*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | महाकुंभ

मेले में जलभराव एवं दुर्गन्ध से कल्पवासी परेशान

Posted on 19 February 2013 by admin

इलाहाबाद 18 फरवरी

कुम्भ मेला क्षेत्र में अब भी कल्पवासी एवं श्रद्वालु संत महात्मा जलभराव, दुर्गन्ध और गन्दगी के ढेर से उठ रही दुर्गन्ध से श्रद्वालुओं का हाल बेहाल हो उठे है। जिम्मेदार पदों पर बैठे विभागीय अधिकारी महज बयानबाजी कर रहे है और मेला में हर तरफ दुव्र्यवस्था हावी है। कुम्भ नगरी में गत दिनों लगातार दो दिनों से हुई बरसात के बाद मेला क्षेत्र में हर तरफ गन्दगी ही गन्दगी का अम्बार देखने को मिल रहा है। जलभराव के चलते तम्बु मे रहने वाले श्रद्वालुओं के लिए आसान नही है। सडकों पर फैले कीचड और तम्बुओं के आसपास गडडों में भरे पानी में वाहन फंस जा रही है हर तरफ जैसे त्रिवेणी मार्ग काली सडक मोरी सडक हरिश्चद्र मार्ग नागबासु की मार्ग तुलसी मार्ग संगम लोवर मार्ग सहित मेला की अधिकांश सडकें बरसात में बह गयी है बडे बडे गडडे हो गया है। जो दुर्घटना को निमंत्रण दे रहे है। उबड खाबड सडकों को दुरूस्त करते करते मेला सम्पन्न हो जायेगा। बरसात ने अधिकारियों के दावों और इंतजामों के दावे की पोल खोल कर रख दी है। जल निकासी का इंतजाम न होने से अभी भी लोग मेला क्षेत्र मे गंदगी एवं जलभराव के बीच रहने के लिए विवश हुए जलभराव और सफाई का इंतजाम न होने से तम्बुओं में रहने वाले श्रद्वालुओं के लिए अत्यन्त परेशानी हो रही है। कई स्थानों पर बने मूत्रालय और शौचालयों आदि की सफाई न होने तथा गडडों में कई दिनों से भरे पानी से उठ रही दुर्गन्ध से लोगों का राह चलना दूभर हो गया है। जिसमें मेला क्षेत्र में हर तरफ दुव्र्यवस्था देखने को मिल रही है मेले में जलनिकासी और सफाई के पर्याप्त इंतजाम नही है। और यदि समय रहते अधिकारी न चेते तो मेला क्षेत्र में महामारी फैलने की आशंका है।
मेले में बारिश की बूंदों को अमृत मानकर है कल्पवासी  कुम्भ नगरी में आज भी संगम नगरी में बंसत पंचमी के स्नान के बाद हुई बारिश के बाद जहां मेला क्षेत्र में आये श्रद्वालु एवं कल्पवासी दुव्र्यवस्थाओं से आजिज आकर मेला छोडने का फैसला किया वही पर कल्पवास को आये अधिकांश बुजुर्ग बरसात की बूंदों को अमृत मानते हुए अपने व्रत को आगे बढा रहे है। कुम्भ नगरी में तम्बुओं की नगरी में बरसात और हवा के तेज झोंको से बडी संख्या में तम्बु गिर गये थे। हर तरफ जल भराव की स्थिति बन गयी मेला में दुव्र्यवस्थाओं के बाद भी कल्पवासियों की आस्था कम नही हुई तथा पूरी श्रद्वा के साथ कल्पवासी भगवत भजन में जुटे हुए है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री जावेद उस्मानी 6 नवम्बर, 2012 को इलाहाबाद में प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री राकेश गर्ग के साथ कुम्भ मेला कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करते हुए

Posted on 07 November 2012 by admin

0508

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

April 2017
M T W T F S S
« Mar    
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
-->




 Type in