*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | October 11th, 2017

5 परम् पूज्य सरसंघचालकों के व्यक्तित्व पर केन्द्रित पुस्तकों का राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा लोकार्पण

Posted on 11 October 2017 by admin

लखनऊ 10 अक्टूबर 2017, संघ के पूज्य सरसंघचालकों के व्यक्तित्व एवं कृतित्व को प्रभात प्रकाशन ने 5 पुस्तकों के रूप में कलमबद्ध किया। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पुस्तकों का लोकार्पण करते हुए सघ और पूज्य सरसंघचालकों के जीवन वृत्त को रेखांकित किया।
हमारे डाॅ0 हेडगेवार जी, हमारे श्री गुरू जी, हमारे बाला साहब देवरस, हमारे रज्जू भैया, हमारे सुदर्शन जी यह पांच पुस्तके पाठकों को राष्ट्र नव निर्माण के पथ पर आगे बढाने का काम करेंगी।
साइंटिफिक कन्वेशन संेटर के सभागार में पुस्तको का विमोचन करते हुए भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि मेरे जैसे कार्यकर्ता का यह सौभाग्य है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पांचो दिवगंत सरसंघ चालको पर लिखी पुस्तक के विमोचन का मैं हिस्सा रहा।
श्री शाह ने कहा कि संघ जीवनकाल में कई बार ऐसा लगा कि प्रकाश देने वाली यह ज्योति कहीं बुझ तो नहीं जाएगी, परन्तु हर बार कठिन से कठिन संकटो से गुजरती हुई और भी दिव्य रूप में प्रकाशित हुई। ऐसे तमाम अवसर आए जब संघ ने एक आदर्श प्रस्तुत करते हुए हमें अपनी परम्पराओं के पालन के साथ आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त किया। संघ में जब गुरू बनाने की बात आई तो यह प्रश्न उठा कि गुरू पूजन किसका करें तो परम्पराओं की जगह भगवाध्वज को गुरू के रूप मे स्वीकार किया। ध्येय भी हमें इन्ही आदर्शो से मिला।
श्री शाह ने स्पष्ट करते हुए कहा कि शुद्ध आचरण के साथ ईश्वर पर अस्था रखकर यह कार्य किया गया होगा जो आज संघ ने इतना विशाल रूप ले लिया है। जब 1925 में संघ की स्थापना हुई उस समय देश के सारे देशभक्त यह सोचते थे कि देश गुलाम क्यों हुआ परन्तु पूज्य डाॅक्टर साहब की सोच थी कि देश गुलाम क्यों हुआ और जब तक देश को गुलाम बनाने वाले कारणों को नहीं खोजेगें और रोग के मूल को निर्मूल नहीं करेगें, तब तक देश की अखण्डता को अक्षुण्य नहीं रख सकते। डाॅ0 साहब ने जब संघ की स्थापना की तब भी उनके साथ कुछ बच्चे ही थे, इन युवको के साथ खेलते हुए शाखा नाम की संस्था से व्यक्ति निर्माण, व्यक्ति निर्माण से समाज का निर्माण और समाज के निर्माण से राष्ट्र का निर्माण एवं राष्ट्र गौरव की दिशा में आगे बढते हुए संघ इतना विस्तृत रूप लेगा यह किसी ने नहीं सोचा था।
श्री शाह ने कहा कि राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र का सर्वे करने वाले छात्र हमसे मिले तो हमने उन्हें बताया कि संघ चंदा नही लेता, गुरू दक्षिणा के समर्पण से ही संघ का काम चलता है। जब संघ पर प्रतिबंध लगा तो बात आई कोर्ट में संघ का संविधान प्रस्तुत करना है, लेकिन संघ का कोई संविधान ही नहीं, संघ मैं अपने बारे में लिखने की प्रथा नही। संघ को समझने के लिए बस इतना ही काफी है कि ‘‘पायो जी मैंने राम रतन धन पायो‘‘। संघ आज जो इतने बडे़ रूप में दिखता है उसमें बाला साहब देवरस जी का अथक परिश्रम और दूरदृष्टि थी। मुझे पूज्य बाला साहब देवरस, पूज्य रज्जू भैया, पूज्य सुदर्शन जी का सानिध्य एवं मार्गदर्शन प्राप्त हुआ यह मेरे लिए सौभाग्य का विषय है।
डाॅ0 हेडगेवार जी के व्यक्तित्व एंव कृतित्व को श्याम बहादुर वर्मा ने कमलबद्ध किया। हमारे गुरू जी पुस्तक का लेखन संदीप देव ने किया। हमारे बालासाहब देवरस पुस्तक राम बहादुर राय एवं राजीव गुप्ता, हमारे रज्जू भैया पुस्तक देवेन्द्र स्वरूप एवं ब्रज किशोर शर्मा, हमारे सुदर्शन जी पुस्तक का बलदेव भाई शर्मा ने लेखन किया।
1मंच पर राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल राम नाईक, प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 महेन्द्रनाथ पाण्डेय, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर पश्चिम क्षेत्र के संघचालक प्रो0 भगवती प्रकाश शर्मा एवं नेशनल बुक ट्रस्ट के अध्यक्ष बलदेव शर्मा मंचासीन एवं वक्ता के रूप में उपस्थित रहे।

Comments (0)

खादी फाॅर नेशन, खादी फाॅर फैशन की नई नीति के साथ खादी- सत्यदेव पचैरी

Posted on 11 October 2017 by admin

55 हजार नौजवानों को कर्ज पर 25 से 35 फीसदी सब्सिडी देकर बनाएगें उद्यमी
लखनऊ 10 अक्टूबर 2017, भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय के जनसहयोग केन्द्र पर खादी ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचैरी ने कहा कि खादी युवाओं में लोेकप्रिय हो और देश की पहिचान बने हम इस नीति पर काम कर रहे है। खादी को लोकप्रिय और जनप्रिय बनाने के लिए खादी समितियों को प्रोत्साहन दिया जा रहा है।
खादी ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचैरी सुबह 11 बजे से प्रदेश उपाध्यक्ष जसवन्त सैनी एवं प्रदेश मंत्री कौशलेन्द्र सिंह के साथ जनसमस्याओं के समाधान में जुटे। सरकार और संगठन के समन्वय से जनसमस्याओं का अनवरत क्रम जारी है।
खादी ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचैरी ने पत्रकारों के प्रश्नों के जबाब देते हुए हुए कहा कि खादी विभाग नई खादी नीति बना रहा है, खादी समितियों को प्रोत्साहन देकर खादी को लोकप्रिय एवं जनप्रिय बनाने पर काम आगे बढ रहा है। सरकार ने खादी पर 15 प्रतिशत की छूट दी है, जो पूरे वर्ष जारी रहेगी। इसके साथ ही कतिन बुनकरों को भी 5 प्रतिशत अतिरिक्त दिया जाएगा। खादी के साथ सोलर उत्पाद और पौली खादी पर भी 15 फीसदी की छूट रहेगी। यह छूट केवल उत्तर प्रदेश में उत्पादित खादी पर ही होगी, जिससे प्रदेश में खादी उत्पादन को प्रोत्साहन मिले। उत्पादन बढाने और उद्यमी बनाने के लिए प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के द्वारा अब तक प्रदेश को 1 से 11 करोड़ अनुदान मिलता है। जो इस वर्ष बढकर 278.93 करोड़ हो गया है। 15 अक्टूबर तक आॅनलाइन आवेदन स्वीकर करके लगभग 55 हजार नौजवानों को उद्यमी बनाया। रोजगार के लिए ऋण पर 25 फीसदी अनुदान होगा, महिला एवं अनुसूचित जाति को ऋण में 35 फीसदी का अनुदान दिया जाएगा। प्रत्येक बैंक ब्रान्च को कम से कम एक अनुसूचित जाति के आवेदक को ऋण देना अनिवार्य होगा। बैंको को स्पष्ट निर्देश दिए गए है कि विभाग द्वारा भेजे आवेदनों पर कर्ज देने में कोताही न बरते।
प्रदेश उपाध्यक्ष डाॅ0 राकेश त्रिवेदी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश कार्यसमिति बैठक के दृष्टिगत दिनांक 11 व 12 अक्टूबर को जनसहयोग केन्द्र बन्द रहेगा।

Comments (0)

एनपीए कर्ज माफी सराहनीय फैसला, कर्ज में डूबे किसानों को मिली बड़ी राहत - शलभ मणि त्रिपाठी

Posted on 11 October 2017 by admin

लखनऊ 10 अक्टूबर 2017, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने श्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार के उस फैसले का स्वागत किया है जिसमें कर्ज में डूबे किसानों के एनपीए यानी नान परफारमिंग एसेट्स के कर्ज माफ कर दिए गए हैं। श्री त्रिपाठी ने कहा है कि कैबिनेट के इस फैसले का सीधा फायदा करीब 13 लाख ऐसे किसानों को मिलेगा जो ना सिर्फ कर्ज में बुरी तरफ डूबे हुए थे बल्कि जिनके बैंक खातों को भी एनपीए की श्रेणी में डाल दिया गया था। ऐसे किसानों के खाता संचालन पर भी रोक थी और वे दुबारा कर्ज भी नहीं ले सकते थे। अब एनपीए की ऋण माफी के बाद ऐसे किसान ना सिर्फ खातों का संचालन कर पाएंगे बल्कि दुबारा खेती के लिए कर्ज भी ले सकेंगे। योगी सरकार के इस कदम से ऐसे 13 लाख किसानों को बड़ी आर्थिक मदद मिली है और किसानों के हित में इसके बेहतर परिणाम सामने आएंगे।
प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि श्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार पहले ही दिन से किसान हित में फैसले ले रही है। कर्ज माफी, रिकार्ड गेहूं खरीद और गन्ना भुगतान के बाद धान खरीद के बेहतर इंतजाम के जरिए किसानों को आर्थिक तौर पर मजबूत करने की योजना सफलतापूर्वक काम कर रही है। इस बीच कैबिनेट बैठक में किसानों के एनपीए कर्ज के इस फैसले से भी किसानों की हालत में काफी सुधार होगा। एनपीए एकाउंट वाले इन किसानों की मदद के लिए सरकार ने एकमुश्त समाधान योजना के तहत किसानों का एक लाख तक का कर्ज माफ करने के लिए कोआरपेटिव बैंकों से समझौता किया है। किसानों के एक लाख तक के कर्ज का 75 फीसदी राज्य सरकार भुगतान करेंगी जबकि 25 फीसदी कोआपरेटिव बैंक। ये कुल रकम 1893 करोड़ रूपए की होगी। इस तरह किसानों के साथ ही साथ कोआरपेटिव बैंकों की भी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और वे किसान हित में बेहतर काम कर पाएंगे।
शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि एनपीए खाते वाले किसानों को तमाम तरह की विसंगतियों से जूझना पड़ रहा था। उनके खाते कुर्क थे और संपत्तियां कुर्क होने के कगार पर थीं। खेती के लिए नया कर्ज ना मिल पाने के चलते उनके लिए भविष्य की राह भी मुश्किल साबित हो रही थी। ऐसे में प्रदेश की भाजपा सरकार का ये फैसला ऐसे किसानों के लिए बड़ी राहत साबित होगा। श्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार किसान हित में लिए गए इस फैसले के लिए बधाई की पात्र है।

Comments (0)

भाजपा प्रदेश कार्यसमिति 11 व 12 अक्टूबर को कानपुर में

Posted on 11 October 2017 by admin

प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय बैठक की अध्यक्षता करेंगे।
लखनऊ 10 अक्टूबर 2017, उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति कानपुर में 11 व 12 अक्टूबर को होगी। 11 अक्टूबर को प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक व 12 अक्टूबर को प्रदेश कार्यसमिति होगी। कार्यसमिति की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय जी करेंगे। बैठक में मुख्यमंत्री मा0 योगी आदित्यनाथ जी रहेंगे।
कार्यसमिति का एजेण्डा गत कार्यवाही की पुष्टि, पं0 दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी कार्यक्रम की समीक्षा, स्थानीय निकाय चुनाव, सहकारिता चुनाव, राजनैतिक प्रस्ताव एवं आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा है। कार्यसमिति में 12 अक्टूबर को 04 सत्र होंगे।
कार्यसमिति बैठक में प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय, प्रदेश प्रभारी मा0 ओम प्रकाश माथुर, राष्ट्रीय सह महामंत्री (संगठन) मा0 शिव प्रकाश, प्रदेश के निवासी राष्ट्रीय पदाधिकारीगण, महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल , प्रदेश पदाधिकारी एवं सभी कार्यसमिति में अपेक्षित महानुभाव उपस्थित रहेगें।

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

October 2017
M T W T F S S
« Sep   Nov »
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031  
-->









 Type in