*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | गोरखपुर

मुख्यमंत्री ने प्रदेश के पिछड़े क्षेत्रों के विकास के लिए वैज्ञानिकों को आगे बढ़कर कार्य करने का आह्वान किया

Posted on 03 March 2013 by admin

  • गोरखपुर विश्वविद्यालय में महिलाओं के छात्रावास हेतु 2 करोड़, वाई-फाई हेतु 2.5 करोड़, विधि संकाय हेतु 50 लाख, पुस्तकालय तथा कैन्टीन व अन्य सुविधाओं हेतु क्रमशः एक-एक करोड़ रुपए सहित एक स्पोटर््स स्टेडियम बनाने की घोषणा
  • कुश्ती ग्रामीण संस्कृति व गरीबों से जुड़ा हुआ खेल

pressउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने प्रदेश के पिछड़े क्षेत्रों के विकास के लिए वैज्ञानिकों को आगे बढ़कर कार्य करने का आह्वान करते हुए कहा कि पूर्वांचल के इस इलाके में आयोजित इस तीन दिवसीय विज्ञान कांग्रेस से प्रदेश के सतत् एवं समावेशीय विकास में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि सम्मेलन के महत्वपूर्ण निष्कर्षों को लागू करने का प्रयास किया जाएगा, जिससे राज्य की जनता का भला हो सके।
मुख्यमंत्री ने आज दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के दीक्षा भवन में आयोजित प्रथम उत्तर प्रदेश विज्ञान कांग्रेस 2012-13 के उद्घाटन के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने विश्वविद्यालय में महिलाओं के छात्रावास हेतु 2 करोड़, वाई-फाई हेतु 2.5 करोड़, विधि संकाय हेतु 50 लाख, पुस्तकालय तथा कैन्टीन व अन्य सुविधाओं हेतु क्रमशः एक-एक करोड़ रुपए सहित एक स्पोटर््स स्टेडियम बनाने की घोषणा की।
श्री यादव ने कहा कि सरकार युवा प्रतिभाओं को सही अवसर प्रदान करने के लिए व्यावहारिक नीति बनाने का प्रयास कर रही है ताकि उन्हें विकास यात्रा में अपना योगदान देने का मौका मिले और उनका ज्ञान व्यर्थ न जाये। उन्होंने कहा कि प्रदेश में युवा प्रतिभाओं की कमी नही है केवल उन्हें सही दिशा दिये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अभी हाल में एक मैग्जीन में 200 विश्वविद्यालयों की सूची आयी है, जिसमें प्रदेश का कोई विश्वविद्यालय सम्मिलित नहीं है। गुणवत्तापरक शिक्षा की महत्ता पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि इससे प्रदेश की तस्वीर बदल सकती है। उन्होंने कहा कि सुविधाओं एवं संसाधनों के अभाव के बावजूद यह आयोजन सराहनीय है। उन्होंने इंसेफलाइटिस को क्षेत्र की बड़ी समस्या बताते हुए वैज्ञानिकों से सहयोग की अपेक्षा करते हुए कहा कि राज्य सरकार इसकी रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठा रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नौजवानों की खुशहाली एवं रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार निरन्तर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि इन्हें आधुनिक पढ़ाई एवं तकनीक में दक्षता हासिल करने के लिए शीघ्र लैपटाप उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जा रहा है, जिससे छात्रों को आगे की पढ़ाई में भी मदद मिलेगी। राज्य सरकार आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की बालिकाओं को शिक्षित करने के लिए उनको आर्थिक मदद दे रही है।
press-1उन्होंने नौजवानों को समाज की नींव बताते हुए कहा कि आधुनिक शिक्षा का मौका उपलब्ध कराने पर इसका लाभ समाज को निश्चित रूप से मिलेगा। उन्होंने कहा कि अनुसंधान से समाज में नई सोच तथा चेतना का विकास होता है और अन्ततोगत्वा इसका लाभ देश को मिलता है। उन्होंने कहा कि देश की समृद्धि एवं खुशहाली के लिए नौजवानों की प्रतिभा निखारनी होगी और यह काम बिना पर्याप्त संसाधन उपलब्ध कराए सम्भव नहीं है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 8 वैज्ञानिकों डाॅ0 नित्यानंद, डाॅ0 बी0पी0 कम्बोज, डाॅ0 एस0एस0 अग्रवाल, डाॅ0 पी0के0 सेठ, डाॅ0 आर0एस0 त्रिपाठी, डाॅ0 सी0एल0 खेत्रपाल, डाॅ0 एच0एन0 वर्मा तथा डाॅ0 कमर रहमान को विज्ञान-विभूषण से सम्मानित किया। बाद में मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय परिसर में लगे साइंस एक्सपो-2013 (इंटरनेट) का अवलोकन किया। इस एक्सपो में स्वास्थ, चिकित्सा, ग्रामीण विकास, वैज्ञानिक शोध तथा बच्चों द्वारा बनाये गये विभिन्न माॅडलों को प्रदर्शित किया गया था। इस मौके पर विश्वविद्यालय के कुलपति श्री पी0सी0 त्रिवेदी भी उपस्थित थे।
सैयद मोदी रेलवे स्टेडियम में अखिल भारतीय राष्ट्रीय कुश्ती एवं महान भारत केसरी प्रतियोगिता के एक अन्य कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि कुश्ती ग्रामीण संस्कृति व गरीबों से जुड़ा हुआ खेल है। इसको बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार सदैव तत्पर है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने यश भारती सम्मान की राशि 5 लाख रुपए से बढ़ाकर 11 लाख रुपए कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस सम्मान से कुश्ती के अलावा अन्य क्षेत्रों के प्रतिभाशाली लोगों को पुरस्कृत किया जाता है, जिससे कि कुश्ती सहित अन्य विधाओं का विकास हो सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता से जो भी वायदे किये गए थे, प्रदेश सरकार उनको तेजी से पूरा करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि बजट में गरीबों, किसानों और समाज के हर वर्ग के हितों को ध्यान में रखा गया है। किसानों को उनकी उपज का समुचित मूल्य दिलाने का प्रयास किया जा रहा है। सीमित संसाधनों के बावजूद प्रदेश के बेरोजगारों को स्थायी रोजगार की व्यवस्था होने तक बेरोजगारी भत्ता का वितरण किया जा रहा है। कन्या विद्या धन सहित अन्य योजनाएं समाज के कल्याण के लिए चलाई जा रही हैं।
इस दौरान उन्होंने सेना के पहलवान श्री युगवीर एवं उत्तर प्रदेश के श्री किशन कुमार के बीच महान भारत केसरी प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया तथा 51 किलोग्राम में स्वर्ण पदक प्राप्त श्री रामदुलारे यू0पी0, श्री अनवार अहमद दिल्ली को रजत एवं श्री नवीन कुमार उ0प्र0 व श्री रिन्कू पंजाब को कांस्य पदक प्रदान कर पुरस्कृत किया। इसके पूर्व आयोजकों ने मुख्यमंत्री को गदा व स्मृति चिन्ह् भेंटकर सम्मानित किया।
उपरोक्त दोनों कार्यक्रमों की अध्यक्षता विधान सभा अध्यक्ष श्री माता प्रसाद पाण्डेय ने किया। इन अवसरों पर प्रदेश सरकार के मंत्री श्री शंखलाल माझी, श्री रामकरन आर्य, श्री ब्रह्माशंकर तिवारी, विधायक श्रीमती राजमति, पूर्व विधायक डाॅ0 पी0के0 राय, पूर्व मंत्री श्री जयप्रकाश यादव, सांसद श्री बृजभूषण सिंह आदि जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

सरकार की ईमानदारी, नैतिकता, चरित्र की पोल

Posted on 07 February 2013 by admin

राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेष अध्यक्ष मुन्ना सिंह चैहान ने मुख्यमंत्री द्वारा लिये गये निर्णय की निन्दा करते हुये कहा कि पषुओं की तस्करी करने वाले गोरखपुर के के0सी0 पाण्डेय के खिलाफ कानून की कार्यवाही को रोकते हुये गोण्डा के ईमानदार, निष्ठावान, कर्तव्यनिष्ठ पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह राणा को हटाकर सरकार ने लोकतंत्र का गला घोंट दिया। इस घटना ने सरकार की ईमानदारी, नैतिकता, चरित्र की पोल खोल दी। मुख्यमंत्री को प्रदेष में कानून व्यवस्था को चुस्त दुरस्त करने के लिए पषुओं की तस्करी कर रहे के0सी0 पाण्डेय की लालबत्ती छीनकर उनके ऊपर कानूनी कार्यवाही करते न कि ईमानदार पुलिस अधीक्षक पर कानून की धज्जियां उड़ाते हुये गाज गिराते।
श्री चैहान ने आगे बताया कि गोण्डा के पुलिस अधीक्षक ने गोरखपुर के सपा के पदाधिकारी के0सी0 पाण्डेय के खिलाफ पषुओं की तस्करी करने पर सख्त कार्यवाही करने की शासन से सिफारिष भी की थी तथा उन्हें आरोपित करते हुये उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही के आदेष भी दिये थे। मुख्यमंत्री ने के0सी0 पाण्डेय के बचाव में कहा था कि पषुओं की तस्करी का आरोप बसपा सरकार के दौरान के0सी0 पाण्डेय पर लगा था जबकि के0सी0 पाण्डेय को दिसम्बर 2012 में पषुओं की तस्करी में आरोपित किया गया था। पुलिस अधीक्षक ने उनके ऊपर कार्यवाही करते हुये गिरफ्तारी का आदेष दिया था जिसका खामियाजा श्री राणा को उठाना पड़ा फलस्वरूप सरकार ने तत्काल प्रभाव से गोण्डा के पुलिस अधीक्षक पद से हटा दिया। इससे सरकार की नीति, नियत, और चरित्र का पता चलता है।
राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेष प्रवक्ता प्रो0 के0के0 त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि जनता के प्रति ईमानदार, निष्ठावान, कर्तव्यनिष्ठ अधिकारियों के ऊपर गाज गिराने से पहले सरकार अपने  गिरेबान को भी देखें। सरकार जनता के बीच दिन-प्रतिदिन इकबाल खोती जा रही है। सरकार को जनता के बीच अपने इकबाल को कायम करने के लिए ईमानदार, निष्ठावान व कर्तव्यनिष्ठ अधिकारियों को उनके कार्यों के लिए पुरस्कृत किया जाना चाहिए न कि उनके खिलाफ कार्यवाही करें। राष्ट्रीय लोकदल का मानना है कि आगामी लोकसभा चुनाव में सरकार द्वारा किये गये जनविरोधी कार्याें का हिसाब किताब जनता एकमुस्त चुकता करेगी।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

भारी मात्रा में चरस बरामद करने में सफलता प्राप्त

Posted on 02 February 2013 by admin

एस0टी0एफ0 उत्तर प्रदेश को मादक पदार्थो की तस्करी करने वाले अन्तर्राष्ट्रीय गिरोह के 02 सदस्यों को जनपद गोरखपुर में गिरफ्तार कर उनके कब्जे से भारी मात्रा में चरस बरामद करने में सफलता प्राप्त हुई।
गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरणः
1.    सोमदत्त लोहार पुत्र मनोरथ लोहार निवासी डबरा थाना कृष्णानगर जनपद कपिलवस्तु (नेपाल)।
2.    मंहगी लाल यादव पुत्र मूसे यादव निवासी बन्नी थाना सुदौली जनपद बस्ती।

गिरफ्तार अभियुक्तों से बरामदगीः
1.    21.2 किलोग्राम चरस
2.    रू0 45,000/- नकद
3.    02 अदद मोबाइल फोन

विगत कई दिनों से एस0टी0एफ0 को सूचना प्राप्त हो रही थी कि भारत-नेपाल सीमा पर मादक पदार्थो की तस्करी में कई गिरोह लिप्त है, जिनकी समय-समय पर गिरफ्तारी भी की जाती रही है। इसी क्रम में श्री एस0 आनन्द, अपर पुलिस अधीक्षक व श्री विनय कुमार सिंह, पुलिस उपाधीक्षक, फील्ड इकाई, गोरखपुर की टीम द्वारा अभिसूचना संकलन किया जा रहा था। अभिसूचना संकलन के दौरान ज्ञात हुआ कि मंहगी लाल द्वारा नेपाल से चरस लाकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा व दिल्ली में बेचा जा रहा है। आज दिनांक 01-02-2013 को मुखबिर के माध्यम से जानकारी प्राप्त हुई कि एक नेपाली व्यक्ति व मंहगी लाल जनपद गोरखपुर के थाना कैन्ट क्षेत्रान्तर्गत रोडवेज तिराहे पर भारी मात्रा में चरस लेकर आयेंगे, जिसे लेकर वे पश्चिमी उत्तर प्रदेश जायेंगे। इस सूचना पर एस0टी0एफ0 टीम द्वारा गाड़ाबन्दी की गयी व लगभग 08 बजे प्रातः दो व्यक्ति रोडवेज तिराहे पर आकर रुके जिन्हें मुखबिर द्वारा मंहगी लाल व उसके साथी के रूप में पहचाना गया। इस पर एस0टी0एफ0 टीम द्वारा उन्हें आवश्यक बल प्रयोग कर गिरफ्तार कर लिया गया जिनसे उपरोक्त बरामदगी हुई।
पूछताछ पर सोमदत्त द्वारा बताया गया कि वह चरस की तस्करी के धन्धे में विगत 3-4 वर्षो से लिप्त है व नेपाल में सत्यराय, जय नारायन, जयवीर व दीनानाथ चैधरी उर्फ बाबा से चरस लेता है और मंहगी लाल को देता है। मंहगी लाल स्वयं भी इन लोगों के सम्पर्क है और सीधे उन्हीें लोंगे से भी कई बार चरस मंगवाकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दिल्ली व हरियाणा में भी बेच चुका है।
मंहगी लाल द्वारा भी पूछताछ में उपरोक्त तथ्यों की पुष्टि की गयी और बरामद रूपये चरस की बिक्री का होना बताया।
अभियुक्तगण से गहन पूछताछ की जा रही है तथा सम्पर्कों के संबंध में छानबीन की जा रही है।
इस गिरफ्तारी व बरामदगी के संबंध में थाना कैन्ट गोरखपुर में मु0अ0सं0 83, 84/2013 धारा 8/18/22/27 छक्च्ै एक्ट के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत कराया गया है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

फर्जी मुकदमें में फंसाया जा रहा है

Posted on 28 December 2012 by admin

भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष हरीश द्विवेदी ने कहा है कि गोरखपुुर सदर सांसद योगी आदित्यनाथ को समाजवादी पार्टी के इशारे पर राजनैतिक कुचक्रवश पिपराईच थानाध्यक्ष द्वारा फर्जी मुकदमें में फंसाया जा रहा है। लखनऊ में आज भाजयुमों प्रदेश अध्यक्ष हरीश द्विवेदी के नेतृत्व में पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं का एक प्रतिनिधि मण्डल अपर पुलिस महानिदेशक से मिला और गोरखपुर जिले के पिपराईच थानाध्यक्ष संजय राय को अविलंब हटाने और विद्वेष वश फर्जी एफआईआर लिखने का आरोप तय करते हुए उन पर विभागीय कार्यवाही करने की मांग किया।
श्री द्विवेदी ने अपर पुलिस महानिदेशक को दिये ज्ञापन में कहा है कि गत 27 दिसम्बर को गोरखपुर जिले के पिपराईच थानान्र्तगत कम्हारिया गांव में एक कार्यकर्ता पर गलत पुलिस कार्यवाही का विरोध करने पर थानाध्यक्ष संजय राय ने मनगढंत तरीके से सदर सांसद योगी आदित्यनाथ पर फर्जी मुकदमा दर्ज किया जो अवैधानिक और निंदनीय है।
उन्होंने ज्ञापन में सदर सांसद पर से तत्काल मुकदमा समाप्त करने, आरोपी थानाध्यक्ष संजय राय को हटाने व उनपर अधिकारों के दुरूपयोग करने हेतु कठोर विभागीय कार्यवाही करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि यदि तत्काल उचित कार्यवाही नही की गई तो भाजयुमों कार्यकर्ता आंदोलन करने को बाध्य होंगे।
प्रतिनिधि मण्डल मे प्रमुख रूप से प्रदेश अध्यक्ष हरीश द्विवेदी, प्रदेश उपाध्यक्ष शिवभूषण सिंह, भाजपा खेलकूद प्रकोष्ठ के प्रदेश सहसंयोजक निखिलेश सिंह, प्रदीप पाण्डेय, प्रदेश सहमीडिया प्रभारी आनन्द शाही, प्रदेश कार्यालय प्रभारी अशोक द्विवेदी, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य विद्या भूषण द्विवेदी, सचिदानंद राय, सुशील चैरसिया, नीरज मौर्या, राजेश यादव मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

लोहिया ग्रामों में सी.सी. रोड का निर्माण अब ग्रामीण अभियंत्रण विभाग द्वारा किया जायेगा

Posted on 08 November 2012 by admin

डा0 राम मनोहर लोहिया समग्र ग्राम विकास योजना के तहत चयनित ग्रामों में सी.सी.रोड के निर्माण हेतु अब मेरठ, सहारनपुर, चित्रकूटधाम व गोरखपुर मण्डल के लिए कार्यदायी संस्था लोक निर्माण विभाग को बनाया गया है।
इस संबंध में मुख्य सचिव श्री जावेद उस्मानी की ओर से प्रदेश के समस्त जिलाधिकारियों/मण्डलायुक्तों को भेजे गये पत्र में कहा गया है कि प्रदेश के अन्य मण्डलों के लोहिया ग्रामों में सी.सी. रोड का निर्माण अब ग्रामीण अभियंत्रण विभाग द्वारा किया जायेगा।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

गोरखपुर में 500 बेड के वार्ड की स्थापना के अलावा एम0आर0आई0 की व्यवस्था भी की जाएगी

Posted on 01 November 2012 by admin

100_7375उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि गोरखपुर क्षेत्र में जापानी इंस्फेलाइटिस (जे0ई0) से प्रभावित लोगों के उपचार के लिए बाबा राघवदास मेडिकल काॅलेज (बी0आर0डी0) गोरखपुर में 500 बेड के वार्ड की स्थापना के अलावा एम0आर0आई0 की व्यवस्था भी की जाएगी। उन्होंने जे0ई0 से मृत्यु होने पर मृतक आश्रित को 50 हजार रुपये दिए जाने की घोषणा करते हुए कहा कि जे0ई0 से विकलांगता की स्थिति में बच्चे को एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी, जिसमें 50 हजार रुपये तुरन्त नगद तथा शेष 50 हजार रुपये उसके खाते में जमा कराये जाएंगे जो उसकी शिक्षा एवं चिकित्सा आदि पर खर्च किया जाएगा। मुख्यमंत्री गोरखपुर में मदन मोहन मालवीय (एम0एम0एम0) इंजीनियरिंग काॅलेज के स्वर्ण जयन्ती समारोह एवं एल्युमनाई कन्वेंशन-2012 में मुख्य अतिथि के रूप में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने इंजीनियरिंग काॅलेज की 1998 से रूकी ग्रान्ट पर विचार करने का आश्वासन दिया और कहा कि इस इंजीनियरिंग काॅलेज का उच्चीकरण आई0आई0टी0 रूड़की की तर्ज पर कराया जाएगा। श्री यादव ने कहा कि पिछली सरकार के कार्यकाल में सरकारी धन का दुरुपयोग हुआ जिसके कारण बेरोजगारों को नौकरी नहीं मिली और बेरोजगारी में वृद्धि हुई।  100_7380उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने नई औद्योगिक नीति लागू की है, जिसमें उद्यमियों को तमाम सुविधाएं देने की व्यवस्था की गई है। प्रदेश में उद्योग की स्थापना से बेरोजगारों को रोजगार के नए अवसर सुलभ होंगे। उन्होेंने बताया कि आर्थिक संसाधनों की कमी के बावजूद, घोषणा पत्र में किए गए सभी वायदों को पूरा किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने हेतु कन्या विद्याधन योजना संचालित की जा रही है। अल्पसंख्यक परिवारों की कक्षा 10 उत्तीर्ण करने वाली बालिकाओं को शिक्षा अथवा विवाह हेतु आर्थिक मदद उपलब्ध कराई जा रही है। कक्षा 10 उत्तीर्ण करने वाले छात्रों को टैबलेट तथा 12वीं पास करने वाले छात्र-छात्राओें को लैपटाॅप उपलब्ध कराये जाएंगे। उन्होंने बताया कि गरीब किसानों के कर्ज को माफ करने एवं किसानों को मुफ्त सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराने का फैसला लिया गया है। उन्होंने इंजीनियरों को विकास कार्याें में अपनी प्रतिभा दिखाने का आह्वान करते हुए कहा कि इस काॅलेज से पढ़े ए0पी0 मिश्र को इस अपेक्षा के साथ पाॅवर कारपोरेशन का प्रबन्ध निदेशक बनाया गया है कि वे विद्युत क्षेत्र का विकास करेंगे।
श्री यादव ने इंजीनियरिंग काॅलेज के स्वर्ण जयन्ती द्वार का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्हांेने वर्ष 2012 में इंजीनियरिंग में टाॅप करने वाले छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष श्री माता प्रसाद पाण्डे, होमगार्ड मंत्री ब्रहमा शंकर त्रिपाठी, प्रमुख सचिव प्राविधिक शिक्षा
डाॅ0 आर0सी0 श्रीवास्तव एवं अन्य अधिकारी तथा इंजीनियरिंग काॅलेज के शिक्षक, छात्र एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

रामजन्मभूमि हिन्दुत्व की पहचान है

Posted on 09 September 2012 by admin

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व उपप्रधान मंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने आज गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर परिसर में आयोजित श्री गुुरू गोरखनाथ मंदिर के महन्त अवैद्यनाथ जी महाराज के जीवन एवं कृतित्व पर आधारित तीन खण्डों में प्रकाशित ग्रन्थ ’ राष्ट्रीयता के अनन्य साधकः महन्त अवेद्यनाथ ’ के लोकार्पण के अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि रामजन्मभूमि हिन्दुत्व की पहचान है। भारत में रामराज्य तभी आ सकता है जब अयोध्या में रामजन्म भूमि मंदिर का निर्माण होगा।
l-k-adwani-in-gorakhpur1l-k-adwani-in-gorakhpur2l-k-adwani-in-gorakhpur3l-k-adwani-in-gorakhpur4श्री आडवाणी ने कहा कि रामजन्म भूमि मुक्ति आन्दोलन का गोरक्षपीठ से गहरा सम्बन्ध है। महन्त अवैद्यनाथ जी महाराज ने ही रामजन्म भूमि मुक्ति संघर्ष समिति के अध्यक्ष के रूप में नेतृत्व प्रदान किया था। हिन्दुत्व एवं राष्ट्रवादी किसी भी आन्दोलन में गोरक्षपीठ का योगदान आगे भी मिलता रहेगा। उन्होंने महन्त अवेद्यनाथ जी महाराज के शतायु होने की शुभकामना व्यक्त करते हुए यह उम्मीद व्यक्त की कि महन्त जी अपने जीवनकाल में ही रामजन्मभूमि मंदिर का निर्माण देखेंगे।
भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कलराज मिश्र ने कहा कि हिन्दुत्व ही राष्ट्रीयत्व है। भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने भारत ही नहीं विश्व को नया विचार दिया। भारतीय राजनीति के शीर्ष पुरूष है। भाजपा उ0प्र0 के प्रभारी एवं राष्ट्रीय महामंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि योगी आदित्यनाथ देश की राजनीति में सक्रिय कार्य करने वाले संत और आडवाणी के राष्ट्रीय चिंतक है। राष्ट्र के समक्ष विद्यमान समस्याओं के निदान की क्षमता भाजपा और उसके नेता लालकृष्ण आडवाणी में है। प्रदेश महामंत्री संगठन राकेश जैन ने एकल गीत दिव्य ध्येय की ओर तपस्वी प्रस्तुत किया।
विशिष्ट अतिथि विश्व हिन्दू परिषद के अंताराष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक सिंघल ने रामजन्म भूमि मुक्ति आन्दोलन और महन्त अवेद्यनाथ के सम्बन्धों की चर्चा करते हुए कहा कि वर्ष 2014 में महन्त के जीवन काल में ही राममंदिर का निर्माण अवश्य होगा।
श्री सिंघल ने आज के छद्म धर्मनिरपेक्षता के आचरण की आलोचना की। उन्होंने धर्मनिरपेक्षता को धर्मविहीनता कही। हिन्दुत्व की रक्षा के बगैर राष्ट्र की रक्षा नही हो सकती।
जगत्गुरू रामनुजाचार्य स्वामी पुरूषोत्तमाचार्य महाराज ने कहा कि देश में जाति, धर्म और सम्प्रदाय के नाम पर एकता में फूट डालने वाले उपकरण विद्यमान हैं। गोरक्षपीठाधीश्वर के मार्ग का अनुसरण ही इस समस्या का समाधान है। जगत्गुरू रामानन्दाचार्य स्वामी हंसदेवाचार्य महाराज ने कहा कि अच्छे लोंगो को देश की बागडोर सौंप दे तो देश की सभी समस्याओं का समाधान हो जायेगा। डा. रामविलास वेदान्ती ने कहा कि भ्रष्टाचार का ढंाचा ढहाने की जरूरत है। दिगम्बर अखाड़ा अयोध्या के महंथ सुरेश दास ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण एकजुटता से होगा। हिन्दू संस्कृति को बचाने में महंत अवेद्यनाथ का अतुलनीय योगदान है।
आयोजन की अध्यक्षता मस्तनाथ मठ अस्थल बोहर, रोहतक हरियाणा के महंत चांदनाथ महाराज ने की। समारोह में प्रदेश अध्यक्ष डा. लक्ष्मीकांत वाजपेयी, प्रदेश महामंत्री संगठन राकेश जैन, भरत सिम्हा, महंत गुलाबनाथ महाराज, महंत सुरेन्द्र नाथ अवधूत आदि ने भी विचार रखा। कार्यक्रम के आरम्भ में मुख्य अतिथि एवं मंचासीन संतों ने ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ की आदमकद प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किया। तदुपरान्त गोरक्षपीठ के उत्तराधिकारी एवं कार्यक्रम के संयोजक योगी आदित्यनाथ ने अतिथियों का परिचय, स्वागत एवं प्रस्ताविकी में कहा कि दो वर्ष के अथक परिश्रम का प्रतिफल है यह ग्रंथ। ग्रंथ में पीठाधीश्वर के व्यक्तित्व, कृतित्व एवं जीवन के मिशन का उल्लेख है। उन्होंने मुख्यअतिथि आडवाणी की प्रशंसा की और कहा कि उन्होंने भारतीय राजनीति को नया आयाम दिया है। ग्रंथ के संपादक प्रो. सदानन्द गुप्त एवं डा. प्रदीप राव ने पुस्तक परिचय प्रस्तुत किया। योगी ने सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्र एवं पुस्तक भेंटकर सम्मानित किया। संपादक मण्डल को मुख्यअतिथि श्री आडवाणी ने सम्मानित किया। संचालन डा. भगवान सिंह और आभार ज्ञापन पूर्व कुलपति प्रो. यू.पी. सिंह ने किया। समारोह में पूर्व सांसद ले. जनरल श्रीप्रकाश मणि त्रिपाठी, पंकज चैधरी, सांसद कमलेश पासवान, मेयर डा. सत्या पाण्डेय, पूर्व मेयर श्रीमती अंजु चैधरी, नगर विधायक डा. राधामोहन दास अग्रवाल, ग्रामीण विधायक विजय बहादुर यादव, पूर्व कुलपति प्रो. राधेमोहन मिश्र, भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक लल्लन प्रसाद त्रिपाठी, पूर्व कुलपति प्रो. रामअचल सिंह, क्षेत्रीय संयोजक समीर सिंह, संतराज यादव, पार्षद विजय राज जायसवाल, मीडिया प्रभारी डा0 सत्येन्द्र सिन्हा के अलावा भारी संख्या में सभ्रांतजन एवं मीडिया के प्रमुख लोग मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

गोरखपुर क्षेत्र की बैठक

Posted on 26 August 2012 by admin

भारतीय जनता पार्टी द्वारा सदस्यता अभियान तथा संगठनात्मक चुनाव को लेकर आहूत की गई क्षेत्रीय बैठकों के क्रम मे कल 26 अगस्त को गोरखपुर क्षेत्र की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेई, प्रदेश महामंत्री संगठन राकेश जैन, प्रदेश सदस्यता प्रमुख देवेन्द्र सिंह चैहान तथा प्रदेश के चुनाव अधिकारी स्वतंत्र देव सिंह मार्ग दर्शन करेगंे। इसी तरह 27 अगस्त को पश्चिम क्षेत्र की बैठक को प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेई, राष्ट्रीय सदस्यता प्रमुख डा0 राधामोहन सिंह तथा प्रदेश सदस्यता प्रमुख देवेन्द्र सिंह चैहान प्रमुख रूप से भाग लेंगे।
27 अगस्त को ब्रज क्षेत्र की बैठक मे पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री कलराज मिश्र प्रदेश महामंत्री संगठन राकेश जैन तथा प्रदेश के चुनाव अधिकारी श्री स्वतंत्र देव सिंह का मार्ग दर्शन प्राप्त होगा। यह जानकारी प्रदेश मीडिया प्रभारी हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने दी।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मेडिकल कालेज मे बढने लगे जेई-एईएस के मरीज

Posted on 24 August 2012 by admin

जेई और एईएस के मरीजों की संख्या मेडिकल कालेज मे फिर बढने लगी है। सिर्फ बुधवार को ही यहाॅ 14 मरीज पहुंच गये। और संख्या 100 के पार पहुंच गयी। उधर , पहले से भर्ती तीन मरीजों की मौत भी हो गयी। इन मौतों के साथ ही इस साल अब तक जेई-एईएस से मरने वालों की संख्या 183 पहुंच गयी है।
गौरतलब है कि मेडिकल कालेज के जेई वार्ड में 14 नये मरीज भर्ती हुए। मंगलवार तक 91 मरीजों का इलाज चल रहा था। इसमें से एक की मौत देर रात हो गयी। 14 नए मरीजों को जोड़कर यहां मरीजों की संख्या 104 हो गयी। उधर,बुधवार को भी तीन मरीजों की मौत हो गयी। और इस समय मेडिकल कालेज मे 101 मरीजों का इलाज चल रहा है। पिछले चार दिनों मे भर्ती अधिकतर मरीजों मे सबसे अधिक मरीज गोरखपुर जिलें के है जैसे -जैसे बारिश कीरफ्तार बढ रही है मरीजों की संख्या बढती जा रही है। इस साल जून , जुलाई और अगस्त मे मरीजों की संख्या काफी कम हो रही है विशेषज्ञों का कहना है कि ऐसा इसलिए हुआ इन महीनों मे बारिश कम हुई। अगस्त मे जब बरसात तेज हुई तो मरीजों की संख्या भी बढने लगी। विशेषज्ञ इसके लिए गांवों मे जागरूकता की कमी को भी जिम्मेदार मान रहे है। हालांकि वे खुलकर कुछ बोलने से तो कतरा रहे है लेकिन दबी जुबान यह स्वीकार भी कर रहे है कि गांवों में जागरूकता की कमी सरकारी उदासीनता के कारण है। सरकार बीमारी से बचाव के लिए कई योजनाएं बनायी। लेकिन अधिकारियों के ध्यान न देने के कारण ये योजनाएं परवान नही चढ सकीं। बुधवार को भर्ती 14 मरीजों मे गोरखपुर के पांच , संतकबीर नगर के तीन , देवरिया के दो , बस्ती का एक , कुशीनगर का एक , आजमगढ एक व नेपाल का एक मरीज शामिल है। मरने वालों मे खुशी तीन साल की गोरखपुर , प्रिया नौ साल गोरखपुर व विजेन्द्र नौ साल संतकबीर नगर जिले से है। इस साल मेडिकल कालेज मे अब तक 792 आ चुके है।
पूर्वांचल पिछले तीस सालों से जेई का दंशझेल रहा है। काफी दिनों तक तो सरकार इसे महामारी मानने  को तैयार नही हुई और काफी लंबी लड़ाई के बाद वर्ष 2010 मे इसके लिए टीकाकरण की बात की गयी। उसमे भी लापरवाही के कारण ये टीके यहां आकर लंबे समय से और ऐसे समय मे बच्चों का टीकाकरण किया गया जब बीमारी का प्रकोप काफी कम हो जाता है। यही कारण है कि उस साल मरीजों की संख्या मे कोई अंतर नही आया। अभी टीकाकरण चल ही रहा था कि यहां जेई को लेकर अभियान चला रहे एक चिकित्सक ने दावा कर दिया कि इसका कोई लाभ नही मिलेगा क्योकि टीको पर साफ लिखा है कि इनकी डोज तब पूरी होगी जब सभी बच्चों को लगातार तीन साल तक टीके के तीन डोज लगाये जायें। हालांकि सरकार ने इस ओर कोई ध्यान नही दिया और अब तक दूसरी डोज को लेकर केंद्र या प्रदेश सरकार मे कोई सुगबुगाहट नही है।
जेई-एईएस को लेकर कमिश्नर के.रविन्द्र नायक गोरखपुर आने के साथ ही काफी सक्रिय हो गये थे। उन्हें जब पता चला कि इसके लिए पूर्वांचल मे पानी भी एक जरिया है तो उन्होने जांच करायी। और बाद मे रिपोर्ट के आधार पर मंडल के सभी प्रभावित इलाकों मे छोटे हैंडपंपों का पानी पीने पर रोक लगा दी। जब इसके बाद भी पब्लिक ने उनके पानी से तौबा नही की तोकमिश्नर ने अभियान चलवाकर छोटे हैंडपंप उखड़वा दिये। उनकी जगह इंडिया मार्का हैंडपंप लगायें गयें। और जनता से सिर्फ इन्ही का पानी पीने को कहा गया। हालांकि कमिश्नर की ये पहल भी बहुत कारगर नही रही क्योकि इंडिया मार्का हैंडपंप काफी कम संख्या मे लग पायें । अब ग्रामीण इलाकों मे हाल ये है कि काफी दूर-दूर से पानी लाने से बचने के लिए लोग फिर छोटे हैंडपंपों की तरफ मुड़ गये हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

पुलिस महानिदेषक द्वारा प्रारम्भिक जाॅच के निर्देष

Posted on 04 August 2012 by admin

देवरिया जिले के दो क्षेत्राधिकारियों तथा गोरखपुर जिले के क्षेत्राधिकारी गोरखनाथ का कार्य सन्तोशजनक न पाये जाने पर पुलिस महानिदेषक द्वारा उनके विरुद्व प्रारम्भिक जाॅच कराये जाने के निर्देष पुलिस उप महानिरीक्षक गोरखपुर परिक्षेत्र को दिये गये है। इसके अलावा अपराधियों को सजा दिलानें हेतु अभियोजन कार्य में ढि़लाई बरतने पर श्री ए0के0 मिश्रा अपर निदेषक अभियोजन, आर0 के0 मिश्रा इंचार्ज अभियोजन अधिकारी तथा रामवृक्ष राय अभियोजन अधिकारी देवरिया को भी चेतावनी दी गयी। बैठक के बाद पुलिस महानिदेषक द्वारा गोरखपुर जिले के राजघाट थाने का औचक निरीक्षण भी किया गया।
प्रमुख सचिव गृह श्री आर0एम0 श्रीवास्तव एवं पुलिस महानिदेषक श्री ए0सी0 षर्मा द्वारा आज यहाॅ गोरखपुर विकास प्राद्यिकरण गोरखपुर के सभागार में गोरखपुर परिक्षेत्र की अपराध स्थिति तथा कानून-व्यवस्था की स्थित की विस्तृत समीक्षा की गयी। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार के प्रदर्षन की अपेक्षा मण्डल के अधिकारियों से की गयी थी उसके लिए अभी और अधिक प्रयास किये जाने की आवष्यकता है।
गोरखपुर जिले के 101 नम्बर की आकस्मिक जांच कराये जाने पर पाया गया कि पहली बार घण्टी किये जाने पर फोन नही उठाया गया। इस पर संबंधित कर्मी को दण्डित करने तथा सभी जिले के कप्तानों को 100 व 101 नम्बर को प्रत्येक दषा में दुरुस्त रखने एवं तत्परता से रिस्पांस देने के निर्देष दिये गये। कुख्यात अपराधियों को चिन्हित कर उनको दण्डित कराने हेतु षासन द्वारा दिये गये निर्देषों में अपेक्षित कार्यवाही न करने पर देवरिया के पुलिस अधीक्षक को भी चेतावनी दी गयी। बैठक में गोरखपुर के वरिश्ठ पुलिस अधीक्षक के कार्यो पर भी नाराजगी प्रकट की गयी।
प्रमुख सचिव गृह श्री आर0एम0 श्रीवास्तव ने अपराध नियंत्रण हेतु प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही पर विषेश रुप से बल देते हुए कहा कि ऐसे प्रकारणों में भारी धनराषि के मुचलके भराये जाये। उन्होंने चेन स्नैचिंग एवं वाहन चोरी की घटनाओं पर सख्ती से नियंत्रण के निर्देष देते हुए जनपदवार हुये इन अपराधों एवं उनमें हुई कार्यवाही की भी गहन प्रगति समीक्षा की। उन्होंने हर्श फायरिंग की घटनाओं में भी प्रभावी कार्यवाही के निर्देष दिये।
श्री आर0एम0 श्रीवास्तव ने अपराधियों को अधिकाधिक सजा दिलाने के लिए प्रभावी कार्यवाही हेतु मानीटरिंग सेल की बैठकें नियमित रुप से आयोजित करने तथा इस कार्य में आने वाली समस्याओं पर मिलजुल कर समाधान किये जाने के ठोस प्रयास किये जाने पर बल दिया। उन्होंने मूर्ति चोरी की घटनाओं पर हुई बरामदगी की जानकारी वरिश्ठ अधिकारियों को भी दिये जाने के निर्देष दिये ताकि इसकी जानकारी उच्चस्तर तक दी जा सके।
पुलिस महानिदेषक ने बैठक में निर्देष दिये कि अज्ञात व्यक्ति की हत्या के मामले में डीएनए प्रोफाइल विषेश कर मृतक के बाल को जड़ सहित सुरक्षित रखा जाय। उन्होंने बताया कि इस संबंध में प्रदेष के सभी जिलों को आवष्यक निर्देष भेजे गये है। उन्होंने यह भी कहा कि मृतक व्यक्ति की पहचान में यह एक ठोस वैज्ञानिक साक्ष्य है।
बैठक में अपर महानिदेषक अभिसूचना श्री ओ0पी0 सिंह ने कहा कि साम्प्रदायिक सदभाव व सौहार्द हरहालत में बनाये रखा जाय तथा इसमें गड़बड़ी पैदा करनें वाली तत्वों से कड़ाई से निपटा जाय। उन्होंने साम्प्रदायिकता को बढ़ावा देने वाले तत्वों की सूची को भी समय-समय पर अद्यतन करने के भी निर्देष दिये। उन्होंने जातिगत वैमनस्य फैलाने वाले तत्वों के विरुद्व भी समय रहते प्रभावी कार्यवाही हेतु निर्देषित किया है।
अपर पुलिस महानिदेषक/महानिरीक्षक कारागार श्री आर0पी0 सिंह परिक्षेत्र के जेल अधिकारियों के साथ अलग से बैठक कर उनकी समस्याओं की जानकारी प्राप्त की गयी और उन्हें आवष्यक दिषा निर्देष दिये गये। अपर महानिदेषक अभियोजन श्री आर0एन0 सिंह ने भी परिक्षेत्र के अभियोजन विभाग के अधिकारियों की पृथक से बैठक कर उनके द्वारा किये गये कार्यो की गहन समीक्षा की गयी। श्री सिंह द्वारा गोरखपुर के मालखाना व सम्मन सेल का भी निरीक्षण कर वहाॅ की समस्याओं से वरिश्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया, जिसके निदान के लिए संबंधित जिला प्रषासन के अधिकारियों को बैठक में भी जरुरी निर्देष दिये गये।
गोरखपुर परिक्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक ने बताया कि काफी समय से विवेचनायें छूटी हुई थी जिसको उन्होंने एकत्र कराकर बड़े पैमाने पर योजनाबद्व रुप से निस्तारित कराने का प्रयास किया गया, जिसपर उनकी सराहना की गयी। देवरिया जिले की पुलिस द्वारा चोरी की गयी 27 गाडि़यों की बरामदगी की सराहना की गयी तथा निर्देषित किया गया कि इस पूरी कार्यवाही में लिप्त लोगों का पता लगाकर उनके विरुद्व भी सख्त कदम उठाये जाये। महाराजगंज के पुलिस अधीक्षक द्वारा नकबजनी आदि अपराधों की रोकथाम हेतु प्रभावी पुलिस गस्त एवं पिकटिंग की दिषा में उठाये गये कदमों की भी सराहना की गयी।
समीक्षा बैठक में मण्डलायुक्त श्री के0 रवीन्द्र नायक, पुलिस महानिरीक्षक श्री बृजभूशण के अलावा कुषीनगर, महराजगंज, देवरिया व गोरखपुर जिले के पुलिस व प्रषासनिक अधिकारियों आदि ने भाग लिया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

September 2017
M T W T F S S
« Aug    
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
252627282930  
-->









 Type in