*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

दलितों के संवैधानिक अधिकार - आरक्षण पर कुठाराघात करने का कांग्रेस का षड़यन्त्र

Posted on 02 February 2012 by admin

  • यू0पी0ए0 सरकार का उत्तर प्रदेश के साथ द्वेषपूर्ण व्यवहार
  • कांग्रेस की गलत आर्थिक नीति के कारण गरीबों-बेरोजगारों ने किया दूसरे राज्यों का रूख
  • यू0पी0ए0 सरकार नहीं कर रही है प्रदेश सरकार की मद्द
  • केन्द्र ने प्रदेश की अनेक योजनाओं को लटकाए रखा है
  • विद्युत क्षेत्र में उत्तर प्रदेश ने  विगत चार वर्षों में किया सराहनीय काम
  • प्राचीन तथा ऐतिहासिक शहरों के  विकास पर 2500 करोड़ रूपये खर्च
  • बी0एस0पी0 की लोकप्रियता एवं बढ़ते जनाधार से  विरोधी पार्टियां पूरी तरह हताश
  • माननीया मुख्यमंत्री की अम्बेडकर नगर तथा  फैजाबाद में हुई विशाल चुनावी जनसभाएं

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री माननीया सुश्री मायावती जी ने आज अम्बेडकर नगर तथा फैजाबाद में अपने पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित विशाल चुनावी जनसभाओं को सम्बोधित किया। उन्होंने इन दोनों जनसभाओं में कहा कि बी0एस0पी0 ने उत्तर प्रदेश में सर्वसमाज के विकास के साथ ही प्रदेश की तरक्की के लिए अनेकों कल्याणकारी योजनाएं शुरू कीं, जिनका लाभ आम आदमी को सुलभ हो रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती गैर बी0एस0पी0 सरकारों ने उत्तर प्रदेश के सर्वागीण विकास की ओर कोई ध्यान नहीं दिया, जिस कारण उत्तर प्रदेश, अन्य राज्यों से पिछड़ता चला गया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने विकास की व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए काफी कठिनाईयों का सामना करते हुए विकास को नया आयाम दिया हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लम्बे समय से कांग्रेस, बीजेपी व इनके सहयोगी दलों की सरकारें आम आदमी की समस्याओं के समाधान में पूरी तरह विफल रही हैं। उन्होंने जनता से अपील की कि वे प्रदेश में बी0एस0पी0 की सरकार फिर से बनाने के लिए एकजुट होकर तैयार हो जायें और बी0एस0पी0 के उम्मीदवारों को भारी मतों से जितायें।
माननीया सुश्री मायावती जी ने कहा कि बी0एस0पी0 अपने बलबूते पर विधान सभा की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है और किसी भी दल से उसने कोई चुनावी समझौता नहीं किया है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने साफ-सुथरी छवि के प्रत्याशियों को ही टिकट दिये हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के टिकट देने में सर्वसमाज को प्रतिनिधित्व प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश से गरीबी, बेरोजगारी एवं महंगाई की समस्या के समाधान के लिए बी0एस0पी0 को पुनः सत्ता में लाने और गरीबों की उपेक्षा करने वाली कांग्रेस पार्टी, सपा, बी0जे0पी0 तथा उनके सहयोगी दलों को सत्ता में आने से रोकने की आज सबसे बड़ी जरूरत है। बी0एस0पी0 ही केवल ऐसी पार्टी है जो दलितों, शोषितों, पीडि़तों, मजदूरों, और गरीबों आदि की बात करती है।
माननीया मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बी0एस0पी0 सरकार के कार्यकाल में प्रदेश मंे कानून-व्यवस्था में हुए आशातीत सुधार के फलस्वरूप बने विकास के माहोैल से विरोधी दल आज पूरी तरह घबराए हुए हंै। यही कारण है कि बी0एस0पी0 सरकार की छवि को धूमिल करने की साजिश रचते रहते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार के कार्यकाल में पूरे प्रदेश में कानून-व्यवस्था के नाम पर जंगलराज और अराजकता थी। बी0एस0पी0 सरकार ने विरासत में मिली गुण्डों, माफियाओं और अपराधियों पर जब शिकन्जा कसना शुरू किया, तो अराजक तत्व या तो प्रदेश से पलायन कर गये या सलाखों के पीछे पहुंुच गये। प्रदेश में कानून द्वारा कानून का राज स्थापित किया गया। उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था व अपराध नियत्रंण तथा अमन चैन हेतु उठाये गये कदमों के फलस्वरूप ही आज भयमुक्त, अपराधमुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त, अन्यायमुक्त एवं विकासयुक्त वातावरण बना है।
बी0एस0पी0 की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में अमन-चैन का माहौल इसी से स्पष्ट हो जाता है कि अध्योया के विवादित परिसर श्री रामजन्म भूमि/बाबरी मस्जिद के वाद में न्यायालय के आने वाले फैसले को दृष्टिगत रखते हुए पूरे प्रदेश भर में व्यापक स्तर पर मजबूत सुरक्षा के प्रबन्ध किये गये। इन प्रबन्धांे के कारण प्रदेश में पूरी तरह शान्ति व्यवस्था एवं सम्प्रादायिक सौहार्द का माहौल बना रहा और कहीं से किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना नहीं घटने पायी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की ही नहीं बल्कि पूरे देश की जनता ने हमारे इन कदमों की भरपूर सराहना की।
बी0एस0पी0 प्रमुख ने कहा कि कांग्रेस पार्टी, बीजेपी तथा उनके सहयोगी दलों द्वारा दलितों के संवैधानिक अधिकार, आरक्षण को समाप्त करने का प्रयास किया जा रहा है, जो इनके संवैधानिक अधिकर पर कुठाराघात है। इसको लेकर बी0एस0पी0 काफी चिंतित है। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर के अथक प्रयासों के कारण एस0सी0/एस0टी0 तथा अन्य पिछड़े वर्गों के लिए केन्द्र व राज्यों की सरकारी नौकरी के लिए आरक्षण की व्यवस्था की गयी। विरोधी पार्टियां इस आरक्षण व्यवस्था को खत्म करना चाहती हैं, और आरक्षण के नाम पर दलितों तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को बांटना चाहती है, लेकिन बी0एस0पी0 ऐसा नहीं होने देगी।
माननीया मुख्यमंत्री जी ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यू0पी0ए0 सरकार ने मुस्लिम समाज से आरक्षण के नाम पर विश्वासघात किया है। इस मामले में उन्होंने प्रधानमंत्री जी को कई पत्र भी लिखे, लेकिन उनके पत्रों का कोई संज्ञान नहीं लिया गया। कांग्रेस पार्टी देश में मुस्लिम समाज के पिछड़े हुए लोगों को उनकी आबादी के हिसाब से आरक्षण देने की बात कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस यह बात एक साजिश के तहत पिछड़े वर्गों को 27 प्रतिशत आरक्षण के कोटे में से 9 प्रतिशत आरक्षण देकर इन दोनों वर्गों को आपस में लड़ाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि कांग्रेस आरक्षण के नाम पर राजनीति कर रही है।
उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति/जनजाति तथा अन्य पिछड़े वर्गाें को निजी क्षेत्र तथा उन सभी क्षेत्रों में (जहां अभी तक इन्हें आरक्षण की सुविधा नहीं मिली है) आरक्षण का लाभ दिलाने के लिए भी उन्होंने कई बार केन्द्र को पत्र लिखकर अनुरोध किया। इसके अलावा अपर कास्ट के गरीब लोगों को आर्थिक आधार पर आरक्षण देने के लिए भी केन्द्र से अनुरोध किया। किन्तु केन्द्र सरकार ने उनके पत्रों को कोई तवज्जों नहीं दी और न ही कोई आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित की। दलितों के आरक्षण के नाम पर कांग्रेस पार्टी दलित व अति दलित को बांटना चाहती है, ताकि इनकी सामाजिक स्थिति में कोई बदलाव न आ सके। उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी इन वर्गों को साजिश के तहत आपस में बांटकर इन्हंे कमजोर करने में भी लगी है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने अगड़ी जातियों के लोगों के हितों का पूरा-पूरा ख्याल रखा और उनके विकास के लिए भी कई योजनाएं सचंालित कीं।
बी0एस0पी0 प्रमुख ने युवाओं का सबसे बड़ी हितैषी होने का दावा करने वाली कांग्रेस पार्टी पर प्रहार करते हुए कहा कि केन्द्र की सत्ता में काबिज कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों ने युवाओं तथा बेरोजगारों को रोजगार के अवसर सुलभ कराने के लिए कोई ठोस पहल नहीं की, इसी कारण गरीब बेरोजगारों को दूसरे राज्यों की ओर रूख करना पड़ा। कांग्रेस पार्टी की नीतियों के कारण ही आज किसान, मजदूर, व्यापारी, कर्मचारी एवं अन्य कारोबार में लगे लोग काफी दुःखी और पीडि़त हैं।
माननीया सुश्री मायावती जी कहा बी0एस0पी0 ने अपने कार्यकाल में प्रदेश के लोगों का पलायन रोकते हुए उन्हें प्रदेश में ही रोजी-रोटी के अवसर सुलभ कराने की व्यवस्था की हैं। बी0एस0पी0 की प्रभावी रणनीति के तहत ही 60 लाख से अधिक लोगों को सरकारी एवं गैर सरकारी क्षेत्रों में नौकरियां उपलब्ध कराई गयी। यदि कांग्रेस सरकार राज्य की विभिन्न विकास योजनाओं को मंजूरी दे देती, तो प्रदेश की बी0एस0पी0 सरकार एक करोड़ से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर सुलभ करा सकती थी। उन्होंने कांग्रेस द्वारा पंाच साल में लोगों को रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने की बात पर चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी 40 साल तक सत्ता में रहने के बाद भी रोजगार के दरवाजे युवाओं के लिए नहीं खोल पाई, फिर पांच साल में वह कौन से चमत्कार कर देगी। केन्द्र सरकार प्रवासी भारतीयों के साथ भी सौतेला व्यवहार कर रही है।
माननीया मुख्यमंत्री जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के समग्र विकास को पूरी तरह ध्यान में रखकर ही बी0एस0पी0 सरकार की हर नीति ‘सर्वजन हिताय व सर्वजन सुखाय’ के सिद्धान्त पर आधारित है। प्रदेश में उनकी सरकार का मुख्य उद्देश्य समाज में व्याप्त गैरबराबरी वाली सामाजिक व्यवस्था को बदलकर समतामूलक समाज को स्थापित करना है। उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टियों की सरकारों में उपेक्षित, दलितों का खास ध्यान रखने के साथ-साथ उनकी सरकार ने अपर कास्ट के खिलाफ कोई जुल्म ज्यादती भी नहीं होने दी। बी0एस0पी0 की हर नीति सर्वसमाज के लिए है। इसी को दृष्टिगत रखते हुए सत्ता एवं संगठन में सभी वर्गाें को उचित भागीदारी दी गयी है।
माननीया मुख्यमंत्री जी ने कांग्रेस द्वारा जारी घोषणा पत्र पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि यह मात्र एक छलावा दस्तावेज है, गत 40 वर्षों से केन्द्र व उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकारें रही हैं लेकिन अभी तक उसने अपने पूर्व में घोषित घोषणा पत्रों के वायदों को कभी भी पूरा नहीं किया है। यदि इन वायदों को पूरा कर दिया गया होता तो उत्तर प्रदेश आज विकास के नये रास्ते पर होता और उसे बदहाली का सामना नहीं करना पड़ता। उन्होंने जनता को आगाह करते हुए कहा कि कांग्रेस सहित समाजवादी पार्टी तथा भाजपा हमेशा से कोरे आश्वासन देने की रणनीति एवं कार्य पद्धति पर काम करती रही है। इन सभी दलों द्वारा जो वायदे किये गये हैं यह कभी-भी पूरे नहीं होने वाले हैं।    बी0एस0पी0 की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि वर्ष 2007 में जब प्रदेश में उनके नेतृत्व में बहुजन समाज पार्टी की सरकार बनी थी, तो उत्तर प्रदेश विरासत में उन्हें बदहाल हालत में मिला था। उन्होंने कहा कि यू0पी0ए0 की केन्द्र सरकार ने उत्तर प्रदेश के साथ सदैव सौतेला व्यवहार किया है। उत्तर प्रदेश की बेहतरी के लिए उन्होंने केन्द्र से 80 हजार करोड़ रूपये के विशेष आर्थिक पैकेज की मांग की, परन्तु केन्द्र ने जातिवादी मानसिकता के कारण कोई भी आर्थिक सहायता नहीं दी। इसके बावजूद उनकी सरकार ने अपने सीमित संसाधनों से प्रदेश की जनता की जरूरतों को पूरा करने के लिए हर सम्भव प्रयास किये हैं, जिनके बेहतर नतीजे आज जनता के सामने हैं।
माननीया मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने अन्य विभिन्न विकास कार्यों के लिए केन्द्र की वर्तमान कांग्रेस सरकार से कई हजार करोड़ रूपये की योजनाओं के पैकेज दिये जाने का अनुरोध भी किया, किन्तु केन्द्र ने इन योजनाओं को आज भी लटकाए रखा है और इनके लिए कोई भी धनराशि आज तक नहीं मंजूर की। इसके बावजूद उन्होंने अपने सीमित संसाधनों से प्रदेश के विकास एवं जनता की भलाई हेतु अपने बलबूते पर काम किया। कांग्रेस पार्टी की सरकार ने जातिवादी मानसिकता से ग्रस्त होकर केन्द्र पोषित योजनाओं के लिए उपलब्ध कराये जाने वाली धनराशि को भी समय से जारी नहीं किया।
सुश्री मायावती जी ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि केन्द्र में पिछले 31 महीनों की सरकार के कार्यकाल में लगभग 62 बड़े घोटाले हुए हैं। इन घोटालों में लगभग 20 लाख करोड़ रुपये के घोटालों की सम्भावना है, किन्तु इन घोटालों की आज तक न तो तेजी से जांच हुई और न ही इसमें सी0बी0आई0 जैसी अन्य संस्थाओं ने कोई सक्रियता ही दिखाई। उन्होंने कांग्रेस पार्टी को महाभ्रष्टाचारी करार देते हुए कहा कि इसी प्रकार अमर सिंह, शान्तिभूषण व मुलायम सिंह की वार्ता की सी0डी0 पर आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गयी। कांग्रेस-बीजेपी-सपा एण्ड कम्पनी के लोगों के भ्रष्टाचार के मुद्दे पर अब बोलना ज्यादा उचित नहीं है, ये सभी दल नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली चली हज को-वाली कहावत को चरितार्थ कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में बहुत बड़ा खाद्यान्न घोटाला हुआ, जिसकी सी0बी0आई0 द्वारा जांच की जा रही है किन्तु इसमें अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गयी है।
बी0एस0पी0 सुप्रीमों ने कहा कि उनकी सरकार ने प्रदेश के एक दर्जन से ज्यादा ऐतिहासिक, प्राचीन और प्रमुख शहरों में बुनियादी सुविधायें सुचारू रूप से उपलब्ध कराने की प्रभावी व्यवस्था की। इन शहरों के लोगों को मूलभूत सुविधाओं को प्राप्त करने में कोई दिक्कत न हो। इसके लिए 2500 करोड़ रूपये से अधिक की धनराशि व्यय करके बुनियादी सुविधाओं को मजबूत किया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास एवं जनता की बेहतरी के लिए केन्द्र सरकार से यदि आर्थिक मद्द मिल जाती तो और भी शहरों/नगरों में बुनियादी सुविधाओं का जाल फैलाया जा सकता था।
माननीया मुख्यमत्री जी ने बिजली व्यवस्था को सुदृढ़ करने के सम्बन्ध में अपने सरकार की उलपब्धियों पर चर्चा करते हुए कहा कि प्रदेश में जब उनकी सरकार सत्ता में आयी थी, तो बिजली आपूर्ति की व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त थी, उनके अथक प्रयासों के फलस्वरूप बिजली व्यवस्था को सुदृढ़ किया गया। वर्ष 2007 से 2011 के बीच प्रदेश में 3000 मेगावाट अतिरिक्त ऊर्जा का उत्पादन हुआ। विभिन्न योजनाओं से आगामी मार्च 2012 तक प्रदेश को लगभग 5346 मेगावाट अतिरिक्त विद्युत क्षमता का सृजन होगा। उन्होंने कहा कि गत चार वर्षों में जितना काम बी0एस0पी0 सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश में विद्युत उत्पादन के क्षेत्र में किया गया है, शायद ही किसी अन्य प्रदेश में हुआ है। उनकी सरकार ने अब ऐसी विद्युत रणनीति को अपनाया है कि बिजली के क्षेत्र में भविष्य में जनता को काफी राहत प्राप्त होगी, और सन् 2017 तक उत्तर प्रदेश बिजली उत्पादन के मामले में न केवल आत्मनिर्भर होगा, बल्कि देश का सरप्लस विद्युत प्रदेश भी बन जायेगा।
माननीया सुश्री मायावती जी ने कहा कि उन्होंने बुन्देलखण्ड, पूर्वांचल, अवध और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभाजन का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजा, किन्तु केन्द्र ने इस मामले में कोई संवैधानिक जिम्मेदारी नहीं निभाई। उन्होंने विरोधी दलों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि ये दल उत्तर प्रदेश का वास्तविक रूप से विकास नहीं चाहते हैं, जिसके कारण उनके उत्तर प्रदेश के विभाजन के प्रस्ताव का घोर विरोध कर रहे हैं। उन्होंने जनता से अपेक्षा की कि वे इस विधान सभा चुनाव में ऐसे विरोधी दलों को वोट के माध्यम से करारा जवाब देने से बिल्कुल मत चूकें।
बी0एस0पी0 प्रमुख नेे जनता से विरोधी पार्टियों द्वारा फैलाई जा रही अफवाहों से गुमराह न होने की अपील करते हुए कहा कि बी0एस0पी0 की लोकप्रियता एवं बढ़ते जनाधार से विरोधी पार्टियां पूरी तरह हताश हैं, इसीलिए विरोधी दल चुनाव के समय कोई भी हथकण्डा अपनाकर उन्हें भ्रमित करने की कोशिश कर सकते हैं। उन्होंने मतदाताओं से कहा कि विरोधी दलों के षड़यन्त्रों को किसी भी कीमत पर कामयाब न होने दें। उन्होंने मतदाताओं से यह भी अपील की कि मतदान के दिन सबसे पहले वोट डालने जायें।
बी0एस0पी0 प्रमुख ने चुनावी जनसभाओं में पार्टी के विधान सभा उम्मीदवारों को भारी मतों से जिताने की भी अपील को पुनः दोहराया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Leave a Reply

You must be logged in to post a comment.

Advertise Here

Advertise Here

 

January 2018
M T W T F S S
« Dec    
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
-->









 Type in