*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | May 14th, 2017

राज्यपाल से मिले केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह

Posted on 14 May 2017 by admin

विभिन्न मुद्दों पर हुई चर्चा

kcp_8606_r2_c1उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक से आज केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने राजभवन में भेंट की। राज्यपाल ने केन्द्रीय गृहमंत्री से राष्ट्रपति को संदर्भित विचाराधीन विधेयकों सहित अन्य मुद्दों पर भी चर्चा की। ज्ञातव्य है कि राज्यपाल द्वारा राष्ट्रपति को संदर्भित विधेयक राष्ट्रपति द्वारा गृह मंत्रालय को भेजे जाते हैं।
श्री नाईक से श्री राजनाथ सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रस्तावित लखनऊ दौरे पर भी विचार-विमर्श किया तथा आयोजन से जुड़ी अन्य तैयारियों पर भी चर्चा हुई।
राज्यपाल ने केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह को राजभवन के विधि सलाहकार श्री एस0एस0 उपाध्याय द्वारा लिखी पुस्तक ‘गवर्नर्स गाईड’ की प्रति भेंट करते हुये कहा कि यह पुस्तक का सबसे ज्यादा राज्यपालों एवं केन्द्रीय गृह मंत्रालय के लिये उपयोगी है।

Comments (0)

लोकतंत्र का चैथा स्तम्भ वाचकों को अपनी कलम से दिशा देता है - राज्यपाल

Posted on 14 May 2017 by admin

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने आज गौतमबुद्ध नगर में प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान द्वारा नारद जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में पत्रकारों को सम्मानित किया तथा केशव संवाद पत्रिका के विशेषांक ‘पत्रकारिता के अग्रदूत’ का लोकार्पण भी किया। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि एवं पटकथा लेखिका सुश्री अद्वेता काला, संस्थान के अध्यक्ष श्री जगदीश उपासने, प्रेरणा जनसेवा न्यास के अध्यक्ष श्री मधुसूदन दादू, पत्रिका के संपादक श्री कृपाशंकर, श्री सूर्यप्रकाश टोंक सहित अन्य लोग भी उपस्थित थे। राज्यपाल ने इस अवसर पर उपस्थित जनों को नारद जयंती एवं विश्व मातृ दिवस की बधाई दी।
राज्यपाल ने कहा कि पत्रकारिता का धर्म है कि कहीं अन्याय हो रहा हो तो उसे अवश्य उजागर करें। यदि अच्छा कार्य होता है तो मीडिया उसे भी हाईलाइट करे। भारतीय संविधान ने अभिव्यक्ति की आजादी दी है, इसलिये मीडिया को निष्पक्ष रहकर घटनाओं को प्रस्तुत करना चाहिये। लोकतंत्र का चैथा स्तम्भ वाचकों को अपनी कलम से दिशा देता है। ‘न्यूज और व्यूज’ में समाज का हित और भागीदारी जरूर सुनिश्ति होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि समाचार की दुनिया में चुनौती और प्रतिस्पर्धा अवश्य है मगर सच्चाई और तथ्य सर्वोपरि होने चाहिये।
श्री नाईक ने कहा कि समाज के लिये समाचार पत्र महत्वपूर्ण दस्तावेज होते हैं। पत्रकारिता के अपने कुछ सिद्धांत होते हैं जो पत्रकारिता के लिये आचार संहिता का काम करते हैं। इसलिये सही तथ्य पेश करने में सावधानी बरती जानी चाहिये। आजकल मीडिया ट्रायल की भी चर्चा होती है। समाचार लिखने में और उन्हें परिष्कृत पद्धति से प्रस्तुत करने में सही तथ्य का प्रयोग करना चाहिये। पत्रकारिता के उच्च मानदण्डों का पालन हो। उन्होंने कहा कि आलोचना का ध्येय केवल निंदा एवं अपमान करना नहीं होना चाहिये।
राज्यपाल ने कहा कि देश की आजादी में पत्रकारों का महत्वपूर्ण योगदान है। 1857 देश का प्रथम स्वतंत्रता संग्राम था जिसे अंग्रेजों ने बगावत बताया लेकिन वीर सावरकर ने अपनी कलम से सही इतिहास देश के सामने रखा। लोकमान्य तिलक के द्वारा लिखे गये सम्पादकीय पढ़ने के लिये लोग ‘केसरी’ की राह देखते थे तथा उस पर चर्चा एवं विचार होता था। सम्पादकीय से प्रेरणा मिलती है। आज समाचार पत्रों में पढ़ने के लिये बहुत कुछ होता है लेकिन कम ही लोग सम्पादकीय पढ़ते हैं। उन्होंने कहा कि सम्पादकीय में पाठकों की रूचि न होना विचार का विषय है।
श्री नाईक ने कहा कि लोकतंत्र में मीडिया एक शक्तिशाली माध्यम है। सच्चाई, निष्पक्षता और विश्वसनीयता ऐसे बुनियादी गुण हैं जो अच्छे पत्रकार की पहचान होते हैं। विश्व में भारत सबसे बड़ा प्रजातंत्र है जहाँ अनेक धर्म और भाषायें हैं। विश्व में चीन, ब्राजील, इण्डोनेशिया और अमेरिका के बाद जनसंख्या के आधार पर उत्तर प्रदेश पांचवे स्थान पर है। हमारे पास एक बढ़ी युवा शक्ति भी है जिसे हमें स्वालम्बी आत्मनिर्भर और शिक्षित करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इस महती कार्य के लिये मीडिया को और भी सक्रिय भूमिका निभानी है।
कार्यक्रम में अन्य लोगों ने भी अपने विचार रखे।

Comments (0)

राज्यपाल का स्वागत विधान भवन में राष्ट्रपति द्वारा जारी नये प्रोटोकाल के अनुसार होगा

Posted on 14 May 2017 by admin

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक कल राज्य विधान मण्डल के संयुक्त सत्र को सम्बोधित करेंगे। राज्यपाल को राष्ट्रपति द्वारा जारी किये गये नये प्रोटोकाल के दिशा-निर्देशानुसार राज्य विधान मण्डल के संयुक्त अधिवेशन को सम्बोधित करने से पहले राजभवन में ‘गार्ड आफ आनर‘ दिया जायेगा। गार्ड आफ आनर के पश्चात राज्यपाल विधान भवन हेतु प्रस्थान करेंगे।
विधान भवन पहुंचने पर मुख्यमंत्री, विधान परिषद के सभापति, विधान सभा अध्यक्ष द्वारा स्वागत किया जायेगा। राज्यपाल विधान भवन पोर्टिकों में ‘नेशनल सेल्यूट’ लेंगे तथा इसके पश्चात् विधान सभा मण्डप के लिये प्रस्थान करेंगे। विधान सभा मण्डप के लिये प्रस्थान का क्रम राष्ट्रपति द्वारा जारी किये गये नये प्रोटोकाल के अनुसार होगा।
उल्लेखनीय है कि राज्यपाल श्री राम नाईक ने गत वर्ष राज्यपालों के सम्मेलन में पूरे देश में राज्यपालों द्वारा संयुक्त सदन के सम्बोधन में एकरूपता लाने की दृष्टि से दिशा निर्देश हेतु प्रस्ताव दिया था। राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी द्वारा विचारोपरान्त सभी राज्यपालों के लिये अपने स्तर से नये प्रोटोकाल का प्रारूप जारी किया गया था।

Comments (0)

विधान सभा अध्यक्ष ने 15 मई, 2017 से शुरु हो रहे सत्र को सुचारु रूप से संचालित करने में सभी दलों से सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया

Posted on 14 May 2017 by admin

press-4_r1_c1भारतीय जनता पार्टी विधान सभा में रचनात्मक बहस को बढ़ावा देने के लिए पूरा सहयोग प्रदान करेगी: मुख्यमंत्री
सकारात्मक दृष्टिकोण से ही लोक-कल्याण किया जा सकता है: योगी जी

उत्तर प्रदेश विधान सभा अध्यक्ष श्री हृदय नारायण दीक्षित ने 15 मई, 2017 से शुरु हो रहे 17वीं विधान सभा के प्रथम सत्र को सुचारु रूप से संचालित करने में सभी दलों से सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि तार्किक एवं गुणात्मक बहस से ही प्रदेश की जनता को लाभ पहुंचाया जा सकता है। उन्होंने राज्यपाल के अभिभाषण को पूरा सुनने का आग्रह करते हुए कहा कि इससे राज्य सरकार द्वारा सम्पादित किए जाने वाले कार्यों की पूरी जानकारी मिलती है।
इस मौके पर मुख्यमंत्री तथा नेता सदन योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि उनकी पार्टी विधान सभा में रचनात्मक बहस को बढ़ावा देने के लिए पूरा सहयोग प्रदान करेगी। उन्होंने उत्तर प्रदेश की विधान सभा को देश का सबसे बड़ा सदन बताते हुए कहा कि संवाद स्थापित करके ही जन-समस्याओं का प्रभावी समाधान कराया जा सकता है। उन्होंने संसद की तर्ज पर विधान सभा के सत्र को 90 दिन चलाने का आग्रह करते हुए कहा कि इससे प्रदेश की अनेक समस्याओं को सरकार के संज्ञान में लाने और उनका उचित निराकरण कराने में मदद मिल सकती है। उन्होंने सभी दलों से सकारात्मक दृष्टिकोण रखने की अपील करते हुए कहा कि इससे अधिक से अधिक लोक-कल्याण किया जा सकता है।
संसदीय कार्य मंत्री श्री सुरेश खन्ना ने कहा कि सदन को सुचारु रूप से पक्ष एवं विपक्ष के सहयोग से ही चलाया जा सकता है।
बैठक में सुहेल देव भारतीय समाज पार्टी तथा पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं विकलांग जन विकास मंत्री श्री ओम प्रकाश राजभर, बहुजन समाज पार्टी के श्री लालजी वर्मा, कांग्रेस पार्टी के श्री अजय कुमार ‘लल्लू’ तथा अपना दल के श्री नील रतन सिंह पटेल ‘नीलू’ ने अपने-अपने दलों की ओर से पूरा सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया।

Comments (0)

भाजपा के जनसुविधा केन्द्र पर जन समस्याओं का निस्तारण

Posted on 14 May 2017 by admin

आज सैकड़ो की संख्या में लोग भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर समस्याओं के निस्तारण के कार्यक्रम में विधि व न्याय मंत्री श्री ब्रजेश पाठक जी से मिले। कैबिनेट मंत्री के साथ प्रदेश उपाध्यक्ष प्रकाश शर्मा एवं प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता और सहायक के रूप में आनंद पाण्डेय सुबह 11 बजे से जनता की समस्याओं के समाधान हेतु कार्यवाही सुनिश्चित कराने का कार्य किया। सैकड़ों को संख्या में आए लोंगों की समस्याओं के निदान हेतु माननीय मंत्री ब्रजेश पाठक जी ने प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए।
15अवध बिहार कालोनी सरोजनी नगर निवासी श्रीमती माला सिंह ने पड़ोसी द्वारा बेटी को सताए जाने सम्बधी शिकायत माननीय मंत्री से किया। विधि व न्याय मंत्री श्री ब्रजेश पाठक द्वारा समस्या का निदान कराने तथा दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का आश्वासन दिया।
भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर दिनांक 15 मई को सुबह 11 बजे से दोपहर 01 बजे तक कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चैधरी जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए उपस्थित रहेंगे। साथ ही प्रदेश उपाध्यक्ष जसवंत सैनी एवं प्रदेश मंत्री कौशलेन्द्र सिंह भी उपस्थित रहेंगे।

Comments (0)

केन्द्र एवं राज्य सरकारों की योजनाओं को जन-जन तक पहुचाने का कार्य करे कार्यकर्ता

Posted on 14 May 2017 by admin

पं0 दीनदयाल उपाध्याय जन्मशताब्दी वर्ष के कार्यक्रमानुसार ’’मेरा घर भाजपा का घर अभियान’’ के अन्तर्गत भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य एवं विस्तारक प्रवासी श्री सुधीर एस. हलवासिया कार्यकर्ताओं के साथ यदुनाथ सान्याल वार्ड के माडल हाउस पार्क में बैठक की।
बैठक उपरान्त घर-घर दस्तक देकर विस्तारक प्रवासी श्री सुधीर एस. हलवासिया ने घरों पर भाजपा स्लोगन ’’मेरा घर भाजपा का घर ’’ के स्टीकर लगायें एवं लोगों से संवाद किया । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य हम सबको करना है एवं भीम ऐप के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी के एकात्म मानववाद् पर केन्द्र एवं राज्य सरकारे चल रही है दोनो सरकारों का लक्ष्य समाज के अन्तिम व्यक्ति का उत्थान करना है। विस्तारक प्रवासी सुधीर एस. हलवासिया के साथ पार्षद विनोद कृष्ण सिंघल, सेक्टर संयोजक नरसिंह साहू, महेश साहू दद्दू, कैलाश गुप्ता, डा0 मीना सिंघल, धर्मेन्द्र मिश्रा, विशाल रावत, रंजना सिंह, रेनू श्रीवास्तव, किरन अग्रवाल सहित बूथ के कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

Comments (0)

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून, 2017 को रमाबाई अम्बेडकर मैदान में आयोजित कराया जायेगा: मुख्यमंत्री

Posted on 14 May 2017 by admin

प्रधानमंत्री जी के साथ-साथ लगभग 55 हजार प्रतिभागी करेंगे योग: योगी जी

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम हेतु रमाबाई अम्बेडकर मैदान उपयुक्त: केन्द्रीय गृह मंत्री

press-22मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय गृह मंत्री एवं राज्य मंत्री आयुष मंत्रालय (स्वतंत्र प्रभार) के साथ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित होने वाले योग कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा की

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि 21 जून, 2017 को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर लखनऊ के रमाबाई अम्बेडकर मैदान में योग कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही, प्रदेश के सभी जनपद मुख्यालयों, तहसीलों एवं विकास खण्डों के सार्वजनिक स्थानों, विद्यालयों एवं पार्कों में भी व्यापक रूप से योग-कार्यक्रम आयोजित कराये जायेंगे। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में सामाजिक संगठनों एवं आम नागरिकों की उत्सुकता को दृष्टिगत रखते हुए उनकी भागीदारी सुनिश्चित करायी जायेगी। इसके साथ ही, लखनऊ में आयोजित होने वाले योग कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को लाने एवं ले जाने हेतु यातायात की निःशुल्क व्यवस्था उपलब्ध करायी जाएगा।
मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर केन्द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह एवं राज्य मंत्री आयुष मंत्रालय (स्वतंत्र प्रभार) श्री श्रीपद येसो नाइक के साथ लखनऊ में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आयोजित होने वाले योग कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने बताया कि मुख्य कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को योगा-मैट, टी-शर्ट के साथ-साथ रीफ्रेशमेण्ट की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करायी जायेंगी। उन्होंने कहा कि लखनऊ में आयोजित होने वाले योग कार्यक्रम में प्रधानमंत्री जी के साथ लगभग 55 हजार लोग भाग लेंगे। कार्यक्रम में इच्छुक लोगों के लिए पंजीयन की सुविधा भी उपलब्ध करायी जाएगी। उन्होंने कहा कि लखनऊ में आयोजित होने वाला अंतर्राष्ट्रीय योग कार्यक्रम शासकीय नहीं, बल्कि जनसामान्य योग कार्यक्रम होगा। उन्होंने कहा कि इस आयोजन हेतु अनेकों शैक्षिक संस्थाओं एवं सामाजिक संगठनों ने भाग लेने की रुचि दिखाते हुए बढ़चढ़ कर सहयोग प्रदान करने की इच्छा व्यक्त की है।
योगी जी ने इस कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार कराने का निर्देश देते हुए कहा कि लखनऊ नगर के अन्य सार्वजनिक स्थानों एवं पार्कों में आम नागरिकों की सुविधा हेतु एल0ई0डी0 स्क्रीन लगाकर लाइव टेलीकास्ट कराया जायेगा ताकि आम नागरिक अपनी सुविधानुसार विभिन्न पार्कों में योग कर सके। उन्होंने योग कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए 28 दिन का प्रशिक्षण योग कार्यक्रम आयोजित कराने के निर्देश भी दिये हैं।
इस अवसर पर केन्द्रीय गृह मंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा की जा रही तैयारियों के प्रस्तुतिकरण की प्रशंसा करते हुए कहा कि इसको देखने से स्पष्ट है कि लखनऊ में आयोजित होने वाला योग कार्यक्रम व्यापक एवं सफल होगा। उन्होंने आवश्यक व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित कराने का आग्रह करते हुए कहा कि रमाबाई अम्बेडकर मैदान कार्यक्रम के सफल आयोजन हेतु उचित स्थान है।
कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा, प्रदेश सरकार में मंत्री श्रीमती रीता बहुगुणा जोशी, श्री आशुतोष टण्डन, श्री महेन्द्र नाथ पाण्डेय एवं श्रीमती स्वाति सिंह सहित भारत एवं प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Comments (0)

भाषण व चर्चा को सुनने की अपील की

Posted on 14 May 2017 by admin

उत्तर प्रदेश विधान सभा के मा0 अध्यक्ष श्री हृदय नारायण दीक्षित ने विधान भवन में दलीय नेताओं के साथ बैठकर सदन की कार्यवाही शान्तिपूर्वक  व सकारात्मक ढ़ग से चलाये  जाने एवं मा0 श्री राज्यपाल के पूरे भाषण व चर्चा को सुनने की  अपील की।
dsc_0636 विधान सभा अध्यक्ष श्री दीक्षित ने सभी नेताओं से अनुरोध करते हुए कहा कि विधान सभा प्रदेश की 22 करोड़ जनता की अपेक्षाओं  को पूरा करने का सदन है।  जन प्रतिनिधियों द्वारा यहां पर बैठकर आपस में संवाद किया जाता है। प्रत्येक दल के नेताओं को अपनी पूर्व नीतियों और कार्यक्रमों क अनुसार सदन में और विचार अभिव्यक्ति की भी स्वतंत्रता है। लोकतंत्र में एक दूसरेके विचारों के प्रति सहिष्णुता एवं संवाद ही लोकतंत्र का जीवंत पैमाना होता है। इसी से लोकतंत्र प्रस्फुटित होता है।
नई सरकार से प्रदेश की जनता में वृहद अपेक्षाएं है। वाद-विवाद के माध्यम से जनता की समस्याओं को मुखरित करने का सबसे बड़ा सुअवसर प्राप्त होगा और लोगों की समस्याओं का निदान होगा । जन प्रतिनिधियों की गरिमा बढ़ेगी । श्री दीक्षित ने यह भी कहा कि पहली बार प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री ने प्रतिपक्ष को आह्वान किया है कि वह 90 दि तक विधान सभा की बैठकों को चलाना चाहतें है। उनकी मंशा है कि अधिक से अधिक दिनों तक सदन चले जिससे कि जनता की समस्याएं विधानसभा के समक्ष आवें और उनका निराकरण हो सके।
नेता सदन एंव प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी ने दलीय नेताओं से अपील करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश की विधान सभा देश की सबसे बड़ी विधान सभा है। अब तक की विधान सभाओं के कार्यकाल में सदन बहुत कम दिन चलमा रहा है। मा0 मुख्यमंत्री ने मंशा प्रकट करते हुए कहा कि यदि सदन लम्बे समय तक चले तो ब्यूरोक्रेसी जवाबदेह होगी। मा0 सदस्यगण 5वर्ष के लिए जनता के बीच से चुनकर आतें है। उनकी विश्वसनीयता कटघरे  में होती है। बार-बार उन्हें अग्नि परीक्षा से भी गुजरना पड़ता है। उनके लिए यह जरुरी हैकि विधान सभा में संवाद  के जरिए  रचनात्मक दृष्टिकोण प्रस्तुत कर जनता की समस्याओं का निराकरण  करें। व्यापक संवाद एवंरचनात्मक सुझाव से ही सकारात्मक  कार्यवाही हो सकती है। उन्होने बैठक मे कहा कि हमारा शुभ संकल्प एवं लक्ष्य 22 करोड़ जनता के जन-कल्याण के लिए है। विधान सभा एक ऐसा मंच है जिसका उपयोग रचनात्मक ढ़ग से मा0 सदस्यों को करना चाहिए। मा0 मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि हमारा किसी दल के प्रति भेदभाव या प्रतिशोध नही है। हम रचनात्मक सुझाव के अग्राही है। यह 17वीं विधान सभा का पहला सत्र होगा जिसमें लोक प्रश्नो के माध्यम से शासन का ध्यानाकृष्ट कर सकतें है। और अपनी सकारात्मक भूमिका से अपने विधान सभा के कार्यों के प्रति सजग रह सकतें है।
दलीय बैठक में नेता प्रतिपक्ष श्री रामगोविन्द चैधरी, नेता बसपा श्री लालजी वर्मा, एवं नेता अपना दल (एस) श्री नीलरतन व कांग्रेस से श्री अजय कुमार ’लल्लू’,  नेता सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी श्री ओम प्रकाश राजभर ने भाग लिया एवं मा0 मुख्यमंत्री के विचारों का स्वागत किया और अपने पक्ष की तरफ से मा0 अध्यक्ष विधान सभा को हर प्रकार से सहयोग देने का भरोसा दिलाया।

Comments (0)

एसआईटी को नहीं गए हैं प्रजापति के सभी मामले

Posted on 14 May 2017 by admin

एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने उन्हें और उनके पति आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को फर्जी मुकदमों में फंसाए जाने के मामले में पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति तथा अन्य के खिलाफ थाना गोमतीनगर में दर्ज कराये गए मुकदमे की विवेचना में लापरवाही का आरोप लगाया है.

उन्होंने कहा है कि इस मुक़दमा के दर्ज हुए अब लगभग दो वर्ष हो चुके हैं और इसमें अब तक मात्र श्री प्रजापति की ही गिरफ़्तारी हुई है. शेष सभी अभियुक्त खुलेआम घूम रहे हैं और उनके विरुद्ध कोई कार्यवाही नहीं हो रही है.
नूतन ने कहा कि अभियोग की विवेचना क्राइम ब्रांच में जाने के बाद इंस्पेक्टर विनोद कुमार शर्मा द्वारा की जा रही थी पर श्री प्रजापति को गिरफ्तार करते ही उन्हें अमेठी तबादला कर दिया गया और 06 मई 2017 को उनकी रवानगी के बाद अब तक इस मामले में कोई विवेचक नियुक्त नहीं हुआ है, जबकि उन्होंने इसके सम्बन्ध में डीजीपी से लेकर सभी अफसरों के यहाँ गुहार लगायी है.

उन्होंने यह भी कहा कि जहाँ एसएसपी लखनऊ ने कहा कि श्री प्रजापति से जुड़े सभी मामले एसआईटी को दिए गए हैं, वहीँ एसआईटी प्रभारी सीओ चौक राधेश्याम राय ने कहा कि उन्हें मात्र दुराचार मामले की विवेचना सौंपी गयी है.

डॉ नूतन ठाकुर
# 094155-34525

Comments (0)

लाभ पंक्ति के अन्त में खड़े व्यक्ति को भी निश्चित रूप से पहुंचे

Posted on 14 May 2017 by admin

मा0 मंत्री, ऊर्जा विभाग उ0प्र0 श्रीकांत शर्मा प्रभारी मंत्री जिला बिजनौर ने सभी अधिकारियांे को सचेत करते हुए कहा कि शासकीय सेवा में रहना है तो शासन की मंशा और भावनाओं के अनुरूप कार्य करना होगा और शासन की मंशा इसके अलावा और कुछ नहीं है कि शासकीय योजनाअेां को पूर्ण मानक एवं गुणवत्ता के साथ क्रियान्वित किया जाए और उनका लाभ पंक्ति के अन्त में खड़े व्यक्ति को भी निश्चित रूप से पहुंचे। उन्हेांने कहा कि शासन की दृष्टि में सबसे कमजोर और असहाय व्यक्ति सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है और उसे विकास की मुख्य धारा से जोड़ना प्राथमिकताओं में से एक है। उन्होनंे कहा कि अधिकारी अपनी कार्यशैली में अपेक्षित सुधार लायें क्योंकि वे शासकीय सेवक है, जिनके द्वारा शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों को धरातल पर लाया जाता है, अतः अपने अधिकारों का प्रयोग सेवाभाव से करें ताकि प्रदेश के नागरिको को शासन द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाअेां का भरपूर लाभ प्राप्त हो और प्रदेश का वास्तव में उत्तम प्रदेश के रूप में उदय हो सके।

srikant-sharmaमा0 मंत्री, ऊर्जा विभाग उ0प्र0 श्रीकांत शर्मा विकास भवन के सभागार में जन प्रतिनिधियों के साथ उपस्थित जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे।
उन्होनंे स्पष्ट करते हुए कहा कि उ0प्र0 सरकार की प्राथमिकता है कि प्रदेश में संचालित विभिन्न विकास योजनाओं को मूर्त रूप प्रदान हो और उनका क्रियान्वयन कागजी नक्शों में नहीं बल्कि धरातल पर हो ताकि पंक्ति के अंतिम छोड़ पर खड़ा असहाय व्यक्ति भी विकास के लाभ का आनंद प्राप्त कर सके। उन्होनंे विद्युत, लोनिवि, स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को विशेष रूप से सचेत करते हुए कहा कि विभागीय योजनाओं का गुणवत्तापूर्वक शत प्रतिशत लाभ जनसामान्य को पहुंचाना सुनिश्चित करें क्योंकि इन्हीं विभागों का सीधा सम्बन्ध आम जनता से होता है, इसलिए पूरी निष्ठा और ईमानदारी से संबंधित अधिकारी विभागीय योजनाओं को क्रियान्वित कर जन सामान्य को लाभान्वित करना सुनिश्चित करें। उन्होनंे पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये कि थाने में अपनी समस्या के लिए आने वाले व्यक्ति का सम्मानपूर्वक स्वागत करने के लिए थानाध्यक्षों को कड़े निर्देश दें कि उसकी समस्या को ध्यानपूर्वक सुनें और पूर्ण गुणवत्ता के साथ उसका समाधान करना सुनिश्चित करंे। उन्हेानंे यह भी निर्देश दिये कि पुलिस डायल 100 सेवा में नियुक्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों की अपनी अध्यक्षता में बैठक आयेाजित कर स्पष्ट चेतावनी दें कि शिकायतकर्ता के साथ सम्मानजनक व्यवहार करें और उन्हें किसी भी रूप में प्रताड़ित न करें अन्यथा उनके विरूद्व सख्त कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। उन्होनंे डीएफओ को निर्देश दिये कि सभी स्कूलों में वृक्षों का रोपण करें और जो वृक्ष रोपित किये जाऐं उनकी सुरक्षा का भी प्रबंध करना सुनिश्चित करें।
उन्होने जिला अधिकारी एंव पुलिस अधीक्षक सहित शिक्षा की गुणवत्ता में अपेक्षित सुधार के सभी अधिकारियों को एक-एक स्कूल गोद लेकर उसके स्तर को मानक के अनुरूप लाने के निर्देश दिये। उन्होनंे यह भी निर्देश दिए कि कोई भी स्कूल बिना चहारदीवारी, स्वच्छ पेयजल और विद्युत सुविधा से वंचित न रहे तथा प्रत्येक विद्यालय में बालक एवं बालिकाअेां के लिए अलग अलग शौचालयों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसी के साथ उन्होनंे सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि दो दिन के भीतर सभी स्कूलों के आस-पास गन्दगी साफ करायें और स्कूल के भीतर और बाहर के वातावरण को स्वच्छ बनायें। उन्होनंे कहा कि स्वच्छता केन्द्र एंव प्रदेश सरकार की प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों में शामिल है अतः नगर एवं ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में विशेष रूप से स्वच्छता कार्यक्रमों का आयोजन कर लोगों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता उत्पन्न की जाए ताकि लोग पे्ररित हो कर स्वच्छता को अंगीकार करंे। उन्हेांने यह भी निर्देश दिये कि प्रत्येक शहर व गांव में स्ट्रीट लाईटों का समुचित प्रबन्ध करना सुनिश्चित करें और उनको जलाने एवं बन्द करने के लिए आॅटोमेशन व्यवस्था की जाए ताकि ऊर्जा का दुरूपयोग न हो सके।
उन्होनंे अपर जिलाधिकारी प्रशासन को निर्देश दिये कि नगर क्षेत्रों में सफाई की व्यवस्था के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करें कि शहरी क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति पैदा न होने पाए और बरसात से पूर्व नालों की सफाई के लिए उनसे निकलने वाली गंदगी को तत्काल उठवाना सुनिश्चित करायें तथा शहर से उठने वाले कूड़े को ढक कर उठवायें ताकि आम नागरिक को असुविधा न होने पाए। उन्होनंे लोनिवि तथा सड़क निर्माण से संबंधित अन्य विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि 15 जून तक सभी सड़कों की मरम्मत का कार्य पूरा करा लें और कार्य योजना बनायें जिससे कि एक भी गांव का मार्ग क्षतिग्रस्त न रहे और न ही कोई गांव मुख्य मार्ग से लिंक होने से अवशेष रहे। सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि 11 बजे के बाद विभागीय योजनाओं की प्रगति के लिए स्वयं क्षेत्र में जाऐं और उसकी गुणवत्ता का अवलोकन करंे ताकि किसी भी स्तर पर अनियमित्ता न होने पाए।
बैठक में मा0 मंत्री श्रीकांत शर्मा ने स्थानीय विधायकों से अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं की जानकारी प्राप्त की और सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्राथमिकता एंव गुणवत्ता के आधार पर उनकी समस्याओं का समाधान करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी जगतराज द्वारा मा0 ऊर्जा मंत्री/प्रभारी मंत्री को विश्वास दिलाते हुए कहा कि उनके द्वारा दिये गये निर्देशों का अक्षरत पालन सुनिश्चित किया जाएगा और शासन की मंशा और भावना के अनुरूप शासकीय कार्यक्रमांे एंव योजनाओं को पूर्ण गुणवत्ता और पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराया जाएगा। बैठक के अंत में मा0मंत्री द्वारा सामुहिक रूप से स्वच्छता शपथ दिलाई गयी।
मा0मंत्री श्री शर्मा द्वारा जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान प्रांगण में कूड़ा जलता हुआ पाया जाने पर उन्होने कड़ी आपत्ति व्यक्त की और निर्देश दिये कि इस प्रकार की गल्ती की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए। अपातकाल कक्ष तथा शौचालय में सफाई व्यवस्था लगभग ठीक मिली। इसके अलावा उन्हांेंने स्थानीय वार्ड रविदास नगर का मुआयना भी किया, जहां सफाई सहित सभी व्यवस्थायें दुरूस्त पाई गयीं।

इस अवसर पर बिजनौर, चांदपुर, नूरपुर, धामपुर, नहटौर एवं बढ़ापुर के विधायकगण, सभी प्रशासनिक एंव पुलिस अधिकारी तथा जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

May 2017
M T W T F S S
« Apr    
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
-->






 Type in