*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Categorized | विचार

सकल्ंप देश सेवा है। हमारे यशस्वी मोदी जी पारसमणि,हंस व हीरा है।

Posted on 13 August 2017 by admin

वह न रूकता है न थकता है न अलोचनाओ से डिगता है। उद्देश्य सेवा राष्ट्र की पथ से कभी भटकता नहीं है। सत्तत निर्विधनम बढता चला जा रहा है। वह कौन है, जो जाड़ा, गर्मी, सर्दी, बरसात साल के 365 दिन अनवरत राष्ट्र प्रेम से ओत प्रोत देश ही नही दुनिया में भारत का डंका बजवा रहे है। दुनिया का महाशक्तिशाली सर्वशाक्तिशाली मुल्क उसके लिए पलक पावडे बिछा कर स्वागत करता है। अमेंरिका उसे महान नेता बताता है। इजराइल ने सच्चा दोस्त कहा है। रूस, फ्रांस, कनाडा, आस्ट्रेलिया व जमर्नी आदि उसके लिए क्रान्तकारी विकास पुरूष की संज्ञा देते है। जी हाॅ हम माॅ भारती के सच्चे सपूत हीराबेन के बेटे भारत के सफलतम् प्रधानमंत्री कर्मयोगी राष्ट्रसतं नरेन्द्र दामोदर दास मोदी की बात कर रहे है। देश ने आजादी से लेकर अब तक अनेक नेता देखे कई पार्टियां की सरकारे, प्रधानमंत्री देखे परन्तु नरेन्द भाई का कोई सानी नही है। अपने साहासिक निर्णयो के कारण दुनिया के नेता उनको अपना आदर्श मानते है। उनकी एक अपील पर लोगों ने अपनी गैस सब्सीडी छोड़ दी । बिना कोई पैसे लिए मुफ्त में 05 करोड़ से अधिक गरीबों को सब्सीडी गैस सिलेण्डर दिला दिए। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट़ªपं उनको महान राष्ट्रवादी नेता बताते है। वाह नरेन्द्र भाई आपने जो तीन वर्ष में देश को सम्मान दिलाया सफलता दिलाई उसे देश कभी भूल नही पायेगा। भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणव दादा उनको कुशल नेता व मार्गदर्शक बतातें है।
भारत के एक ओर लोकप्रिय महान प्रधानमंत्री हुए लाल बहादुर शात्र.ी जी जिन्होने देशवासियों से एक दिन उपवास रहने की अपील की थी तो उस समय अन्न का सकंट दूर हो गया था। जय जवान जय किसान का नारा उन्होने दिया था। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी जी ने इस नारे के साथ जय विज्ञान भी जोड़ दिया था। नरेन्द्र भाई की एक अपील पर देश ही नही दुनिया ने योग को अपनाया और विश्वयोग दिवस मनाया जाने लगा यानि योग को नया आयाम दिया मोदी जी ने। मोदी का यह नारा अबकी बार मोदी सरकार अमेरिका चुनाव में डोनाल्ड ट्रप ने यूं दिया अबकी बार टंªप सरकार यह नारा रोनाल्ड ट्रंप ने दिया और वह जीते भी। नरेन्द्र भाई मोदी के बारे में संत कहते है फूल की खुशबूु हवा के कारण दूर तक फैलती है परन्तु मानवीय गुणों की खुशबूु चारों ओर बिना हवा के कारण भी फैलती है। नरेन्द्र भाई के मानवीय गुणों की खुशबू आज पूरी दुनिया में फैल गई है। पुरूष नहीं यह महापुरूष है, नेता नहीं यह महान नेता है। यह मानव नहीं देवता है। रात दिन अपने देश व देशवासियों के बारे में सोचता है तथा कठोर परिश्रम कर रहा है। जिस भारत में घोटाला की बाढ़ आ गई थी जैसे 15 अगस्त 1947 को देश आजाद हआ तब से अब तक देश ने क्या खोया क्या पाया इस पर एक नजर डाल तो काग्रेस राज में देश को लूटा गया एक नजर कागं्रेस शासन के घपले घोटालों पर डाले तो सन् 1987 में बोफोर्स तोप घोटाला - 960 करोड़, 1992 में शेयर-तोप घोटाला-5000 करोड़, 1994 में चीनी घोटाला 650 करोड़, 1995 में प्रेफेशल अलाॅटमेंट घोटाला 5000 करोड़, 1995 में कस्टम टैक्स घोटाला 43 करोड़, 1995 में काबरलर घोटाला 1000 करोड़, 1995 हवाला घोटाला 400 करोड़, 1995 मेघालय में वन घोटाला 300 करोड़, 1996 उर्वरक आयात घोटाला 1300 करोड़, 1996 चारा घोटाला 950 करोड़, 1996 यूरिया घोटाला 133 करोड़, 1997 भूमि घोटाला 400 करोड़, 1997 में म्यूच्यूअल फन्ड घोटाला 1200 करोड़, 1997 सुखराम टेलिकाम घोटाला 1500 करोड़, 1977 एसएनसी पावर प्रोजेक्ट घोटाला 374 करोड़,1998 उदय गोयल कृषि उपज घोटाला 210 करोड़, 1998 में टीक पौधा घोटाला 8000 करोड़, 2001 में डालमिया शेयर घोटाला 595 करोड़, 2001 केनत पाररिख प्रतिभूति घोटाला 1000 करोड़, 2002 में संजय अग्रवाल ग्रह निवेश घोटाला 600 करोड़, 2002 में कलकत्ता स्टाफ एक्सचंेज 120 करोड़, 2003 मंे स्टाम्प घोटाला 20000 करोड़ घोटाला, 2005 में आई पीओ कारिडोर घोटाला 1000 करोड़, 2005में बाढ़ आपदा घोटाला 17 करोड़, 2005 में सौरपियन पनडूब्बी घोटाला 175 करोड़, 2006 में पंजाब सिटी सेंटर घोटाला 1500 करोड़, 2008 में कालाधन घोटाला 210000 करोड़, 2008 में सत्यम घोटाला 8000 करोड़, 2008 में सैन्य राशन घोटाला 5000 करोड़, 2008 में स्टेट बैंक आॅफ सौराष्ट्र घोटाला 95 करोड़, 2008 में हसन अली हवाला घोटाला 39120 करोड़, 2008 में उडीसा खाद्यन घोटाला 4000 करोड़, 2009 में झारखण्ड में मेडिकल उपकरण घोटाला 130 करोड़, 2010 में आदर्श सोसाइटी 900 करोड़, 2010 में खाद्यान घोटाला 35000 करोड़, 2010 में बैंड स्पेक्ट्रम घोटाला 200000 करोड़, 2011 में 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला 176000 करोड़, 2011 कामनवेल्थ घोटाला 70000 करोड़,
ये तो वे प्रमुख घोटाले है जो उजागर हुए बाकी देश का बंटाधार करने में इन लोगों ने कोई कसर नहीं छोड़ी। मोदी जी ने जिस दिन शपथ ली थी उसी दिन देश की की जनता से वायदा किया था वह देश के धन के चैकीदार है। एक नया पैसा भी किसी को लूटने नहीं दूंगा। आजतक वह अपने वादे पर कायम है और हमेशा रहेगें। उन्होने देश को आगे बढाने में कोई कोर कसर नहीं छोडी, गरीबो को मुफ्त रसोई गैस दी। 7.5 करोड लोगो को बैंक से ऋण दिलाकर स्वावलम्बी बनाया। करोडो घरों मे शौचालय बनवा दिये। सैनिको को वन रैंक वन पेंशन दी। कैंसर-बीपी शुगर जैसी मंहगी दवाईयों को 85 प्रतिशत तक सस्ता किया। स्वच्छ भारत अभियान चला रहे है। प्रतिवर्ष लाखों नवयुवक को सीधे नौकरियां दे रहे है। सतत् देश को आगे बढा रहे हैं।
भ्रष्टाचार पर बेरहम प्रहार कर उसको रोकर समृद्ध भारत, सुदृढ भारत स्वावलम्बी भारत बन रहे हैं। उनका कोई विकल्प नहीं हैं
विष्णु भगवान की आरती की वह लाईन नरेन्द भाई पर आज सही लगती है। तन-मन धन सब तेरा, तेरा तुझ को अपर्ण, क्या लागे मोरा। सार्वजानिक जीवन में लोग गुण-दोष तो ढूढते ही रहेगें लेकिन सूरज पर थूकने वालो पर थूक पलट कर गिरता है। गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए उन पर विरोधियों ने तरह-तरह के आरोप लगाए लेकिन उन्होने मुंह की खायी। अब देश के प्रधानमंत्री पर जो झूठे आरोप लगा रहे है भविष्य में मुंह की ही खायेगें। एक शेर उस समय जब यूपीए सरकार थी तब किसी ने लिखा था कि देश के हालात जो गिनने लगेगें तो पत्थर भी आंसू बहाने लगगे अगर खो गई कही इन्सानियत तो ढूढने में जमाने लगेगंे वे पारसमणि है। लोहा भी जिसका स्पर्श पाकर सोना बन जाता है उसे पारस कहते है। मणि का सहज गुण है वह अपना प्रकाश 24 घंटे देती है। सांप का ससंर्ग पाकर भी मणि उसके विष को ग्रहण नही करती बल्कि अपने सहजगुण प्रकाश को नही छोड़ती। इसी भांति वह अजेय योद्धा भारत में 70 सालों से हो रहे भ्रष्टाचार से बिना विचलित हुए अपने ईमानदारी के महानगुण से देश को महका रहे है। सोने के टुकडे-टुकडे हो जाने पर भी वह अपना मूल्य कम नही होने देता। हीरा तो हीरा है। हंस व बगुुला दोनो सफेद रंग होता है एक रंग के होने के बावजूद दोनो के गुणांे में भारी अन्तर हैं। हंस का गुण हैं वह मोती चुगता हैं दुध से जल को निकाल कर अपने नीरक्षीर विवेक का परिचय देता है। जबकि बगुले का आहार झील के कीडे़ होते है। यशस्वी प्रधानमंत्री जी हंस की भांति है जबकि उनके विरोधी बगुलो की भांति है। मोदी जी का पूरा जीवन आदर्श जीवन हैं। संघ की ये विचार पंक्तियां जैसे उनके लिए ही लिखी गई है। तेरा वैभव अमर रहे मां, हम दिन चार रहे न हरे
हम जियेगंे और और मरेगें ए वतन तेरे लिए। उनकी छाप भारत के नौजवानों में स्पष्ट रूप से दिखती है। बाबा राम देव उनको राष्ट्रसंत की उपाधि दिये है। संत समाज जिसकी प्रशंसा करता है वही सच्चे अर्थों में मानव कहलाता है। मोदी जी के कुशल नेतृत्व व सुदृढहाथों में भारत को देख यहां के नौजवान, व्यापारी, महिलायें, गरीब-अमीर सभी खुश है तथा उनकी राष्ट्रभगती राष्ट्रप्रेम, राष्ट्र अराधाना से प्रेरणा प्राप्त कर रहे है। नरेन्द्र भाई की स्वस्थ लम्बी आयु के लिए ईश्वर से प्रार्थना कर रहे है।
(नरेन्द्र सिंह राणा)
प्रदेश प्रवक्ता भाजपा

Leave a Reply

You must be logged in to post a comment.

Advertise Here

Advertise Here

 

October 2017
M T W T F S S
« Sep    
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031  
-->









 Type in