*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | August 4th, 2017

भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 4 अगस्त, 2017 को नई दिल्ली में भेंट की

Posted on 04 August 2017 by admin

press

Comments (0)

संभावित बाढ़ को दृष्टिगत रखते हुये संवेदनशील एवं अति संवेदनशील जनपदों में बाढ़ से बचाव हेतु की गयी तैयारियों के अतिरिक्त आवश्यकतानुसार और अधिक तैयारियां तथा उपाय करने हेतु मुख्य सचिव ने दिये निर्देश

Posted on 04 August 2017 by admin

सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी तत्काल संवेदनशील एवं अति संवेदनशील जनपदों का भ्रमण कर बाढ़ से बचाव हेतु की गयी तैयारियों का स्थलीय निरीक्षण कर लें: राजीव कुमार

अति संवेदनशील एवं संवेदनशील तटबन्धों का चिन्हीकरण एवं उनके सुदृढ़ीकरण
हेतु आवश्यक कार्य प्राथमिकता से सुनिश्चित करायें जाये: मुख्य सचिव

संभावित बाढ़ को दृष्टिगत रखते हुये आगामी सितम्बर माह तक संवेदनशील
तटबन्धों की निगरानी लगातार 24 घन्टे सुनिश्चित कराई जाये: राजीव कुमार

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने नेपाल में हुई वर्षा की प्राप्त सूचना के अनुसार सम्बन्धित जनपदों में संभावित बाढ़ को दृष्टिगत रखते हुये संवेदनशील एवं अति संवेदनशील बाढ़ग्रस्त जनपदों में बाढ़ से बचाव हेतु की गयी तैयारियों के अतिरिक्त आवश्यकतानुसार और अधिक तैयारियां बचाव हेतु आवश्यक उपाय कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सिंचाई, पशुधन, खाद्य एवं रसद एवं राजस्व सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी तत्काल संवेदनशील एवं अति संवेदनशील जनपदों का भ्रमण कर बाढ़ से बचाव हेतु की गयी तैयारियों का स्थलीय निरीक्षण कर लें। उन्होंने कहा कि अति संवेदनशील एवं संवेदनशील तटबन्धों का चिन्हीकरण एवं उनके सुदृढ़ीकरण हेतु आवश्यक कार्य प्राथमिकता से सुनिश्चित करायें जायें। उन्होंने कहा कि संभावित बाढ़ को दृष्टिगत रखते हुये आगामी सितम्बर माह तक संवेदनशील तटबन्धों की निगरानी लगातार 24 घन्टे सुनिश्चित कराई जाये। उन्होंने कहा कि संभावित बाढ़ से प्रभावित होने वाले गांवों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाकर आवश्यकतानुसार खाद्य सामग्री एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित कराया जाये।
मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में संभावित बाढ़ की तैयारी हेतु विभागवार किये जा रहे कार्यों के समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पशुओं के लिये चारा एवं सी0एच0सी0 एवं पी0एच0सी0 में पर्याप्त आवश्यक दवायें उपलब्ध रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि संवेदनशील तटबन्धों एवं स्थलों की पेट्रोलिंग कराकर निगरानी सुनिश्चित कराई जाये।
श्री राजीव कुमार ने यह भी निर्देश दिये कि संभावित बाढ़ की अद्यतन स्थिति की जानकारी सम्बन्धित अधिकारियों को देने हेतु प्रयोग किये जा रहे सोशल मीडिया वहाट्सएप ग्रुप आदि पर प्राप्त सूचना के अनुसार संभावित बाढ़ आने की स्थिति में स्थानीय स्तर पर तत्काल एलर्ट जारी कराकर आवश्यक व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित करा ली जायें ताकि कोई जनहानि कदापि न होने पाये। उन्होंने कहा कि बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में बनाये गये राहत शिविरों में निःशुल्क खाद्यान्न सहित अन्य आवश्यक सामग्री का वितरण सुनिश्चित कराने हेतु वरिष्ठ अधिकारी निरन्तर माॅनिटरिंग सुनिश्चित करें।
बैठक में प्रमुख सचिव, सिंचाई श्री सुरेश चन्द्रा, प्रमुख सचिव, राजस्व डाॅ0 रजनीश दुबे, प्रमुख सचिव, गृह श्री अरविन्द कुमार, प्रमुख सचिव, खाद्य एवं रसद श्रीमती निवेदिता शुक्ला वर्मा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Comments (0)

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर टैªफिक सुरक्षा के मद्देनजर पाँचों पैकेजों में 120 एक्स सर्विसमेन तथा 10 इनोवा वाहन पेट्रोलिंग करेंगे

Posted on 04 August 2017 by admin

पेट्रोलिंग पार्टी सड़क दुर्घटना में घायलों की मदद करेगी
उत्तर प्रदेष एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री अवनीष कुमार अवस्थी ने बताया है कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर टैªफिक सुरक्षा की दृष्टि से उत्तर प्रदेष पूर्व सैनिक कल्याण निगम के एक्स सर्विसमैन को पेट्रोलिंग कार्य पर तैनात किया जा रहा है। एक्सप्रेस-वे के पाँच पैकेजों आगरा, षिकोहाबाद, इटावा, कन्नौज तथा लखनऊ जिलों से गुजरने वाले मार्ग पर 03 षिफ्टों में प्रत्येक पैकेज में एक वाहन पर 12 एक्स सर्विसमेन तैनात किए जाएंगे। यूपीडा द्वारा यह व्यवस्था 02 माह के लिए की जा रही है। टोल प्लाजा क्रियाषील हो जाने के पष्चात् यह कार्य स्थानीय पुलिस कर्मियों द्वारा किया जाएगा।
यह जानकारी देते हुए श्री अवस्थी ने बताया कि पेट्रोलिंग कार्य में 10 इनोवा वाहन लगाए जा रहे हैं। पाँचों पैकेजों में पेट्रोलिंग कार्य में कुल 120 एक्स सर्विसमेन तैनात किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेष पूर्व सैनिक कल्याण निगम से पूर्व सैनिकों की सेवाएं उपलब्ध कराने का अनुरोध किया गया है।
मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने बताया कि पेट्रोलिंग कार्य में लगाए गए कर्मियों को एक्सप्रेस-वे पर हुई दुर्घटनाओं की सूचना एक्सप्रेस-वे पर तैनात ‘डायल-100’ के पुलिसकर्मियों तथा सम्बन्धित क्षेत्रीय पुलिस थाने के पुलिस कर्मियों को तत्काल उपलब्ध करानी होगी। उन्होंने बताया कि पेट्रोलिंग यूनिट को सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों को हर सम्भव मदद पहुँचाना तथा उपचार प्राप्त कराने में सहायता देना एवं यथासमय एम्बुलेंस की व्यवस्था होने पर उनसे समन्वय करना, एक्सप्रेस-वे पर हुई सड़क दुर्घटनाओं का ब्यौरा जैसे-घटना स्थल/एक्सप्रेस-वे पर कि0मी0 की दूरी का विवरण, दुर्घटना का समय, वाहन संख्या, दुर्घटना में घायल/मृतक व्यक्तियों का विवरण रखना तथा इसकी सूचना सम्बन्धित फील्ड यूनिट कार्यालय (पी0आई0यू0) के अधिषासी अभियन्ता तथा यूपीडा मुख्यालय को प्रेषित करनी होगी।
श्री अवस्थी ने बताया कि एक्सपे्रस-वे पर भारी वाहनों का प्रवेश वर्जित है, जिसको रोकने के लिए प्रवेश/निकास बिन्दुओं पर बैरियर लगाए गए हैं, परन्तु यह तथ्य प्रकाष में आया है कि कतिपय भारी वाहन बैरियर को तोड़कर एक्सप्रेस-वे में प्रवेश कर जाते हैं। पेट्रोलिंग पार्टी पर भारी वाहनों का एक्सप्रेस-वे पर अनाधिकृत प्रवेश रोकने का दायित्व होगा। उन्होंने बताया कि पेट्रोलिंग पार्टी का दायित्व एक्सप्रेस-वे की मीडियन फेंसिग को काटने से रोकने के साथ-साथ एक्सपे्रस-वे पर किए गए एवेन्यू प्लाण्टेशन में लगाए गए पौधों की सुरक्षा करना भी होगा। इसके अतिरिक्त, आवारा पशुओं को एक्सप्रेस-वे पर घुसने से रोकना, सड़क से बाहर करने की व्यवस्था करना तथा मरे हुए पशुओं को हटवाने की व्यवस्था करने के साथ-साथ एक्सपे्रस-वे के किनारे अनधिकृत रूप से लगायी जा रही अस्थायी दुकान अथवा स्ट्रीट वेण्डिंग द्वारा खाद्य सामग्री की बिक्री को प्रतिबन्धित करने का कार्य भी इन कर्मियों को सौंपा गया है।

Comments (0)

जनेश्वर के बाद कमजोर हुयी है समाजवादी आंदोलन की वैचारिक ताकत: शिवपाल

Posted on 04 August 2017 by admin

डॉ राम मनोहर लोहिया के अनन्य शिष्य, प्रखर समाजवादी और छोटे लोहिया के नाम से मशहूर जनेश्वर मिश्र के न रहने पर समाजवादी आंदोलन की वैचारिक ताकत कमजोर हुयी है। जनेश्वर जी पहले डॉ लोहिया फिर जयप्रकाश नारायण और बाद में लोकबंधु राजनारायण और मुलायम सिंह यादव के साथ मिलकर समाजवाद और लोकतंत्र को मजबूत करते रहे।

3b870e25-36ff-4ac5-b31a-f0eefb0f10feआज शुक्रवार को महान समाजवादी चिन्तक व स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राममनोहर लोहिया के अनन्य अनुयायी जनेश्वर मिश्र की जयंती की पूर्व संध्या के उपलक्ष्य में वरिष्ठ समाजवादी नेता शिवपाल सिंह यादव ने “छोटे लोहिया“ के व्यक्तित्व व कृतित्व पर केन्द्रित ई-बुक http://www.janeshwarji.in का विमोचन किया। इस अवसर पर आयोजित परिचर्चा को संबोधित करते हुए श्री यादव ने जनेश्वर मिश्र को याद करते हुए कहा कि जनेश्वर मिश्र आचार्य नरेन्द्रदेव-डा० लोहिया व लोकनायक जयप्रकाश की समाजवादी विचारधारा के युगप्रवर्तक थे। उनके अनुसार गरीबों के आँसू पोंछना ही समाजवाद है। जनेश्वर जी की कमी धन-दौलत व सुविधाओं के पीछे नहीं भागे। वे संसद व राजपथ पर आम जनता के दुःख-दर्द-दंश व चुभन की सशक्त आवाज थे। वे नई पीढ़ी के राजनीतिक कार्यकर्ताओं के पठन-पाठन व अध्ययन-चिन्तन पर काफी जोर देते थे।

श्री यादव ने कहा कि छोटे लोहिया से नई पीढ़ी विशेषकर युवा समाजवादियों को सैद्धान्तिक प्रतिबद्धता की सीख लेना चाहिए। वे मुलायम सिंह के साथ “कवच“ की भाँति रहे। छोटे लोहिया पर ई-बुक से जनेश्वर जी के बहाने नई पीढ़ी भारत के गौरवशाली इतिहास से अवगत होगी। जनेश्वर जी जीवनपर्यन्त समाजवादियों की एका के लिए प्रयत्नशील रहे। समाजवादी विचारधारा को निरन्तर मजबूती प्रदान करना ही छोटे लोहिया को दी गई हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

समाजवादी चिन्तक व चिन्तन सभा के अध्यक्ष दीपक मिश्र ने कहा कि जनेश्वर जी समाजवादियों में घटती वैचारिक अभिरूचि पर काफी चिन्तित रहा करते थे। वे चाहते थे कि राजनीतिक शिक्षण-प्रशिक्षण से निकले युवा आगे आयें और समाज व राजनीति में व्याप्त विकृतियों को दूर करें। चिन्तन सभा लोहिया-स्मृति दिवस (12 अक्टूबर) से विचारशालाओं की श्रृंखला चलायेगी।

ई-बुक का प्राक्कथन जनेश्वर जी के शिष्य शिवपाल सिंह यादव ने लिखा है। इसमें सर्वश्री मुलायम सिंह यादव, बृजभूषण तिवारी, मोहन सिंह, न्यायमूर्ति राजेन्द्र सच्चर, प्रो० सत्यमित्र दूबे, राजीव राय, अंजना गुप्ता के लेख हैं।

रिचर्चा में प्रख्यात इतिहासकार डा० पंकज कुमार, अम्बेडकर सभा के अध्यक्ष डा० लालजी निर्मल, समाजवादी मोहम्मद शाहिद, अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष फरहत हसन (फरहत मियाँ), मजदूर नेता आर०बी० शुक्ला, प्रभानंद यादव, अग्रवाल सभा के अध्यक्ष राजेश अग्रवाल, युवा नेता राजीव गुप्ता, देवी प्रसाद यादव, राकेश यादव दंत-चिकित्सक डा० सुनील, हर्षवर्धन, वरिष्ठ नेता रघुनन्दन काका, श्यामदेव यादव, अमरेश प्रताप सिंह, लैकफेड के चेयरमेन कुंवर वीरेन्द्र सिंह समेत कई युवा सामाजिक व राजनीतिक कार्यकर्ता मौजूद थे।

Comments (0)

मा0 मुख्य मंत्री एवं मा0 ऊर्जा मंत्री के निर्देष पर प्रदेष के ग्रामीण क्षेत्रों में में 1510 स्थानों पर विद्युत समाधान मेला लगाकर गरीबों को स्वीकृत किये गये 23074 विद्युत कनेक्षन

Posted on 04 August 2017 by admin

हर सप्ताह बृहस्पतिवार को लगेंगे ग्रामीण क्षेत्रों में इसी तरह के मेले।

मुख्यमंत्री मा0 योगी आदित्यनाथ एवं ऊर्जा मंत्री मा0 श्रीकान्त षर्मा द्वारा प्रदेष की जनता के लिये की गयी घोशणा पावर फार आॅल के लिये सुगम संयोजन योजना के अन्तर्गत उ0प्र0 पावर कारपोरषन ने पूरे प्रदेष में हर सप्ताह बृहस्पतिवार को ‘‘विद्युत समाधान मेला’’ आयोजित करने का निर्णय लिया है। यह मेला प्रदेष के सभी अवर अभियन्ताओं के देखरेख में उनके क्षत्रों में लगाया जायेगा। पावर कारपोरेषन द्वारा पहली बार जनता की सुविधा के लिये इस तरह के मेले का आयोजन षुरू किया जा रहा है।
यह जानकारी देते हुये प्रमुख सचिव ऊर्जा एवं उ0प्र0 पावर कारपोरेषन के अध्यक्ष श्री आलोक कुमार ने बताया है कि मा0 ऊर्जा मंत्री के निर्देष पर बृहस्पतिवार को पूरे प्रदेष में 1510 स्थानों पर ‘सरल सुगम समाधान मेले’ का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया। इन मेलों में बी.पी.एल. को मुफ्त एवं ए.पी.एल को किस्तों में बिजली करेक्षन स्वीकृत किये गये। पूरे प्रदेष में प्राप्त आंकड़ों के अनुसार इन कैम्पों में जमकर भीड़ उमड़ी और 23047 कनेक्शन गरीबो को दिये गये।
मध्यांचल में 360 स्थानों पर कैम्प लगाये गये जिसमें 6313 कनेक्शन बीपीएल एवं एपीएल को दिये गये। राजधानी लखनऊ में लेसा ने ग्रामीण क्षत्रों के 22 स्थानों पर विद्युत समाधान मेले का आयोजन करके 448 बिजली कनेक्षन बांटे। जिसमें 220 बी.पी.एल. एंव 228 ए.पी.एल कनेक्षन है। निःषुल्क बिजली कनेक्षन पाकर गरीबों के चेहरे खिले। कई उपभोक्ता भाव विभोर हो गये।
आगरा डिस्काम में यह षिविर सभी 21 जनपदों में 305 स्थानों पर लगाये गये। आगरा जोन में 119, अलीगढ़ जोन में 101, कानपुर में 96 झांसी में 29 तथा बांदा में 43 कैम्प लगाये गये। जिसमें लगभग 6844 संयोजन निर्गत किये गये।
पूर्वांचल डिस्काम में 443 स्थानों पर मेले का आयोजन किया गया और 4442 कनेक्शन स्वीकृत किये गये जिसमें 1555 बीपीएल तथा 2887 एपीएल कनेक्शन हैं।
ऊर्जा मंत्री श्री श्रीकांत शर्मा का कहना है कि यह सरकार लगातार समाज के कमजोर तबके को ज्यादा से ज्यादा सहूलियत देने के प्रयास में लगी हुई है। अंत्योदय सरकार का लक्ष्य है। अभी तक प्रदेश में गरीब आदमी को बिजली का कनेक्शन प्राप्त करना बहुत कठिन था लेकिन इस सरकार ने बीपीएल को मुफ्त एवं एपीएल को किश्तों में बिजली कनेक्शन का प्राविधान करके एक एतिहासिक काम किया है। गरीब आदमी को एक ही स्थान पर बिना भागदौड़ के बिजली कनेक्शन मिल जाये इसके लिए इस तरह के मेलों के आयोजन के निर्देश दिये गये हैं। यहां पर उन्हें बड़ी संख्या में और आसानी से कनेक्शन दिये जा रहे है।

Comments (0)

पर्चा लीक केस: एसपी सीबी-सीआईडी ने समीक्षा की

Posted on 04 August 2017 by admin

आबकारी सिपाही तथा समीक्षा अधिकारी पेपर लीक मामलों में आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर द्वारा दर्ज कराये गए मुकदमों की विवेचना में आज सीबी-सीआईडी लखनऊ सेक्टर के एसपी एम एम बेग ने समीक्षा की. उन्होंने इस हेतु अमिताभ को सीआईडी मुख्यालय बुला कर पूछताछ की और सेक्टर ऑफिसर संजय कुमार और विवेचक ओम प्रकाश सिंह को त्वरित विवेचना के निर्देश दिए. कल ही विवेचक ने अमिताभ के बयान लिए थे.

25 सितम्बर 2016 को उ०प्र० अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा कराई गयी आबकारी सिपाही परीक्षा के दूसरे सत्र के पेपर लीक की शिकायत होने पर अमिताभ ने इस सम्बन्ध में थाना विभूतिखंड पर प्रार्थनापत्र दिया था. इसी प्रकार 27 नवम्बर 2016 को उत्तर प्रदेश संघ लोक सेवा आयोग द्वारा कराई गयी समीक्षा अधिकारी की प्रारम्भिक परीक्षा की द्वितीय पाली के पेपर लीक की शिकायत पर उन्होंने थाना हजरतगंज पर शिकायत दी थी. दोनों मामलों में थाने पर मुक़दमा दर्ज नहीं होने पर उन्होंने कोर्ट में गुहार लगायी थी और सीजेएम संध्या श्रीवास्तव के आदेशों पर मुक़दमा दर्ज किया गया था.

अमिताभ के पत्र पर पूर्व डीजीपी जावीद अहमद ने इन मामलों की जाँच सीबी-सीआईडी से कराने की संस्तुति की थी, जिस पर 17 मार्च 2017 को विवेचना सीबी-सीआईडी को दी गयी थी.

Comments (0)

रक्त परीक्षण शिविर का आयोजन

Posted on 04 August 2017 by admin

पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्मशताब्दी वर्ष कार्यक्रम के
अन्तर्गत भारतीय जनता पार्टी लखनऊ महानगर द्वारा रक्त परीक्षण अभियान में
सरोजनीनगर विधानसभा के लोक बंधु हास्पिटल में स्वाती सिंह जी मंत्री
उत्तर प्रदेश सरकार सहित कुल 101 लोगों ने रक्त परीक्षण कराया। इस अवसर
पर अवध क्षेत्र के रक्त परीक्षण अभियात के संयोजक राजीव मिश्रा, अनुराग
मिश्रा अन्नू, नगर महामंत्री पुष्कर शुक्ला, विधानसभा संयोजक चन्द्रमणि
पाण्डेय रिंकू, मण्डल अध्यक्ष अनूप मिश्रा, राजेन्द्र बाजपेयी, महिला
मोर्चा मण्डल संयोजक विजयलक्ष्मी पाण्डेय सहित तमाम कार्यकर्ता उपस्थित
रहे।

Comments (0)

बी.एस.पी. द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति-दिनांक 04.08.2017

Posted on 04 August 2017 by admin

(1)     बी.एस.पी. की राष्ट्रीय कार्यकारिणी व प्रदेश अध्यक्षों एवं पदाधिकारियों की आज हुई बैठक में महसूस किया गया कि बी.जे.पी. व श्री नरेन्द्र मोदी सरकार की गलत नीति व कार्यक्रमों तथा जातिवादी व द्वेषपूर्ण रवैये से देश खुशहाली के बजाय बदहाली व बर्बादी के रास्ते पर जा रहा है।
(2)     बीजेपी सरकार की नीतियों से देश के गरीबों, मजदूरों, किसानों व आमजनता का नहीं बल्कि केवल मुट्ठीभर बीजेपी एण्ड कम्पनी व इनके समर्थक पूंजीपतियों व धन्नासेठों का ही भला हो रहा है जो अति-चिन्ता की बात है और जिसके विरूद्ध संघर्ष व विरोध देशहित में जरूरी है।
(3)     इसी क्रम में छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ भाजपा मंत्री द्वारा वन विभाग व आदिवासी समाज की कई हेक्टेयर जमीन पर अवैध कब्जा करने वाले भू-माफिया मंत्री पर सख़्त कार्रवाई नहीं करना बीजेपी की यह कौन सी देशभक्ति है?
(4)     वैसे तो प्रतिपक्षी पार्टी के नेताओं के खिलाफ सी.बी.आई., आयकर, ई.डी. व पुलिस आदि सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग व राजनीतिक इस्तेमाल करके उन्हें भ्रष्ट साबित करने की कोशिश की जाती है, परन्तु बीजेपी मंत्रियों व नेताओं के खिलाफ भ्रष्टाचार साबित होने के बावजूद भी उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं, ऐसा भेदभाव व विद्वेषपूर्ण रवैया क्यों?
(5)     बीजेपी सरकार ग़रीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा, सीमा सुरक्षा जैसे देशहित के साथ-साथ जनहित व जनकल्याण के महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर अभी तक बुरी तरह से विफल साबित हुई है और अपनी इन्हीं विफलताओं पर से लोगों का ध्यान बाँटने के लिये विपक्षी नेताओं को बदनाम करके व उनकी सरकारों को हर प्रकार से परेशान व अस्थिर करने का ग़ैर-लोकतांत्रिक काम जारी। संसद में भी उनकी आवाज़ को दबाने का घिनौना प्रयास।
(6)    इन सबके विरुद्ध बी.एस.पी. चुप व शान्त बैठने वाली नहीं, जिसके तहत् ही दिनंाक 18 सितम्बर से देशव्यापी अभियान की शुरुआत उत्तर प्रदेश से: बी.एस.पी. की राष्ट्रीय अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पूर्व सांसद सुश्री मायावती जी।
लखनऊ, 04 अगस्त, 2017: बी.एस.पी. की राष्ट्रीय कार्यकारिणी व प्रदेश अध्यक्षों एवं प्रमुख पदाधिकारियों की आज यहाँ हुई खास बैठक में देश के वर्तमान हालात् के मद्देनजर यह महसूस किया गया कि बी.जे.पी. व प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी सरकार की गलत नीतियाँ व कार्यकलापों के साथ-साथ इनकी जातिवादी, अहंकारी, तानाशाही व द्वेषपूर्ण रवैये के कारण अब अपना देश खुशहाली के रास्ते पर नहीं बल्कि बदहाली व बर्बादी के रास्ते पर जा रहा है तथा इससे देश के करोड़ों गरीबों, किसानों, मजदूरों व आमजनता का नहीं बल्कि केवल मुट्ठीभर बीजेपी एण्ड कम्पनी व इनके समर्थक पूंजीपतियों व धन्नासेठों का ही लगातार भला हो रहा है जो अति-चिन्ता की बात है और जिसके विरूद्ध संघर्ष व विरोध देशहित में बहुत जरूरी है।
बी.एस.पी. की राष्ट्रीय अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पूर्व सांसद सुश्री मायावती जी ने इस बैठक में सर्वप्रथम देश के विभिन्न राज्यों में पार्टी संगठन को मजबूत बनाने के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त की व पार्टी के सर्वसमाज में जनाधार को बढ़ाने के सम्बंध में अनवरत जारी कैडर तैयारियों की समीक्षा की तथा आगे की तैयारियों के लिये नये दिशा-निर्देश भी दिये।
साथ ही विभिन्न प्रदेशों की ताज़ा राजनीतिक स्थिति की जानकारी प्राप्त करने के अलावा देश की वर्तमान राजनीतिक उथल-पुथल के साथ-साथ आन्तरिक सुरक्षा व सीमा पर की तनावपूर्ण हालात का भी जायजा लिया गया और यह अनुभव किया गया कि बीजेपी सरकार बनने के बाद से देश की आन्तरिक स्थिति व सीमा पर भी हालत खराब हुई है व हमारे जवानों की भी शहादत की संख्या बढ़ी है जो कि सरकार की नीतियों की सफलता का प्रतीक नहीं है।
इसी क्रम में बीजेपी-शासित छत्तीसगढ़ राज्य के लोगों ने अपनी रिपार्ट में पार्टी प्रमुख को बताया कि छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ भाजपा मंत्री द्वारा कई हेक्टेयर वन व आदिवासी समाज की भूमि पर कब्जा करके वहाँ उनके व उनके परिवार के लोगों द्वारा रिजोर्ट व्यवसाय विकसित करनेे के मामले में सब कुछ भ्रष्टाचार व पद का दुरुपयोग साबित हो जाने के बावजूद भी सम्बंधित बीजेपी मंत्री के खिलाफ कोई भी सख़्त कार्रवाई नहीं की जा रही है। इस कारण वहाँ जनता यह सवाल कर रही है कि बीजेपी मंत्री द्वारा इस प्रकार की भू-माफियागिरी व भ्रष्टाचार के खिलाफ बीजेपी द्वारा ऐसा टालिरेन्स क्यों? यह कौन सी देशभक्ति है?
बी.एस.पी. की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की अहम बैठक को सम्बोधित करते हुये सुश्री मायावती जी ने कहा कि सी.बी.आई., आयकर, ई.डी., पुलिस व अन्य सरकारी मशीनरी का घोर दुरूपयोग करके प्रतिपक्षी पार्टी के अनेकों नेताओं को भ्रष्ट साबित करने की कोशिश भी लगातार की जा रही है, परन्तु बीजेपी मंत्रियों व नेताओं आदि के खिलाफ भ्रष्ट आचरण व भ्रष्टाचार के मामले खुले तौर पर साबित होने के बावजूद भी उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती है, ऐसा भेदभाव व विद्वेषपूर्ण व्यवहार क्यों? क्या यही बीजेपी व श्री मोदी का भ्रष्टाचार के विरुद्ध अभियान हैै?
वास्तव में बीजेपी व प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की सरकार यहाँ ग़रीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा, सीमा सुरक्षा जैसे देशहित के साथ-साथ जनहित व जनकल्याण आदि के महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर बुरी तरह से विफल साबित हुई है और अपनी सरकार की इन घोर विफलताओं पर से लोगों का ध्यान बाँटने के लिये ही विरोधी पार्टी के नेताओं को बदनाम करके व उनकी सरकारों को हर प्रकार से परेशान व अस्थिर करके उन्हें गिराने का काम करने में व्यस्त है। गुजरात राज्यसभा के चुनाव में तो इसका और भी ज्यादा भद्दा रूप देश को देखने को मिल रहा है।
पहले गोरक्षा के नाम पर मोबोक्रेसी आर्थत भीड़ की अराजकता व आतंक एवं निर्दाेषों की नृशंस हत्या के अलावा आतंकवाद, देशद्रोह, लव-जेहाद, एण्टी-रोमियों आदि के नाम पर उत्पीड़न और फिर नोटबन्दी आदि के माध्यम से लोगों का ध्यान बाँटा गया और अब प्रतिपक्षी पार्टियों को अस्थिर करने, उन्हें भ्रष्ट साबित करने तथा उनकी आवाज़ को संसद तक में दबाने का लोकतंत्र-विरोधी प्रयास किया जा रहा है, और संसद के इसी दम घुटने वाले माहौल के कारण ही उन्हें दिनांक 18 जुलाई सन् 2017 को राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा भी देना पड़ा है।

लेकिन बीजेपी एण्ड कम्पनी सरकार की अंहकारी, विद्वेषपूर्ण, पक्षपाती, जातिवादी, तानाशाही, लोकतंत्र व जनविरोधी रवैये के खिलाफ बी.एस.पी. कतई भी चुप बैठने वाली नहीं है बल्कि इनका आमजनता में पर्दाफाश करने के लिये देशभर में और खासकर उत्तर प्रदेश में सघन कार्यक्रम चलाने का निर्णय लिया है, जिसके तहत् ही उत्तर प्रदेश में अगले महीने दिनंाक 18 सितम्बर से मण्डल स्तर पर कार्यकर्ता महासम्मेलन हर महीने आयोजित किये जायेंगे जबकि देश के अन्य राज्यों में यह प्रक्रिया नवम्बर महीने से शुरू होगी जिसमें बी.एस.पी. प्रमुख सुश्री मायावती जी, मुख्य अतिथि के तौर पर खुद शामिल होंगी।

जारीकर्ता:
बी.एस.पी., उ.प्र. स्टेट कार्यालय
12, माल एवेन्यू, लखनऊ

Comments (0)

राज्यमंत्री संदीप सिंह ने भाजपा मुख्यालय पर जनसमस्याओं का किया निवारण

Posted on 04 August 2017 by admin

05 अगस्त को जन सहयोग केन्द्र पर कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक रहेंगे उपस्थित

भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर जनसमस्याओं के निराकरण के लिए राज्यमंत्री संदीप सिंह उपस्थित रहे।
पत्रकारों द्वारा पूछे गये सवालों का जबाव देते हुए प्राविधिक एवं उच्च शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह ने कहा कि आज जन सहयोग के माध्यम से लगभग 100 लोग अपनी समस्याओं को लेकर जनसहयोग केन्द्र पर आते है जिसमें से अधिकांश समस्याओं का समाधान सम्बन्धित अधिकारियों से बात-चीत करके कर दिया गया, सबसे ज्यादा समस्याएं जमीन से जुड़े मामलों से सम्बन्धित थी।
श्री सिंह ने सुबह 11 बजे से दोपहर 01 बजे तक जनसमस्याओं का निस्तारण किया। मा0 मंत्री जी के साथ प्रदेश उपाध्यक्ष डा0 राकेश त्रिवेदी एवं प्रदेश मंत्री धर्मवीर प्रजापति जनसमस्याओं के निराकरण में जुटे रहे।
भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर कल दिनांक 05 अगस्त को सुबह 11 बजे से दोपहर 01 बजे कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए उपस्थित रहेंगे। साथ ही प्रदेश उपाध्यक्ष डा0 राकेश त्रिवेदी एवं प्रदेश मंत्री धर्मवीर प्रजापति एवं कार्यालय सहायक आनंद पाण्डेय भी उपस्थित रहेंगे।

Comments (0)

मुख्यमंत्री ने रक्षा बन्धन पर्व पर महिलाओं के लिए परिवहन निगम की बसों में मुफ्त यात्रा की घोषणा की

Posted on 04 August 2017 by admin

press-1परिवहन विभाग और परिवहन निगम के सामने अपने को आत्मनिर्भर बनाने के साथ-साथ यात्रियों की सुरक्षित यात्रा का बेहतरीन साधन बनने की चुनौती: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने बरेली एवं कानपुर नगर में
आॅटोमेटिक ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक का लोकार्पण किया

वाराणसी, इलाहाबाद, मेरठ एवं गाजियाबाद में सारथी भवन तथा
परिवहन निगम के 7 बस स्टेशनों का भी लोकार्पण

परिवहन निगम के 3 बस स्टेशनों-हसनपुर (अमरोहा),
भैसाली (मेरठ), मोदीनगर (गाजियाबाद) का शिलान्यास

10 बस स्टेशनों में वाटर ए0टी0एम0 एवं
75 बस स्टेशनों में फ्री वाईफाई सुविधा का शुभारम्भ

प्रत्येक मण्डल मुख्यालय पर एक ड्राइविंग स्कूल प्रारम्भ करके युवाओं को
प्रशिक्षण और कौशल विकास से जोड़े जाने का प्रयास किया जाएगा

प्रत्येक व्यक्ति को यातायात नियमों की जानकारी प्रदान करने
के लिए अभियान चलाने की आवश्यकता

परिवहन विभाग समाज के हर तबके तथा प्रदेश के
हर क्षेत्र को जोड़ने का कार्य करता है

सीमित संसाधनों के बावजूद पिछले 4 महीनों में
3,425 गांवों को बस सुविधा से जोड़ा गया

press-21
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि परिवहन विभाग और निगम के सामने आज यह चुनौती है कि वह अपने को आत्मनिर्भर बनाने के साथ-साथ यात्रियों की सुरक्षित यात्रा का बेहतरीन साधन बने। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों और अधिकारियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान किये जाने के साथ-साथ यह भी जरूरी है कि परिवहन निगम लाभकारी बने। सामाजिक प्रतिबद्धताओं के मद्देनजर यात्रियों को बेहतर सुविधा व सुरक्षित यात्रा की गारण्टी देना परिवहन विभाग व निगम का कर्तव्य होना चाहिए।
मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर परिवहन विभाग व उ0प्र0 सड़क परिवहन निगम की अनेक जनोपयोगी परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने 6 अगस्त, 2017 की मध्य रात्रि से 7 अगस्त, 2017 की मध्य रात्रि तक रक्षा बन्धन पर्व पर महिलाओं के लिए परिवहन निगम की बसों में मुफ्त यात्रा की घोषणा की। साथ ही, बरेली एवं कानपुर नगर में आॅटोमेटिक ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक, वाराणसी, इलाहाबाद, मेरठ एवं गाजियाबाद में सारथी भवन, परिवहन निगम के 7 बस स्टेशनों-बिजनौर, बेवर, महोबा, शाहजहांपुर, करहल (मैनपुरी), भोगांव (मैनपुरी), महमूदाबाद (सीतापुर) का लोकार्पण किया।press-4
योगी जी ने परिवहन निगम के 3 बस स्टेशनों-हसनपुर (अमरोहा), भैसाली (मेरठ), मोदीनगर (गाजियाबाद) का शिलान्यास करने के साथ-साथ गाजियाबाद, मुरादाबाद, वाराणसी, इलाहाबाद, आगरा, मथुरा, हरदोई, आजमगढ़, इटावा व रामपुर में शुद्ध पेयजल के लिए वाटर ए0टी0एम0 एवं 66 जनपद मुख्यालय के 75 बस स्टेशनों में यात्रियों के मनोरंजन व उपयोग हेतु फ्री वाईफाई सुविधा का शुभारम्भ किया। फ्री वाईफाई सुविधा को टी0जी0 कनेक्ट एप के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है।
मुख्यमंत्री जी ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि परिवहन विभाग पिछले 4 महीनों के कार्यकाल में सुधार की दिशा में तेजी से आगे बढ़ा है। उन्होंने कहा कि यह विभाग रुग्ण हो चुका था और यह आशंका था कि इसका निजीकरण हो जाएगा, किन्तु इस विभाग ने टीम भावना के साथ कार्य करते हुए और चुनौतियों से जूझते हुए तकनीक से जुड़ने का कार्य किया है। इसी का परिणाम है कि आज तमाम जनोपयोगी योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया जा रहा है।
योगी जी ने कहा कि वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने सत्ता में आने के बाद कौशल विकास पर विशेष ध्यान दिया। युवाओं को कौशल विकास से जोड़कर रोजगार प्रदान किया जा सकता है। उत्तर प्रदेश में प्रशिक्षित चालकों की आवश्यकता है। भविष्य में प्रत्येक मण्डल मुख्यालय पर एक ड्राइविंग स्कूल प्रारम्भ करके युवाओं को प्रशिक्षण और कौशल विकास से जोड़े जाने का प्रयास किया जाएगा।
बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं पर चिन्ता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को यातायात नियमों की जानकारी प्रदान करने के लिए अभियान चलाने की आवश्यकता है। परिवहन निगम की बसों में चालक व परिचालकों को सुरक्षित यात्रा के लिए जवाबदेह बनाकर दुर्घटनाओं में जोने वाली जन-धन की हानि को रोका जा सकता है। सड़क दुर्घटनाओं से न सिर्फ परिवार उजड़ते हैं, बल्कि राष्ट्रीय क्षति भी होती है। ट्रैफिक के नियमों का पालन कराए जाने के लिए इन दिनों अभियान चलाया जा रहा है। ट्रैफिक नियमों का पालन करने से सभी सुरक्षित रह सकते हैं। इस दिशा में भी परिवहन विभाग को कार्य करना होगा।
योगी जी ने कहा कि यात्री सुविधाओं और सुरक्षित यात्रा की दिशा में परिवहन निगम आगे बढ़ रहा है, लेकिन इसमें और भी सुधार की जरूरत है। बसों की देख-रेख व उनकी स्वच्छता के साथ-साथ उनके आने-जाने के निर्धारित समय का भी पालन किया जाना जरूरी है। साथ ही, चालकों को भी ट्रैफिक नियमों का पालन कराने तथा उनके द्वारा निश्चित दूरी की यात्रा के बाद उन्हें विश्राम दिये जाने पर भी ध्यान देना होगा।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि परिवहन विभाग समाज के हर तबके तथा प्रदेश के हर क्षेत्र को जोड़ने का कार्य करता है। प्रदेश की 22 करोड़ जनता की सुविधा के लिए परिवहन विभाग को तैयार होना होगा। आवश्यकता पड़ने पर पी0पी0पी0 मोड पर भी योजनाएं तैयार की जा सकती हैं। आज के प्रतिस्पर्धा के युग में यदि तकनीक के साथ हम नहीं चलेंगे, तो विकास की दौड़ में पीछे रह जाएंगे। परिवहन विभाग ने इस जरूरत को समझते हुए कार्य प्रारम्भ किया है, जिसके लिए वह बधाई का पात्र है। उन्होंने अत्याधुनिक सुविधाओं और तकनीक को अपनाए जाने और यात्रियों की सुरक्षा की गारण्टी दिये जाने पर जोर दिया।
योगी जी ने कहा कि यह खुशी की बात है कि जिन क्षेत्रों में सीधी ट्रेन सुविधा उपलब्ध नहीं थी, वहां पर बस सुविधा उपलब्ध कराने का कार्य किया गया है। यह देखना होगा कि आने वाले समय में हम बस सुविधा के माध्यम से सभी जनपद मुख्यालय को राजधानी से, तहसील मुख्यालयों को जनपद मुख्यालय से तथा न्याय पंचायतों व गांव-गांव को जनपद मुख्यालयों से जोड़ने का कार्य करें। इसके लिए अनुबन्धित बसों की भी सहायता ली जा सकती है। गांव-गांव में अच्छी बस सेवा दिये जाने की दिशा में आगे बढ़ना होगा।
इस मौके पर परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि सीमित संसाधनों के बावजूद पिछले 4 महीनों में 3,425 गांवों को बस सुविधा से जोड़ा गया। सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए प्रभावी व्यवस्था लागू की जाएगी। परिवहन विभाग यात्रियों को सुविधाएं और सुरक्षित यात्रा उपलब्ध कराने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने पिछले 4 माह में परिवहन विभाग की उपलब्धियों से अवगत कराया।
समारोह को अध्यक्ष परिवहन निगम श्री प्रवीर कुमार तथा प्रमुख सचिव परिवहन श्रीमती आराधना शुक्ला ने भी सम्बोधित किया। परिवहन आयुक्त व प्रबन्ध निदेशक परिवहन निगम श्री पी0 गुरु प्रसाद ने अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर मंत्रिगण, जनप्रतिनिधिगण, परिवहन विभाग व निगम के वरिष्ठ अधिकारी व मीडियाकर्मी मौजूद थे।
उल्लेखनीय है कि कानपुर नगर एवं बरेली में आॅटोमेटिक ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक के निर्माण से ड्राइविंग टेस्ट में पारदर्शिता आने के साथ-साथ मानवीय हस्तक्षेप समाप्त हो सकेगा और दक्ष व्यक्तियों को ही ड्राइविंग लाइसेंस मिल सकेगा, जो दुर्घटनाओं को कम करने/रोकने में सहायक सिद्ध होगा।
परिवहन विभाग द्वारा गाजियाबाद, वाराणसी, मेरठ व इलाहाबाद में नवनिर्मित सारथी भवन जनता हेतु अत्यन्त सुविधाजनक होंगे। वर्तमान कार्यालय भवन में स्मार्ट-कार्ड ड्राइविंग लाइसेंस निर्गत किये जाने हेतु पर्याप्त स्थान का अभाव होने के कारण अलग से सारथी भवन/सारथी हाॅल का निर्माण किया गया है। ऐसे हाॅल में आवेदकों हेतु प्रतीक्षा हेतु पर्याप्त स्थान होने के साथ-साथ एल0ई0डी0 लगवाए जाने की व्यवस्था है, जिस पर ड्राइविंग से सम्बन्धित नियम प्रदर्शित होंगे, जिससे आम-जन में यातायात नियमों सम्बन्धित जानकारी प्राप्त हो सकेगी।
बस स्टेशनों के शिलान्यास व लोकार्पण से जनता को अच्छी सुविधा उपलब्ध होगी तथा 10 बस स्टेशनों पर वाटर ए0टी0एम0 की शुभारम्भ से शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सकेगा। 66 जनपदों के 75 बस स्टेशनों पर फ्री वाईफाई की सुविधा मिलने से आम-जन को फ्री इण्टरनेट की सुविधा मिलेगी और बस की प्रतीक्षा के समय इस फ्री इण्टरनेट की सुविधा का उपयोग कर लाभान्वित हांेगे।
———–

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

August 2017
M T W T F S S
« Jul    
 123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031  
-->







 Type in