटनेस का होना बेहद जरूरी है। यह एक ऐसा खेल है, जिसमें अच्छे संचालन और ताल-मेल की जरूरत होती है। फुटबाॅल दुनिया में सबसे ज्यादा खेला जाने वाला खेल है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सुपर स्पोट्र्स सोसाइटी की वेबसाइट ेनचमतेचवतजेेवबपमजलण्वतह को लाॅन्च किया।
श्री यादव ने कहा कि खेलों के माध्यम से हमें भाईचारे का संदेश मिलता है और स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की भावना भी विकसित होती है। खेलों द्वारा हम आपस में संवाद स्थापित कर सकते हैं और इस तरह यह समाज में जोड़ने का काम भी करते हैं। राज्य सरकार द्वारा मेजर ध्यानचन्द स्टेडियम में डे-नाईट मैचों के लिए नई एस्ट्रोटर्फ का निर्माण कराया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के फुटबाॅल खिलाडि़यों में प्रतिभा की कमी नहीं है और वे भविष्य में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।
मैच के पूर्व, मुख्यमंत्री ने पत्रकार श्री संतोष सूरी, श्री अनुराग बाजपेई, अन्तर्राष्ट्रीय फुटबाॅल खिलाड़ी श्री मुश्ताक अली व फुटबाॅलर श्री वी0के0 सिंह, अन्तर्राष्ट्रीय एथेलीट सुश्री सुधा सिंह को शाॅल भेंट कर सम्मानित किया। सुपर स्पोट्र्स सोसाइटी के उपाध्यक्ष श्री नागेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री को पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री को स्मृति चिन्ह् भेंट कर भी सम्मानित किया गया।
गौरतलब है कि इस टूर्नामेण्ट में देश की विभिन्न हिस्सों से आई 09 टीमों ने भाग ले रही हैं। इन टीमों में सनराइज़ फुटबाॅल क्लब लखनऊ, डी0एफ0ए0 वाराणसी, जम्मू एण्ड कश्मीर, डेक्कन रोवर्स पुणे, आसाम रेजीमेण्ट शिलाँग, एअर इण्डिया, एम0पी0-11, एस0ए0टी0एफ0सी0 केरला तथा सेल बोकारो शामिल हैं।
इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चैधरी, खेल निदेशक श्री आर0पी0 सिंह, सुपर स्पोट्र्स सोसाइटी के पदाधिकारीगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी तथा बड़ी संख्या में खेल प्रेमी मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने गणतंत्र दिवस पर ध्वजारोहण किया

Posted on 28 January 2016 by admin

untitled-3

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को गणतंत्र दिवस के अवसर पर अपने सरकारी आवास पर ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर उन्होंने मातृभूमि के लिए प्राण न्यौछावर करने वाले अमर शहीदों तथा देशभक्तों को नमन किया। उन्होंने कहा कि यह अवसर हमें आत्म विश्लेषण करते हुए समाज के सभी वर्गों के उत्थान के लिए कार्य करने की प्रेरणा प्रदान करता है।
इस अवसर पर राजनैतिक पेंशन मंत्री श्री राजेन्द्र चैधरी एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments Off

Advertise Here

Advertise Here

 

January 2016
M T W T F S S
« Dec   Feb »
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
-->







 Type in