*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | झांसी

चेकिंग में पकड़ी 7 लाख 88 हजार रूपये की नई करन्सी…

Posted on 10 January 2017 by admin

800x535update_jhansi_police_checking_nwabad_holding_more_than_5_million_in_cash_and_two_young_men1झाँसी :- आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद एसएसपी अखिलेश चौरसिया के निर्देशन में जनपद के थानों की पुलिस चेकिंग तेज कर दी है। पुलिस ने चैकिंग के दौरान अलग अलग चार पहिया बहन से 7 लाख 88 हजार रूपये की नई करन्सी बरामद की. पकड़े गये सभी युवकों को थाने लाकर पूछतांछ की जा रही है।

मंगवार को नवाबाद थाना प्रभारी बीएल यादव अपने हमराह के साथ जेल चौराहे पर चेकिंग कर रहे थे। उसी दौरान उन्हें वहां सीएमएस कम्पनी की मार्शल कार नजर आई। जहां रोककर जब उसकी तलाशी ली गई। तो उसमें 5 लाख 38 हजार रुपये की नकदी मिली। शक होने पर पुलिस ने कार और चालक समेत तीन लोगों को थाने ले आई। जहां उनसे पूछतांछ की जा रही है। नवाबाद थाना प्रभारी बीएल यादव के अनुसार पूछताछ में पकड़े युवक ने अपना नाम नीरज और सुमेर कुमार बताया। फिलहाल जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई है।

वही बबीना थाना प्रभारी प्रवीण कुमार अपने हमराह के साथ वाहन टोल बेरियल के नजदीक चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें तीन अलग-अलग कार संदिग्ध नजर आई। जिसे रोककर जब कार की तलाशी ली गई तो पुलिस दंग रह गई।

बबीना थाना प्रभारी के अनुसार कार की तलाशी लेने पर एक कार से 66 हजार रुपये नकद, दूसरी कार से एक लाख रुपये नकद व तीसरी से 1 लाख 10 हजार रुपये नकद मिले। पुलिस ने मौके से 4-5 व्यक्तियों को भी पकड़ लिया और थाने ले आई। जहां उनसे पूछतांछ की गई। पूछतांछ में उन्होंने बताया वह दिल्ली से यह रकम लेकर आये है और महाराष्ट्र में भण्डरा कराने के लिये जा रहे थे। पूछतांछ कर इसके बारे में जिलाधिकारी समेत अन्य उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया है।

Comments (0)

ओरछा में हुआ बंुदेली साहित्य का राष्ट्ीय अधिवेषन कवि कैलाष मड़बैया को इक्यावन हजार रु.का षाॅंति देवी पुरस्कार

Posted on 09 February 2015 by admin

झाॅंसी,वेत्रवती तट पर स्थित पावन,प्रसिद्ध और ऐतिहासिक तीर्थ ओरछा में दो दिवसीय बुन्देली बंुदेली भाषा और साहित्य का राष्ट्ीय अधिवेषन नूतन वर्षाभिनन्दन 2015 पर सम्पन्न हुआ।अखिल भारतीय बुन्देलखण्ड साहित्य एवं संस्कृति परिषद के तत्वावधान में आयोजित इस साहित्य सम्मेलन में एक सौ से अधिक बंुदेलखण्ड के 50 जिलों के प्रतिनिधि साहित्कारों ने चार स़त्रों में भागीदारी की। अधिवेषन में सर्वसम्मति से भारत षासन से बुन्देली भाषा को आठवीं अनुसूची में अब तक स्थान नहीं दिये जाने पर तीब्र आक्रोष व्यक्त किया गया। साथ ही राजा राम के प्रसिद्ध तीर्थ ओरछा में,उक्त रेल लाइन पर आने जाने बाली रेलों के स्टोपेज बनाये जाने की माॅंग की गई। इस भव्य साहित्य समारोह में लब्ब्धप्रतिष्ठित कवि कैलाष मड़बैया भोपाल को राष्ट्ीय षाॅंति देवी साहित्य पुरस्कार-2015,‘लाइफ टाइम एचीवमेण्ट’ स्वरुप इन्क्यावन हजार रुपये, अंगवस्त्र,साॅंल,श्री फल और साहित्यादि प्रदान किया गया। पुरस्कार पूर्व सांसद झाॅंसी एवं मध्यदेष के पूर्व सम्पादक विष्वनाथ षर्मा, पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री प्रदीप जैन आदित्य,ओरछेष मधुकरषाह जू देव दिल्ली और फिल्म अभिनेता राजा बुन्देला के आतिथ्य में प्रदान किया गया। वीरसिंह देव पुरस्कार-15 डाॅं. कामिनी प्राचार्या सेंव़ढ़ा/दतिया को प्रदान किया गया। विविध सत्रों में बंुदेली भाषा के विविध पक्षों पर उ0प्र0और म0प्र0 के बंुदेली विद्वानों द्वारा अपने षोध पत्र प्रस्तुत किये गये। यथा सद्यःप्रकाषित अभूतपूर्व ग्रंथ‘बंुदेली के ललित निबंध’  पर 60 साहित्यकारों ने समीक्षायें प्रस्तुत कर एक नया रिकार्ड बनाया कि किसी एक ग्रंथ को एक साथ इतने विद्वानों ने पढ कर दो माह में अपने आलेख तैयार किये और उस पर अपनी अपनी राय च्यक्त की।दरअसल यह बंुदेली में गद्य साहित्य को समर्थ और सक्षम बनाने की दिषा में एक विषिष्ट उपक्रम था। साथ ही बंुदेली की बोलियों में बटे होने के कारण उसे मानकीकरण करते हुये भाषायी रूवरुप प्रदान करने की दिषा में महत्वपूर्ण चरण था। बंुदेली में समीक्षायें लिखने की भी यह पहल थी। इसी तरह बंुदेली में सात्रा वृतान्त लिखने के लिये नेपाल की हाल ही में की गई यात्रा के माध्यम से षोध आलेख पढ़ कर मंथन किया गया। एक सत्र विलुप्त होती बंुदेली लोक कथाओ पर सम्पन्न किया गया। सर्वसम्मति से नेपाल में हुये अन्तर्राष्ट्ीय सम्मेलन की सफलता पर धन्यवाद ज्ञापन भी किया गया।इस अवसर पर हुये बंुदेली काव्य पर राष्ट्ीय कवि सम्मेलन में सर्वश्री कैलाष मड़बैया भोपाल,आषा पाण्डे ग्वालियर,देवदत्त द्विवेदी छतरपुर, बेंधड़क झाॅंसी, रामस्वरुप दतिया,पथ एवं षिवेन्द्र भिण्ड, स्वदेष सोनी एवं पुरुषोत्तम पस्तोर ललितपुर, राजीव राणा  एवं रामगोपाल रायकवार ठीकमगढ,जवाहर द्विवेदी गुना,लखनखरे षिवपुरी,उमेष खरे,हेमा बुखारिया,प्रभा खरे,प्रज्ञा एवं पोषक पृथ्वीपुर,़प्रो.षीलचंद पालीवाल विदिषा,संतोष पटैरिया खजुराहो,रजनीष ओरछा एवं सागर,जबलपुर,मउरानीपुर,जालौन, काल्पी,महोबा आदि आदि जनपदों से आये नये पुराने लगभग 50 कवियों ने रात्रि के अन्तिम पहर तक काव्यपाठ किया।पूरे समय ओरछा नरेष मधुकरषाह और बंुदेलखण्ड के राष्ट्ीय अध्यक्ष डाॅ.कैलाष मड़बैया भोपाल विद्यमान रह, सक्रिय भागीदारी करते रहे। अधिवेषन में सम्पूर्ण बंुदेलखण्ड में नियमित कार्य करते रहने के लिये एक वार्षिक आयोजना कलेंण्डर2015 भी लोकार्पित कर ,सभी जिला प्रतिनिधियों को प्रदान किया गया। समारोह में श्री रामस्वरुप स्वरुप दतिया की काव्यकृति और षिरोमणिसिंह पथ भिण्इ के बंुदेली कथा संग्रह अरगनी का लोकार्पण भी मूर्धन्य साहित्यकार कैलाष मड़बैया जी एवं अन्य अतिथियों द्वारा किया गया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने आज कहा कि झांसी में पार्टी खनन माफियाओं व सत्तारूढ़ दल समाजवादी पार्टी के गुण्डों के खिलाफ चुनाव लड़ रही है।

Posted on 15 April 2014 by admin

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने आज कहा कि झांसी में पार्टी खनन माफियाओं व सत्तारूढ़ दल समाजवादी पार्टी के गुण्डों के खिलाफ चुनाव लड़ रही है। उन्होनंे कहा अखिलेश सरकार के राज में खनन माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हो गये है। कि न सिर्फ आम जनता बल्कि पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी इन खनन माफियाओं का शिकार बन रहे है। उन्होंने कहा पार्टी ने हमेशा जनता का न्याय व संरक्षण दिलाने के लिए संघर्ष किया है। डा0 बाजपेयी ने आज झांसी में पार्टी प्रत्याशी सुश्री उमा भारती के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे।
डा0 बाजपेयी ने जनता का आवहान किया कि वे देश में सुशासन व विकास के लिए भाजपा को वोट दे। उन्होने कहा कांगे्रस नीत गठबंधन वाली यूपीए सरकार घपलों-घोटालों और भ्रष्टाचार की जननी है। देश में बढ़ी मंहगाई व भ्रष्टाचार की मार से आम जनता कराह रही है। उन्होने कहा कांगे्रस के हाथों में देश सुरक्षित नहीं है। देश की आंतरिक व वाहय सुरक्षा पर लगातार खतरा बना हुआ है।
उन्होंने सपा-बसपा पर हमला करते हुए कहा कि कांगे्रस के संरक्षण में इन दोनों दलों ने उत्तर प्रदेश को लूने का काम किया है। एक तरफ बसपा शासनकाल में प्रदेश में भ्रष्टाचार के नये कीर्तिमान स्थापित हुए वहीं युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के राज में प्रदेश में फैली अराजकता व अपराध से आम जनता भयभीत है।
डा0 बाजपेयी ने कहा लोकसभा चुनाव में अपनी हार सुनिश्चित देखकर सपा-बसपा व कांगे्रस हताश व निराश है। इसीलिए इन तीनों दलों की तिकड़ी ने साम्प्रदायिक आधार पर धु्रवीकरण कराकर अपनी विजय का ताना-बाना शुरू किया है। लेकिन राज्य की जनता इनके मंसूबों को पूरा नहीं होने देगी।
डा0 बाजपेयी ने कहा देश में परिवर्तन की लहर चल पड़ी है। पार्टी का विजय रथ अब रूकने वाला नही है। लोकसभा चुनाव बाद केन्द्र में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनेगी।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

चैबीस घंटे बिजली की मांग को लेकर केंद्रीय मंत्री बैठे धरने पर बिजली हमारी, चैन सैफई को, नहीं चलेगा

Posted on 12 June 2013 by admin

झांसी। पारीछा के दयानंद बुटान स्टेडियम में पड़ रही रिमझिम फुहारों के बीच मंगलवार को केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री प्रदीप जैन ‘आदित्य’ ने हजारों कार्यकर्ताओं के साथ धरना देकर सियासी गरमाहट ला दी है। बुंदेलखंड को चैबीस घंटे बिजली दिलाने की मांग को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ हुंकार भरते हुए उन्होंने कहा कि बिजली हमारे हक की लड़ाई है। पारीछा थर्मल पावर प्लांट की राख से हमारे खेत बंजर बनें, पानी प्रदूषित हो और बिजली का सुख सैफई व इटावा के लोग लें, ऐसा नहीं चलेगा।
पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार मंगलवार की सुबह कांग्रेसी रानीमहल पर एकत्रित हुए। यहां से केंद्रीय मंत्री के नेतृत्व में वाहनों पर सवार होकर पारीछा पहुंचे। थर्मल पावर प्लांट के सामने आवासीय कालोनी स्थित दयानंद स्टेडियम में बने पंडाल में धरने पर बैठ गए। धरना स्थल पर जुटी हजारों की भीड़ को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री को बुंदेलखंड का दुख दर्द दिखाई नहीं देता। झांसी व ललितपुर जिले में बिजली का उत्पादन होने के बाद भी यहां के लोगों को पर्याप्त बिजली नहीं मिल रही है, जिससे उद्योग धंधे दम तोड़ रहे हैं। उन्होंने सवाल उठाया जब किसान को बिजली व पानी नहीं मिलेगा तो बुंदेलखंड की बदहाली कैसे दूर होगी? प्रदेश सरकार बिजली की कमी का रोना रोती है तो फिर सैफई व इटावा में 24 घंटे आपूर्ति क्यों की जाती है? क्या हम इंसान नहीं हैं, जो हमारे साथ सौतेलापन किया जा रहा है? प्लांट की धूल, राख व प्रदूषण का जहर हमें और रोशनी सैफई व इटावा को मिले, यह नहीं चलेगा। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष डा विजय खैरा ने कहा कि झांसी का हक लखनऊ को नहीं छीनने देंगे।
सभा को शहर अध्यक्ष नरेश बिलहाटिया, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राजीव रिछारिया, देवी सिंह कुशवाहा, जसपाल सिंह बंटी, चंद्रशेखर तिवारी, जनता दल के सत्येंद्र पाल सिंह, राजेंद्र सिंह यादव, अनिल बट्टा, शफीक मकरानी, इदरीश खान, इम्तियाज हुसैन, ब्लाक प्रमुख बबीना वीरेंद्र सिंह, मुकेश अग्रवाल, बलवान सिंह यादव, राहुल रिछारिया, हरीश कपूर टीटू आदि ने संबोधित किया।
अध्यक्षता कांग्रेस जिलाध्यक्ष सुधांशु त्रिपाठी ने की। इस मौके पर पूर्व मंत्री बिहारी लाल आर्य, पूर्व मंत्री ओमप्रकाश रिछारिया, जानकीशरण वर्मा, अनिल झा, राजेंद्र रेजा, सलिल रिछारिया, हमीदा अंजुम, अरविंद वशिष्ठ, भानू सहाय, तेज सिंह गौर, राहुल राय, नावेद खान, जमुना झा, नीता अग्रवाल, मनीराम कुशवाहा, शमीम राज, ललितपुर के जिलाध्यक्ष हरीकिशन बाबा, अमित प्रिय जैन, लल्लन महाराज, अनीता, मनोज झारखडि़या, राहुल गुप्ता, विजित कपूर, रोहित पटसारिया, शादाब आदि मौजूद रहे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

केन्द्रीय मंत्री के नेतृत्व में कानपुर- शिवपुरी हाई वे पर आंदोलनकारियों ने लगाया जाम

Posted on 12 June 2013 by admin

edited-andolan011झांसी/ बड़ागांव। बुंदेलखंड को पर्याप्त बिजली दिलाने की मांग को लेकर केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री प्रदीप जैन ‘आदित्य’ के नेतृत्व में आठ घंटे तक चले धरना- प्रदर्शन और चक्का जाम के बाद भी कोई ठोस हल नहीं निकल सका। हालांकि, केन्द्रीय मंत्री का दावा है कि जिलाधिकारी के माध्यम से शासन ने उन्हें बुंदेलखंड में 22 घंटे बिजली देने का आश्वासन दिया है, जबकि जिलाधिकारी ने ऐसा कोई आश्वासन देने से साफ इनकार किया है। उन्होंने यह जरूर कहा कि मंत्री की मांग को फैक्स के माध्यम से पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष को भेज दिया है।
पारीछा तापीय विद्युत परियोजना के आवासीय परिसर में हजारों समर्थकों के साथ पूर्वाह्न साढ़े ग्यारह बजे से धरना दे रहे केंद्रीय मंत्री को अपराह्न करीब पौने चार बजे कालोनी के मुख्य द्वार पर आंदोलनकारियों के साथ अभद्रता की खबर मिली। इस पर वह अपने समर्थकों के साथ सड़क पर आ गए और कानपुर- शिवपुरी मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया। इससे मार्ग के दोनों ओर वाहनों की कतारें लग गईं। इस दौरान आंदोलनकारियों ने प्रदेश सरकार का पुतला फूंक कर प्रदर्शन किया। मौके पर मौजूद अपर जिलाधिकारी उमेश नारायण पांडेय ने केंद्रीय मंत्री को जानकारी दी कि जिलाधिकारी ने शासन को उनकी मांग से अवगत करा दिया है। लेकिन, आंदोलनकारी जिलाधिकारी को मौके पर बुलाने पर अड़ गए। स्थिति बिगड़ती देख मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल भी बुला लिया गया। इस बीच कांग्रेस जिलाध्यक्ष सुधांशु त्रिपाठी, पूर्व मंत्री बिहारी लाल आर्य और प्रशासन अधिकारियों के बीच चार दौर की वार्ता हुई। देर शाम जिलाधिकारी तनवीर जफर अली भी मौके पर पहुंच गए। केंद्रीय मंत्री से जिलाधिकारी की वार्ता के बाद तकरीबन चार घंटे के बाद जाम समाप्त कर दिया गया।  edited-andolan021
केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन ने पत्रकारों को बताया कि जिलाधिकारी के माध्यम से शासन ने उन्हें आश्वस्त किया है कि बुंदेलखंड को कम से कम बाइस घंटे बिजली दी जाएगी। हालांकि, अभी इसकी तिथि निर्धारित नहीं की गई है।
दूसरी तरफ, जिलाधिकारी तनवीर जफर अली ने कहा है कि बिजली को लेकर हुए आंदोलन के बारे में पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष को अवगत कराते हुए मांग पत्र चेयरमेन को फैक्स भी कर दिया है। 22 घंटे बिजली आपूर्ति के संबंध में उन्होंने कोई आश्वासन नहीं दिया है। यह शासन स्तर पर ही संभव है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

सीमाओं की सुरक्षा और दैवीय आपदा पर नियंत्रण पाने में भारतीय सेना के योगदान की मुख्यमंत्री ने की सराहना

Posted on 16 January 2013 by admin

  • भारतीय फौज पर देश के हर नागरिक को गर्व
  • सेना दिवस के अवसर पर झांसी दुर्ग में वीर सैनिकों का अलंकरण समारोह सम्पन्न

up-cm-in-jhanshi-army-function-1उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने देश की सीमाओं को सुरक्षित रखने एवं दैवीय आपदा पर नियंत्रण पाने में भारतीय सेना के योगदान की सराहना करते हुए कहा कि कठिन परिस्थितियों में मुस्तैदी से तैनात रहकर देश की एकता एवं अखण्डता को अक्षुण्ण बनाए रखने वाली भारतीय फौज पर देश के हर नागरिक को गर्व है।
up-cm-in-jhanshi-army-functionमुख्यमंत्री आज सेना दिवस के अवसर पर झांसी दुर्ग में दक्षिणी कमान द्वारा आयोजित वीर सैनिक अलंकरण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह ऐतिहासिक दुर्ग झांसी की महारानी लक्ष्मीबाई के साहस एवं दृढ़ता का प्रतीक है। रानी लक्ष्मीबाई कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी पीछे नहीं हटीं और उन्होंने शत्रुओं के छक्के छुड़ा दिए। देश के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाली रानी लक्ष्मीबाई के इस दुर्ग से हमें देश के लिए मर मिटने की प्रेरणा मिलती है। इस अवसर पर उन्होंने वीर सैनिकों को वीरता पदक प्रदान किए और शहीद जवानों की वीर नारियों एवं सेवानिवृत्त सैनिकों को सम्मानित किया।
up-cm-in-jhanshi-army-function2श्री यादव ने पड़ोसी देशों के साथ शान्तिर्पूण सम्बन्धों पर बल देते हुए कहा कि हमें अपनी सामरिक क्षमता एवं ताकत भी बढ़ानी होगी। उन्होंने कहा कि हाल ही में सीमा पर हमारे दो सैनिकों के साथ जिस बर्बरता का बर्ताव किया गया है, उस घृणित कृत्य की हर देशवासी कठोर निंदा कर रहा। शहीद सैनिक हेमराज के परिवार के साथ प्रदेश सरकार एवं जनता खड़ी है। पीडि़त परिवार को राज्य सरकार की ओर से सहायता उपलब्ध करायी गयी है और आगे भी शहीद के परिवार का पूरा ध्यान रखा जायेगा।
झांसी भ्रमण के दौरान उन्होंने मीडिया से भी बातचीत की। पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार बुंदेलखण्ड की समस्याओं से भली प्रकार अवगत है और सरकार ने पानी, बिजली, सिंचाई और सड़कों में सुधार हेतु ठोस कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का प्रभाव निकट भविष्य मंें परिलक्षित होगा। मुख्यमंत्री ने बबीना में फायरिंग रेंज का अवलोकन भी किया।
अलंकरण समारोह में लेफ्टिनेंट जनरल ए0 के0 ंिसंह ने वीर सैनिकों को पदक तथा यूनिट प्रशंसा पत्र प्रदान किया। समारोह को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमारी सेना ने देश की ओर बुरी नजर रखने वालों को पहले भी मुंहतोड़ जवाब दिया है और भविष्य में भी हम ऐसी चुनौती का करारा जवाब देंगे। उन्होेंने कहा कि हम अनुशासित सिपाही हैं और देश की सुरक्षा से बढ़कर हमारे लिए कुछ नहीं है। बड़ी से बड़ी कुर्बानी देने में भारतीय सैनिक पीछे नहीं हटेंगे।
up-cm-in-jhanshi-army-function1अलंकरण समारोह में केन्द्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री श्री प्रदीप जैन, सांसद जालौन श्री घनश्याम अनुरागी, पूर्व संासद श्री चन्द्रपाल सिंह यादव, विधायक गरौंठा श्री दीप नारायण सिंह यादव, विधायक सदर श्री रवि शर्मा, विधायक बबीना श्री के0पी0 राजपूत, विधायक मऊरानीपुर सुश्री रश्मि आर्या, महापौर श्रीमती किरण वर्मा व अन्य गणमान्य जन प्रतिनिधि, सेना के वरिष्ठ अधिकारी तथा प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री राकेश गर्ग, आयुक्त झाँसी मण्डल
श्री सत्यजीत ठाकुर, जिलाधिकारी झाँसी श्री गौरव दयाल, डी0आई0जी0 पुलिस श्री एस0एन0 सिंह, एस0एस0पी0 डाॅ0 के0 एंजलरसन सहित जनपद के अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

डा0 अविनाश चन्द्र पाण्डेय कुलपति नियुक्त

Posted on 24 December 2012 by admin

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल एवं कुलाधिपति, बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय, झांसी, श्री बी0एल0 जोशी ने डा0 अविनाश चन्द्र पाण्डेय, प्रोफेसर एण्ड हेड, सेन्टर आॅफ एटमोसफियर एण्ड ओशियन स्टडीज, इलाहाबाद विश्वविद्यालय, इलाहाबाद को कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से तीन वर्ष की अवधि के लिये बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय, झांसी का कुलपति नियुक्त किया है।
यह जानकारी राज्यपाल के प्रमुख सचिव, श्री मनजीत सिंह ने आज यहां दी।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

झांसी रेलवे स्टेशन पर रेलवे चि•ित्सा•र्मियों •ी अवैध वसूली

Posted on 03 October 2012 by admin

1gc1-ट्रेन में चोटिल हुई गंगापुर •ी महिला यात्री से मरहम पटटी •रने •े एवज में वसूले ५00 रुपए
-यात्रियों •े लूटने में लगे चि•ित्सा•र्मियों •ी रेलमंत्री एवं रेलवे अधि•ारियों से •ी शि•ायत
गंगापुर सिटी, 1 अक्टूबर।
यात्रियों •ी सुरक्षा एवं संरक्षा •े लिए •टिबद्ध रेलवे प्रशासन •े •र्मचारियों •ी मनमानी से यात्रियों •ो परेशानी उठानी पड़ रही है। यही नहीं रेलवे •े चि•ित्सा•र्मियों द्वारा झांसी रेलवे स्टेशन पर राजस्थान •े गंगापुर सिटी •ी महिला यात्री से ट्रेन में चोटिल होने पर मरहम पटटी •े नाम पर ५00 रुपए वसूलने •े मामले •ा खुलासा हुआ है। ऐसे में चि•ित्सा•र्मियों •ी चौथवसूली पर रो• लगाने में रेलवे प्रशासन ना•ामयाब साबित हो रहा है। खास बात यह है •ि ट्रेन में महिला •े चोटिल होने पर ट्रेन में सवार टीटी, आरपीएफ पुलिस वालों ने •ोई खैर-खबर नहीं ली। महिला द्वारा गंगापुर सिटी मेें उस•े परिजनों •ो अवगत •राने पर उन•े परिजनों द्वारा झांसी में उन•े परिचित मीडिया से जुड़े ए• व्यक्ति •ो सूचना दी गई। इस पर उस व्यक्ति द्वारा झांसी •े रेलवे चि•ित्सा•र्मियों •ो सूचना दे•र ट्रेन पर महिला •ी मरहम पटटी •रने •े लिए भेजा गया।
जान•ारी •े अनुसार गंगापुर सिटी निवासी महिला यात्री सारि•ा अपनी बहन एवं बहन •े पुत्र •े साथ गया नगर दुर्ग निवासी उन•े रिश्तेदार •े यहां से ए• धार्मि• •ार्य•्रम में भाग ले•र 29 सितम्बर •ो रात •रीब 7 बजे दुर्ग •े डोंगरगढ़ •े •िशनगा रेलवे स्टेशन से गंगापुर सिटी आने •े लिए समता एक्सप्रेस ट्रेन में सवार हुए थे। उन•े पास डोंगरगढ •े •िशनगा से उत्तरप्रदेश •े मथुरा रेलवे स्टेशन त• •ा रिजर्वेशन टि•ट था। ट्रेन में सवार होने •े आधा घंटे बाद ही महिला यात्री •ा हाथ ट्रेन •ी खिडक़ी गिर जाने से उसमें आ गया और चार अंगुलियों में गंभीर चोट लग गई। इस•ी जान•ारी देने •े लिए ट्रेन में जब टीटी एवं आरपीएफ जवानों •ी तलाश •ी गई तो •ोई नजर नहीं आया और बाद में भी •िसी •र्मचारी ने •ोई खैर-खबर नहीं ली। उस दौरान रात में ही ए• अन्य यात्री ने पटटी तो बांध दी, ले•िन खून नि•लना बंद नहीं हुआ। 30 सितम्बर •ी सुबह •रीब 8 बजे झांसी रेलवे स्टेशन आने से दो घंटे पूर्व महिला यात्री ने उस•े चोटिल होने •ी जान•ारी गंगापुर सिटी में उस•े परिजनों •ो दी। इस पर महिला •े पति ने झांसी में परिचित मीडिया से जुड़े ए• व्यक्ति •ो इस घटना •ी जान•ारी दी और उपचार •रवाने •ी बात •ही। इस पर उस व्यक्ति ने ट्रेन •े झांसी आने पर रेलवे चि•ित्सा•र्मियों •ो समता एक्सप्रेस ट्रेन(ट्रेन नंबर-12807)•े •ोच एस-3 •ी सीट नंबर 47(टि•ट पीएनआर नंबर-660-6980171) पर चोटिल हुई महिला यात्री •े पास भेजने •ी बात •ही।  30 सितम्बर •ो सुबह •रीब 10 ट्रेन झांसी रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई तो रेलवे •ा ए• डॉक्टर, ए• •म्पाउंडर पहुंच गए। इस दौरान वहां दो टीटी भी मौजूद थे। चि•ित्सा•र्मियों ने घायल महिला यात्री •ी मरहम पटटी •र दी। बाद में उपचार •े बाद चि•ित्सा•र्मियों ने महिला यात्री से उपचार •रने •ी एवज में 200 रुपए मांगे। सर•ारी चि•ित्स•ों द्वारा अवैध रूप् से पैसे मांगने •ा महिला सहित ट्रेन में सवार अन्य यात्रियों ने भी विरोध •िया। ले•िन चि•ित्सा•र्मी नहीं माने और जबरन महिला से 200 रुपए ले लिए। जब•ि ट्रेन में सवार होने •े बाद चि•ित्सा आदि •ी जिम्मेदारी रेलवे प्रशासन •ी होती है। ए• और तो महिला यात्री •ो 12 घंटे बाद उपचार मिला, वहीं चि•ित्सा•र्मियों ने अवैध वसूली •ी। इस संबंध में रेल मंत्री, रेलवे बोर्ड अध्यक्ष एवं झांसी •े रेलवे अधि•ारियों से दोषी चि•ित्सा•र्मियों •ो सस्पेंड •रने •ी मांग •ी है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

भ्रष्टाचार व काले धन के चलते भारत की छवि धूमिल हुई-कलराज मिश्र

Posted on 22 October 2011 by admin

100_0790केन्द्र की कांग्रेस सरकार के मंत्रियों के जबर्दस्त भ्रष्टाचार  व कालेधन के चलते जहां विष्व भर में भारत की छवि एक भ्रष्टाचारी देष के रूप में जानी जा रही है, वहीं देष में अपने चरम पर पहुंच चुकी महंगाई ने आम आदमी के मुंह का निवाला छिन लिया है सरकार का जनता के प्रति केाई सरोकार नहीं रहा।
उक्त बात भाजपा के राष्टीय उपाध्यक्ष एवं जन स्वाभिमान यात्रा के नायक कलराज मिश्र ने उरई में यात्रा के समापन अवसर पर आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते
उन्होंने प्रदेष की मायावती सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्र की सरकार के भ्रष्टाचार को मात देते हुए मायावती ने 2लाख 54 हजार करोड़ का घोटाला कर डाला। श्री मिश्र ने कहा कि प्रदेष में खेती-किसानी बर्बाद हो चुकी है, उद्योग धन्धें चैपट हो चुके हैं, नौजवान बेरोजगार बैठें है, राज्य में कानून-व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। उन्होंने कहा कि स्वयं राज्य सरकार के आरोपी मंत्रियों को बचाने का कार्य मुख्यमंत्री कर रही हैं, आम जनता से न तो कोई सरोकार रहा और न ही आम आदमी की कहीं कसी भी स्तर पर सुनवाई हो रही है। सड़के, बिजली, पानी जैसे मुलभूत सुविधाओं से लोगों क महरूख रखा जा रहा है।
भाजपा नेता ने कहा कि प्रदेष में भाजपा की सरकार बनने के बाद किसानों को 1 प्रतिषत ब्याज पर रिण उपलब्ध कराया जायेगा, लड़कियों के लिए लाडली योजना तथा इण्टर तक निःषुल्क षिक्षा की व्यवस्था की जायेगी।
समापन अवसर पर पहुंची भाजपा नेत्री उमा भारती ने कलराज मिश्र को पार्टी का गणेष बताया और कहा कि उन्होंने जब-जब अगुवाई की है भाजपा की सरकार बनी है।
इस अवसर पर पार्टी के राष्टीय महासचिव मुख्तार अब्बास नकवी, राष्टीय प्रवक्ता रामनाथ केाविद, प्रदेष उपाध्यक्ष षिव प्रताप षुक्ला, स्वतंत्र देव सिंह समेत पार्टी के प्रदेष स्तरीय कई पदाधिकारी उपस्थित रहे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं जनस्वाभिमान यात्रा के नायक श्री कलराज मिश्र जी की झांसी प्रेस वार्ता के मुख्य बिन्दु

Posted on 22 October 2011 by admin

ऽ    केन्द्र की सरकार पूर्णतः असफल और पंगु हो चुकी है। मंहगाई भयंकर रुप धारण किये हुये है। वहीं वित्त मंत्री कहते हैं कि यह दिसम्बर 2011 तक कम होगी, प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार सी0रंगराजन कहते हैं कि यह मार्च 2012 तक कुछ नरम होगी। वहीं मोंटेक सिंह अहलुवालिया भी मानते हैं कि यह मार्च 2012 तक ही दहाई से 8 प्रतिशत तक आ सकती है। आखिर जनता किसकी बात सच माने ? कैबिनेट में बने मंत्री मंहगाई के मुद्दे पर परस्पर विरोधी बयानबाजी करते हैं। इस तरह के विरोधाभाषी रवैये से जनता का भला कैसे होगा। कौन सच बोल रहा है।

ऽ    केन्द्र और प्रदेश की सरकार के वाकयुद्ध से प्रदेश का विकास प्रभावित हो रहा है। इसके पूर्व भी केन्द्र और प्रदेश में अलग-अलग सरकारंे हुआ करती थीं। उनमें विरोधी का भाव था। दुश्मनी का नहीं। परन्तु एक दूसरे का समर्थन कर रहीं ये सरकारें आम जनता के बीच नूराकुश्ती का खेल-खेलकर प्रदेश के विकास को अवरुद्ध कर रही हैं। पूरा प्रदेश इनके झगड़े में पिस रहा है।

ऽ    प्रधानमंत्री, राहुलगांधी ने बुन्देलखण्ड़ में 200 करोड़ पेयजल के लिए घोषणा की थी। उसकी आदतन स्थिति क्या है ? बुंदेलखण्ड़ का पैकेज राजनीति का शिकार हो गया है। पैकेज की मांग और थोथी घोषणा ने यहंा के लोगों को ठगा है। आंकड़े बताते हैं कि 7266 करोड़ के अतिरिक्त 200 करोड़ देने का ऐलान किया गया। जब कि पैकेज के तहत 1695.76 करोड़ ही उ0प्र0 को अतिरिक्त केन्द्रीय सहायता के रुप में आंवटित हुए बाकी पैसा अन्य योजनाओं का था। उसको भी पैकेज में दिखना यह दर्शाता है कि नियत में खोट थी। उ0प्र0 को पैकेज के तहत 3606 करोड़ आवंटित हुए उसमें 1695 करोड़ ़अतिरिक्त सहायता, 1319 करोड़ केन्द्रीय योजनाओं पर और केन्द्र योजनाओं की 496 करोड़ राष्टीय कृषि विकास कार्यक्रम और महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारण्टी योजना (मनरेगा) की रकम है।

ऽ    सरकारें कितनी गम्भीर हैं यह इसी बात से प्रकट होता है कि 19 नवम्बर 2009 को मंजूर की गयी धनराशि जुलाई 2010 के बाद ही अवमुक्त हो पायी। तथा जो योजनाएं बनाई गयी हैं। वह 2012 में समाप्त हो जाएगी। दुर्भाग्यजनक यह है कि केन्द्र से जो 1695 करोड़ का पैकेज मिला उसमें से मात्र 214.21 करोड़ खर्च हो पाये फिर कैसे सम्भव है कि मार्च तक यह धनराशि उपयोग हो पायेगी। अन्ततः इसमें भी लूट ही मचेगी।

ऽ    आत्महत्या की जहां अन्य वजहें हंै। वहीें केन्द्र सरकार की ऋण माफी योजना भी एक प्रमुख कारण हैं। दरअसल इस योजना का लाभ उन्हीं लोगों को मिला जो पूर्णतः डिफाल्टर थे। अथवा ऋण अदा करने की नियत नहीं थी। वास्तव में उन किसानों को कुछ भी नहीं मिला जिन्होंने कुछ किस्त जमा की थी अथवा ऋण जमा करना चाहते थे। उनका ऋण माफ नहीं हुआ। किस्त बढ़ती गई जब कि वह इस भ्रम में थे कि उनका ऋण माफ हो चुका है।

ऽ    प्रदेश के आधारभूत ढांचा के विकास में यह सरकार पूरी तरह फेल हो चुकी है। चन्दौली से लगायत झांसी तक की खस्ताहाल सडकें जहां गाड़ी की गति को रोक रहीे हंै। वहीं प्रदेश के विकास के पहिये को भी थाम रही हैं।

ऽ    जनस्वास्थ्य के मुद्दे पर भी यह सरकार पूरी तौर पर विफल है। पूर्वांचल में जहां मस्तिष्क ज्वर का कहर है, वहीं प्रदेश के अस्पताल खुद बीमार हैं। वहीं पूर्वांचल विकासनिधि और बुन्देलखण्ड विकासनिधि का लगातार विरोध जारी है।

ऽ    भ्रष्टाचार में आकंठ्य डूबी है सरकार। मुख्यमंत्री द्वारा संरक्षित, पोषित भ्रष्टाचार संस्थागत भ्रष्टाचार कर रूप ले चुका है। जसके कारण ईमानदार लोग जहां आत्महत्या करने को मजबूर हैं। वहीं यह हत्या के भी शिकार हो रहे हंै। बसपा के जनप्रतिनिधियों और कार्यकर्ताआंे के निरंकुश स्वरूप ने पूरे प्रदेश में लोकतत्र को लूटतंत्र में बदल दिया है।

ऽ    उ0प्र0 के कानून व्यवस्था की रक्षा करने वाली पुलिस बसपा नेताओं की चाकरी में व्यस्त है। बसपा कैडर की तरह काम कर रही है। जहां पुलिस तंत्र पीड़ित पक्ष को प्रताड़ित करने में लगी है। वहीं यह सार्वजनिक रूप से मुख्यमंत्री से लेकर मंत्रियों तक के चरणवंदन में भी संकोच नहीं कर रही है। परिणाम है कि पुलिस पर हमले हो रहे हैं।

ऽ    गाजीपुर जनपद के बिरनो थाना क्षेत्र में हुई घटना की निन्दा की।

ऽ    उ0प्र0 के लोगों को जब भी राहत मिली है उसमें न्यायालय की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। चाहे शीलू काण्ड हो, दवा घोटाला हो अथवा कमला कुशवाहा या साक्षी सोनी सबकी फरियाद न्यायालय के दखल के बाद ही सुनी गई। वहीं न्यायालय के निर्णय के बाद ही लोकतंत्र की निचली इकाई निकाय के चुनाव के सम्पन्न कराने की भूमिका में सरकार दिखाई पड़ रही है। वरना वह तो येन-केन प्रकारेण चुनाव टालना ही चाहती थी। हाई कोर्ट द्वारा किसानों की भूमि अधिग्रहण के मामले में दिया गया निर्णय स्वागत योग्य कदम है।

ऽ    वार्ता के समय मुख्यरूप से पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी नरेन्द्र तोमर, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रामनाथ कोविद, यात्रा संयोजक शिवप्रताप शुक्ला, प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक, क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेन्द्र सिंह आदि लोग मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

December 2017
M T W T F S S
« Nov    
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
-->









 Type in