*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | लखनऊ

लोकतन्त्र सेनानी अब मुलायम सिंह यादव को प्रधानमंत्री बनाने के लिए चलायेगें अभियान

Posted on 19 February 2013 by admin

लखनऊ, 18 फरवरी

आपातकाल में डी0आई0आर0 एवं मीसा में बन्द लोकतन्त्र सेनानियों का एक प्रतिनिध सम्मेलन ओ0सी0आर0 भवन प्रागंण में लोकतन्त्र सेनानी कल्याण परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं विधायक श्री रविदास मेहरोत्रा की अध्यक्षता में हुआ जिसमें प्रदेश सरकार द्वारा लोकतन्त्र सेनानियों को दी गयी सम्मान राशि का तत्काल वितरण करने की मांग की गयी।
लोकतंत्र सेनानी कल्याण परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री रविदास मेहरोत्रा ने सम्मेलन में कहा कि लोकतंत्र सेनानियों द्वारा पिछले पांच वर्षों में किये गये लगातर संघर्षों से प्रदेश में भ्रष्ट जालिम बसपा सरकार हटी थी और समाजवादी पार्टी की सरकार बनी थी। अब लोकतंत्र सेनानी श्री मुलायम सिंह यादव के नेतृत्व में केन्द्र में सरकार बनाने के लिए जन अभियान चलायेगें।
श्री मेहरोत्रा ने कहा कि लोकतंत्र सेनानी समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने के बाद अब व्यवस्था परिवर्तन के लिए डा0 लोहिया की सप्त क्रान्ति एवं लोकनायक जय प्रकाश नरायण की सम्पूर्ण क्रान्ति के सपनों को पूरा करने के लिए लोकतन्त्र सेनानियों को जन अभियान चलाना होगा।
श्री मेहरोत्रा ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा लोकतंत्र सेनानियों की सम्मान राशि 1 अप्रैल 12 से तीन हजार रू0 मासिक करी गयी थी, लेकिन 10 माह का समय बीत जाने के बाद भी लखनऊ मण्डल सहित कई जिलों में लोकतन्त्र सेनानियों को सम्मान राशि का भुगतान नहीं किया गया। उन्होनें बताया कि लखनऊ में शीघ्र ही प्रदेश के मुख्यमंत्री लोकतन्त्र सेनानियों को सम्मान राशि की चेक देगें तथा समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुलायम सिंह यादव लोकतंत्र सेनानियों को शाल पहनाकर सम्मानित करेगें।
श्री मेहरोत्रा ने कहा कि कई जिलों में लोकतन्त्र सेनानियों का रिकार्ड उपलब्ध ना होने की बात कहकर उन्हें सम्मान पेंशन राशि दिये जाने, में परेशान किया जा रहा है। जिससे लोकप्रिय सरकार की छवि खराब हो रही है, उन्होनें लोकतन्त्र सेनानियों को सम्मान राशि में विलम्ब करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है।
लोकतन्त्र सेनानियों को सम्बोधित करते हुए विधायक श्री रविदास मेहरोत्रा ने कहा कि लोकतन्त्र सेनानियों के सम्मान से देश में लोकतन्त्र मजबूत होगा तथा लोकतन्त्र के लिए संघर्ष करने वालों को ताकत मिलेगी। श्री मेहरोत्रा ने कहा कि लोकतंत्र सेनानियों के महासंग्राम से लोकतंत्र की बहाली हुयी थी।
लोकतंत्र सेनानी सम्मेलन में राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं विधायक श्री रविदास मेहरोत्रा समेत राष्ट्रीय महासचिव श्री चतुर्भुज त्रिपाठी, श्री राम मिलन मिश्र राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा0 इस्लाम अहमद फारूकी, श्री चन्द्र पाल सिंह, श्री हाकिम सिंह, श्री ओम प्रकाश पाण्डेय, श्री सत्येन्द्र नाथ श्रीवास्तव, श्री सत्यनारायण सिंह, श्री रामदीन, श्री राम मिलन मिश्र, उपाध्यक्ष श्री श्याम सिंह गौर, श्री विश्वनाथ सक्सेना, श्री गुरवेन्द्र तिवारी, श्री रामरतन त्रिवेदी, श्री मो0 इकराम बेग, श्री भगवानदीन राजपूत, श्री अशोक पाण्डेय ने लोकतंत्र सेनानियों के दिये गये सम्मान के प्रति आभार व्यक्त किया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

साबरमती जेल में सुरंग खुदने की घटना की हो सीबीआई जांच

Posted on 15 February 2013 by admin

जेल में ही अभियुक्तों की फर्जी एनकाउंटर की आशंका
अभियुक्तों को गुजरात से बाहर किसी जेल में रखा जाए
लखनऊ 14 फरवरी 2013

रिहाई मंच ने साबरमती जेल में बंदियों द्वारा कथित तौर पर सुरंग खोदने के मामले की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग करते हुए कहा कि यह हास्यास्पद होने के साथ-साथ शक पैदा करता है कि जेल के भीतर किस प्रकार से बंदी सुरंग खोद सकते हैं। जबकि जेल के चप्पे-चप्पे की निगरानी जेल में भीतर तैनात कारागार पुलिस बल द्वारा की जाती है।
रिहाई मंच के अध्यक्ष एडवोकेट मुहम्मद शुएब और आवामी काउंसिल के महासचिव असद हयात ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि कथित तौर पर दो महीने और उससे अधिक अवधि से सुरंग खोदी जा रही थी इसका पता जिस प्रकार से जेल अधिकारियों के संज्ञान में आने की कहानी बताई जा रही है, वह गढ़ी हुई प्रतीत होती है, क्योंकि कुछ जेल सूत्रों के हवाले से छपी खबरों में बताया गया है कि 6 महीने से तो कुछ में एक महीने से सुरंग खोदने की बात बताई जा रही है। उन्होंने कहा कि खोदने के बाद निकली हुई मिट्टी कितनी तादाद में थी और कहा रखी जा रही थी और किन औजारों से खोदी जा रही थी इन सभी संन्दर्भाें में अन्र्तविरोधी बातें सामने आयीं हैं। ऐसे में इन प्रश्नों की गहरी जांच होनी चाहिए कि जेल अधिकारियों द्वारा यह पहले से क्यों नहीं जाना जा सका कि कोई सुरंग खोदी जा रही है? चूंकि अभियुक्तों के विरुद्ध जेल अधिकारियों का व्यवहार पहले से ही दोषूपर्ण और पक्षपातपूर्ण रहा है, जिसके तहत उनके ऊपर ईद की नवाज के दौरान हमला और जेल में बर्बर पिटाई की घटनाएं भी होती रहीं हैं। इसलिए संभव है कि अभियुक्तों के विरुद्ध उन्हें नुकसान पहुंचाने की नियत से यह मामला बनाया गया हो।
रिहाई मंच ने कहा कि अभियुक्तों को उनके वकीलों और परिजनों से भी नहीं मिलने दिया जा रहा है और वे अज्ञातवास की स्थिति में जेल में बंद हैं। यह मानवाधिकार का घोर उल्लंघन है। विशेषकर इन परिस्थितियों में जब यह सवाल उठाए जा रहे हैं कि राज्य एजेंसियों द्वारा इन अभियुक्तों का ब्लास्ट के मामलों में झूठा अभियोजन किया गया है, तब ऐसे में सुरंग खोदने की यह नई कथित घटना का प्रकाश में आना राज्य एजेंसियों के एक अन्य कुत्सित प्रयास के रुप में देखा जाना चाहिए कि वे नहीं चाहतीं कि इनकों न्यायालय से जमानत मिले।
रिहाई मंच ने कहा कि साबरमती में बंद अभियुक्तों की सुरक्षा खतरे में है। मुमकिन है कि जेलों में उनकी हत्यांए कर दी जाएं और उन्हें आत्महत्या या भागते हुए दिखाकर एनकाउंटर बताया जाय। यदि सुरंग खोदने की घटना राज्य एजेंसियों का एक कुत्सित प्रयास है तो इन अभियुक्तों के पक्ष में यही न्याय होगा कि इन्हें गुजरात राज्य से बाहर किसी राज्य में रखा जाए और वहीं इनके मुकदमों की सुनवाई हो।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

भारतीय जनता पार्टी प्रदेष के आठ (08) क्षेत्रीय अध्यक्ष घोशित किये

Posted on 15 February 2013 by admin

लखनऊ 14 फरवरी, 2013

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेष अध्यक्ष    डाॅ0 लक्ष्मीकान्त बाजपेयी ने आज पार्टी के आठ (08) क्षेत्रीय अध्यक्ष घोशित किये है। गोरखपुर क्षेत्र में उपेन्द्र षुक्ला, काषी क्षेत्र में लक्ष्मण आचार्य, अवध क्षेत्र में मुकुट बिहारी, कानपुर क्षेत्र में बालचन्द्र मिश्रा, बृज क्षेत्र में पुरूशोत्तम खण्डेलवाल, बरेली क्षेत्र में बी0एल0 वर्मा, बुन्देलखण्ड क्षेत्र में बाबूराम निशाद तथा पष्चिम क्षेत्र में भूपेन्द्र सिंह को क्षेत्रीय अध्यक्ष बनाया गया है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

प्रदेश में व्याप्त भ्रष्टाचार, घोटालों, घपलों के लिए अखिलेश यादव सरकार पर दोषारोपण

Posted on 12 February 2013 by admin

लखनऊ 11 फरवरी।
केन्द्र सरकार से प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव द्वारा विकास के नाम पर जितनी आर्थिक धनराशि मांगी गयी है, केन्द्र सरकार ने उससे कहीं ज्यादा दिया है। केन्द्र सरकार द्वारा समय-समय पर दिये गये आर्थिक पैकेज को जरूरत भर का न होने एवं मा0 राहुल गांधी जी के बयान को झूठा बताने से पहले सपा प्रवक्ता/कैबिनेट मंत्री को तथ्यों की सही जानकारी हासिल करने के बाद टिप्पणी करनी चाहिए। सपा प्रवक्ता का बयान पूरी तरह मिथ्या, तथ्यों से परे और झूठा है।  प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता वीरेन्द्र मदान ने आज यहां जारी बयान में कहा कि प्रदेश में व्याप्त भ्रष्टाचार, घोटालों, घपलों के लिए प्रदेश की अखिलेश यादव सरकार दोषी है, इसके लिए केन्द्र सरकार को कतई दोषी नहीं ठहराया जा सकता है। केन्द्र सरकार ने प्रदेश के विकास के लिए तमाम जनकल्याणकारी योजनाएं, मनरेगा, एनआरएचएम, सर्वशिक्षा अभियान, भारत निर्माण योजना, इंदिरा आवास, मिडडे मील, राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण, बागवानी मिशन, स्वच्छ पेयजल योजना, जननी सुरक्षा, जेएनएनआरयूएम योजना आदि तमाम योजनाओं के तहत हजारों करोड़ रूपये प्रदेश को उपलब्ध कराया है, जिसको राज्य सरकार समय से और सही ढंग से न तो खर्च कर रही है और न ही प्रदेश की जनता को उसका समुचित लाभ दिला रही है, जिसका खामियाजा किसी दूसरे को नहीं बल्कि प्रदेश की सत्ता पर काबिज समाजवादी पार्टी को ही भुगतना पड़ेगा।  प्रवक्ता ने कहा कि विगत दो दशकों से अधिक समय से उ0प्र0 में गैर कंाग्रेसी सरकारों के चलते ही आज प्रदेश गरीबी, अशिक्षा, बीमारी और बेरोजगारी जैसी समस्याओं से जूझ रहा है। प्रदेश में पूर्ववर्ती बसपा सरकार में किये गये घोटाले और भ्रष्टाचार जगजाहिर है। भ्रष्टाचार के आरोपों में तत्कालीन कई मंत्रियों को जेल भी जाना पड़ा है। वर्तमान समाजवादी पार्टी की सरकार भी उसी राह पर चल रही है, जिसका खुलासा स्वयं सपा मुखिया भी समय-समय पर यह कहते हुए कि कार्यकर्ता/नेता दलाली के चक्कर में न पड़ें, मंत्रियों पर उनकी कड़ी नजर है, मैं उनकी क्लास लूंगा। इतना ही नहीं दो दिन पूर्व तो उन्होने यह भी कहा कि मैं भ्रष्ट मंत्रियों, अधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को जानता भी हूं। यही कारण है कि प्रदेश में विकास ठप पड़ा है। प्रवक्ता ने कहा कि जहां तक कांग्रेस उपाध्यक्ष के बयान का सवाल है तो वह पूरी तरह प्रदेश सरकार द्वारा हर स्तर पर बरती जा रही लापरवाही को उजागर करता है। जिसके बारे में सपा के वरिष्ठ नेता भी समय-समय पर कहते आ रहे हैं। सपा प्रवक्ता को राज्य सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार और प्रदेश में ठप विकास पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए। श्री मदान ने कहा कि सपा प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री को ऐसे गैर जिम्मेदाराना बयान देने से पहले अपने प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव से पूरी जानकारी हासिल कर लेनी चाहिए, तब आरोप लगाना चाहिए। विधानसभा चुनाव के दौरान किये गये चुनावी वादों को सपा सरकार कितना पूरा कर पा रही है, उसका अंदाजा इनके नेताओं द्वारा सरकार के कामकाज को लेकर की जा रही टिप्पणियों से सहज लगाया जा सकता है। कांग्रेस पार्टी यह सलाह देती है कि समाजवादी पार्टी आरोप-प्रत्यारोप के बजाय कंाग्रेस के शीर्ष नेता द्वारा प्रदेश के विकास पर उठायी गयी उंगली को सहजता से लेते हुए सुधार लाने का प्रयास कर केन्द्र की जनकल्याणकारी योजनाओं को सही ढंग से लागू करने में हो रहे भ्रष्टाचार में रोक लगाकर आम आदमी केा केन्द्र की योजनाओं का लाभ पहुंचाना सुनिश्चित करे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

इलाहाबाद में चल रहे कुम्भ मेला के दौरान मची भगदड़

Posted on 12 February 2013 by admin

विश्व के सबसे बड़े धार्मिक आयोजन इलाहाबाद में चल रहे कुम्भ मेला के दौरान मची भगदड़ में कल दिन में मेला परिसर में हुई दो श्रद्धालुओं की मृत्यु एवं रात्रि में रेलवे स्टेशन पर दर्जनों श्रद्धालुओं की दर्दनाक मृत्यु एवं दर्जनों के घायल हो जाने की घटना पर उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री, सांसद ने गहरा शोक प्रकट करते हुए दिवंगत आत्माओं की शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को इस असह्य दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है तथा घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की।
प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 खत्री आज पूर्वान्ह इलाहाबाद पहुंचे एवं घटना के दौरान घायल होकर अस्पतालों में भर्ती श्रद्धालुओं का कुशल छेम पूछा तथा घायलों के समुचित इलाज हेतु स्थानीय प्रशासन से मांग की। इसके साथ ही प्रदेश सरकार द्वारा घोषित किये गये मुआवजे की राशि को और अधिक बढ़ाने की मांग करते हुए घटना की न्यायिक जांच कराये जाने की मांग की है।
प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष डाॅ0 खत्री ने कहा कि यह मौका राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का नहीं बल्कि यह विचार करने का है कि भविष्य में ऐसी दुःखद घटनाओं की पुनरावृत्ति को कैसे रोका जाय। इसके लिए न्यायिक जांच होनी चाहिए, जिसमें घटित दुःखद घटना के सभी बिन्दुओं पर विचार-विमर्श करके जांच आयोग को भविष्य में ऐसी घटनाएं न हों इसके लिए ठोस कार्ययोजना बनाने पर जोर देना चाहिए। जिसको प्रदेश सरकार को गंभीरता से लागू करके इस प्रकार के बड़े आयोजनों में आम आदमी के जानमाल की रक्षा करनी चाहिए।
डाॅ0 खत्री ने कहा कि जनपद इलाहाबाद से लगने वाले सभी जिलों में की सीमाओं पर कुम्भ मेले में आने वाले अपार जनसमुदाय को नियंत्रित करने के लिए एक समुचित कार्ययोजना बनाकर उस पर कार्य किया जाता, लेकिन प्रदेश सरकार ने एक ही दिन पूर्व पूरे प्रदेश के जिलों से जिलाधिकारी/पुलिस अधीक्षकों का तबादला कर कहीं न कहीं, की गयी व्यवस्थाओं में लापरवाही बरती है।
उन्होने कहा कि श्रद्धालुओं की भारी संख्या को देखते हुए रेलवे प्रशासन ने मेला क्षेत्र जाने-आने के लिए तमाम अतिरिक्त रेलगाडि़यों के परिचालन का प्रबंध किया था। किन्तु राज्य सरकार ने अपनी जिम्मेदारी का पालन पूरी तत्परता से नहीं किया।
उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार के एक कद्दावर मंत्री का इस दुःखद घटना पर दिया गया बयान पूरी तरह गैर जिम्मेदाराना है। कुंभ मेले में पहुंचे श्रद्धालुओं की समुचित देखरेख और व्यवस्था की सम्पूर्ण जिम्मेदारी स्थानीय प्रशासन की है, जो कि प्रदेश सरकार की देखरेख में कार्य करता है। श्रद्धा के अपार संगम में पूरे देश से उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ को संभालने एवं समुचित व्यवस्था करने में स्थानीय प्रशासन पूरी अक्षम साबित हुआ है, जिसके कारण दुःखद घटना घटित हुई है, जिसकी जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

पुलिस अभिरक्षा के दौरान कैदी पर हमला, एक हमलावर व कैदी की मृत्यु

Posted on 12 February 2013 by admin

दिनांक 11-02-13 को जिला कारागार बिजनौर से पुलिस अभिरक्षा में अभियुक्त नरेन्द्र उर्फ नन्दू उर्फ रावण पुत्र चतर सिंह निवासी ग्राम नैनसुख थाना दादरी जनपद गौतमबुद्धनगर को पेशी हेतु गौतमबुद्धनगर ले जाया जा रहा था। थाना कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत स्थित रोडवेज बस स्टैण्ड पर 5-6 बदमाश अज्ञात स्कार्पियो गाड़ी नं0 यूपी-20एडी-1379 से आये और फायरिंग करने लगे । जिससे अभियुक्त नरेन्द्र उपरोक्त की मृत्यु हो गयी तथा रोडवेज बस कण्डक्टर श्री पुष्पेन्द्र व रिक्शा चालक राजेन्द्र उर्फ लल्लू घायल हो गये। पुलिस बल द्वारा जवाबी/आत्मरक्षार्थ फायरिंग की गयी जिसमें एक बदमाश की गोली लगने से मृत्यु हो गयी। शेष बदमाश भीड़ का लाभ उठाकर भागने में सफल हो गये जिनकी तलाश की जा रही है । छानबीन से पता चला है कि उपरोक्त स्कार्पियो का नम्बर मोटरसाइकिल का है ।
मृतक बदमाश के पास से एक पिस्टल 9 एमएम मेड इन बेल्जियम व भारी मात्रा में जिन्दा व खोखा कारतूस बरामद हुए । मृतक बदमाश की शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे हैं । विधिक कार्यवाही की जा रही है ।
सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि पर उन्नाव में समर्पण दिवस आयोजित किया गया

Posted on 12 February 2013 by admin

लखनऊ 11 फरवरी 2013 भारतीय जनता पार्टी ने आज पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि को समर्पण दिवस के रूप में मनाया। इस अवसर पर पूरे प्रदेश में जिला ईकाईयों द्वारा गोष्ठियों आदि का आयोजन कर पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी के व्यक्तित्व व कृतित्व पर चर्चा की गई। राजधानी लखनऊ में के के सी स्थित पं0 दीन दयाल स्मृतिका पर पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रम पार्टी के प्रदेश के अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने पं0 दीनदयाल जी की प्रतिमा पर अपने श्रद्धासुमन अर्पित किये। पार्टी के राज्य मुख्यालय पर समर्पण दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेयी एवं वरिष्ठ नेता व सांसद लालजी टण्डन सम्मिलित हुए। प्रदेश महामंत्री संगठन राकेश कुमार आगरा महानगर में आयोजित समर्पण दिवस के कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।
पार्टी के राज्य मुख्यालय पर पं0 दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर आयोजित समर्पण दिवस के कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने कहा कि दीनदयाल जी भारतीय जनसंघ के नेता थे। वे एक प्रखर विचारक, उत्कृष्ट संगठनकर्ता तथा एक ऐसे नेता थे जिन्होंने जीवनपर्यन्त अपनी व्यक्तिगत ईमानदारी व सत्यनिष्ठ को महत्व दिया। वे वैचारिक मार्गदर्शन और नैतिक प्रेरणा के श्रोत रहे है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय मजहब और सम्प्रदाय के आधार पर भरतीय संस्कृति का विभाजन करने वालों को देश के विभाजन का जिम्मेदार मानते थे। पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं सांसद लाल जी टण्डन ने कहा कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय  हिन्दू राष्ट्रवादी तो थे ही इसके साथ ही साथ भारतीय राजनीति के पुरोधा भी थे। दीनदयाल की मान्यता थी की हिन्दू कोई धर्म या संप्रदाय नही, बल्कि भारत की राष्ट्रीय संस्कृति है। उन्होंने कहा कि पं0 दीनदयाल जी की संगठात्मक कुशलता बेजोड़ थी। श्री टण्डन ने कार्यकर्ताओं को आवाहन किया कि वे दीनदयाल जी के कृतित्व से प्रेरणा लेकर पार्टी संगठन के कार्य में जुटे।
पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता एवं सदस्य विधान परिष्द हृदयनारायणय दीक्षित ने पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि पर उन्नाव में आयोजित समर्पण दिवस के कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। बाराबंकी में सदस्य विधान परिषद में डा0 महेन्द्र सिंह, श्रावस्ती में क्षेत्रीय संयोजक शेष नारायण मिश्र, गोण्डा में सुभाष त्रिपाठी, लखनऊ जिले में दिवाकर सेठ, रायबरेली में पूर्णिमा वर्मा, लखीमपुर में विनोद मिश्रा व अजय मिश्रा, सीतापुर में विरेन्द्र तिवारी, फैजाबाद में रामकृष्ण तिवारी, अम्बेडकरनगर में रामप्रकाश यादव, बहराइच में श्रीमती अनुपमा जायसवाल, फतेहपुर में श्रीमती कमलावती सिंह, चित्रकूट में राजकुमार शिवहरे, झांसी महानगर में रवि शर्मा, हमीरपुर में लक्ष्मीनारायण राजपूत, इटावा में श्रीमती सरिता भदौरिया, महोबा में चक्रपाणी त्रिपाठी, कानपुर देहात में राजेन्द्र चैहान, ललितपुर में प्रदीप चैबे, बांदा में रामरतन शर्मा, जालौन में मानवेन्द्र सिंह, कानपुर महानगर में बाबूलाल शुक्ल, कानपुर ग्रामीण में सोमनारायण शुक्ल, फर्रूखाबाद में सुशील शक्य, झांसी जिले में अशोक राजपूत, शाहजहांपुर में सुरेश खन्ना, बरेली महानगर में बाबूराम गुप्ता, फिरोजाबाद जिले में महेश बघेल, आगरा जिले में ओमप्रकाश सिंह, फिरोजाबाद में रामनरेश अग्निहोत्री, हाथरस में विपिन वर्मा ’डेविड’ पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रमों में सम्मिलित हुए।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

श्री मुलायम सिंह यादव ने कुंभ दुर्घटना के प्रति संवेदना व्यक्त की

Posted on 12 February 2013 by admin

समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश
19, विक्रमादित्य मार्ग, लखनऊ
दिनांक-11.02.2013
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुलायम सिंह यादव ने कुंभ दुर्घटना और इलाहाबाद के विधायक श्री महेश नारायण सिंह के निधन पर गहरा

शोक जताते हुए संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।
श्री यादव ने कहा कि कंुभ की दुर्घटना में मृतकों के आश्रित परिवारीजनो के प्रति हमारी सहानुभूति है। घायलों को समुचित इलाज उपलब्ध कराया जा

रहा है। ऐसी दुर्घटनाएं दुःखद हैं।
श्री मुलायम िसंह यादव एवं समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  श्री अखिलेश यादव ने विधायक श्री महेश नारायण सिंह के निधन पर शोक संतप्त

परिवार के प्रति संवेदना जताई है। उन्होने कहा कि इलाहाबाद के हंडिया विधान सभा क्षेत्र से दो बार निर्वाचित विधायक श्री महेश नारायण सिंह का

52 वर्ष में निधन पार्टी के लिए गहरी क्षति है। वे अपने पीछे एक पुत्र तथा एक भाई छोड़ गये हैं।
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज इलाहाबाद के कुंभ दुर्घटना में मृत इटावा के वरिष्ठ एडवोकेट श्री अरविन्द तिवारी के इटावा स्थित आवास पर

जाकर संवेदना व्यक्त की और परिवारीजनों को ढांढ़स बंधाया। मुख्यमंत्री जी देर तक शव आने की प्रतीक्षा करते रहे और शव आने पर उन्होने

श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रदेश के कारागार मंत्री और प्रदेश प्रवक्ता श्री राजेन्द्र चैधरी एवं प्रदेश सचिव श्री एस0आर0एस0यादव भी उनके साथ थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

कांग्रेस सरकार लगातार मंहगाई का ग्राफ बढ़ाने पर तुली

Posted on 12 February 2013 by admin

समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश
19, विक्रमादित्य मार्ग, लखनऊ
दिनांक-11.02.2013
समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता श्री राजेन्द्र चैधरी ने कहा है कि केन्द्र की कांग्रेस सरकार लगातार मंहगाई का ग्राफ बढ़ाने पर तुली है। आम आदमी इससे बुरी तरह त्रस्त है। पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से परिवहन का खर्च तो कई बार बढ़ चुका है। ईंधन गैस भी अब आम आदमी के लिए बवाले-जान हो गई है। रेलवे मंत्रालय जब कांग्रेस के हाथ में आया है तो यहां भी यात्रियों की जेब खाली करने की साजिशें शुरू हो गई है। चीनी के दाम भी बढ़ने की सूचना मिल रही है।
केन्द्र सरकार ने डीजल के दाम बढ़ाए और पेट्रोलियम कम्पनियों को राहत दी। गरीबों का ख्याल नहीं रखा गया सिर्फ पूंजीघरानों के घाटे पर चिन्ता जताई गई। नतीजतन घरेलू अर्थव्यवस्था पटरी से उतरने लगी है। परिवहन में माल भाड़ा बढ़ने से खाद्यान्न, सब्जी, फल सभी की कीमतें बढ़ने लगी हैं। खुद कांग्रेसी रेलमंत्री ने हिसाब लगाकर बताया है कि डीजल के दामों में हाल में वृद्धि होने से रेलवे पर 3,300 करोड़ रूपए का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। रेल किराया बढ़ना तय है। यानी केन्द्र सरकार ही चैतरफा मंहगाई का चाबुक चला रही है। कुछ प्रमुख ट्रेनों में खानपान के चार्जेज भी बढ़ाने का प्रस्ताव है।
आम आदमी के इस्तेमाल में आनेवाली चीजों के दाम बढ़ाने और पूंजीघरानों को राहत पहुॅचाने का यह धंधा कांग्रेस राज में हमेषा से परवान चढ़ता रहा है। कांग्रेस जब गरीबी हटाओं की बात करती हैं तो उसका मतलब ही होता है गरीब को रास्ते से हटाओं। यह कांग्रेसी मंत्र है कि जब गरीब ही नहीं रहेगा तो गरीबी कहां दिखेगी। आजादी के बाद देष के विकास का यही कांग्रेसी एजेन्डा रहा है।
सरकार को श्री मुलायम सिंह यादव ने संसद में बहस के दौरान डा0 लोहिया की दाम बांधो नीति अपनाने का सुझाव दिया था। इसके तहत लागत मूल्य का 50 प्रतिशत उसमें जोड़कर जो राशि आएगी वही विभिन्न फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य होगा। इसी तरह आमदनी में एक-दस का अनुपात रखने का सुझाव है लेकिन कांग्रेस को तो बाजार को नियंत्रित रखने के बजाए बाजार से नियंत्रित रहना पसंद है।
परेशान करनेवाली ताजा खबर है कि चीनी के दाम भी दो रूपए प्रतिकिलो बढ़नेवाले हैं। वैसे भी वर्तमान में खुदरा बाजार में इसकी कीमत 40 रूपए प्रतिकिलो है जबकि चीनी मिल में चीनी की कीमत 21-32 रूपए प्रतिकिलो है। केन्द्र सरकार ने अब बजट प्रस्ताव के बजाए अप्रत्यक्ष रूप से उपभोक्ताओं पर भार डालने का तरीका अपना रखा है। आम आदमी इसके बोझ से दम तोड़ रहा हैं। समाजवादी पार्टी तो लगातार मंहगाई और भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष करती रही है पर जनहित में कुछ सोचने और करने की अब कांग्रेस में शक्ति ही नहीं रह गई है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

फरवरी एवं मार्च महीने के लिए मौनपालकों को सलाह मौनपालक मौनवंशों को ठण्ड से बचायें बकछूट नियंत्रण पर पूर्ण सावधानी बरतें

Posted on 07 February 2013 by admin

ओम नारायण सिंह
लखनऊ: दिनांक 07 फरवरी, 2013
फरवरी एवं मार्च का महीना शहद उत्पादन एवं मौनवंश  विभाजन के लिए सबसे उपयुक्त होता है। इस मौसम में मौनों को पराग तथा मकरन्द पर्याप्त मात्रा में मिलता है, जिसके कारण मधु उत्पादन एवं प्रजनन कार्य तीव्र गति से होता है इस समय मौनवंशों को सर्दी से बचाने हेतु आवश्यक उपाय करना जरूरी है। बी फलोरा क्षेत्र में माइग्रेशन करो से मौनवंश सम्बर्द्धन के साथ-साथ मधु उत्पादन का अच्छा लाभ मिलता है।
यह जानकारी निदेशक उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण श्री ओम नारायण सिंह ने दी है। उन्होंने सर्दी में मौनपालन प्रबंधन करने हेतु मौनपालकों को सलाह दी है कि मौनवंशों का माइग्रेशन बी लोरा क्षेत्र में समय से कर देना चाहिए, जिससे मौनें, पूर्ण रूप से फूल खिलने तक प्रक्षेत्र से परिचित हो जायें। मौनवंशों को ठंण्ड से बचाने हेतु मौनगृह का प्रवेश द्वार छोटा कर देना चाहिए तथा टाप कवर में पुवाल आदि भर देना चाहिए जिससे तापक्रम नियंत्रित बना रहे। काफी पुराने काले छत्तों को निकाल कर नये छत्तों का निर्माण कराना चाहिए, जिससे मौमी पतिंगों से सुरक्षा हो सके।
श्री सिंह ने कहा कि इस मौसम में ब्रूड रियरिंग तेज हो जाती है, जिससे मौनों की संख्या अधिक हो जाने से स्वार्म की प्रवृत्ति जागृत होने लगती है। अतः बकछूट नियंत्रण पर पूर्ण सावधानी बरतनी चाहिए। अधिक स्वार्मिग की स्थिति दिखाई देने पर मौनवंशों का तत्काल विभाजन कर देना चाहिए। क्योंकि बकछूट के समय विभाजित मौनवंश उच्च गुणवत्ता वाले होते हैं। मौनालय में उच्च क्षमता वाले मौनवंशों में रानी कोष बनवा लिए जायें। इन रानी कोषों को विभाजित मौनवंशों में देने से कम समय में अच्छी गुणवत्ता वाले मौनवंश तैयार किये जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि शहद निष्कासन के समय यह सुनिश्चित कर लिया जाये कि कम से कम 70-80 प्रतिशत कोष्ठ सील कर दिये गये हों ताकि परिपक्व शहद का उत्पादन हो सके।  जहां तक हो सके मौनपालक अलग-अलग फसलों से उत्पादित होने वाले मधु को प्रथक-प्रथक भण्डारित करें ताकि शहद की गुणवत्ता बनी रहे और बाजार में इसका उचित मूल्य प्राप्त किया जा सके।
सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

February 2018
M T W T F S S
« Jan    
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728  
-->









 Type in