*खाकी वर्दी वालो के कारनामे-जनता की जुवानी * सफेद कुर्ते वाले नेताओ के कारनामे-जनता की जुवानी "upnewslive.com" पर, आप के पास है कोई जानकारी तो आप भी बन सकते है सिटी रिपोर्टर हमें मेल करे info@upnewslive.com पर या 09415508695 फ़ोन करे , मीडिया ग्रुप पेश करते है <UPNEWS>मोबाईल sms न्यूज़ एलर्ट के लिए अगर आप भी कहते है अपने और प्रदेश की खबरे अपने मोबाईल पर तो अपना <नाम-, पता-, अपना जॉब,- शहर का नाम, - टाइप कर 09415508695 पर sms, प्रदेश का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल जिसमे अपने प्रदेश की खबरें सरकार की योजनाएँ,प्रगति,मंत्रियो के काम की प्रगति www.upnewslive.com पर

Categorized | बान्दा

अब अब बुन्देलखण्ड में मोबाइल अन्धविश्वास

Posted on 15 August 2010 by admin

बुन्देलखण्ड के मध्यप्रदेश क्षेत्र में फैली मोबाइल अन्धविश्वास की तरह-तरह की खबरे अब उत्तर प्रदेश क्षेत्र के बुन्देलखण्ड में भी फैल गई है जिसके कारण लोग अब अनजान मोबाइल काल को रिसवी नही कर रहे है। रात में तो अधिकतर लोग अपना मोबाइल बन्द करके रखते है दिन में भी लोग परिचित के मोबाइल काल ही उठा रहे है।

बुन्देलखण्ड में मोबाइल अन्धविश्वास का इस समय इतना भय है कि लोग मेाबाइल से मूठ मारना तक कहते है। मध्यप्रदेश बुन्देलखण्ड के टीकमगढ़, सागर, सिहारे, छिरारी, छतरपुर में फैली मोबाइल अफवा है चित्रकूट होती हुई उत्तर प्रदेश के चित्रकूट, बान्दा, महोबा, उरई, जालौन, मऊरानीपुर, झांसी सहित पूरे बुन्देलखण्ड में फैल गई है।

मोबाइल अन्धविश्वास की अफवाह चित्रकूट स्थित जानकी कुछ इलाज कराने आये मरीजों एवं उनके तामीरदारों के माध्यम से फैली जिसे मोबाइल मूठ नाम दिया गया है। कहा जा रहा है कि 14 नम्बर वाला एक अंजान फोन आता है जिसे रिसीव करते ही मौत हो जाती है। जानकी कुंठ चित्रकूट इलाज कराने आये तमाम तामीर दारों की माने तो उकने इलाकों में इस तरह के फोन पर बात करने पर कई लोगों की मौत हो चुकी है। हालाकि वे इसकी काई पुिश्ट नही कर सके। चित्रकूट धाम मण्डल मुख्यालय बान्दा में इस समय लोग अपने परिचित नाते रिश्तेदारों को सावधान कर रहे है कि 14 नम्बर वाली कोई मोबाइल काल आये तो उसे रिसीव न करें। महोबा नगर के श्रीनगर थाना क्षेत्र के गॉव डिगरियां में बुधवार की रात मोबाइल पर बात करते-करते एक किशोर के बेहोश होने की बात प्रकाश में आयी है जिसे मध्यप्रदेश के निकटवर्ती जिला अस्पताल छतरपुर में इलाज हेतु भर्ती कराया गया है। भुक्तभोगी की ओर से यह बात बतायी गई है कि मोबाइल उठाया तो स्कीन लाल बड़ गई जिससे किशोरी अचेत होकर गिर पड़ी। किशोरी का सरोज बताया जाता है। इसी तरह एक सिपाही जालौन जनपद के फोन करते में मोबाइल पर एक लड़की की आवाज सुनकर बेहोश होकर गिर पड़ा। बुधवार को जिन्हे एक थाने का सिपाही कोच आया था उसके साथी के मोबाइल पर एक काल आयी उसमें एक लड़की बोली और अपना नाम संगीता बताया। बातचीत शुरू हुई तो लड़की ने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू कर नसीहत देना शुरू किया ही था कि सिपाही को चक्कर आने लगे और वह धड़ाम से जमीन पर गिर गया उसकी हालत खराब होने पर साथियों ने एक प्राइवेट चिकित्सक को दिखाया जहां डाक्टर ने स्वस्थ बताकर छुट्टी कर दी। सिपाही का नाम आर0एस0 यादव बताया गया है।

इसी प्रकार झांसी मण्डल के मऊरानीपुर क्षेत्र में अफवाह फैली है कि कुछ अनजान नम्बरों से काल आने पर जैसे ही रिसीव कर हैलो बोलते है दूसरी ओर से एक महिला द्वारा मन्त्र पड़ने की आवाज आती है यह मन्त्र सुनकर मोबाइल उपभोक्ता अचेत हो जाता है। यहां तक की उसे जान का खतरा हो जाता है। इस अफवाह का ग्रामीण क्षेत्र में काफी असर दिखायी दे रहा है इसके परिणाम स्वरूप गांव के ही नही नगर क्षेत्र के लोग भी अपने परिवार के लोगों से अनजान नम्बरों को रिसीव न करने की सलाह दे रहे है।

जालौन जनपद के उरई नगर मे तो बाकायदा पांच नम्बर प्रसिारत किये गये है जिनसे काल एवं एस0एम0एस0 भेजने की बाते आ रही है। ये खतरनाक नम्बर 7888308001, 9316048121, 9876266211, 9888854137 बताये जा रहे है जिनको अटैन्ड करने से शक सा लगता है और मृत्यु होने की सम्भावना रहती है। किन्तु इन नम्बरों से बात करने वाले किसी पीड़ित व्यक्ति से बात नही हो पायी दूरसंचार जिला प्रबन्धक लल्लन लाल का कहना यदि इस प्रकार की कोई काल या एसएसएस आते है तत्काल पुलिस को सूचित करें। ताकि जो लोग भ्रमित कर रहे है उनके खिलाफ कानूनी सिंगजा कसा जा सके। जिला दूरसंचार प्रबंधक चित्रकूट सीबी सिंह इस तरह के काल को कोरे बकवास बताते है। जनता से कहा है कि फोन रिसीव करने की किसी की मौत नही हो सकती है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

Leave a Reply

You must be logged in to post a comment.

Advertise Here

Advertise Here

 

October 2017
M T W T F S S
« Sep    
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031  
-->









 Type in