*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | लखनऊ.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से 24 सितम्बर, 2017 को उनके सरकारी आवास पर केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान ने भेंट की।

Posted on 24 September 2017 by admin

01-16

Comments (0)

प्रधानमंत्री जी ने मन की बात में खादी, स्वच्छता, पर्यटन, महापुरूषों को स्मरण करने तथा रन फाॅर युनिटी की चर्चा की

Posted on 24 September 2017 by admin

23लखनऊ 24 सितम्बर 2017, आज प्रधानमंत्री जी ने मन की बात कार्यक्रम में मन की बात के 3 वर्ष पूरे हुए यह 36वे एपीसोड है। उन्होंने कहा कि करोडों लोंगो ने अपने मन की बात हमंे भेजी है। जन के मन की बात भारत की सबसे बडी सकारात्मक शक्ति है। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि लोग अपनी अनेक इच्छाए-अपेक्षाए शिकायतें हमें भेजतें है। यह देशवासियों के मन की बात है। देश के हर कोने से आने वाले सुझाव हमें प्रेरित करनी वाली है। मन की बात की यात्रा मन देश वासियों के मन की बात को जानने का प्रयास है इससे नई चेतना और नई उर्जा मिलती है। उन्होने भोजन बर्बाद न करने की अपील के बाद आए सैकेड़ों पत्र ेमसपि ूपजी कंनहीजमत में हरियाणा किसान द्वारा भेजी गई सेल्फी, स्वच्छता अभियान के लिए महाराष्ट्र के एक अध्यापक जो 16 हजार पंेशन पाते है वे पांच हजार-पांच हजार के 51 चेक स्वच्छता अभियान को समर्पित किया । 75 हजार से अधिक लोग चार ही दिन में स्वच्छता अभियान के साथ जुडे चाहे व बच्चे किसान, मजदूर, अफसर सिनेमा जगत के लोग, कलाकार हो सभी न अभियान को आगे बढाने का कार्य किया । उन्होंने कहा कि स्वच्छता को स्वभाव बनाने के लिए एक बैचारिक अन्दोलन की अवश्यकता है और हमें प्रसन्नता है कि हजारों बच्चों ने स्वच्छता प्रतियोगिता में भाग लिया, यह स्वच्छ भारत के लिए शुभ संकेत है।
प्रधानमंत्री जी ने मन की बात में खादी स्वच्छता, पर्यटन, तथा महापुरूषों के स्मरण से दिशा मिलने जैसे बिन्दुओं पर मन को स्पर्श करने वाली बाते कही। उन्होने खादी के उपयोग को लेकर आमजन से लेकर कार्पोरट तक खादी के उपयोग की बढती प्रवृत्ति को उत्साह वर्धक बताते हुए कहा कि इससे लाखों लोगों को रोजगार प्राप्त होता है उन्होने वाराणसी के शिवपुर तथा कश्मीर के पम्पोर में 15-22 वर्षो से बन्द बडे खादी संस्थान को पुनः प्रारम्भ किए जान को भी सराहा। 2 अक्टूबर को महात्मागांधी जयन्ती तक स्वच्छता अभियान को लेकर आदरणीय राष्ट्रपति जी को आभार व्यक्त किया। जिन्होने कानपुर में अपने गांव से इस अभियान को प्रारम्भ किया तथा देश के युवा, बच्चों, बुजुर्गो, महिलाओं सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। स्वच्छ भारत श्रेण्ठ भारत के र्निमाण के लिए सभी के प्रयत्न को सराहा तथा कहा कि स्वच्छता के लिए लिया गया संकल्प सिद्धि की तरफ तेजी से अग्रसर है। स्वच्छ भारत के र्निमाण के लिए वैचारिक क्रान्ति की आवश्यकता बताई तथा हजारों बच्चों द्वारा स्वच्छता के लेकर प्रतिस्पर्धा में भाग लेने जिसमें अनेक पेंन्टिग तथा चित्र बनाए प्रेरित करने वाली है।
उन्होने कहा कि विविधता में एकता भारत की विशेषता यह महज नारा नही है। उन्होने कहा कि महात्मागांधी, स्वामी विवेकानन्द, लोकमान्य तिलक, एपीजे अब्दुल कलाम, जैसे अनेक महापुरूषों ने भारत को व्यापक भ्रमण किया। देश के पर्यटन स्थल एक बड़ी पाठशाला है। भारत की विविधता को जानने समझने व सीखनें के लिए देश के विभिन्न भागों में भ्रमण कर हम बहुत कुछ सीख सकते सकते है। उन्होने कहा कि अक्टूबर से मार्च तक लोगों के लिए घूमने का अवसर होता है। हम प्रायः विदेशो के चकाचैध से प्रभावित होकर बाहर के देशों में भ्रमण के लिए जाते है लेकिन यदि आप अपने देश के पयर्टन स्थलों का भ्रमण करेगे तो बहुत कुछ जानने और समाज के सीखने का अवसर प्राप्त होगा।
प्रधानमंत्री जी ने 25 सितम्बर को पं0 दीनदयाल उपाध्याय, 2 अक्टूबर को महात्मागांधी तथा लाल बहादुर शास्त्री , 11 अक्टूबर को जय प्रकाश नारायन व नाना जी देशमुख तथा 31 अक्टूबर को सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्मदिन के अवसर को स्मरण करने जिनका जीवन केवल राष्ट्र को सर्मपित था और जिन्होने राष्ट्र के लिए अनेक कष्ट सहेकी चर्चा की तथा कहा कि । ऐसे महापुरूषों के आदर्शो पर चलने की प्रेरणा लेने का अवसर है। उन्होने कहा महात्मागांधी पं0 दीनदयाल उपाध्याय, जयप्रकाश नारायन तथा नाना जी देशमुख जैसे महापुरूषों ने सत्ता से अपने को दूर रखकर इस राष्ट्र को बहुत ही सकारात्मक दिशा देने का कार्य किया इनके स्मरण से हमें आगे की दिशा मिलती है। उन्होंने सरदार बलल्भ भाई पटेल के जन्मदिन पर ‘‘रन फाॅर युनिटी‘‘ की भी चर्चा अपने मन के बात कार्यक्रम में की।

Comments (0)

सपा का सम्मेलन दिशाहीन एवं प्रेरणाहीन - डाॅ0 मनोज मिश्र

Posted on 24 September 2017 by admin

भारतीय जनता पार्टी ने सपा के एक दिवसीय प्रान्तीय सम्मेलन को दिशाहीन एवं प्रेरणाहीन बताया। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 मनोज मिश्र ने सपा के प्रान्तीय सम्मेलन को पूरी तरह से फ्लाप बताया। सपा के सम्मेलन में पराजय की हताशा साफ झलक रही थी।
प्रवक्ता डाॅ मिश्र ने कहा कि अपने संगठन एवं एकता में बिखराव की सपा शिकार रही। सपा पूरी तरह से भ्रमित एवं टकराव की जीती जागती राजनैतिक पार्टी है बल्कि यह एक राजनीतिक दल के बजाय राजनैतिक कुनवे के भ्रम का आभास दिला रही थी तथा समाजवाद से दूर-दूर तक वास्ता नही रखा।
डाॅ0 मिश्र ने कहा कि सपा ने पांच साल के कृत्यों की जनता से माफी नहीं मांगी। यदि सपा अपने कुकृत्यों की जनता से माफी मांग लेती तो शायद जनता माफ कर देती। अब सपा केवल भाजपा का विरोध कर अपने सारे पाप छुपा लेना चाहती है। भाजपा की केन्द्र और प्रदेश की सफल सरकारों की प्रान्तीय सम्मेलन में चर्चा यह सिद्ध करती है कि सपा पर भाजपा की लोकप्रियता का डर सिर चढकर बोल रहा है।
डाॅ0 मिश्र ने कहा कि अच्छा होता यदि इस सम्मेलन में सपा सरकार श्वेत पत्र में आई गलतियांे की चर्चा होती और सपा नेतृत्व तथा सपा सरकार में उत्तर प्रदेश की जनता के साथ हुए अन्याय को स्वीकार करता संगठन की चर्चा होती तथा भविष्य का रोड मैप तैयार होता। केवल भाजपा के विरोध से सपा की दाल नही गलेगी। सपा को अपने गिरेवान में झांकना पडेगा।

Comments (0)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस व कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने 309 नए एलजीपी डिस्ट्रिब्यूटरों को लेटर आॅफ इंटेंट (आशय पत्र) प्रदान किए

Posted on 24 September 2017 by admin

लखनऊ, 23 सितंबर 2017
press-421पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा आज लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में नए एलपीजी डिस्ट्रिब्यूटरों को 309 लेटर आॅफ इंटेंट (एलओआई) प्रदान किए गए। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ और भारत सरकार के केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस व कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने अपनी उपस्थिति से अवसर की गरिमा बढ़ाते हुए डायस से 10 नए एलपीजी डिस्ट्रिब्यूटरों को लेटर आॅफ इंटेंट प्रदान किए। इस अवसर पर प्रो. रीता बहुगुणा जोशी, माननीय महिला कल्याण, परिवार कल्याण, मातृत्व एवं बाल कल्याण एवं पर्यटन मंत्री (उत्तर प्रदेश सरकार), श्री आशुतोष टंडन, माननीय बुनियादी शिक्षा और चिकित्सा शिक्षा मंत्री, उत्तर प्रदेश सरकार, श्रीमती स्वाति सिंह, माननीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)ए एनआरआईए बाढ़ नियंत्रणए कृषि निर्यातए कृषि विपणनए कृषि विदेश व्यापार तथा राज्य मंत्रीए महिला कल्याण, परिवार कल्याणए मातृत्व एवं बाल कल्याण (उत्तर प्रदेश सरकार); श्री नीरज बोहरा, एमएलए, उत्तर प्रदेश विधानसभा तथा पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय, यूपी सरकार और ओएमसी के कई वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

समारोह में तेल विपणन कम्पनियों द्वारा 309 नए एलपीजी डिस्ट्रिब्यूटरों को आशय पत्र ;एलओआईद्ध प्रदान किए गए। इन वितरकों को पारदर्शी मेरिट आधारित प्रणाली द्वारा चुना गया है। एससी/एसटी उम्मीदवारों को काॅर्पस फंड स्कीम के तहत आसान इंस्टाॅलमेंट शेड्यूल के साथ बैंक लोन, मार्जिन मनी, वर्किंग कैपिटल लोन उपलब्ध कराकर वित्तीय सहायता देने का प्रावधान भी है। इससे उत्तर प्रदेश में सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण और युवाओं के लिए रोजगार सृजन के नए युग का आरंभ होगा। इस अवसर पर तेल विपणन कम्पनियों के उत्तर भारत के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले जिला नोडल अधिकारियों (डीएनओ) को गणमान्य लोगों ने सम्मानित भी किया। उन्हें पूरे भारत में रसोईघर को धुंआं मुक्त करने के प्रधानमंत्री के सपनों को सच करने में संलग्न सभी भागीदारों के सहयोग से प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को तेजी से लागू करने में असाधारण योगदान देने के लिए सम्मानित किया गया।

सभा को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत के माननीय प्रधान मंत्री के दूरदर्शी नेतृत्व के अंतर्गत पीएमयूवाई वंचितों के सामाजिक आर्थिक उत्थान की दिशा में एक प्रमुख योगदानकर्ता बन गया है। पीएमयूवाई के बाद लोगों के जीवन में परिवर्तन स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहे हैं। मुख्यमंत्री ने भारत सरकार की पीएमयूवाईए पहल जैसी कल्याणकारी योजनाओं के सफल क्रियान्वयन तथा जमीनी स्तर तक पहुँचाने के प्रयासों के लिए सभी ओएमसी अधिकारियों की तारीफ की द्य उन्होंने यह भी कहा कि एलपीजी के साथ साथ उत्तर प्रदेश के विभिन्न शहरों में नए जैवईंधन प्लांटों की स्थापना करते हुए जैवईंधन के उत्पादन तथा सूखे अपशिष्ट प्रबंधन कार्यक्रम को बढ़ावा देने हेतु प्रयास किए जाने चाहिए द्य उन्होंने अपनी इच्छा व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के सभी प्रमुख शहरों में पीएनजी परियोजनाओं को कार्यान्वित करने को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस तरह की पहल से पेट्रोलियम उत्पादों के आयात का बोझ कम हो सकेगाए साथ ही पर्यावरण को साफ़ सुथरा रखने में भी मदद मिलेगी । उन्होंने आश्वासन दिया कि राज्य सरकार की तरफ से पेट्रोलियम मंत्रालय और ओएमसी द्वारा की जाने वाली पहलों को पूर्ण समर्थन दिया जायेगा ।press-8

इस अवसर पर श्री धर्मेंद्र प्रधान ने बताया कि भारत के पिछड़े क्षेत्रों में प्रगति की नई लहर चली है। महिलाओं के सशक्तिकरण के साथ उनकी रसोई को धुंआं मुक्त किया जा रहा है। प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना ;पीएमयूवाईद्ध की चर्चा करते हुए श्री प्रधान ने कहा श्यह बीपीएल परिवार की महिलाओं के आँसू पोंछने के लिए एक मिशन है जो कि माननीय प्रधान मंत्री द्वारा बालिया में शुरू किया गया था जिसने आज 3 करोड़ से अधिक बीपीएल परिवारों के जीवन को खुशहाली प्रदान की हैष् श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इस अभूतपूर्व योजना को लागू किया जा रहा है ताकि लाखों करोड़ों आर्थिक दृष्टि से वंचित परिवारों को स्वच्छ और सुरक्षित एलपीजी ईंधन उपलब्ध करवाया जा सके । तीनों सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियां ;ओएमसीद्ध अर्थात् इंडियनऑयलए एचपीसीएल और बीपीसीएल इस योजना के क्रियान्वयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं । 1 मई 2016 को बलियाए उत्तर प्रदेश में पीएमयूवाई योजना के शुभारंभ के बाद से उत्तर प्रदेश में 62 लाख नए एलपीजी कनेक्शन जारी किए गए हैं और एलपीजी कवरेज 47ण्7: से बढ़कर 77ण्1: हो गया है । पूरे देश में एलपीजी उपभोक्ता आधार में इस तरह के बड़े पैमाने पर हुए विस्तार से आपूर्ति और वितरण के बुनियादी ढांचे में भी वृद्धि की जा रही है । इस बढ़ी हुई मांग को पूरा करने के लिए तेल विपणन कंपनियां अपने एलपीजी बॉटलिंग क्षमता का विस्तार कर रही हैं और अपने वितरण नेटवर्क को भी बढ़ा रही हैं द्य इस दिशा में गोरखपुरए गोंडा और वाराणसी में 3 नए एलपीजी बॉटलिंग प्लांट स्थापित करने की योजना बनाई गई है जिसमें कुल अनुमानित निवेश 463 करोड़ रूपये है द्य इसके अलावा त्रिशुंडीए उन्नाव और गोरखपुर में मौजूदा बॉटलिंग प्लांटों की क्षमता में वृद्धि के लिए लगभग 260 करोड़ रुपये का अनुमानित निवेश भी किया जाएगा । इसके अतिरिक्त कांडला से गोरखपुर एलपीजी प्रोडक्ट पाइपलाइन का भी निर्माण किया जा रहा है जो उत्तर प्रदेश के कई शहरों से गुजरेगी द्य श्री प्रधान ने बताया कि श्पिछले 3 वर्षों में हमने 1000 नए वितरकों को नियुक्त किया है और आने वाले वर्ष में 1000 अतिरिक्त वितरकों को नियुक्त करने की योजना है।ष् श्री प्रधान ने आगे बताया कि उत्तर प्रदेश में इन आगामी परियोजनाओं के कारण नए एलपीजी बॉटलिंग प्लांटए सिलेंडर विनिर्माणए स्टोव मैन्युफैक्चरिंगए परिवहन और आपूर्ति श्रृंखला में नए रोजगार के अवसर पैदा होंगे ।

नए एलपीजी वितरकों को सलाह देते हुए माननीय मंत्री ने कहा कि उन्हें सरकार की योजनायों को लागू करने में पूरा सहयोग देना होगा और उन्हें यह भी सुनिश्चित करना होगा कि ग्राहकों के घर पर एलपीजी सिलेंडर पहुंचे द्य

इससे पहले गणमान्य अथितियों और मेहमानों का स्वागत करते हुए श्री संजीव सिंहए चेयरमैनए इंडियन ऑयल ने कहा कि हमारे माननीय प्रधान मंत्री और केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैसए कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्री ने एक ऐसी क्रांति की शुरुवात की है जो सरल होने के साथ साथ प्रभावशाली भी है द्य इस महान प्रयास ने ष्सामाजिक समावेशष् शब्द को सामाजिक.आर्थिक तुल्यकारक के रूप में कार्य कर इसे एक नया अर्थ दिया है।

ध्यान देने की बात है कि 1 मई 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया से प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की शुरुआत के बाद गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश उत्तराखंड, ओडिशा, बिहार, हरियाणा, छत्तीसगढ़, झारखंड, पश्चिम बंगाल, असम, नागालैंड, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय में अधिक से अधिक लोगों ने इस योजना से लाभ प्राप्त किया। इसके शुरू होने के एक साल के अंदर पूरे देश में 3 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को एलपीजी कनेक्शन जारी किए जा चुके है। पीएमयूवाई महिला सशक्तीकरण और सामाजिक, समावेश का पर्याय बन गई है; जिसका उद्देश्य रसोई से हाउसहोल्ड एयर पाॅल्यूशन (एचएपी) को बाहर निकालना है जो न सिर्फ महिलाओं का बल्कि बच्चों का भी रसोई के हानिकारक धुंए से बचाव करेगा। इस धुंए में कार्किनोजेंस होते हैं- जो बीमारियों का कारण बनने वाले केमिकल्स हैं, विशेषकर फेफड़ों का कैंसर। अध्ययनों के मुताबिक इस खतरनाक धुएं को सांस के अंदर लेना एक घंटे में 400 सिगरेट पीने के बराबर है।

Comments (0)

बी.एस.पी. द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति-दिनांक 24.09.2017

Posted on 24 September 2017 by admin

(1) बीजेपी-आर.एस.एस. से सम्बद्ध छात्रसंघ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) की विश्वविद्यालय चुनावों में करारी हार देश में राजनीतिक बदलाव का नया शुभ शकुन व जबर्दस्त संकेत जिसका हार्दिक स्वागत।
ऽ छात्रसंघ के इन चुनावों में बीजेपी की करारी शिकस्त वास्तव में दलित स्कालर श्री रोहित वेमूला को भावभानी श्रद्धांजलि है। श्री वेमूला की कुर्बानी रंग ला रही है।
(2) बीजेपी के नेताओं ने जनता को विभिन्न प्रकार से बहका व वरगलाकर अपने अच्छे दिन बहुत देख लिये हैं और अब देश की जनता उनको उनके बुरे दिन दिखाने का मन लगातार बनाती जा रही है।
(3) प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी व विभिन्न राज्यों में इनकी बीजेपी सरकारें आसमान छूती हुई महँगाई, बढ़ती बेरोजगारी, अशिक्षा व स्वास्थ्य जैसी विकट राष्ट्रीय समस्याओं के प्रति घोर लापरवाह व उदासीन बनी हुई हैं अर्थात् अपनी संवैधानिक ज़िम्मेदारियों को निभाने का राजधर्म निभा पाने में विफल साबित हो रही हंै, जिससे आमजनता काफी परेशान व बेहाल।
(4) करोडों बेरोजगार युवाओं को रोज़गार उपलब्ध कराने के मामले में श्री मोदी सरकार सहित बीजेपी की राज्य सरकारों का भी रिकार्ड इतना ज़्यादा ख़राब है कि वे सरकारी नौकरी भी उपलब्ध कराने में फिसिड्डी साबित हो रही है।
(5) लाखों आरक्षित सरकारी पद भी ख़ाली पड़े हैं जिस कारण दलितों व पिछड़ों का आरक्षण निष्क्रिय व निष्प्रभावी: बी.एस.पी. की राष्ट्रीय अध्यक्ष, पूर्व सांसद व पूर्व मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सुश्री मायावती जी

लखनऊ, 24 सितम्बर 2017: देश के अति-प्रतिष्ठित जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय (जे.एन.यू), दिल्ली विश्वविद्यालय (डी.यू), राजस्थान व गुवाहाटी विश्वविद्यालयों के बाद अब हैदराबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ के महत्त्वपूर्ण चुनाव में बीजेपी-आर.एस.एस. से सम्बद्ध छात्र संघठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ए.बी.वी.पी.) की करारी हार को देश के राजनीतिक बदलाव का नया शुभ शकुन बताकर उसका हार्दिक स्वागत करते हुये बी.एस.पी. की राष्ट्रीय अध्यक्ष, पूर्व सांसद व पूर्व मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सुश्री मायावती जी ने कहा कि बीजेपी के नेताओं ने जनता को विभिन्न प्रकार से बहका व वरगलाकर अपने अच्छे दिन बहुत देख लिये हैं और अब देश की जनता उनको उनके बुरे दिन दिखाने का मन लगातार बनाती जा रही है।
सुश्री मायावती जी ने आज अपने एक बयान में कहा कि हैदराबाद यूनिवर्सिटी में ए.बी.वी.पी. की करारी शिकस्त व ए.एस.जे. (एलायन्स फार सोशल जस्टिस) गठबंधन की शानदार जीत वास्तव में दलित स्कालर श्री रोहित वेमूला को बेहतरीन श्रद्धांजलि है और केन्द्र की बीजेपी सरकार को सबक है कि वह दलित-विरोधी हरकतों से अब भी बाज़ आ जाये ताकि देश में किसी अन्य रोहित वेमूला को आत्महत्या करने के लिये मजबूर नहीं होना पड़े।
उन्होंने कहा कि कुछ मुट्ठीभर बड़े-बड़े पूँजीपतियों व धन्नासेठों को छोड़कर देश के समस्त सवा सौ करोड़ लोगों के जीवन-मरण से खासतौर से जुड़ी समस्याओं जैसे आसमान छूती हुई महँगाई, बढ़ती बेरोजगारी, अशिक्षा व स्वास्थ्य सेवा का अभाव है, जो लगातार विकराल रुप धारण करता जा रहा है, लेकिन प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी व विभिन्न राज्यों में इनकी बीजेपी सरकारें इन विकट राष्ट्रीय समस्याओं के प्रति घोर लापरवाह व उदासीन बनी हुई है अर्थात् अपनी संवैधानिक जिम्मंेदारियों को निभाने का राजधर्म निभा पाने में विफल साबित हो रही है।
इससे देश की आमजनता व खासकर छात्रों एवं युवा वर्ग में जो बेचैनी व आक्रोश है वह अब विभिन्न रूपों में उबलकर सामने आने लगा है और विश्वविद्यालयों के छात्र संघ के चुनाव परिणाम इस बात के प्रमाण हैं कि लोग ’’गौरक्षा, घर वापसी, लव जिहाद, एण्टी-रोमियों, देशगान व राष्ट्रीय सुरक्षा आदि इन भावनात्मक मुद्दों के चंगुल से निकलकर जीवन के वास्तविक मुद्दों पर ध्यान केन्द्रित करने लगे हैं। भयंकर महंगाई व जबर्दस्त बेरोजगारी का मुद्दा इसमें सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण है जिसमें श्री नरेन्द्र मोदी सरकार की नीतियां बुरी तरह से फ्लाप साबित हुई हैं। इनका ‘‘कौशल विकास’’ (स्किल डेवलपमेन्ट) का ख़ास मंत्रालय भी नकारा साबित हुआ है क्योंकि स्वयं ’’प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’’ के आँकड़े बता रहे हैं कि देशभर में जिन लगभग तीस लाख लोगों को प्रशिक्षित किया गया उनमें से केवल 10 प्रतिशत (2.9 लाख) लोगों को ही नौकरी के आफर प्राप्त हुये।
युवाओं को रोज़गार उपलब्ध कराने के मामले में श्री नरेन्द्र मोदी की केन्द्र सरकार सहित बीजेपी की राज्य सरकारों का भी रिकार्ड इतना ज़्यादा ख़राब है कि वे सरकारी नौकरी भी उपलब्ध कराने में फिसिड्डी साबित हो रही है। यही कारण है कि दलितों व पिछड़े वर्गों के लिये आरक्षित लाखों सरकारी पद भी खाली पड़े हुये हैं जिस कारण ’’आरक्षण’’ की संवैधानिक व्यवस्था पूरी तरह से निष्क्रिय व निष्प्रभावी साबित हो रही है। इससे बीजेपी एण्ड कम्पनी की आरक्षण-विरोधी नीति व नजरिया का साफ तौर पर नजर आता है।
जहाँ तक उत्तर प्रदेश में बीजेपी के शासनकाल में अपराध-नियन्त्रण व कानून-व्यवस्था एवं जनहित व विकास का सवाल है तो श्री योगी सरकार के छः महीने के कार्यकाल के दौरान् ही इस सरकार में जितनी आपराधिक घटनायें, दुर्घटनायें व व्यापारिक अपहरण व हत्यायें हुई हैं और इस कारण जनता ने इस सरकार की जितनी खिचाई की है, वे इस बात का प्रमाण है कि जनता का इनसे मोहभंग हो गया है, परन्तु अपनी तसल्ली के लिये बीजेपी के वरिष्ठ नेतागण ख़ासकर माननीय प्रधानमंत्री व माननीय मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश दोनों अक्सर एक-दूसरे की तारीफें करते रहते हैं ताकि जनता का ध्यान बांटा जा सके।
इस बारे में यह भी सर्वविदित ही है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी सरकार की तरह ही श्री योगी सरकार भी जनता से किये गये जनहित व जनकल्याण के वायदे निभाने में बुरी तरह से विफल साबित हो रही है और केन्द्र व राज्य में एक ही पार्टी बीजेपी की सरकार होने का जो फायदा लोगांे को बताया गया था वह भी विदेश से कालाधन वापस लाकर प्रत्येक गरीब परिवार के हर सदस्य को 15 से 20 लाख रुपये देने आदि की तरह ही पूरी तरह से हवा-हवाई ही साबित हो रहा है, बल्कि नोटबन्दी व जी.एस.टी. के कारण बढ़ी महंगाई से परेशान लोगों को तथा बुरे तरीके से परेशान किसानों की रुपये, दो रुपये, 10 रुपये की कर्जमाफी करकेे लोगांे को बुरेदिन देखने के लिये मजबूर कर दिया है जो बीजेपी सरकार की गलत सोच, नीति व गलत कार्यप्रणाली का स्पष्ट प्रमाण है। सुश्री मायावती जी ने कहा कि जनता से वादाखिलाफी, कथनी व करनी में अन्तर, बिना पूरी तैयारी के ही आपाधापी में नोटबन्दी व जी.एस.टी. को देश पर थोपना आदि ऐसे कुछ खास कारण हैं जिस कारण बीजेपी की केन्द्र व राज्य सरकारों से देश की जनता व व्यापारी वर्ग का भी मोहभंग हो गया है और वे सब अब बीजेपी को कड़ा सबक सिखाने पर आतुर लगते हैं, जिसका सर्वसमाज व व्यापक देशहित में भरपूर स्वागत है।

Comments (0)

शोक प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना

Posted on 24 September 2017 by admin

वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व विधायक श्री देवेन्द्र पाण्डेय के आकस्मिक निधन पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री राजबब्बर, सांसद ने गहरा शोक प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को इस असह्य दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री राजबब्बर सांसद की ओर से उपाध्यक्ष डा0 आर0पी0 त्रिपाठी ने पार्थिव सरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।
स्व0 देवेन्द्र पाण्डेय के आकस्मिक निधन की सूचना मिलने पर पूर्व मंत्री श्री रणजीत सिंह जूदेव, पूर्व मंत्री श्री सत्यदेव त्रिपाठी, श्री हनुमान त्रिपाठी, श्री वीरेन्द्र मदान, श्री ओंकारनाथ सिंह, श्री प्रमोद सिंह, श्री विनोद मिश्रा, श्री अशोक सिंह, प्रदेश कांग्रेस के प्रचार एवं प्रकाशन विभाग के चेयरमैन श्री सुबोध श्रीवास्तव, जिला कांग्रेस कमेटी बस्ती के अध्यक्ष श्री वीरेन्द्र प्रताप नारायण पाण्डेय आदि वरिष्ठ नेताओं ने स्व0 देवेन्द्र पाण्डेय के आवास गोमतीनगर पहुंचकर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

Comments (0)

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा बरती गयी लापरवाही पर कुलपति को तत्काल बर्खास्त किये जाने की मांग की

Posted on 24 September 2017 by admin

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय वाराणसी में छात्र-छात्राओं पर लाठीचार्ज एवं फायरिंग की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री राजबब्बर, सांसद ने कड़ी निन्दा की है। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री की मौजूदगी में हुई इस दुःखद घटना ने भारतीय जनता पार्टी की महिलाओं के प्रति सुरक्षा, सम्मान और प्रदेश में ध्वस्त कानून व्यवस्था की कलई खोल दी है एवं काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा बरती गयी लापरवाही पर कुलपति को तत्काल बर्खास्त किये जाने की मांग की है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं प्रवक्ता ओंकारनाथ सिंह ने आज जारी बयान में कहा कि शिक्षा का विश्व प्रसिद्ध केन्द्र काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में छेड़खानी जैसे घृणित कृत्य का विरोध कर न्याय पाने के लिए सैंकड़ों छात्राएं जहां सड़कों पर पूरी रात्रि बैठी रहीं और प्रशासन मूकदर्शक बना रहा वहीं कुलपति एवं विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा प्रांगण में हुए इस घृणित कृत्य के विरूद्ध कार्यवाही न करने एवं छात्राओं के इस आन्दोलन पर पुलिस द्वारा लाठीचार्ज एवं फायरिंग कराकर शिक्षा के इस विश्व प्रसिद्ध केन्द्र को दूषित करने में प्रदेश सरकार ने महिलाओं के प्रति अपनी विरोधी मानसिकता को उजागर किया है।
प्रवक्ता ने कहा कि जिस समय इतने बड़े शिक्षण संस्थान में यह सब घटनाएं घटित हो रही थीं जबकि उस समय संसदीय क्षेत्र वाराणसी से सांसद एवं देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं मौजूद रहे और उन्होने इस घटना का कोई भी संज्ञान नहीं लिया। एक तरफ जहां योगी सरकार कन्या भ्रूण हत्या जैसी घटनाओं को रोकने के लिए नये थाने के सृजन की घोषणा कर रही है, ‘‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’’ की बात करती है वहीं इतने बडे़ शिक्षा केन्द्र में छात्राओं के साथ हो रहे अत्याचार पर मौन हैं। छात्राओं की सुरक्षा के लिए ‘‘एण्टी रोमियों दस्ता’’ बनाने वाली योगी सरकार की इसी लापरवाही के चलते आज इतनी अराजकता बढ़ गयी है कि आये दिन खुलेआम छात्राओं के कपडे़ फाड़ने तक की घटनाएं काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में हो रही हैं।
श्री सिंह ने कहा कि काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में हो रहीं इस प्रकार की घृणित कार्यों से देश ही नहीं अपितु सम्पूर्ण विश्व में भारत की छवि धूमिल हो रही है क्योंकि इस शिक्षण संस्थान में विदेशों से भी भारी संख्या में छात्र एवं छात्राएं शिक्षा ग्रहण करने के लिए वाराणसी आते हैं।
प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश सरकार अविलम्ब काशी हिन्दू विश्वविद्यालय(बीएचयू) में अराजकता को रोकने हेतु कठोर कदम उठाये एवं छात्राओं की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित करे एवं इस घटना के दोषियों के विरूद्ध संख्त कार्यवाही करे, ताकि भविष्य में विश्व प्रसिद्ध इस उच्च शिक्षा केन्द्र में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो सके।

Comments (0)

महिलाएं आगे बढ़ेंगी तो देश भी आगे बढ़ेगा - राज्यपाल

Posted on 24 September 2017 by admin

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने आज नवयुग रेडियंस सीनियर सेकेन्ड्री स्कूल के स्थापना दिवस पर नवनिर्मित हलवासिया हाॅल का उद्घाटन किया तथा नवयुग रेडियंस की गोमती नगर शाखा का शिलान्यास किया। इस अवसर पर विद्यालय के प्रबंधक श्री सुधीर हलवासिया, न्यायमूर्ति श्री कमल किशोर, पूर्व पुलिस महानिदेशक श्री के0एल0 गुप्ता, पूर्व महापौर दाऊजी गुप्ता सहित विद्यालय के शिक्षक, विद्यार्थी एवं अभिभावकगण भी उपस्थित थे। राज्यपाल ने उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाली छात्राओं एवं उनकी शिक्षिकाओं को भी सम्मानित किया।
dsc_5838राज्यपाल ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि किसी भी संस्था का स्थापना दिवस महत्वपूर्ण होता है। स्थापना दिवस आत्मावलोकन का अवसर होता है जिसमें अब तक क्या किया उसका लेखा-जोखा तथा आगे क्या करना है उस पर भी विचार करना चाहिए। राज्यपाल ने छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि वे अपने छात्र धर्म का पालन करें। यहाँ धर्म का अर्थ कर्तव्य और दायित्व से होता है। उन्होंने कहा कि ज्ञानार्जन से मनुष्य और अन्य प्राणि में अंतर देखने को मिलता है।
श्री नाईक ने कहा कि छात्राएं केवल किताबी कीड़ा न बनें बल्कि व्यायाम के साथ उन्हें आत्मरक्षा का भी प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहिए। गुणवत्तापरक शिक्षा सफलता का मार्ग है। समय बदल रहा है। महिलाएं हर क्षेत्र में आगे आ रही हैं। उन्होंने बताया कि 1954 में जब उन्होंने बी0काम0 परीक्षा पास की थी तब 150 छात्रों में केवल 4 छात्राएं थी। आज 45 प्रतिशत छात्राएं स्नातक कक्षाओं में हैं। उन्होंने कहा कि कुलाधिपति के तौर पर उन्होंने पाया है कि उत्कृष्ट प्रदर्शन कर 65 प्रतिशत पदक छात्राएं प्राप्त कर रही हैं।
राज्यपाल ने कहा कि आज हर क्षेत्र में महिलाएं प्रतिनिधित्व कर रही हैं। पूर्व में छात्राएं केवल नर्सिंग और शिक्षण के क्षेत्र में सेवा करती थीं जबकि अब प्रशासनिक सेवा से लेकर सेना तक में महिलाएं हैं। हमारे देश की रक्षा मंत्री भी महिला है। महिला सशक्तीकरण के लिए यह एक शुभ चिन्ह है। भ्रूण हत्या, बाल विवाह, दहेज हत्या आदि रोकने में महिलाएं महत्वूपर्ण भूमिका निभा सकती हैं। उन्होंने कहा कि महिलाएं आगे बढ़ेंगी तो देश भी आगे बढ़ेगा।
कार्यक्रम में प्रबंध श्री सुधीर हलवासिया ने स्वागत उद्बोधन दिया तथा विद्यालय की छात्राओं ने देशभक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर राज्यपाल का सम्मान अंग वस्त्र व स्मृति चिन्ह देकर किया गया।

Comments (0)

राज्यपाल से मिले तमिलनाडु के स्वामी ब्रह्म योगानन्द जी

Posted on 24 September 2017 by admin

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक से आज गुरूजी श्री स्वामी ब्रह्म योगानन्द जी, संस्थापक योग शांति गुरूकुलम् कांचीपुरम् तमिलनाडु ने भेंट की। स्वामी ब्रह्म योगानन्द जी ने अपनी नवप्रकाशित पुस्तक ‘परम वैभव भारत - एक नया भारत परम वैभव की ओर’ की हिन्दी एवं अंग्रेजी की प्रथम प्रति राज्यपाल को भेंट की। स्वामी ब्रह्म योगानन्द जी स्वामी दयानन्द सरस्वती के वरिष्ठ शिष्य हैं। स्वामी जी ने तमिल में अनेक पुस्तकें लिखी हैं।
स्वामी ब्रह्म योगानन्द जी के साथ 29 दर्शनार्थियों का एक दल भी साथ था जो नैमिषारण्य, अयोध्या, वाराणसी, गोरखपुर, विंध्याचल तथा इलाहाबाद आदि के धार्मिक स्थलों का भी दर्शन करेगा। तमिलनाडु से आए दर्शनार्थियों के दल ने राज्यपाल को अंग वस्त्र देकर सम्मानित भी किया। राज्यपाल ने अपनी पुस्तक ‘चरैवेति! चरैवेति!!’ की हिन्दी एवं अंग्रेजी प्रति स्वामी ब्रह्म योगानन्द जी को भेंट की।
dsc_5645राज्यपाल ने अपनी पुस्तक ‘चरैवेति! चरैवेति!!’ पर प्रकाश डालते हुए बताया कि कैसे एक छोटे से गाँव से निकलकर आज वे उत्तर प्रदेश जैसे बडे़ प्रदेश के राज्यपाल हैं। राज्यपाल ने अपने राजनैतिक सफर के विषय में बताते हुए संसद में राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत गाये जाने, सांसद निधि की शुरूआत, दिल्ली और मुंबई में सीएनजी, मुंबई का नामकरण एवं महिला सशक्तिकरण हेतु उनके प्रयासों पर भी संक्षिप्त प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि संस्मरण संग्रह ‘चरैवेति! चरैवेति!!’ का शीघ्र ही संस्कृत भाषा में प्रकाशन होने वाला है तथा उसका अनुवाद बांग्ला, सिंधी, तमिल सहित जर्मन एवं फारसी भाषा में भी करने के प्रस्ताव आए हैं। उन्होंने श्लोक चरैवेति! चरैवेति!! का अर्थ बताते हुए कहा कि जीवन में निरन्तर चलते रहने से सफलता प्राप्त होती है।dsc_5714

Comments (0)

राज्यपाल से मिले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह श्री भैय्याजी जोशी

Posted on 24 September 2017 by admin

dsc_5525उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक से आज राजभवन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह श्री भैय्याजी जोशी ने शिष्टाचारिक भेंट की। श्री भैय्याजी जोशी राज्यपाल के पुराने परिचित हैं और संघ में रहते हुए दोनों ने काम किया है। इस अवसर पर श्री शिव नारायण क्षेत्र प्रचारक भी उपस्थित थे।

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

September 2017
M T W T F S S
« Aug    
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
252627282930  
-->









 Type in