*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Archive | राज्य

भारतीय राष्टीय पत्रकार महासंघ का महासम्मेलन संपन्न प्रयाग में हुआ १४ प्रान्तों के पत्रकारों का संगम

Posted on 02 March 2016 by admin

इलाहाबाद ण् प्रसिध्द माघ मेला जहा लाखो करोडो तीर्थ यात्रियों और साधू संतो विद्वानों के लिए मुफीद है वही मीडिया कर्मियों के लिए भी हर वर्ष माघ मेले में ख़ास महत्त्व रखता है  इसी तारतम्य में उत्तर प्रदेश खादी ग्रामोद्योग विभाग द्वारा लगाए गए शिविर के कांफ्रेंस हाल में भारतीय राष्टीय पत्रकार महासंघ का  सोलहवा वार्षिक महा सम्मलेन  कल सोल्लास के साथ आयोजित हुआ  इस अवसर पर पत्रकार महासंघ की नयी राष्टीयकार्यसमिति का शपथ ग्रहण कराया गया  इस समारोह में  उत्तर प्रदेश मध्यप्रदेश बिहार छत्तीशगढ़ सहित १४ प्रान्तों के पत्रकार प्रतिनिधियों सहित महासघ के सदस्यों  साहित्य और समाज सेवा से जुड़े अनेक मूर्धन्य लोग भाग लिए इस ऐतिहासिक समारोह का  सफल संचालन  महासघ के राष्टीय संयोजक डा भगवान प्रसाद उपाध्याय ने  किया जबकि अध्यक्षता  इलाहाबाद के जाने माने वरिष्ट पत्रकार  अमृत प्रभात एन आई पी के  कार्यकारी सम्पादक और महासंघ के राष्टीय अध्यक्ष  श्री मुनेश्वर मिश्र ने किया जिसका  वहा मौजूद पत्रकारों ने करतल ध्वनी से उनका समर्थन करते हुए नए अध्यक्ष श्री मिश्र का स्वागत किया समारोह के मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश के पूर्व उच्च शिक्षा मंत्री डा राकेश धर त्रिपाठी ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया और वदलते परिवेश में पत्रकारों की भूमिका तथा चुनौती पूर्ण कार्यो पर प्रकाश डालते हुए महासंघ की निरंतर प्रगति पर खुशी जाहिर किया श्री त्रिपाठी ने महासंघ के राष्टीय संयोजक डा भगवान प्रसाद उपाध्याय और राष्टीय अध्यक्ष श्री मुनेश्वर मिश्र के अनुभवों से महासंघ के १४ प्रान्तों में विस्तार की चर्चा करते हुए कहाकि आने वाले समय में पत्रकारों के हित और कल्याण के लिए भारतीय राष्टीय पत्रकार महासंघ देश का सबसे बड़ा पत्रकारों का संगठन बनेगा ऐसी उम्मीद हमें है श्री त्रिपाठी ने अपनी और से समारोह में आये सभी पत्रकारों को साधुवाद दिया  और उन्होंने कहाकि शासन प्रशासन से मिलनेवाली प्रत्येक सुबिधाओ को दिलाने में वे पाना पूरा योगदान करंगे  समारोह  में जमुनापार के कवि राम नाथ त्रिपाठी  रसिकेश ने सरस्वती बन्दना से वातावरण में मिठास घोला वही वरिष्ठ कवी कुटेश्वर त्रिपाठी चिरकुट इलाहावादी जटा  शंकर प्रियदर्शी  और वरिष्ठ कवि रामलखन शुक्ल देवी चरण पाण्डेय चरण स्वामी कल्पनेश जयप्रकाश शर्मा प्रकाश सत्यप्रकाश पाण्डेय रामाभिलाश त्रिपाठी ग्रामीण  ने भी स्वरचित रचानाये सुनाया  समारोह में उत्तर प्रदेश मध्यप्रदेश की सीमा के वरिष्ठ पत्रकार और कवि प्रमोद बाबू झा ने अपनी स्वरचित रचना मैंने कांटो की डाली में फूलो का सपना देखा है जानी दुसमन की टोली में भी साथी अपना देखा है जैसी पंक्तियों को सुनाकर महासंघ की असल भावना का उल्लेख करते हुए पत्रकार संगठनो और पत्रकारों को महासंघ से जुड़कर देश के सभी पत्रकारों को शासन की सुबिधाओ के लिए महासंघ के संघर्ष में सम्मिलित होने पर बल दिया समारोह के दौरान १४ प्रान्तों से आये भारी तादात में पत्रकार संगठन के पदाधिकारियों ने आगंतुक अतिथियों का तालियों से खूब स्वागत किया जबकि १०१ पत्रकारों को अंग वस्त्र और प्रसस्ती पत्र से महासघ द्वारा सम्मानित किया गया उधर तारिका विचार मंच प्रयाग की और से ११ साहित्यकारों को अलंकृत किया गया कार्यक्रम में जिला सूचना अधिकारी जे एन यादव राष्टीय रामायण मेला श्रृंगवेरपुर के अध्यक्ष बालकृष्ण पाण्डेय के अलावा महासंघ के सुधीर सिंह राठौर सच्चिदानंद मिश्र  बीपी तिबारी शचीन्द्र श्रीबास्तव पुरुषोत्तम मिश्र एस पी त्रिपाठी अशोक कुनाल जगदम्बा प्रसाद शुक्ल विजय चितौरी डा अशोक मिश्र अरुण कुमार सोनकर आर आर पाठक सुधीर खरे शैलेन्द्र त्रिपाठी सत्य प्रकाश पाण्डेय शिव शंकर पाण्डेय कुलदीप शुक्ल  हिमांचल मौर्य एस पी गुप्ता सतीश चन्द्र मिश्र सुरेश चन्द्र शिव प्रकाश चतुर्वेदी जगदीश चन्द्र मथुरा प्रसाद अलोक त्रिपाठी  जीतेंद्र गिरी ज्ञान चन्द्र मिश्र युवराज सिंह चंद्रमणि मिश्र राजकुमार के के सिंह अशोक कमार गुप्त संतोष कुमार तिबारी राजू सूर्य कान्त शुक्ल डा ओमप्रकाश हयारण दर्द प्रो जगदीश प्रसाद यादव प्रेम नाथ सिंह घायल  रामचंद्र मिश्र रामनारायण पाठक इन्दुभाल त्रिपाठी कृष्ण कुमार गिरी सतीश चन्द्र मिश्र मधुर ब्रजेश गुप्ता विश्वामित्र मिश्र सुरेश चंद्रा सुधीर खरे कमल देवेन्द्र कुमार मिश्र  सहित अनेक पत्रकारों ने समारोह में भाग लिया  समारोह के समापन के दौरान राष्टीय संयोजक डा बी पी उपाध्याय ने दूर दराज से आये पत्रकारों और महासंघ के पदाधिकारियों सहित अतिथियों का आभार जताया

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आगरा में प्रथम उ.प्र. प्रवासी दिवस का उद्घाटन किया

Posted on 08 January 2016 by admin

ऽ    उ.प्र. मूल के 16 गणमान्य अनिवासियों को उ.प्र. अप्रवासी भारतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया
ऽ    मा. मुख्यमंत्री ने माइग्रेण्ट रिसोर्स सेन्टर का किया लोकार्पण
ऽ    विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग हेतु 13 एमओयू पर हुए हस्ताक्षर

पूरे विश्व से उत्तर प्रदेश मूल के अनिवासी भारतीयों के अभूतपूर्व अभिनन्दन के मध्य मा. मुख्यमंत्री, श्री अखिलेश यादव ने प्रथम् ‘उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस’ का आज आगरा के आईटीसी मुगल होटल में शुभारम्भ किया।
इस अवसर पर मा. मुख्यमंत्री जी ने उत्तर प्रदेश मूल के 16 अनिवासी भारतीयों द्वारा उनके क्षेत्र अथवा व्यवसाय में असाधारण व प्रशंसनीय योगदान के लिए ‘उत्तर प्रदेश अप्रवासी भारतीय रत्न पुरस्कार’ से सम्मानित किया। उन्होंने लखनऊ में स्थापित राज्य के प्रथम् माइग्रेण्ट रिसोर्स सेण्टर का लोकार्पण भी किया।
उल्लेखनीय है कि अनेक क्षेत्रों में सहयोग हेतु विभिन्न संगठनों में 13 सहमति-पत्रों (मेमोरेण्डम आॅफ अण्डरस्टैण्डिंग) पर हस्ताक्षर किए गए।
200 से अधिक अनिवासी भारतीयों सहित लगभग 600 प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुए, मा. मुख्यमंत्री ने कहा- ‘‘इतनी बड़ी संख्या में आपकी उपस्थिति उत्तर प्रदेश के अनिवासियों की अपनी मातृभूमि से जुड़ने की इच्छा की परिचायक है।’’ उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम बड़ा महत्वपूर्ण है क्योंकि उत्तर प्रदेश सरकार पहली बार इतने बड़े पैमाने पर डायसपोरा से जुड़ने और संवाद स्थापित करने का प्रयास कर रही है।
अनिवासी भारतीयों द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य तथा राज्य में योगदान की सराहना करते हुए, मा. मुख्यमंत्री ने कहा- ‘‘जिन देशों को आपने अपनी कर्म-भूमि बनाया है, उनके और भारत के बीच दोस्ती और सद्भावना को बढ़ावा देने में आपकी भूमिका सराहनीय है। भारतीय मूल्यों को बनाए रखते हुए मेहनती, कानून को मानने वाले और षांति-प्रिय नागरिकों के रूप में आपके द्वारा अर्जित उपलब्धियों और प्रतिष्ठा पर हमें गर्व है।’’
इस अवसर पर श्री अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश मूल के 16 अनिवासी भारतीयों द्वारा उनके क्षेत्र अथवा व्यवसाय में असाधारण व प्रशंसनीय योगदान तथा राज्य में विकास हेतु सहयोग के लिए ‘उत्तर प्रदेश अप्रवासी भारतीय रत्न पुरस्कार’ से सम्मानित किया।
जिन अनिवासी भारतीयों को सम्मानित किया गया, उनमें त्रिनिदाद और टुबैगो के पूर्व प्रधानमंत्री - श्री बासदेव पाण्डे, यूनाइटेड किंगडम के हाउस आॅफ लार्ड्स के सदस्य व स्वास्थ्य क्षेत्र के प्रोफेशनल - डाॅ. खालिद हमीद, ग्लोबल आॅर्गनाइज़ेशन आॅफ पीपुल आॅफ इण्डियन ओरिजिन के प्रसिडेण्ट- श्री अशोक रामसरन (संयुक्त राज्य अमेरिका/यूएसए); प्रख्यात उद्यमी, समाज सेवी व लेखक - श्री फ्रैंक एफ इस्लाम (यूएसए); विख्यात गायिका एवं समाज सेविका - सुश्री अल्का भटनागर (यूएसए); सफल उद्यमी - श्री कंवल रेखी (यूएसए); आपातकालीन औषधि विशेषज्ञ एवं स्वास्थ्य शिक्षक - डाॅ. कृष्ण कुमार (यूएसए); वेन्चर कैपिटलिस्ट व हेल्थकेयर प्रोफेशनल - डाॅ. नन्दिनी टण्डन (यूएसए); वरिष्ठ मैटिरियल वैज्ञानिक - डाॅ. श्री नाथ सिंह (यूएसए); वेन्चर कैपिटलिस्ट, शोध वैज्ञानिक व समाज सेविका - सुश्री तलत एफ हसन (यूएसए); राजनयिक, पार्लियामेंटरियन व समाज सेवी - डाॅ. राजन प्रसाद (न्यू ज़ीलैण्ड); समाजसेविका - सुश्री सुमन कपूर (न्यू ज़ीलैण्ड); स्वास्थ्य क्षेत्र के उद्यमी - डाॅ. अतात खान (सउदी अरेबिया); शिक्षा व अभियंत्रण क्षेत्र - श्री नदीम अख्तर तरीन (सउदी अरेबिया); वेन्चर कैपिटलिस्ट व उद्यमी - डाॅ. राजिन्द्र तिवारी (नीदरलैण्ड्स); तथा शिक्षा क्षेत्र की जाना-माना व्यक्तित्व - प्रोफेसर राजेश चन्द्रा (फिजी) सम्मिलित हैं।     (विवरण संलग्न)
अनिवासी भारतीयों की ओर से सम्बोधित करते हुए, श्री अशोक रामसरन ने कहा ……………………….. ………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………।
विदेशों में रोजगार के इच्छुक व्यक्तियों तथा वहाँ कार्य कर रहे भारतीयों की सुविधा, मार्गदर्शन, सलाह आदि उपलब्ध कराने हेतु एक अन्य महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए मा. मुख्यमंत्री जी ने ‘माइग्रेण्ट रिसोर्स सेण्टर’ का लोकार्पण किया। इस केन्द्र को उ.प्र. वित्तीय निगम के लखनऊ कार्यालय में स्थापित किया गया है।
राज्य सरकार द्वारा अनिवासी भारतीयों से सम्पर्क व संवाद बढ़ाने के प्रयासों के फलस्वरूप 11 एन.आर.आई. संगठनों तथा दो बैंकों ने उत्तर प्रदेश सरकार के साथ सहमति-पत्र (मेमोरेण्डम आॅफ अण्डरस्टैण्डिंग) पर विभिन्न क्षेत्रों में विकास व सहयोग हेतु हस्ताक्षर किए। (विवरण संलग्न)
राज्य सरकार के मा. जेल प्रशासन मंत्री तथा उ.प्र. प्रवासी दिवस के सम्नवयक श्री बलवन्त सिंह रामूवालिया ने कहा ……………………………………………………………………………………………………. ।
इसके पूर्व प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए मुख्य सचिव, श्री आलोक रंजन ने कहा ……………………………………………………………………………………………………………………………………………………….. ।
फिक्की के प्रेसिडेंट श्री हर्षवर्धन नियोतिया ने कहा ……………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………… ।
प्रख्यात एन.आर.आई., लूलू ग्रुप इण्टरनेशनल के चेयरमैन श्री यूसुफ अली ने कहा ………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………. ।
प्रतिभागियों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए प्रमुख सचिव, एनआरआई विभाग, श्री संजीव सरन ने कहा …………………………………………………………………………………………………………………………. ।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

करोरो की कमाई के वावजूद कर्मचारियों का हो रहा शोषण मांगे पूरी होने तक करते रहेंगे हरताल

Posted on 07 January 2016 by admin

photo-4

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

प्रदेश सरकार के मुखिया पुलिस और पब्लिक के बीच मैत्रीपूर्ण रवैये को लेकर बार-बार जिले के अफसरों कों सचेत करते रहते हैं।

Posted on 04 January 2016 by admin

प्रदेश सरकार के मुखिया पुलिस और पब्लिक के बीच मैत्रीपूर्ण रवैये को लेकर बार-बार जिले के अफसरों कों सचेत करते रहते हैं। जनता के बीच पुलिस की सकारात्मक छवि क्या है? इसी को लेकर एक बड़ी पहल मंडल के डीआईजी गोविन्द अग्रवाल ने की। अलीगढ़ पुलिस लाइन में शुक्रवार को डीआईजी ने वरिष्ठ फोटो जर्नलिस्ट मनोज अलीगढ़ी द्वारा कैमरे से कैद किये गये अलीगढ़ पुलिस के सकारात्मक क्रियाकलापों को कलैंडर के रूप में सामने रखा। मुख्य अतिथि के रूप में डीआईजी गोविन्द अग्रवाल ने कलैंडर का विमोचन करते हुए उसमें प्रस्तुत तस्वीरों की भूरि-भूरि प्रशंसा की और कहा कि मनोज अलीगढ़ी के प्रयास से ही यह संभव हो सका है।
पुलिस क्लब में आयोजित हुए कार्यक्रम में डीआईजी गोविन्द अग्रवाल ने कहा कि कलैंडर के रूप में जो पुलिस की सकारात्मक छवि सामने आई है, उससे स्पष्ट होता है कि यह असाध्य कार्य बिना मनोज अलीगढ़ी के सहयोग से संभव नहीं हो सकता था। एसपी सिटी डाॅ. ब्रजेश कुमार मिश्रा ने कहा कि यह कलैंडर जनपद के साथ-साथ प्रदेश स्तर पर मिसाल कायम करेगा और सांप्रदायिक सौहार्द का भी इसमें विशेष स्थान रहेगा। डीआईजी साहब द्वारा प्रस्तुत की गई पुलिस की यह सकारात्मक पहल उत्तर प्रदेश के लिए मिसाल कायम होगी। संचालन करते हुए एसपी ट्रैफिक एके सिंह ने कहा कि मनोज अलीगढ़ी के प्रयासों को विशेष स्थान देना चाहिए। कार्य के दौरान बहुत ही अड़चनें आने के बावजूद भी इन्होंने मिसाल कायम की है। समय पर जोखिम भरी तस्वीरों को लेकर पुलिस की पारदर्शिता को बनाये रखने का प्रयास किया है तथा जन-जन में पुलिस विभाग को लोकप्रिय बनाये रखा। कृष्णा इंटर नेशनल स्कूल के डायरेक्टर प्रवीण अग्रवाल ने कहा कि डीआईजी साहब द्वारा किया गया यह प्रयास प्रशंसनीय है और मनोज अलीगढ़ी की बेजोड़ तस्वीरों ने इस कलैंडर को और अद्भुत बना दिया। वह ऐसे कार्यों के लिए सदैव तत्पर रहते हैं। फोटो जर्नलिस्ट मनोज अलीगढ़ी ने कहा कि डीआईजी साहब द्वारा पुलिस की सकारात्मक छवि को कैद करने का आदेश मिलते ही, मैं कार्य में जुट गया, लेकिन कुछ समय बाद समस्याओं का सामना करना पड़ा। लेकिन अफसरों के मनोबल बढ़ाने से कार्य को अंजाम तक पहुंचाया। इस दौरान उन्होंने सभी अधिकारियों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि ऐसे आयोजन जब-जब होंगे, उनका कैमरा पुलिस के लिए सदैव उपलब्ध रहेगा। इस मौके पर एसपीआरए संसार सिंह, सहायक पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा, क्षेत्राधिकारी तृतीय राजीव कुमार, सीओ द्वितीय सत्यप्रकाश यादव, आरआई राममोहन शर्मा, राजेन्द्र सिंह, रामेश्वर प्रसाद शर्मा, अशरफ हुसैन, ऊदल सिंह, विनोद यादव, विमलेश कुमार, मुकेश बाबू, विनोद कुमार, भूलन सिंह सहित तमाम पुलिस अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

फोटो कैप्शन- पुलिस लाइन के आॅफिसर्स मैस में मनोज अलीगढ़ी द्वारा तैयार किये गये कैलेंडर का विमोचन करते डीआईजी गोविंद अग्रवाल, कृष्णा इंटरनेशनल स्कूल के डायरेक्टर प्रवीन अग्रवाल, एसपी सिटी डाॅ. ब्रजेश कुमार, एसपी ट्रैफिक एके सिंह, एसपीआए संसार सिंह व अन्य।
फोटो कैप्शन- कार्यक्रम के दौरान मनोज अलीगढ़ी को सम्मानित करते डीआईजी गोविंद अग्रवाल।
फोटो कैप्शन- कार्यक्रम को संबोधित करते डीआईजी गोविंद अग्रवाल।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

रायबरेली, प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री व समाजवादी पार्टी के प्रबुद्ध सभा के प्रदेश अध्यक्ष व ऊॅचाहार विधायक डा0 मनोज कुमार पाण्डेय ने आज

Posted on 25 November 2015 by admin

रायबरेली, प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री व समाजवादी पार्टी के प्रबुद्ध सभा के प्रदेश अध्यक्ष व ऊॅचाहार विधायक डा0 मनोज कुमार पाण्डेय ने आज अपनी विधान सभा क्षेत्र ऊॅचाहार के ग्राम सभा उण्डवा में सपा मुखिया श्री मुलायम सिंह यादव के जन्म दिवस पर समरस्ता दिवस के रूप मे विशाल आयोजन किया इस अवसर पर विधान सभा ऊॅचाहार के उण्डवा ग्राम सभा मे लगभग दस हजार से भी अधिक लोगो ने समरस्ता भोज मे भाग लिया।़़
श्री पाण्डेय जी ने कहा की नेता जी की पहचान देश के गांव-गांव मे गरीबों और किसानो के लिए संहर्ष करने वाले वीर पुरूषों में जाने जाते है। नेता जी ने किसानों, नौजवानों, पिछडो और गरीबांे को अपनी समस्त योजनाओ में हमेशा प्राथमिकता दी है। श्री पाण्डेय जी ने कहा की नेता जी का जीवनकाल केवल गांव की खुशहाली समाजिक एकता धर्मनिर्पेक्षता और गैर बराबरी के विरू़़द्ध संहर्ष मे बीता है। श्री पाण्डेय जी समेत सभी लोगो ने नेता जी के दीर्घायु व स्वस्थ रहने की कामना की व इस अवसर पर एक कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ।
कार्यक्रम मंे प्रमुख रूप से राम नरेश यादव, देशराज यादव, शिवनरायन सिंह, रमेश मिश्रा, मुन्ना मिश्रा, मुन्ना सिंह, बुधेन्द्र सिहं, राधे पासी जिला पंचायत सदस्य, मैकू पासी, शिव दर्शन पासी, गोविन्द, पकंज सिंह, के के पटेल, राकेश, प्रशान्त शुक्ला आदि हजारो की संख्या मे लोग उपस्थित रहे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

युवा जागृति संगठन के एक प्रतिनिधिमंडल ने केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री से की मुलाकात

Posted on 28 October 2015 by admin

देश में सर्वनाश का कारण पाॅलिथिन है जो कि बहुत ही अप्राकृतिक दृश्य है। उक्त बात केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कही।
युवा जागृति संगठन का एक प्रतिनिधिमंडल केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से उनके आवास पर मुलाकात की तथा 6 सूत्रीय ज्ञापन भी सौंपा।
इस दौरान युवा जागृति संगठन के सचिव विशाल पंडित ने उनको शहरों में पाॅलिथिन से हो रहे प्रदूषण के बारे में विस्तार से बताया। तथा संगठन ने के मांग पत्र को पढ़कर सुनाया। 1.- षहर में पाँच पर्यटक स्थल तथा दो गंगा घाट हैं - जिनमें अचलताल, खैरेश्वर धाम, घंटाघर पार्क, षेखा झील, अलीगढ़ का किला तथा रामघाट व सांकरा घाट पर माँ गंगा का अविरल जल का महत्वपूर्ण किस्सा हो या पूरे षहर में प्लास्टिक पाॅलिथिन का विकराल रूप को नियंत्रण करने में न तो षासन के कानों पर जूँ रेंगती और न ही प्रषासन की । आखिर स्मार्ट सिटी कैसे बनेगा यह षहर । यह एक विचारणीय प्रश्न है।2. केन्द्र सरकार व प्रदेष सरकार द्वारा प्लास्टिक थैलियों में सामान बेचने अथवा देने को रोकने हेतु अनेक उपाय किये गए हैं । फिर भी जनता या व्यापारी प्लास्टिक का प्रयोग करना बंद नहीं कर रहे हैं। जो कि अति आवष्यक है। 3.- षहरों में कई-2 स्थानों पर ऐसे स्थान हैं जहाँ आम राहगीर प्लास्टिक पाॅलिथिनों में गायों हेतु खाने, पीने का सामान लाते है जिसे खाकर गायों के पेट व षरीर में बीमारियाँ होने लगती हैं। 4. - पाॅलिथिन से  फसल की बर्बादी व उपज बेहद कम हो जाती है जिससे देष में हर खाद्य पदार्थ महंगा हो जाता है जिसके कारण गरीबों की थाली तक खुषहाली नहीं पहुंच पाती। 5.- पाॅलिथिन से महानगर में नाले, नालियाँ भी चैक हो जाती हैं जिससे नगर निगम का सबसे बड़ा बजट पाॅलिथिन खा जाता है जिससे नगर में विकास तो रह जाता है परन्तु इतने बड़े बजट में पाॅलिथिन भी साफ नहीं हो पाती । 6.- अलीगढ़ जो कि मा. प्रधानमंत्री के 11 स्मार्ट सिटी घोशित जिले में युवा जागृति संगठन ने ‘पाॅलिथिन हटाओ-षहर बचाओं’ अभियान छेड़ रखा है जिसमें हजारों युवा तथा अनेक संगठन भी  भागीदारी  कर रहे हैं।
इस दौरान मा. पर्यावरण मंत्री ने आश्वासन देते हुए कहा है कि मेरे द्वारा ‘‘पाॅलिथिन हटाओ-शहर बचाओं’’ अभियान में जो भी उचित व्यवस्था हो सकेगी वह पूरे मन से करूँगा। उन्होनें यह भी वायदा किया कि अलीगढ़ आऊँगा तथा सारे पर्यटक स्थलों का निरीक्षण कर सौन्दर्यीकरण  में जो भी भागीदारी हो सकेगी निभाऊँगा।
ज्ञापन देने वालों में अध्यक्ष दीपक दुबे, सचिव विषाल पंडित, महानगर अध्यक्ष संदीप दुबे, संदीप ठाकुर,  हिंमाशु, मनीष, राहुल आदि लोग मौजूद थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

‘‘छायावाद नवचेतना एवं नवजागरण का काव्यान्दोलन था।

Posted on 23 October 2015 by admin

‘‘छायावाद नवचेतना एवं नवजागरण का काव्यान्दोलन था। देवरिया की माटी में जन्मे डा. शम्भुनाथ सिंह ने वाराणसी को केन्द्र बनाकर समकालीन कवि गीतकारों के साथ मिलकर इस प्रगतिशील चेतना को नवस्वर प्रदान किया।’’ यह विचार साहित्यकार एवं दीनानाथ पाण्डेय महिला राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य डा. दिवाकर प्रसाद तिवारी ने विश्व भोजपुरी सम्मेलन एवं डा. शम्भुनाथ सिंह शोध संथान के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित ‘‘डाॅ शम्भुनाथ सिंह स्मृति समारोह एवं काव्य संध्या’’ में मुख्य अतिथि पद से व्यक्त किए। साहित्यिक पत्रिका ‘अंचल भारती’ के सम्पादक श्री जयनाथ मणि त्रिपाठी जी ने कहा कि उन्होने नवगीत को नई ऊँचाई और नूतन संस्कार दिया। वे छायावादोत्तर गीतधारा के सुयोग्य-सशक्त हस्ताक्षर थे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे सुप्रसिद्ध नवगीतकार श्री गिरीधर ‘करूण’ ने कहा कि ‘‘छायावादी गीतो के अवसान के समय डाॅ. शम्भुनाथ सिंह ने नवगीतात्मकाता की शक्ति लेकर गीतों को एक सहज और सहज अभिव्यक्ति दी।‘‘

प्रारम्भ में अतिथियों का स्वागत करते हुए फाउण्डेशन के महासचिव एवं मुख्य कार्यकारी डा. राजीव कुमार सिंह ने कहा कि देवरिया की माटी के सपूत तथा हिन्दी गीतों को नया तेवर देने वाले तथा साहित्य की सभी विधाओ पर समान रूप से हस्तक्षेप रखने वालो मूर्धन्य साहित्यकार स्व. डा. शम्भुनाथ सिंह की जन्मशती समारोह श्रृंखला की कड़ी में आज यह कार्यक्रम देवरिया में आयोजित हो रहा है। इस श्रृंखला का उद्घाटन विगत 16 जून 2015 को वाराणसी में देश के शीर्षस्थ कवि-समालोचक डा. केदारनाथ सिंह ने किया था। उन्होने कहा कि देवरिया जिले के ग्राम- राउतपार अमेठिया में 17 जून 1916 को जन्मे डा. शम्भुनाथ सिंह का स्मारक उनके जन्म स्थान पर बनाने के लिए समाज के सभी वर्गो को आगे आने की जरूरत है।

कार्यक्रम के द्वितीय चरण में श्री योगेन्द्र नारायण मिश्र ‘वियोगी’ के संयोकत्व में आयोजित काव्य गोष्ठी में कवियों ने अपने काव्य सुमन अर्पित किए।

छेदी प्रसाद गुप्त ने पढ़ा-‘‘प्रशासन आजकल बा हो गइल, अन्धा और बहरा, भला फरियाद के सुनी, जहाँ बा धूर्तन का पहरा।’’ गौरी बाजार से आए सूर्यनारायण गुप्त ‘सूर्य’ ने कहा-‘‘चीर हरण आज भी है जारी, मौन है नारी’’

उत्तराखण्ड में कार्यरत डा. महेन्द्र प्रताप पाण्डेय ‘नन्द’ ने पढ़ा, ‘‘दुनिया निष्ठुर तुमको कहती, मुझसे नही सहा जाता है, मुझको इक लावारिस व्यक्ता, फेंकी नाम दिया जाता है।’’  दयाशंकर कुशवाहा ने पढ़ा, ‘‘चल रही कैसी हवा, जल रहा तन-मन यहाँ। छा रहा ये बबूल कैसे, खो गया चन्दन कहाँ।’’

मुझे चिंता नही उसकी, उसे चिंता हमारी है।
खुदा से कम नही है वो, मेरी बेटी जो प्यारी है।।

-योगेन्द्र तिवारी ‘‘योगी’’
देवी गीत-
‘‘आइल नवरात्रि त्योहार, सजि गइल मैया के घर-बार।
मलिया करेला पुकार, कि माई के पहरा आइल बा।।’’

-प्रस्तुति- शैलेष चन्द्र तिवारी

यह वक्त बदलता ही रहता है हर छन,चेहरा बदले पर नहीं बदलता दर्पण,
कैसे अनजाने भी पहचाने हो जाते हैं, मैने देखा है !’’
-उमाशंकर द्विवेदी
तीनो लोक जानेला, मईया दुर्गाकाली की तरे,
दर्शन दे द मईया हमके महतारी की तरे।।

-सौदागर सिंह

परिवर्तन से गुजर रही है मानवता की भाषा
तुम्ही कहो मै कैसे लिख दूँ जीवन की परिभाषा।।

-इन्द्रकुमार दीक्षित

जय आदि शक्ति देवी जननी, भगवती जयति दुर्गा माता,
सबसे सुन्दर सबसे पावन, अति मन भावन भारत माता।।

-विनोद पाण्डेय

वंसती विवाह के झोकों में, रूपयों का दिवार अड़ा है।
कैसे कहें संबध इसे, जब रिश्तों में व्यापार खड़ा है।।

-सच्चिदानन्द पाण्डेय

आह बाकी कराट बाकी है,उनसे मिलने की माह बाकी है।
जिन्दगी ने सजा सुना दी,अब तो केवल गुनाह बाकी है।।
-योगेन्द्र नारायण ‘वियोगी’

भाव नहीं तो आदर की, राह कहाॅ दिखती
भाव मिल जाते, तो आदर की आशा कहाॅ रहती।
मुलाकातें स्नेह की प्रतीक होती है जनाब
बिछुड़े हुओं से मिलने की आषा कहाॅ रहती।।
-कृष्ण मुरारी तिवारी

शहर-शहर गली आइल चुनाव बा
ओटवा के नाम पर समाज इ लुटात बा।
-अनिल गौतम

कार्यक्रम का संयोजन व संचालन श्री उद्भव मिश्र एवं धन्यवाद ज्ञापन पं. जगदीश उपाध्याय ने किया। इस अवसर पर सर्वश्री जगन्नाथ श्रीवास्तव, अभिनव मिश्र, रविन्द्र बरनवाल, राजेश मणि आदि उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

विषय परिसंघ राष्ट्रªªीय अध्यक्ष डा0 उदित राज ने कानपुर से आरक्षण बचाने की हुकार भरी

Posted on 08 September 2015 by admin

कानपुर विश्वविद्यालय के सभागार में मण्डीय सम्मेलन का आयोजित किया जा रहा है। जिसमे अनुसूचित  जनजाति /जनजाति संघठन के अखिल भारतीय परिसंघ के चेयर डा0उदित राज ने बताया कि प्रोन्नित के आरक्षण बिल को हर हाल में शीत कालीन सासद स़़त्र में पास करा के रहेगे साथ ही रिवर्ट किये गये उ0प्र0 में अधिकारियो /कर्मचारियेा को वापस उन्हे उसी पोस्ट पर कराना का प्रयास करेगे  उ0प्र0 में दलितो की स्थित बहुत खराब हैं और प्रदेश के सपा सरकार सोच रही हैं इस बिल के जरिये विधान सभा का सपना देख रही है। जो दलित हितैसी कहने वाली पार्टी न तो सदन से सड़को तक नजर नही आ रही हैं  इसके लिए परिसंघ लखनउ में 1 नवंम्बर 2015 को रैली का आयोजन के साथ 7 दिसम्बर को 2015 को राम लीला मैदान दिल्ली में रैली का आयोजन होगा जिसके जारियेेेेे सरकारो को अपनी तकात का एैसास करना हैें
परिसंघ के राष्ट्रीय समन्यक एव अध्यक्ष जग जीवन प्रसाद ने दलित किसानो के लिए बनाया गया काला कानून का विरोध करेगे
परिसंघ के कानपुर मण्डल के अध्यक्ष सुशील कुमार कमल ने प्रोन्नतिक में अरक्षाण को हर हाल में लागे करवा के रहेगे इसके लिए कुछ भी करना पड़ेगा ।
सुनीलकुमार एड
दलितो सरकारो द्वारा किसी न किसी रूपमें परेशान करने काम उ0प्र0 सरकार कर रही हैं सरकारो ने अपनी सोच न बदली तो समाज सड़को पर उतार के प्रर्दशान करने के मजबूर होगा ।
कोरी समाज की और झलकारी बाई का स्मृति चिन्ह भेट किया
इस कार्यक्रम में मुख्य कार्यक्रम रूप् से सुरेन्द्र कमल, पचम लाल आर0के0 गौतम  जीतेन्द्र सुदामा पिन्टू कटियार मोहन लाल आरके गौतम रामअवतारउपस्थित रहे

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

मध्य वायु कमान के एयर आॅफीसर कमांडिंग-इन-चीफ ने वायु सेना स्टेषन बरेली का दौरा किया

Posted on 17 July 2015 by admin

मध्य वायु कमान के एयर आॅफीसर कमांडिंग-इन-चीफ एयर मार्षल कुलवंत सिंह गिल ने अपने दो-दिवसीय 15 व 16 जुलाई वार्शिक निरीक्षण दौरे पर वायु सेना स्टेषन बरेेली पहुॅंचे। उनके साथ क्षेत्रीय वायु सेना पत्नी कल्याण संघ की अध्यक्षा श्रीमती रंजीत गिल भी थीं।

एयर आॅफीसर कमांडिंग-इन-चीफ एयर मार्षल कुलवंत सिंह गिल तथा श्रीमती रंजीत गिल के वायु सेना स्टेषन बरेली पहुॅंचने पर स्टेषन के एयर आॅफीसर कमांडिंग एयर कमोेडोर जीतेन्द्र मिश्रा, वीएसएम तथा स्थानीय वायु सेना पत्नी कल्याण संघ की अध्यक्षा श्रीमती वत्सला मिश्रा ने उनका गर्मजोषी के साथ स्वागत किया।  इस दौरान एयर मार्षल गिल ने स्टेषन में आयोजित एक भव्य रस्मी परेड का निरीक्षण किया तथा वहाॅं पर मौजूद वरिश्ठ वायु सैन्यधिकारियों से रूबरू हुए।

अपने दो दिवसीय इस दौरे के दौरान एयर मार्षल गिल ने वायु सेना स्टेषन के विभिन्न इकाईयों एवं अनुभागों का निरीक्षण किया तथा वरिश्ठ वायु सैन्य अधिकारियों से मिले। इन्होंने एयर बेस आॅपरेषनल, तकनीकी एवं प्रषासनिक तैयारियों का मुआयना किया। निरीक्षण के दोैरान एयर बेस के मेकेनिकल ट्ांस्पोर्ट को भी प्रदर्षित किया गया था। एयर मार्षल गिल ने स्क्वाड्न के कमान अधिकारी के साथ एसयू-30 एमके आई में उड़ान भर आॅपरेषनल गतिविधियों का भी जायजा लिया।

इस अवसर पर एयरमेन मेस में आयोजित एक बड़ाखाना के दौरान एयर मार्षल गिल ने वहाॅं पर मौजूद वायु सैनिकों से मिले। इस दौरान एयर मार्षल गिल ने फुटबाॅल मैच भी देखा तथा इंटर-यूनिट स्पोर्ट्स मीट का उद्घाटन किया। दौरे के अंत में आज एयर मार्षल कुलवंत सिंह गिल ने होलो स्क्वायर में उपस्थित स्टेषन के समस्त वायु सैन्यकर्मियों को संबोधित किया।

दूसरी ओर क्षेत्रीय वायु सेना पत्नी कल्याण संघ की अध्यक्षा श्रीमती रंजीत गिल ने स्टेषन में अफवा द्वारा बच्चों के लिए संचालित एक नवीनीकृत स्कूल भवन ‘उम्मीद’ का उद्घाटन किया। श्रीमती गिल ने एक प्ले-स्कूल ‘अंकुर’ का भी दौरा किया जहाॅं वे स्कूल के नन्हें-मुन्ने बच्चों से रूबरू हुई। इस दौरान स्टेषन में आयोजित चायपान के दौरान श्रीमती गिल ने स्टेषन के वायु सैन्य परिवारों से मिलीं। इस दौरे के दौरान श्रीमती रंजीत गिल ने स्टेषन मेडिकेयर सेन्टर का भी मुआयना किया तथा वहाॅं मरीजों को उपहार भेंट की। श्रीमती गिल ने विकलांग बच्चों को व्हीलचेयर भी भेंट किया तथा वीर नारियों से मिलीं।

एयर मार्षल कुलवंत सिंह ने गत् 01 अगस्त 2014 को मध्य वायु कमान के एयर आॅफीसर कमांडिंग-इन-चीफ का कार्यभार संभाला था। इन्होंने दिसंबर 1977 में भारतीय वायु सेना के फलाइंग ब्रांच मंे कमीषन प्राप्त की थी। अपने 37 वर्शो के लंबे सेवाकाल में एयर मार्षल गिल ने वायु सेना के अनुदेषकीय, निदेषकीय एवं कमान नियुक्तियों सहित विभिन्न महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया है। एयर मार्षल गिल प्रतिनियुक्ति पर अंटार्कटिका गये जहाॅं वे 7वें एवं 8वें अंटार्कटिका साहसिक अभियान के सदस्य के रूप में कार्य किया। इसके अतिरिक्त इन्होंने एक गनषिप यूनिट सहित उत्तरी क्षेत्र में सर्वोच्च ऊॅंचाई पर स्थित एक एयर बेस की कमान संभाली। एयर मार्षल गिल कांगो में संयुक्त राश्ट् मिषन के प्रथम टुकड़ी के कमांडर के साथ-साथ पूर्वी वायु कमान के वरिश्ठ प्रषासनिक अधिकारी तथा प्रतिश्ठित राश्ट्ीय रक्षा अकादमी के कमांडेंट के रूप में भी कार्य कर चुके हैं।

एयर मार्षल गिल को अंटार्कटिका साहसिक अभियान के दौरान किये गये असाधारण योगदान के लिए वीरता पदक ‘वायु सेना मेडल’ तथा कांगो में संयुक्त राश्ट् मिषन में उत्कृश्ट योगदान के लिए ‘युद्ध सेवा मेडल’ से अलंकृत किया जा चुका है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

वाराणसी को स्वच्छ सुन्दर और हरा भरा बनाने के लिए सचेत सामाजिक संस्थाओं द्वारा संयुक्त रूप से श्भू सेवा जल सेवा अभियान 2015श् का संचालन किया जा रहा

Posted on 17 July 2015 by admin

वाराणसी को स्वच्छ सुन्दर और हरा भरा बनाने के लिए सचेत सामाजिक संस्थाओं द्वारा संयुक्त रूप से श्भू सेवा जल सेवा अभियान 2015श् का संचालन किया जा रहा हैण् इस अभियान के अंतर्गत विभिन्न सरकारी विभागों से लगातार संपर्क कर उन्हें वाराणसी को प्रदूषणमुक्त किये जाने की दिशा में सुझाव दिए जा रहे हैं
साथ ही शहर के विभिन्न इलाकों में जन चेतना रलियों का आयोजन किया जा रहा है इस क्रम में आज वाराणसी शहर में नदेसर इलाके में पर्यवरण चेतना रैली के द्वारा जन संपर्क किया गयाण् रैली के प्रारंभ होने से पूर्व वरुनापुल के निकट पर हुयी नुक्कड़ सभा में आयोजको ने कहा काशी नगरी में हो रहे विकास के क्रम में एक तरफ
तेजी से यहाँ की हरियाली गायब होती जा रही है वहीँ दूसरी ओर बढती जनसंख्या के कारण प्रदूषण भी बढ़ता ही जा रहा हैए आज वाराणसी में बहने वाली नदियांए कुंडए तालाब आदि संकट के दौर से गुजर रहे हैंए ऐसे में धीरे धीरे यहाँ का वातावरण स्वास्थ्य के लिए प्रतिकूल होता जा रहा हैण् इस भयानक स्थिति को सुखद बनाने के
लिए नगर निगमए जिला प्रशासनए वन विभाग उद्यान विभाग के साथ साथ  आम नागरिकों को भी अपने कर्तव्यों का निर्वहन करना होगाण्  वक्ताओं ने बताया की विभिन्न विभागों से संपर्क कर उन्हें कुछ महत्व पूर्ण सुझाव दिए गए हैं जिनमे एक प्रमुख सुझाव यह है कि फ्लाई ओवर के नीचे की खली पड़ी झग को नर्सरी संचालकों को
आसान शर्तों पर उपलब्ध करा कर वहां शोभाकार पौधों की बिक्री के लिए प्रेरित किया जाय इससे लोग स्वयं भी घरों में पौधे लगाने के लिए आगे आयेंगे और इस स्थान पर स्वाभाविक हरियाली हो जायेगीण् वक्ताओं ने कहा की बड़ी दुखद बात है की आज हम घरों में भी प्लास्टिक के पौधे गमले में लगा कर रख रहे हैं यह पर्यावरण
के लिए निराशाजनक संकेत हैण् घरों में तुलसी ए गुलाबए बेलाए कामिनी आदि के पौधे गमलों में बड़ी सुलभता से लगाये जा सकते हैंण्

इस अवसर पर स्थान स्थान पर आयोजित नुक्कड़ सभा  और पर्यावरण चेतना रैली में  अभियान  के संयोजक फादर आनंद ने लोगों से अपील की  कि  गंगाए वरुणा और असि नदियोंए कुंडों और तालाबों में किसी भी प्रकार का प्रदूषण न करें और दूसरों को भी इसके लिए रोकेंण् सडकों के किनारेए पार्कए मैदानए विद्यालयए
कालोनी आदि में खाली स्थानो पर पौधरोपण करें और पौधों को सुरक्षित रखेंए इस कार्य के लिए इच्छुक लोगों को जो पोधों की सुरक्षा करने में सक्षम होंगे अभियान की तरफ से पौधरोपण के लिए पौधे और टेरेस और बालकनी में सब्जियां उगाने के लिए मार्गदर्शन निशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा हैण् पर्यावरण के प्रतिकूल पोलीथिन और
प्लास्टिक का उपयोग करना बंद करें बाजार से सामान लाने के लिए कपड़े का झोला साथ लेकर जाएँण् रैली के दौरान नदेसर पर स्वामी विवेकानंद स्मारक के सामने वाले पार्क को पालीथीन और कचरा मुक्त करके उसमे खाली स्थान पर शोभाकार पौधे लगाये गयेए कुछ पौधे इच्छुक लोगो और दुकानदारों को भी वितरित किये गयेण्

चेतना रैली में ष्किरण सेंटरष् के बच्चों और राष्ट्रीय सेवा योजना से जुड़े छात्रों ने बढ़ चढ़ का हिस्सा लिया और स्टीकरए प्ले कार्डए पर्चे और गीतों के माध्यम से लोगों को पर्यावरण की रक्षा के लिए चैतन्य होने की अपील कीण् प्रेरणा कला मंच के कलाकारों ने पर्यावरण को समृद्ध करने का सन्देश देते
हुए गीतों को प्रस्तुत कियाण् इस अभियान में प्रमुख रूप से विश्व ज्योति जन संचार समितिए आशा ट्रस्टए विकास एवं शिक्षण समितिए देव एक्सेल फाउन्डेशनए किरण संसथान और जन विकास समिति आदि संस्थाएं सहयोग कर रही है कार्यक्रम में प्रमुख रूप से विनय सिंहए शिवांग शेखर ए शुभम
सिंहए जनार्दन राय ए फादर मारिया दासए पिंटूए  वल्लभाचार्य पाण्डेयए  डा राजेश श्रीवास्तवए नन्दलाल मास्टरए सूरज पाण्डेयए प्रदीप सिंहए राजकुमार पटेलए मुकेश झांझरवाला ए दिनेशए प्रज्ञान सिंहए विजयए उषाए ममता आदि सहित किरन संस्था के विशेष योग्यता वाले लगभग 35 बच्चे शामिल थेण्

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
agnihotri1966@gmail.com
sa@upnewslive.com

Comments (0)

Advertise Here

Advertise Here

 

March 2017
M T W T F S S
« Feb    
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031  
-->




 Type in