*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | लखनऊ.

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री श्री भूपेंद्र यादव की प्रेस वार्ता के मुख्य बिंदु :-

Posted on 10 February 2017 by admin

•    भारतीय जनता पार्टी उत्तरप्रदेश को गुंडाराज और भ्रष्टाचार से मुक्त सरकार देगी. विगत पांच वर्षों में अखिलेश सरकार के शासनकाल में अराजकता और क़ानूनी अव्यवस्था की स्थिति चरम पर पहुँच गई. 2014-15 में महिलाओं के खिलाफ अपराधों में 61% की बढ़ोतरी हुई. यह स्थिति तब है जब सुशासन का दावा करने वाले मुख्यमंत्री के राज में पुलिस थानों में अधिकांश मामलों में एफआईआर भी दर्ज नहीं होते है. पुलिस बल में महिलाओं की संख्या न्यूनतम 33% होनी चाहिए. अखिलेश सरकार राज में वो केवल 4.55% है. इसलिए भारतीय जनता पार्टी नेशासन में आते ही अवन्ती बाई बटालियन, झलकारी बाई बटालियन और ऊदा देवी बटालियन बनाने का संकल्प किया है.
•    5 साल सुश्रीमायावती की सरकार के शासनकाल में पुलिस पर 547 हमले हुए वही श्री अखिलेश की सरकार के शासनकाल में इसमे दोगुना बढ़ोतरी हुई है. शराब माफिया, भू-माफिया लगातार ईमानदार पुलिस बलों पर हमले करते रहे और लखनऊ में सपा सरकार गूंगी और बहरी बनी रही.
•    आज के ही समाचार पत्रों में एक प्रमुख खबर हैं कि कानपूर के सपा नेता मेहताब आलम की 7 मंजिला ईमारत समाजवादी पार्टी की तरह अपने भ्रष्टाचार के बोझ से ढह गई जिसमे 7 मासूम जिंदगी दफ़न हो गई. क्या यह सपा सरकार के अवैध निर्माण का प्रतीक नहीं है.
•    प्रदेश में अवैध हथियारों के दुरुपयोग का आलम यह है कि एक साल में 25000 से ज्यादा आर्म्स एक्ट के मुकदमें दर्ज हुए, 1400 से ज्यादा लूटऔर डकैती की घटना हुई, रामवृक्ष यादव वाली घटना में एक आईपीएसअफसर की शहादत हुई. अखिलेश सरकार के राज में जियाउल हक़ की हत्यामें मंत्री पर आरोप लगा मनोज द्विवेदी एवं तंजील अहमद हत्या की गई. भारतीय जनता पार्टी सत्ता में आने के बाद एक ओर भू-माफियाओं द्वारा जब्त की गई जमीनों को मुक्त कराने के लिए एंटी भू-माफिया टास्क-फ़ोर्स का गठन करेगी. वही 15 साल से सपा और बसपा के राज में हुए घोटालों के जाँच के लिए स्पेशल टास्क-फोर्स का गठन करेगी.
•    अखिलेश सरकार में 1 लाख करोड़ का खनन घोटाला हुआ है. भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के बाद हम अवैध खनन को रोकने के लिए विशेष टास्क-फोर्स का गठन करेंगे और घोटालों की जाँच करके सरकारी नुकसान की भरपाई भ्रष्टाचारियों से करवायेंगे.
•    कानून व्यवस्था के मामले में प्रदेश में सबसे बड़ी समस्या पुलिस के पदों की रिक्तता है. अखिलेश सरकार के समय भर्तियों में भेद-भाव किया गया. हम प्रदेश के सभी युवाओं को पक्षपात किये बिना सरकार आने के तुरंत बाद पुलिस विभाग में खाली 1.5 लाख पद बहाली करेंगे. प्रदेश में क्लास तीन एवं चार श्रेणी की नौकरीयोंमें इंटरव्यू को समाप्त करके भाजपा भर्ती प्रक्रिया में पारदर्शिता लायेगी.
•    अखिलेश की सरकार में 2014 में 47,064 अपराध दलितों के खिलाफ हुए. देश भर में दलितों के खिलाफ होने वाले उत्पीड़न में अकेले यूपी की हिस्सेदारी 17 फीसदी से ज्यादा है. नेशनल क्राइम ब्यूरों के मुताबिक उत्तप्रदेश में दलितों की हत्याओं की दर राष्ट्रीय दर से दुगुनी है. उत्तप्रदेश के आंकड़ो से जो एक बात उभर कर आई है कि दलित महिलाओं के खिलाफ अत्याचारों की संख्या भी अखिलेश सरकार के राज में राष्ट्रीय दर से ऊँची है.
•    इतना ही नहीं पिछले दो महीनों में अकेले लखनऊ में व्यापारीयों पर 18 बार हमले किये गए. आज के समाचार पत्र प्रकाशित में श्रवण शाहू हत्याकांड में जिस प्रकार पिता और पुत्र दोनों की हत्या हुई है वह यह दर्शाता है कि गुंडाराज के आगे अखिलेश सरकार ने घुटने टेक दिये है. लगातार जेल से संगठित इस तरह के अपराध दुर्भाग्यपूर्ण है, परन्तु हम इसको बदलेंगे. पिछले 5 साल में व्यापारियों के खिलाफ हमले की गणना करे तो यह पूरे प्रदेश में 40,000 से ज्यादा है. यह आंकडे अखिलेश सरकार की अराजकता और अपराधी संरक्षण की भूमिका दिखाते है.
•    यह आश्चर्यजनक बात है कि अखिलेश सरकार के राज में हजारों अपराधी पेरोल पर फरार है. हम यह पूछना चाहते है कि किसकी शह पर अपराधी बाहर घूम रहे है? जेल के अन्दर से अपराधीयोंके संगठित गिरोह चल रहे है. बनारस जेल कांड पूरा प्रदेश जानता है.भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के बाद 45 दिनों के अन्दर सभी फरार अपराधियों को जेल के अन्दर किया जायेगा. तथा जेलों को आधुनिकीकरण करके जेलों के अन्दर से चल रहे संगठित अपराध पर अंकुश लगाई जाएगी. अपराधों की जाँच में वैज्ञानिक पद्धति का इस्तेमाल कर प्रदेश में 6 फ़ॉरेंसिक लैबोरेटरी की स्थापना की जाएगी. प्रदेश में अपराधों से लड़ने के लिए पुलिस कर्मियों के कल्याण योजना पर भी हमारी सरकार सभी बड़े शहरों में शहीद रोशन सिंह रेजिडेंशियल टाउनशिप बनाएगी. जिसमें स्कूल, पार्क सहित सारी अत्याधुनिक सुविधा रहेगी. पुलिसकर्मीयों के परिवार के लिए स्वास्थ कैंप, उनकी शिकायतों का समय पर निवारण के लिए गृहमंत्रालय के देख-रेख में ग्रीवेंस सेल बनाई जाएगी.
•    उत्तरप्रदेश में अखिलेशसरकार के शासनकाल में पत्रकार हमलों से आहत हए तब भी अखिलेश सरकार कानों में तेल डालकर बैठी रही. चाहे फ़ैजाबाद के पेट्रोल पम्प पर चार प्रत्रकारों को जिन्दा जलाने की कोशिश हो, चाहे शाहजहाँपुर में पत्रकार को जिन्दा जलाने की घटना हो, चाहे पीलीभीत में एक पत्रकार को सरेआम बाइक से बांधकर घसीटने का मामला हो या फिर 10 जून को कानपूर के नोवास्ता में पत्रकार दीपक कुमार को गोली मारकर हत्या का मामला हो यह सभी घटना इस बात को दर्शाता है कि अखिलेश सरकार के संरक्षण में माफियाओं ने भ्रष्टाचार का मामला उठाने वाले पत्रकार को भी प्रताड़ित किया है. प्रदेश में अराजकता इतना ज्यादा है कि यहाँ तो कलम को भी कलम कर दिया जाता है.

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

छात्रों का हुआ सम्मान

Posted on 10 February 2017 by admin

शास्त्री शिक्षण संस्थान चन्द्रलोक कालोनी, अलीगंज जो कि शार्टहैण्ड तथा टाइपिंग के क्षेत्र में एक जाना माना नाम है। संस्थान द्वारा अपने विद्यार्थियों के उत्साहवर्धन के लिए एक अभिनन्दन समारोह का आयोजन रविवार को संस्थान के सभागार में किया गया। यह समारोह उन विद्यार्थियों के सम्मान के लिए आयोजित किया गया जिन्होंने वर्ष 2016 में कर्मचारी चयन आयोग की आशुलिपिक (स्टैनो ग्रेड सी एवं डी) परीक्षा अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यू.पी.एस.एस.एस.सी) द्वारा आयोजित आशुलिपिक, जूनियर असिस्टेन्ट परीक्षा तथा अन्य विभागों जैसे यूपीपीसीएल हाई कोर्ट आदि की परीक्षा में लगाग 70 की संख्या में चयनित होकर इस विद्यालय का मान बढ़ाया। संस्थान के संस्थापक राम नारायण शास्त्री ने कहा कि विद्यार्थी अगर लगन और कर्मठता से शर्टहैण्ड का अध्ययन करे तो सरकारी नौकरी पाना उसके लिए अत्यन्त शुलभ है। बाद में संस्थान द्वारा चयनित विद्यार्थियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

गर्दभ सिंह यादव होंगे बहुजन विजय पार्टी के सीएम फेस लखनऊ।

Posted on 10 February 2017 by admin

वर्तमान राजनीतिक चुनावी व्यवस्था पर करारा तंज कसते हुए बहुजन विजय पार्टी ने गर्दभ सिंह यादव को कैण्ट सीट से उम्मीदवार घोषित किया है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष केषव चन्द्र ने आज यह घोषणा करते हुए कहा कि प्रत्याषियों की सूची जारी करने से पहले पार्टी अपना सीएम फेस घोषित करना जरूरी समझती है। उम्मीदवार गर्दभ सिंह यादव ही पार्टी के सीएम फेस भी होंगे। बहुजन विजय पार्टी ने कहा कि सीएम फेस के साथ ही पार्टी चुनाव मैदान में उतरेगी। गर्दभ सिंह यादव बहुजन विजय पार्टी के सर्वमान्य नेता सीएम फेस हैं। उनमें एक अच्छे नेता के सभी गुण हैं। उनकी कथनी-करनी में कोई अंतर नही है। वे राग-द्वेष जाति-धर्म की मान्यताओं से ऊपर हैं। पार्टी ने कहा कि गर्दभ सिंह यादव की सहनषक्ति अपार है, वे अपने कार्याें को बोझ नहीं समझते। स्वच्छ भारत अभियान में उनका युगों से खासा योगदान रहा है। राजनीतिक योग्यतायें उनमें कूट-कूट कर भरी है। विधानसभा में पहुंचकर चूंकि उन्हें जनहित में कानून बनाने हैं इसलिए वे बिल्कुल ही पढ़े-लिखे नहीं हैं जो उनकी सबसे बड़ी योग्यता है। वे अपनी पहचान नहीं छिपाते, जबकि अन्य नेता अपनी पहचान छिपाते हैं। इनके अंधेर नगरी राज्य में टके-सेर भाजी टके-सेर खाजा मिलेगा। गर्दभ सिंह यादव सोमवार को कैण्ट विधानसभा से अपना पर्चा दाखिल करेंगे। वे अपने समर्थकों के साथ दोपहर 12:00 बजे बर्लिंग्टन चौराहा स्थित बहुजन विजय पार्टी कार्यालय से अपना जुलूस लेकर कलेक्ट्रेट को प्रस्थान करेंगे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

घायल हो रही गंगा-जमुनी तहजीब को मरहम दे गया आईना का खिचड़ी भोज

Posted on 15 January 2017 by admin

aina-2017-01-15-at-55136-pmलखनऊ। पत्रकारों के संगठन ‘‘आईना’’ आॅल इण्डिया न्यूज़ पेपर ऐसोसिएशन के खिचड़ी भोज ने आज मिसाल कायम कर दी। लखनऊ से पल-बस कर देश भर को रौशन करने गंगा-जमुनी तहजीब को चुनौती देने वालों को ‘‘आईना’’ ने साम्प्रदायिक सौहार्द का आईना दिखा दिया। मकर संक्रांति के मौके पर सनातन धर्म के धार्मिक-साँस्कृतिक कार्यक्रम के खिचड़ी भोज में घायल हो रही गंगा-जमुनी तहजीब को मरहम देते हुए पत्रकारों की इस जमात ने धर्म-जाति की हर सरहद को तोड़ दिया। इस कार्यक्रम के आयोजन मंडल से लेकर इसमे सम्मलित होने वालो में हिन्दू भाईयो से कहीं अधिक मुसलमान भाईयो की तादाद थी। विकास दीप मे आयोजित खिचड़ी भोज में समाज में विशिष्ट योगदान देने वालों/ कलमकारो के सम्मान समारोह के इस काबीले तारीफ पहलू को देख कर ही विशिष्ट अतिथि एवं मान्यता प्राप्त समिति के अध्यक्ष हेमंत तिवारी ने कहा कि नफरत के इस दौर मंे हिन्दू-मुसलमानों के सौहार्द्ध की अलख जलाने वाला यह कार्यक्रम दिमाग से ही नही बल्कि कलेजे की भावना व्यक्त करता है।

इस सम्मान समारोह में सामाजिक सेवा एवं पत्रकारिता के क्षेत्र में एक अलग पहचान बनाने वाली प्रमुख हस्तियों आनन्द कृष्ण मिश्र, सिद्धार्थ कलहंस, मानस श्रीवासतव, रजा रिजवी, प्रणय विक्रम सिंह, हरी मेहरोत्रा, मो0 अतहर रजा, तमन्ना फरीदी, मनीष श्रीवास्तव, राजेन्द्र प्रसाद, शाशवत तिवारी, मो0 शाहिद खान, इरशाद त्यागी, विशाल सिंह, आनन्द तिवारी, रफीक अहमद, मुर्तुजा अली, अंकुर तिवारी, मनोज मिश्रा, तमन्ना किन्नर आदि को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि रामजी क्षेत्रीय संघ प्रचारक एवं मनकामेश्वर मन्दिर की महंत दिव्यागिरी एवं राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त समिति के अध्यक्ष हेमन्त तिवारी, यूपी वर्किग जर्निलिस्ट यूनियन के अध्यक्ष हसीब सिद्दीकी, वरिष्ट पत्रकार प्रमोद गोस्वामी, प्रतापगढ़ के सांसद हरिवंश सिंह, समाजसेवी मुरलीधर आहूजा, न्यूज टाइम्स पोस्ट के संपादक सौरभ मिश्र थे।

कार्यक्रम के आयोजक एवं संस्था के अध्यक्ष मो0 कामरान ने बताया कि सालों से चली आ रही परम्परा का निर्वहन करते हुये आईना संस्था का उद्देश्य समाचार पत्रों के हितों की रक्षा एवं समाचार पत्रों से जुड़े कर्मियों के अधिकारों एवं दायित्वों की रक्षा करते हुये एकता एवं निष्पक्षता से कार्य करना है।

आयोजन को सफल बनाने के लिए आईना के संरक्षक मोहम्मद हारून, उपाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद मनीष श्रीवास्तव, महामंत्री अजय वर्मा, अर्चना यादव, परवान अंसारी, सचिन शर्मा, सै0 दानिश जमील, शकील अहमद, मो0 वसीम, नावेद शिकोह, वारिस अंसारी, जितेन्द्र कुमार खन्ना आदि का विशोष योगदान रहा।

Comments (0)

*उत्तर प्रदेश में होंगे 7 चरणों में चुनाव* :-

Posted on 11 January 2017 by admin

*उत्तर प्रदेश में होंगे 7 चरणों में चुनाव* :-

4 फरवरी, 8 फरवरी, 11 फरवरी, 15 फरवरी, 19 फरवरी, 23 फरवरी व 28 फरवरी।

पहला चरण- 4 फरवरी
(विधानसभा क्षेत्र 60)

नजीबाबाद, नगीना, बढ़ापुर, धामपुर, नहटौर, बिजनौर, चांदपुर, नूरपुर, कांठ, ठाकुरद्वारा, मुरादाबाद देहात, मुरादाबाद शहर, कुंदरकी, बिलारी, चंदौसी, असमौली, सम्भल, स्वार, चमरौआ, बिलासपुर, रामपुर, मिलक, धनौरा, नवगवान सदात, अमरोहा, हसनपुर, गुन्नौर, बिसौली, सहसवान, बिल्सी, बदायूं, शेखूपुर, दातागंज, बहेड़ी, मीरगंज, भोजीपुरा, नवाबगंज, फरीदपुर, बिठारी चैनपुर, बरेली, बरेली कैंट, आंवला, पीलीभीत, बरखेड़ा, पुरनपुर, बीसलपुर, कटरा, जलालाबाद, तिलहर, पुआयां, शाहजहांपुर, ददरौल, पलिया, निघासन, गोला, श्रीनगर, धौरहरा, लखीमपुर, कास्ता व मोहम्मदी।

दूसरा चरण-8 फरवरी (विधानसभा क्षेत्र 55)
महोली, सीतापुर, हरगांव, लहरपुर, बिसवां, सेवता, महमूदाबाद, सिधौली, मिश्रिख, कुर्सी, रामनगर, बाराबंकी, जैदपुर, दरियाबाद, रूदौली, हैदरगढ़, मिल्कीपुर, बीकापुर, अयोध्या, गोसाईगंज, कटेहरी, टांडा, अलापुर, जलालपुर, अकबरपुर, बलहा, नानपारा, मतेरा, महसी, बहराइच, पयागपुर, कैसरगंज, भिंगा, श्रावस्ती, तुलसीपुर, गैंसड़ी, उतरौला, बलरामपुर, मेहनौन, गोंडा, कटराबाजार, कर्नेलगंज, तरबगंज, मनकापुर, गौरा, शोहरतगढ़, कपिलवस्तु, बांसी, इटवा, ड़ुमरियागंज, हरैया, कप्तानगंज,रुधौली, बस्ती सदर व महादेवा।

तीसरा चरण-11 फरवरी
(विधानसभा क्षेत्र 59)

मेंहदावल, खलीलाबाद, धनघटा, फरेंदा, नौतनवां, सिसवां, महाराजगंज, पनियारा, कैम्पियरंगज, पिपराइच, गोरखपुर शहर, गोरखपुर देहात, सहजनवां, खजनी, चौरी-चौरा, बांसगांव, चिल्लूपार, खड्डा, पडरौना, तमकुहीराज, फाजिलनगर, खुशीनगर, हाता, रामकोला, रुद्रपुर, देवरिया, पत्थरदेवा, रामपुर करखाना, भाटपुर रानी, सलेमपुर, बरहज, अतरौलिया, गोपालपुर, सगड़ी, मुबारकपुर, आजमगढ़, निजामाबाद, फूलपुर पवाई, दीदारगंज, लालगंज, मेहनगर, मधुबन, घोसी, मुहम्मदाबाद गोहना, मऊ, बेल्थरा रोड, रसड़ा, सिकन्दरपुर, फफेना, बलिया नगर, बांसडीह, बैरिया, जखनिया, सैदपुर, गाजीपुर, जंगीपुर, जहूराबाद, मोहम्मदाबाद तथा जमनिया।

चौथा चरण-15 फरवरी
(विधानसभा क्षेत्र 56)

जगदीशपुर [सुरक्षित], गौरीगंज, अमेठी, इसौली, सुल्तानपुर, सदर, लम्भुआ, कादीपुर [सुरक्षित], सिराथू, मंझनपुर [सुरक्षित], चायल, फाफामऊ, सोरांव [सुरक्षित], फूलपुर, प्रतापपुर, हंडिया, मेजा, करछना, इलाहाबाद पश्चिम, इलाहाबाद उत्तर, इलाहाबाद दक्षिण, बारा [सुरक्षित], कोरांव [सुरक्षित], बदलापुर, शाहगंज, जौनपुर, मल्हनी, मुंगरा बादशाहपुर, मछलीशहर [सुरक्षित], मड़ियाहूं, जफराबाद, केराकत [सुरक्षित], मुगलसराय, सकलडीहा, सैयदराजा, चकिया [सुरक्षित], पिंडरा, अजगरा [सुरक्षित], शिवपुर, रोहनिया, वाराणसी उत्तर, वाराणसी दक्षिण, वाराणसी कैंट, सेवापुरी, भदोही, ज्ञानपुर, औराई [सुरक्षित], छानबे [सुरक्षित], मिर्जापुर, मझवा, चुनार, मड़िहान, घोरावल, राबर्ट्सगंज, ओबरा तथा दुद्धी [सुरक्षित]

पांचवां चरण-19 फरवरी
(विधानसभा क्षेत्र 56)

सवायजपुर, शाहाबाद, हरदोई, गोपामऊ [सुरक्षित], सांडी [सुरक्षित], बिलग्राम मल्लावां, बालामऊ [सुरक्षित], संडीला, बांगरमऊ, सफीपुर [सुरक्षित], मोहान [सुरक्षित], उन्नाव, भगवंतनगर, पुरवा, मलिहाबाद [सुरक्षित], बख्शी का तालाब, सरोजनी नगर, लखनऊ पश्चिम, लखनऊ उत्तर, लखनऊ पूर्व, लखनऊ मध्य, लखनऊ कैंट, मोहन लालगंज [सुरक्षित], बछरावां [सुरक्षित], तिलोई, हरचंदपुर, रायबरेली, सलोन [सुरक्षित], सरैनी, उंचाहार, कायमगंज [सुरक्षित], अमृतपुर, फर्रुखाबाद, भोजपुर, छिबरामऊ, तिरवा, कन्नौज [सुरक्षित], तिंदवारी, बबेरू, नरैनी [सुरक्षित], बांदा, चित्रकूट, मानिकपुर, जहाना बाद, बिंदकी, फतेहपुर, अयाह शाह, हुसैनगंज, खागा [सुरक्षित], रामपुर खास, बाबागंज [सुरक्षित], कुंडा, विश्वनाथ गंज, प्रतापगढ़, पट्टी तथा रानीगंज

छठा चरण-23 फरवरी
(विधानसभा क्षेत्र 49)

टुंडला [सुरक्षित], जसराना, फिरोजाबाद, शिकोहाबाद, सिरसागंज, कासगंज, अमांपुर, पटियाली, अलीगंज, एटा, मारहरा, जलेसर [सुरक्षित], मैनपुरी, भोगांव, किशनी [सुरक्षित], करहल, जसवंतनगर, इटावा, भरथना [सुरक्षित], बिधूना, दिबियापुर, औरैया [सुरक्षित], रसूलाबाद [सुरक्षित], अकबरपुर-रनिया, सिकंदरा, भोगनीपुर, बिल्हौर [सुरक्षित], बिठूर,कल्याणपुर, गोविंद नगर, सीसामऊ, आर्यनगर, किदवई नगर, कानपुर कैंट, महाराजपुर, घाटमपुर [सुरक्षित], माधौगढ़, कालपी, उरई [सुरक्षित], बबीना, झांसी नगर, मौरानीपुर, [सुरक्षित], गरौठा, ललितपुर, मेहरौनी [सुरक्षित], हमीरपुर, राठ [सुरक्षित], महोबा, चरखारी

सातवां चरण-28 फरवरी
(विधानसभा क्षेत्र 68)

बेहट, नकुड़, सहारनपुर नगर, सहारनपुर, देवबंद, रामपुर मनिहारन [सुरक्षित], गंगोह, कैराना, थाना भवन, शामली, बुधाना, चरथावल, पुरकाजी [सुरक्षित], मुजफ्फरनगर, खटौली, मीरापुर, सिवाल खास, सरधना, हस्तिनापुर [सुरक्षित], किठौर, मेरठ कैंट, मेरठ, मेरठ दक्षिण, छपरौली, बड़ौत, बागपत, लोनी, मुरादनगर, साहिबाबाद, गाजियाबाद, मोदीनगर, धौलाना, हापुड़ [सुरक्षित], गढ़मुक्तेश्वर, नोयडा, दादरी, जेवर, सिकंदराबाद, बुलंद शहर, स्याना, अनूपशहर, डिबाई, शिकारपुर, खुर्जा [सुरक्षित], खैर [सुरक्षित], बरौली, अतरौली, छर्रा, कोइल, अलीगढ़, इगलास [सुरक्षित], हाथरस [सुरक्षित], सादाबाद, सिकंदरा राव, छाता, मांट, गोवर्धन, मथुरा, बलदेव [सुरक्षित], एत्मादपुर, आगरा कैंट [सुरक्षित], आगरा दक्षिण, आगरा उत्तर, आगरा ग्रामीण [सुरक्षित], फतेहपुर सीकरी, खैरागढ़, फतेहाबाद तथा बाह।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

लखनऊवासियों को मेट्रो से सफर करने की सुविधा आगामी 26 मार्च से उपलब्ध कराने हेतु समस्त आवश्यक कार्यवाहियां प्राथमिकता पर करायी जायें सुनिश्चित: मुख्य सलाहकार

Posted on 11 January 2017 by admin

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार श्री आलोक रंजन ने निर्देश दिये हैं कि लखनऊवासियों को मेट्रो से सफर करने की सुविधा आगामी 26 मार्च से उपलब्ध कराने हेतु समस्त आवश्यक कार्यवाहियां प्राथमिकता पर सुनिश्चित करायी जायें। उन्होंने कहा कि डिपो कण्ट्रोल सेण्टर में ‘आॅटोमेटेड फेयर कलेक्शन’ सिस्टम हेतु ‘साफ्टवेयर डेवलपमेंट सेण्टर’ को आगामी 31 जनवरी तक स्थापित किया जाये। उन्होंने जनेश्वर मिश्र पार्क में फूड कोर्ट एवं कहानीघर का निर्माण कार्य प्रारम्भ कराने हेतु आवश्यक कार्यवाहियां यथाशीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिये हैं।
मुख्य सलाहकार आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रोजेक्ट माॅनीटरिंग ग्रुप के अन्तर्गत आवास, गृह, औद्योगिक विकास विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि डाॅयल-100 (यू0पी0-100) का 65 जनपदों में लांच हो जाने के फलस्वरूप अवशेष 10 जनपदों-गाज़िबाद, फर्रुखाबाद, श्रावस्ती, बलरामपुर, अमेठी, मऊ, गाज़ीपुर, चन्दौली, सोनभद्र तथा संतरविदास नगर में 07 जनवरी तक लांच कर परियोजना से जोड़ा जाये। उन्होंने कहा कि समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माण हेतु आवश्यक भूमि की उपलब्धता सुनिश्चित कराने हेतु आवश्यक कार्यों में और अधिक तेजी लायी जाये। उन्होंने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे परियोजना के अन्तर्गत सर्विस रोड के निर्माण कार्य को निर्धारित समय में पूर्ण कराने हेतु गति लाने के भी निर्देश दिये।
श्री रंजन ने जय प्रकाश नारायण इण्टरनेशनल कन्वेंशन सेण्टर परियोजना के निर्माण कार्यों की धीमी प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुये निर्देश दिये कि आगामी 28 फरवरी तक स्पोट्र्स ब्लाक एवं एक्वाटिक ब्लाक के तथा 15 मार्च तक अवशेष कार्यों को पूर्ण कराया जाये। उन्होंने कहा कि ट्रांस गंगा सिटी परियोजना के तहत आवासीय ब्लाॅकों में 31 मार्च तक वाटर सप्लाई प्रारम्भ करा दी जाये।
बैठक में अपर मुख्य सचिव आवास श्री सदाकांत, सचिव मुख्यमंत्री श्री पार्थ सारथी सेन शर्मा, सचिव गृह श्री कमल सक्सेना, प्रबंध निदेशक यू0पी0एस0आई0डी0सी0 श्री अमित कुमार घोष, सचिव औद्योगिक विकास श्रीमती अलकनंदा दयाल सहित सम्बन्धित विभागों के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

बहुजन समाज पार्टी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति-दिनाँक 06.01.2017

Posted on 11 January 2017 by admin

विषयः-    बहुजन समाज पार्टी द्वारा उत्तर प्रदेश की 100 विधान सभा की सीटों पर तय किये गये उम्मीदवारों की सूची इस प्रकार है, एवं अगली सूची कल जारी की जायेगी।

क्र.सं.     जनपद का नाम    वि.सभा संख्या    विधान सभा का नाम    उम्मीद्वार का नाम
1ण्        रामपुर    36.    विलासपुर    श्री प्रदीप कुमार गंगवार
2ण्            37.    रामपुर    डा. तनवीर अहमद खाँ
3ण्            38.    मिलक ;ैब्द्ध    श्री राधेश्याम राही
4ण्        अमरोहा    39.    धनौरा ;ैब्द्ध    डा0 संजीव लाल
5ण्            40.    नौगांव सादात    श्री जयदेव सिंह
6ण्            41.    अमरोहा    श्री नौशाद अली
7ण्            42.    हसनपुर    श्री गंगासरन
8ण्        मैनपुरी     107.    मैनपुरी    श्री महाराज सिंह शाक्य
9ण्            108.    भोगांव    श्री सुरेन्द्र सिंह यादव
10ण्            109.    किशनी ;ैब्द्ध    श्रीमती कमलेश कुमारी
11ण्            110.    करहल     श्री दलवीर सिंह पाल
12ण्        बदायूँ     112.    बिसौली ;ैब्द्ध    मेजर कैलाश
13ण्            113.    सहसवान    श्री अरसद अली
14ण्            114.    बिल्सी    अली मुशर्रत अली बिट्टन
15ण्            115.    बदायूँ    श्री भूपेन्द्र सिंह दद्दा
16ण्            116.    शेखूपुर    मोहम्मद रिजवान
17ण्            117.    दातागंज    श्री सिनोद शाक्य
18ण्        बरेली     118.    बहेड़ी    श्री नसीम अहमद
19ण्            119.    मीरगंज    श्री सुल्तान बेग
20ण्            120.    भोजीपुरा    श्री सुलेमान बेग
21ण्            121.    नवाबगंज    श्री वीरेन्द्र सिंह गंगवार
22ण्            122.    फरीदपुर ;ैब्द्ध    श्री विजय पाल सिंह
23ण्            123.    बिथरी-चैनपुर    श्री वीरेन्द्र सिंह
24ण्            124.    बरेली शहर    इं0 अनीस अहमद
25ण्            125.    बरेली कैन्ट    श्री राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता
26ण्            126.    आंवला    श्री अगम कुमार मौर्या
27ण्        पीलीभीत     127.    पीलीभीत    श्री अरसद खाँ
28ण्            128.    बरखेड़ा    डा. शैलेन्द्र सिंह गंगवार
29ण्            129.    पूरनपुर ;ैब्द्ध    श्री कमल किशोर अरविन्द
30ण्            130.    बीसलपुर    श्रीमती दिव्या
31ण्        शाहजहाँपुर     131.    कटरा    श्री राजीव कश्यप
32ण्            132.    जलालाबाद    श्री नीरज कुशवाहा
33ण्            133.    तिलहर    श्री अवधेश कुमार वर्मा
34ण्            134.    पुवांया ;ैब्द्ध    श्री गुरूबचनलाल
35ण्            135.    शाहजहाँपुर    मो0 असलम खां
36ण्            136.    ददरौल    श्री रिजवान अली
37ण्        लखीमपुर खीरी     137.    पलिया    डा. वी.के.अग्रवाल
38ण्            138.    निघासन    श्री गिरिजा शंकर सिंह
39ण्            139.    गोलागोकर्ण नाथ    श्री बृजस्वरूप कन्नौजिया
40ण्            140.    श्रीनगर ;ैब्द्ध    श्री प्रवीण भार्गव
41ण्            141.    धौरहरा    श्री शमशेर बहादुर
42ण्            142.    लखीमपुर    श्री शशीधर मिश्रा उर्फ नामे महाराज
43ण्            143.    कस्ता ;ैब्द्ध    श्री राजेश गौतम
44ण्            144.    मोहम्मदी    श्री दाऊद अहमद
45ण्        सीतापुर     145.    महोली    श्री महेशचन्द्र मिश्रा
46ण्            146.    सीतापुर    श्री असफाक खां
47ण्            147.    हरगाँव ;ैब्द्ध    श्री रामहेत भारती
48ण्            148.    लहरपुर    श्री जासमीर अंसारी
49ण्            149.    बिसवां    श्री निर्मल वर्मा
50ण्            150.    सेवटा    मोहम्मद नसीम
51ण्            151.    महमूदाबाद    श्री प्रद्युम्न वर्मा
52ण्            152.    सिधौली ;ैब्द्ध    डा. हरगोविन्द भार्गव
53ण्            153.    मिश्रिख ;ैब्द्ध    श्री मनीष रावत
54ण्        हरदोई     154.    सवायजपुर    डा. अनुपम दुबे
55ण्            155.    शाहाबाद    श्री आसिफ खाँ
56ण्            156.    हरदोई    श्री  धर्मवीर सिंह
57ण्            157.    गोपामऊ ;ैब्द्ध    श्रीमती मीना कुमारी
58ण्            158.    साण्डी ;ैब्द्ध    श्री वीरेन्द्र वर्मा
59ण्            159.    विलग्राम मल्लावां    श्री अनुराग मिश्रा
60ण्            160.    बालामऊ ;ैब्द्ध    श्रीमती नीलू सत्यार्थी
61ण्            161.    सण्डीला    श्री पवन कुमार सिंह
62ण्        लखनऊ     168.    मलिहाबाद ;ैब्द्ध    श्री सत्य कुमार गौतम
63ण्            169.    बक्शी का तालाब    श्री नकुल दुबे
64ण्            170.    सरोजनी नगर    श्री शिवशंकर सिंह उर्फ शंकरी सिंह
65ण्            171.    लखनऊ पश्चिम    श्री अरमान खान
66ण्            172.    लखनऊ उत्तर    श्री अजय श्रीवास्तव
67ण्            173.    लखनऊ पूर्वी    श्री सरोज शुक्ला
68ण्            174.    लखनऊ मध्य    श्री राजीव श्रीवास्तव
69ण्            175.    लखनऊ कैन्ट    श्री योगेश दीक्षित
70ण्            176.    मोहनलालगंज ;ैब्द्ध    श्री राम बहादुर
71ण्        फर्रूखाबाद     192.    कायमगंज ;ैब्द्ध    श्री रामस्वरूप गौतम
72ण्            193.    अमृतपुर    श्री अरूण कुमार मिश्रा
73ण्            194.    फर्रूखाबाद    मोहम्मद उमर खां
74ण्            195.    भोजपुर    श्री नितिन सिंह जेमनी राजपूत
75ण्        कन्नौज     196.    छिबरामऊ    श्री ताहिर हुसैन सिद्दीकी
76ण्            197.    तेरवा    श्री विजय सिंह
77ण्            198.    कन्नौज ;ैब्द्ध    श्री अनुराग सिंह
78ण्        इटावा     199.    जसवन्तनगर    श्री दुर्गेश शाक्य
79ण्            200.    इटावा    श्री नरेन्द्र नाथ चतुर्वेदी
80ण्            201.    भरथना ;ैब्द्ध    श्री राघवेन्द्र गौतम
81ण्        औरैया     202.    विधूना    श्री शिवप्रसाद यादव
82ण्            203.    दिबियापुर    श्री रामकुमार अवस्थी
83ण्            204.    औरैया ;ैब्द्ध    श्री भीमराव अम्बेडकर
84ण्        कानपुर देहात    205.    रसूलाबाद ;ैब्द्ध    श्रीमती पूनम संखवार
85ण्            206.    अकबरपुर रनिया    डा0 सतीश शुक्ला
86ण्            207.    सिकन्दरा    श्री महेन्द्र कटियार
87ण्            208.    भोगनीपुर    श्री धर्मपाल सिंह भदौरिया
88ण्        कानपुर नगर     209.    बिल्हौर ;ैब्द्ध    श्री कमलेश चन्द्र दिवाकर
89ण्            210.    बिठूर    डा0 रामप्रकाश कुशवाहा
90ण्            211.    कल्यानपुर    श्री दीपू कुमार निषाद
91ण्            212.    गोविन्द नगर    श्री निर्मल तिवारी
92ण्            213.    सीसामऊ (सामान्य-ैब्)    श्री नन्दलाल कोरी
93ण्            214.    आर्यनगर    मो. अब्दुल हसीब
94ण्            215.    किदवई नगर    श्री संदीप शर्मा
95ण्            216.    कानपुर कैन्ट    डा0 नसीम अहमद
96ण्            217.    महराजपुर    श्री मनोज कुमार शुक्ला
97ण्            218.    घाटमपुर ;ैब्द्ध    श्रीमती सरोज कुरील
98ण्        उन्नाव     162.    बांगरमऊ    श्री इरसाद खां
99ण्            163.    सफीपुर ;ैब्द्ध    श्री रामबरन कुरील
100ण्            164.    मोहान ;ैब्द्ध    श्री राधेलाल रावत

जारीकर्ता:
बी.एस.पी. उ.प्र. स्टेट कार्यालय
12, माल एवेन्यू, लखनऊ

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

बी.एस.पी. द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति- दिनांक 07.01.2017

Posted on 11 January 2017 by admin

(1)    बी.एस.पी. उत्तर प्रदेश स्टेट यूनिट के वरिष्ठ पदाधिकारियों व समस्त 403 विधानसभा सीटों पर पार्टी के उम्मीदवारों की विशेष बैठक आयोजित, जिसमें चुनावी तैयारियों की समीक्षा के साथ-साथ ख़ासकर निर्वाचन आयोग द्वारा लागू चुनाव आचार संहिता को पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ अक्षरशः पालन करने का निर्देश।
(2)    बी.एस.पी. अनुशासित पार्टी के रूप में जानी जाती है और चुनाव के दौरान भी बी.एस.पी. को पूरे तौर से अनुशासित होकर काम करना है। यह ग़़रीबों व खासकर उपेक्षित वर्ग एवं लोकतंत्र के व्यापक हित में है।
(3)    सात चरणों में यहाँ हो रहे विधानसभा आमचुनाव के सम्बंध में उन्होंने नई रणनीति पर चर्चा की तथा इस सम्बंध में जरूरी दिशा-निर्देश भी दिये।
(4)    भाजपा व श्री नरेन्द्र मोदी सरकार अपनी लोकसभा की घोर चुनावी वादाखिलाफी व नोटबन्दी के अपरिपक्व व अत्यन्त जनपीड़ा देने वाला फैसले का ख़ामियाजा भुगतने के डर से किस्म-किस्म की बयानबाजी व संसद का बजट सत्र समय से पहले करने आदि के अनेकों प्रकार के हथकण्डे अपना रही है जिससे सावधानी अत्यन्त ज़रूरी: बी.एस.पी. की राष्ट्रीय अध्यक्ष, सांसद (राज्यसभा) व पूर्व मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश सुश्री मायावती जी।

लखनऊ, 07 जनवरी 2017: बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष, सांसद (राज्यसभा) व पूर्व मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश सुश्री मायावती जी ने बी.एस.पी. उत्तर प्रदेश स्टेट यूनिट के सभी वरिष्ठ पदाधिकारियों व प्रदेश के समस्त 403 विधानसभा सीटों पर पार्टी के उम्मीदवारों की आज यहाँ एक विशेष बैठक आयोजित करके चुनावी तैयारियों की समीक्षा के साथ-साथ ख़ासकर भारत निर्वाचन आयोग (ई.सी.आई.) द्वारा लागू चुनाव आचार संहिता के सम्बंध में उन्हें पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ अक्षरशः पालन करने का निर्देश दिया।
बी.एस.पी. प्रदेश कार्यालय 12 माल एवेन्यू में आयोजित इस बैठक को सम्बोधित करते हुये सुश्री मायावती जी ने कहा कि बी.एस.पी. एक अनुशासित पार्टी के रूप में जानी जाती है और चुनाव के दौरान भी बी.एस.पी. को पूरे तौर से अनुशासित होकर काम करना है।
भारत निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित नये चुनाव आचार संहिता के सम्बंध में विस्तार से जानकारी देते हुये बी.एस.पी. प्रमुख सुश्री मायावती जी ने कहा कि इसमें कई नई हिदायतों को शामिल किया गया है, जिसकी जानकारी ज़मीनी स्तर पर पार्टी के हर पदाधिकारी व कार्यकर्ता एवं पार्टी उम्मीदवारों को जरूर होनी चाहिये और उनका अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किया जाना चाहिये। यह लोकतंत्र के व्यापक हित में है और इस कार्य में चुनाव आयोग को पूरा सहयोग करने की आवश्यकता है। चुनाव आयोग एक संवैधानिक संस्था है और उसके निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन करने से गरीबों व कमजोर एवं उपेक्षित वर्गो को भी अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने में आसानी होगी।
सुश्री मायावती जी ने कहा कि विधानसभा स्तर पर छोटी-छोटी मीटिंगों का सिलसिला भी लगातार जारी रहना चाहिये तथा सात चरणों में यहाँ हो रहे विधानसभा आमचुनाव के सम्बंध में उन्होंने नई रणनीति पर चर्चा की तथा इस सम्बंध में जरूरी दिशा-निर्देश भी दिये।
उन्होंने कहा कि भाजपा व प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी सरकार ने अपनी लोकसभा की घोर चुनावी वादाखिलाफी पर से लोगोे का ध्यान बाँटने के लिये नोटबन्दी को अत्यन्त जनपीड़ा देने वाला फैसला जल्दबाजी में काफी अपरिपक्व तरीके से ले लिया और अब उसका ख़ामियाजा भुगतने के डर से भाजपा के नेतागण किस्म-किस्म की बयानबाजी व अनेकों प्रकार के हथकण्डे अपनाने का प्रयास कर रहे है। इसी के तहत ही संसद का बजट सत्र विधानसभा चुनाव के दौरान ही आहूत कर लिया गया है ताकि बजट में कुछ लोक-लुभावन घोषणायें करके ख़ासकर उत्तर प्रदेश की आमजनता को बहकाया जा सके, जिससे लोगों को बहुत सावधान रहने की ज़रूरत है।
इसी प्रकार सपा के पारिवारिक कलह व घमासान से प्रदेश की आमजनता को मुक्ति पाना जरूरी है। सपा उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी पार्टी है। पहले यहाँ उसके राज में जंगलराज व साम्प्रदायिक दंगे व तनाव के कारण उत्तर प्रदेश हर स्तर पर बदहाल रहा और काफी बदनाम भी हुआ है और इन्हीं कारणों से अख़बारों की सुर्ख़ियोें में रहा।
परन्तु अब इस ऐसी सरकार से मुक्ति पाने का सही समय आ गया है। सपा के दोनों ही गुटों को मालूम है कि वे सत्ता में नहीं आने वाले हैं और इसीलिये यहाँ आक्सीजन पर चल रही कांग्रेस पार्टी से किसी भी प्रकार का समझौता करने पर आतुर है, जिसके बारे में भी आमजनता को जागरूक व सावधान करते रहने की जरूरत है। इसके अलावा सपा के दोनों गुटों में राजनीतिक व चुनावी मजबूरी के तहत अगर तोड़-फोड़ रूक जाती है अथवा दोनों गूटों के बीच तलवारबाजी कम भी हो जाती है तो भी इससे प्रदेश व यहाँ की आमजनता का कोई भी भला होने वाला नहीं है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग द्वारा प्रदेश भर में दलित समाज की जागरूकता हेतु चलायी जा रही

Posted on 11 January 2017 by admin

उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग द्वारा प्रदेश भर में दलित समाज की जागरूकता हेतु चलायी जा रही ‘शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान’ यात्रा रोजाना सैंकड़ों गावांे एवं कस्बों का दौरा कर रही है। प्रदेश के विभिन्न जनपदों के सुरक्षित विधानसभा क्षेत्रों में चल रही इस यात्रा के जरिए कांग्रेस कार्यकर्ता रोजाना हजारों दलित मतदाताओं से जुड़ रहे हैं एवं कांग्रेस पार्टी की नीतियों एवं कार्यक्रमों का प्रचार-प्रसार कर रहे हैं।
आज यात्रा के 30वें दिन यात्रा जनपद जौनपुर के सेनापुर गांव, मिर्जापुर के कठवार, सोनभद्र के दिगावर, चंदौली के भीषमपुर, जनपद गाजीपुर के मनझनपुर आदि गांवों से होकर गुजरी। इन यात्राओं में अनुसूचित जाति विभाग के जिलाध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं संयोजकगण शामिल रहे।
इन यात्राओं में कांग्रेस नेताओं ने सम्बोधित करते हुए कहा कि दलित उत्थान के लिए कांग्रेस पार्टी और इसके नेता सदैव सक्रिय रहे हैं। वर्ष 1980 में कांग्रेस सरकार ने एससी/एसटी सबप्लान को लागू किया जिससे अलग बजट देकर करोंड़ों दलितों का आर्थिक एवं सामाजिक विकास संभव हो पाया। केन्द्र की यूपीए सरकार ने मनरेगा, खाद्य सुरक्षा कानून एवं शिक्षा का अधिकार कानून दिया जिससे सबसे अधिक लाभ दलित वर्ग को हुआ है।
कांग्रेस नेताओं ने आम जनता में जनजागरण करते हुए कहा कि पिछले 27 वर्षों में उ0प्र0 में गैर कंाग्रेसी दलों के शासनकालों के चलते     दलित समुदाय खुद के आवास से वंचित है। आज भी 51 प्रतिशत दलित परिवारों के पास खुद का घर नहीं है। यही नहीं 66 प्रतिशत दलित परिवारों के पास खुद के शौचालय नहीं हैं अधिकांश घरों में पीने के स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था नहीं है जिसके कारण उनके घरों की बुजुर्ग महिलाओं एवं गर्भवती महिलाओं को दूर से पीने का पानी लाना पड़ता है।
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने यह वचन लिया है कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर दलितों को आवास उपलब्ध कराया जायेगा जिसमें शौचालय, स्वच्छ पेयजल और बिजली की सुविधा से परिपूर्ण होगा। उन्होने बताया कि कंाग्रेस की सरकार बनने पर दलितों को सरकारी अस्पतालों या निजी अस्पतालों में 2 लाख रूपये तक का इलाज अम्बेडकर आरोग्य श्री के अन्तर्गत मुहैया कराया जायेगा। इतना ही दलितों के बच्चों की शिक्षा हेतु के0जी0 से पी0जी0 तक शिक्षा उपलब्ध करायी जायेगी। दलितों को पूर्ण सुरक्षा और सम्मान मिलेगा।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

नोटबन्दी के विरोध में आयोजित जनआक्रोश आन्दोलन हेतु आगे की रणनीति तय किये जाने के उद्देश्य से

Posted on 11 January 2017 by admin

नोटबन्दी के विरोध में आयोजित जनआक्रोश आन्दोलन हेतु आगे की रणनीति तय किये जाने के उद्देश्य से आवश्यक बैठक कल दिनांक 04जनवरी,2017 को मध्यान्ह 12बजे से उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी मुख्यालय प्रांगण, नेहरूभवन 10 माल एवेन्यू, लखनऊ में आयोजित की गयी है। बैठक में उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के वरिष्ठ उपाध्यक्षों, प्रदेश पदाधिकारियों/कार्यकारिणी सदस्यों/विशेष आमंत्रित सदस्यों, जिला/शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों एवं फ्रन्टल संगठन/विभाग/प्रकोष्ठों के प्रदेश प्रमुखों एवं प्रदेश कंाग्रेस के मीडिया विभाग के सभी पदाधिकारियों को विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में आमंत्रित किया गया है।
प्रदेश कंाग्रेस के प्रवक्ता डाॅ0 हिलाल अहमद ने बताया कि बैठक में अ0भा0 कंाग्रेस कमेटी के महासचिव-प्रभारी उ0प्र0 श्री गुलाम नबी आजाद, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री राजबब्बर सांसद, प्रदेश की मुख्यमंत्री पद की प्रत्याशी श्रीमती शीला दीक्षित, समन्वय समिति के चेयरमैन एवं सांसद श्री प्रमोद तिवारी, प्रचार अभियान के चेयरमैन एवं सांसद डाॅ0 संजय सिंह, अ0भा0 कांग्रेस कमेटी के सभी उ0प्र0 के सहप्रभारी सचिवगण, कांग्रेस विधानमंडल एवं विधान परिषद दल के नेता आदि उपस्थित रहेंगे।
डाॅ0 हिलाल अहमद ने बताया कि नोटबन्दी के सम्बन्ध में प्रधानमंत्री ने देश की जनता से 50 दिन का समय मांगा था परन्तु 50 दिन से अधिक दिन बीत जाने के बावजूद आज भी स्थिति ज्यों कि त्यों बनी हुई है। आम जनमानस बैंक एवं ए.टी.एम. की लाइन में खड़ा है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)


Advertise Here

Advertise Here

 

February 2017
M T W T F S S
« Jan    
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728  
-->




 Type in